Siddharth was missing

सेल्फी मौसी के नाम से मशहूर कॉमेडियन सिद्धार्थ सागर (Siddharth Sagar) पिछले चार महीने से लापता थे, लेकिन अब वो सबके सामने आ गए हैं  और इस दौरान उन पर क्या बीती है, इसका खुलासा उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान किया है. सिद्धार्थ ने बताया कि वो पागलखाने में थे, जहां वो शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक तौर पर पूरी तरह से टूट चुके थे, इसके लिए उन्होंने अपने पैरेंट्स को ज़िम्मेदार ठहराया है.

सिद्धार्थ की मानें तो जब वो डिप्रेशन के शिकार हो गए थे, तब उनके पैरेंट्स उनके खाने में बाइपोलर डिज़ीज़ की दवा डाल कर देते थे, जबकि उनमें इस बीमारी के कोई लक्षण नहीं थे. उन्होंने बताया कि उन्हें धीरे-धीरे इस बात का एहसास हुआ कि उनके पैरेंट्स उनके ख़िलाफ नहीं थे, बस उन्हें सिद्धार्थ के पैसे चाहिए थे.

उन्होंने बताया जब वो रिहैब सेंटर में थे, तब 4-5 लोग उन्हें निर्दयता से पीटते थे, जिससे वो पूरी तरह से टूट गए थे. जैसे-तैसे वो अपने मैनेजर से संपर्क करने में कामयाब रहे और उनके मैनेजर ने उन्हे वहां से बाहर निकाला, लेकिन इसके बाद हालात और भी बदतर हो गए. एक बार जब वो गोवा से वापस लौट रहे थे, तब उन्हें जबरन उठाकर पागलखाने में डाल दिया गया.

सिद्धार्थ की मानें तो पागलखाने में कोई लड़की उन्हें टैबलेट देती थी जिसके बाद वो अपना मानसिक संतुलन खोने लगते थे. वो बताते हैं कि उन्होंने अपने परिवार और कुछ रिश्तेदारों के ख़िलाफ एनसी दर्ज करवाई थी, लेकिन जब वो पागलखाने में थे, तब एनसी गायब करवा दी गई.

पागलखाने में महंगे इलाज के चलते उन्हें आशा की किरण नाम एक रिहैब सेंटर में  शिफ्ट किया गया. आशा की किरण में जाने के बाद सिद्धार्थ को एक ऐसा परिवार मिला जो उन्हें सुनते और समझते हैं. जब उनकी मुलाकात इस सेंटर के संस्थापक से हुई तब उन्होंने सिद्धार्थ से कहा कि अपनी सारी चिंताओं और परेशानियों को छोड़कर एक नई शुरूआत करें. यहां जब सिद्धार्थ के मानसिक हेल्थ की जांच की गई तब पाया गया कि गलत दवाइयों की वजह से उनका मानसिक स्वास्थ्य बिगड़ा हुआ था.

करीब चार महीने तक लापता रहने के बाद अब सिद्धार्थ वापस लौट आए हैं. उन्होंने कहा कि अब वो काम के लिए फिट हैं और जिन लोगों के साथ हैं वहां वो खुद को सुरक्षित महसूस करते हैं. वो अब काम की तलाश में है और उनका कहना है कि प्रॉपर्टी विवाद के चलते उन्होंने अपनी 4 से 5 करोड़ की प्रॉपर्टी खो दी है, लेकिन उन्हे विश्वास है कि वो इसे अपनी मेहनत से दोबारा बना लेंगे.

सिद्धार्थ ने कहा कि वो शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक रूप से टूट गए थे, लेकिन अब एक बार फिर से वो दुनिया का सामना करने के लिए तैयार हैं. बता दें कि सिद्धार्थ के गायब होने की जानकारी उनके दोस्त सोमी सक्सेना ने फेसबूक के ज़रिए दी थी. उन्हें आखिरी बार 18 नवंबर 2017 को देखा गया था.

यह भी पढ़ें: Birthday Special- देखिए कॉमेडी के किंग कपिल शर्मा की अनदेखी तस्वीरें !