Tag Archives: Sleeping Problems

अनिद्रा की समस्या से यूं निजात पाएं (8 Ways To Cure Sleeping Problems Naturally)

अनिद्रा (Insomnia) का मतलब केवल नींद (Sleep) ना आना नहीं है, बल्कि रात में नींद का बार-बार टूटना या सुबह के पहले ही नींद खुल जाना भी अनिद्रा रोग ही है. तनाव, डिप्रेशन, चिंता आदि भी नींद में बाधक होते हैं. यदि रात में देर तक नींद नहीं आती, तो इसका कारण अक्सर तनाव, डिप्रेशन ही होता है. वातावरण से भी हमारी नींद प्रभावित होती है.

Sleeping Problems

शोर-शराबे, तेज़ रोशनी, ज़्यादा गर्मी या ठंडी अथवा नए अपरिचित परिवेश के कारण भी नींद में बाधा आती है, जिससे अनिद्रा की समस्या होने लगती है. आमतौर पर अनिद्रा की समस्या से परेशान लोगों को जागृतावस्था में आलस्य, सुस्ती, थकान और सिरदर्द की शिकायत बनी रहती है. इससे उनकी कार्यक्षमता भी घट जाती है.

* कोकम को चटनी की तरह पीसकर पानी मिलाकर छान लें. इसमें शक्कर मिलाकर शरबत बनाएं. इस शरबत को पीने से अनिद्रा की समस्या दूर होती है. इसका सेवन कम से कम 15 दिन तक अवश्य करना चाहिए.

* एक लीटर पानी को अच्छी तरह उबाल लें. फिर आंच से उतारकर उसमें आधा कप कद्दूकस किया हुआ प्याज़ डालकर 5-10 मिनट रहने दें. ठंडा होने पर छान लें. इस पानी को एक चम्मच की मात्रा में लेकर उसमें पांच बूंद शहद मिलाकर बच्चों को पिलाने से वे गहरी नींद सोते हैं.

* पीपरामूल का पाउडर बनाकर रख लें. हर रोज़ सोने से पहले आधा चम्मच पाउडर गुड़ मिलाकर खाएं और ऊपर से गर्म दूध पीकर सो जाएं. इससे अच्छी नींद आती है और सुबह उठने पर मन प्रसन्न रहता है.

* चार जायफल लेकर पाउडर बनाकर 16 पुड़िया बना लें. हर दिन सोने से पहले एक पुड़िया पानी के साथ सेवन करें. इससे अनिद्रा की समस्या से निजात मिलेगा और अच्छी नींद आएगी.

* एक पका हुआ कद्दू लेकर उसका छिलका निकाल दें. फिर उसे काटकर उसका

बीज और पल्प निकाल दें. इसके बाद कद्दू के बड़े-बड़े टुकड़े करके पानी में उबालें. ज़रा नरम पड़ने पर आंच से उतारकर कपड़े पर डालकर पानी निथार दें. उबले हुए कतरों को दुगुनी शक्कर की चाशनी बनाकर उसमें डाल दें. इसमें केसर और इलायची इच्छानुसार डाले जा सकते हैं. इस मुरब्बे का नियमित सेवन करने से अनिद्रा की समस्या दूर होती है और अच्छी नींद आती है.

यह भी पढ़े: रागी खाएं, रोग भगाएं (Health Benefits Of Ragi Or Finger Millet)

* प्याज़ में मसाले भरकर उसका अचार बनाएं. यह अचार इतना हो कि ज़्यादा से ज़्यादा 15 दिन तक सेवन किया जा सके. हर 15 दिनों में ताज़ा अचार बनाएं. यह अचार खाने से अच्छी नींद आती है. साथ ही थकावट दूर होती है, खाने में रुचि बढ़ती है और पेट भी साफ़ होता है.

* सोने से पहले एक ग्लास गर्म दूध पीने से अच्छी नींद आती है.

सुपर टिप

सोने से पहले मुट्ठीभर चेरी का सेवन या फिर चेरी का जूस लेना फ़ायदेमंद रहता है. इससे अच्छी नींद आती है.

पथ्य पर भी ध्यान दें…

सोने का प्रयास करते समय चिंता-तनाव पर से ध्यान हटाने के लिए मन ही मन अच्छी कविताएं गुनगुनाएं या अपने आराध्य भगवान का ध्यान करें. सुबह उठकर हल्की एक्सरसाइज़ करें और शाम को भोजन के बाद कुछ समय तक टहलें. रात में सिगरेट, चाय, कॉफी आदि उत्तेजक पदार्थों से परहेज़ रखें. दिन में झपकियों से बचें.

भरपूर नींद लेना है ज़रूरी

भोजन की तरह पर्याप्त नींद भी ज़रूरी है. इससे शरीर स्वस्थ रहता है और शारीरिक विकारों से भी बचाव होता है. दिन में परिश्रम करने से शरीर की शक्ति कम हो जाती है. रात को अच्छी नींद सोने से शरीर को आराम मिलता है, स्फूर्ति पैदा होती है तथा अगले दिन काम करने के लिए नई शक्ति मिलती है. यही नींद का सबसे बड़ा रहस्य है. अतः हर व्यक्ति को भरपूर नींद लेनी चाहिए.

– ऊषा गुप्ता

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazana