Tag Archives: soft hair

बालों से जुड़े 10 मिथक और सच्चाई

बालों से जुड़े मिथक कई बार हमें ग़लतफ़हमी में उलझा देते हैं. ऐसा न हो इसलिए हम आपको बता रहे हैं बालों से जुड़े सामान्य मिथकों की सच्चाई ताकि आपके बाल स्वस्थ रहें और सुंदर नज़र आएं.

Hair myth and truth

 

मिथक- कंडीशनर से दोमुंहे बालों की समस्या से निजात मिलती है.

सच्चाई- कोई भी कंडीशनर दोमुंहे बालों की समस्या को ख़त्म नहीं करता.

 

 

मिथक- बार-बार धोने से बाल गिरने लगते हैं और ड्राई हो जाते हैं.

सच्चाई- इस बात में बिल्कुल सच्चाई नहीं है, बल्कि एक्सपर्ट्स तो हफ्ते में 2-3 बार बाल धोने की सलाह देते हैं.

shampoo

मिथक- कलर कराने से बाल गिरते हैं.

सच्चाई- आयुर्वेदिक और अच्छे ब्रांड के कलरिंग प्रॉडक्ट्स बालों को नुक़सान नहीं पहुंचाते. अगर हेयर टाइप को ध्यान में रखते हुए अच्छी क्वालिटी के हेयर कलर का इस्तेमाल किया जाए तो इससे बाल गिरते नहीं, बल्कि आकर्षक दिखते हैं.

 

 

मिथक- टाइट चोटी बांधने से बाल बढ़ते हैं.

सच्चाई- उलझे हुए बाल जल्दी टूटते हैं. ऐसे में बालों की टाइट चोटी बांधने से उनके उलझने की संभावना कम हो जाती है, लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि टाइट चोटी बनाने से बाल बढ़ते हैं.

 

 

 

मिथक- कंडीशनर लगाकर तुरंत बाल धो देने से उसका असर नहीं होता.

सच्चाई- ये धारणा सही नहीं है. दरअसल, कंडीशनर अप्लाई करने के 2-3 मिनट बाद बाल धोने पर बाल सिल्की और शाइनी बने रहते हैं.

hair cutting

मिथक- हमेशा बाल कटवाते रहने से बाल घने हो जाते हैं.

सच्चाई- छोटे बाल घने ज़रूर दिखते हैं, लेकिन हेयर कटिंग से बालों की नॉर्मल ग्रोथ रेट में कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता.

 

 

मिथक- एक स़फेद बाल तोड़ने पर उसकी जगह कई स़फेद बाल उग आते हैं.

सच्चाई- ये धारणा सरासर ग़लत है. स़फेद बाल को तोड़ने का असर बाकी बालों पर नहीं होता.

 

 

मिथक- सोते समय यदि बाल गीले हों तो स्काल्प फंगस होने का ख़तरा बना रहता है.

सच्चाई- स्काल्प इंफेक्शन का गीले बालों से कोई संबंध नहीं है.

 

 

hair brush

मिथक- रोज़ाना बालों में ब्रश के 100 स्ट्रोक करने से बाल स्वस्थ और मज़बूत बनते हैं.

सच्चाई- बहुत ज़्यादा ब्रश करने से बालों के क्यूटिकल को नुक़सान पहुंचता है.

 

मिथक- स़िर्फ उम्रदराज़ लोगों के बाल ही स़फेद होते हैं.

सच्चाई- इसे सच कहना ग़लत होगा. तेज़ी से बदलती लाइफ स्टाइल, खानपान एवं केमिकलयुक्त हेयर प्रॉडक्ट्स के इस्तेमाल से कम उम्र में ही बाल न स़िर्फ कमज़ोर, बल्कि स़फेद भी हो रहे हैं.

होममेड हेयर मास्क

रेशमी-मुलायम, घने बाल ख़ूबसूरती में चार चांद लगाते हैं, मगर केमिकलयुक्त हेयर प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल बालों को बेजान बना देता है. ऐसे में होममेड हेयर मास्क बालों की ज़रूरतों को पूरा करने के साथ ही लंबे-घने बालों की ख़्वाहिश भी पूरी करते हैं. आइए, जानते हैं हेल्दी हेयर के लिए कौन-से होममेड हेयर मास्क हैं उपयोगी.

 

hair mask

रूखी बालों को बनाएं सिल्की सॉफ्ट

  • किसी भी तेल में 1 टेबलस्पून शहद मिलाएं और बालों में अच्छी तरह लगाएं. 1 घंटे बाद शैम्पू कर लें.
  • 1 अंडे में 3 टेबलस्पून शहद डालकर फेंटें. इसे स्काल्प और बालों पर लगाएं. आधे-एक घंटे बाद शैम्पू कर लें.

ताकि बाल बनें मज़बूत

  • लोहे के बर्तन में आंवले के चूर्ण को पानी में भिगोकर रखें और इसका लेप बालों में लगाएं. इससे बाल स्वस्थ और काले होते हैं.
  • कड़वे परवल के पत्तों को पीसकर रस निकालें और उसे सिर पर लगाएं. 2-3 महीने तक ऐसा करने से बाल स्वस्थ होंगे और झड़ेंगे नहीं.
  • आंवला, मुलतानी मिट्टी, दही, शिकाकाई, रीठा और बेसन से बाल धोने से बाल स्वस्थ होते हैं.

 

alovira

बालों को दें एक्स्ट्रा शाइन

  • हेल्दी और शाइनी हेयर के लिए पानी में नींबू का रस मिलाकर बाल धोएं.
    दही और अंडा मिलाकर पेस्ट बनाएं और इसे साफ़ बालों पर लगाएं. सूखने दें और ठंडे पानी से धो दें.
  • 15 दिनों में एक बार शैम्पू करने के बाद पानी में शहद और नींबू का रस मिलाकर बालों पर डालें. इसके बाद बालों में पानी न डालें.

डैंड्रफ की कर दें छुट्टी

  • अदरक के 2 बड़े टुकड़ों को अच्छी तरह पीसकर रस निकालें. इसके1-2 टेबलस्पून रस में नींबू का रस और तिल का तेल मिलाएं. इससे स्काल्प में अच्छी तरह मसाज करें. 30 मिनट बाद धो दें. सप्ताह में 3 बार ज़रूर लगाएं.
  • स्काल्प में 3 टेबलस्पून विनेगर लगाकर मसाज करें. सूखने पर बाल धो दें. जब तक डैंड्रफ पूरी तरह ख़त्म न हो, ऐसा रोज़ करें. जल्द ही फ़ायदा होगा.

Heena

चिपचिपे बालों से पाएं राहत 

  • जब बाल ऑयली हो जाएं और शैम्पू के लिए समय न हो, तो कॉर्नफ्लोर ट्राई करें. 10 मिनट बाद कंघी से बाल झाड़ें और कॉर्नफ्लोर हटाएं. बाल फिर से खिले-खिले नज़र आएंगे.
  • अचानक ज़रूरत पड़ने पर बालों का चिपचिपा लुक हटाने के लिए थोड़ा-सा टेलकम पाउडर बालों की जड़ों में लगाएं. बाल अच्छे दिखेंगे. हां, बाद में शैम्पू करना न भूलें.

कैसे चुनें सही हेयरब्रश?

how to chose right hair brush,hair care tips

अपने ख़ूबसूरत बालों को संवारने के लिए सही हेयर ब्रश का चुनाव करें ताकि आपके बाल टूटने से बचे रहें. कैसे चुनें सही हेयर ब्रश? चलिए, हम बताते हैं.

long hair_healthy hair_hair care

 

  • यदि आप अपने बालों को थोड़ा स्ट्रेट दिखाना चाहती हैं तो नायलॉन ब्रिसल्स वाला वाइड (चौड़ा) हेयरब्रश आपके लिए सही होगा.

 

  • यदि आपके बाल बहुत पतले हैं तो ऐसा हेयरब्रश चुनें जिसके ब्रिसल्स बहुत पास-पास हों. ऐसे में राउंड हेयरब्रश आपके लिए आइडियल चॉइस होगी.

 

  • यदि आपके बाल स्ट्रेट हैं तो आप कोई भी हेयरब्रश चुन सकती हैं, लेकिन फ्लैट हेयरब्रश ज़्यादा अच्छा रहेगा.

 

  • यदि आपके बाल बहुत उलझे हुए व घुंघराले हैं, तो वाइड टूथ कोम (चौड़े दांतों वाली कंघी) का इस्तेमाल करें.

 

  • टाइट ग्रिप के लिए रबर या लकड़ी के हैंडल वाला ब्रश चुनें.

 

  • डेली यूज़ के लिए पैडल हेयर ब्रश अच्छा होता है. ये ब्रश फ्लैट और फैला हुआ होता है जिससे बाल आसानी से सुलझ जाते हैं.

Hair brush,hair comb

  • बालों में वॉल्यूम और नई जान डालने के लिए हॉट हेयर ब्रश का इस्तेमाल करें. ये एक तरह का इलेक्ट्रॉनिक हेयर ब्रश है.

 

  • ओवल ब्रश स्टाइलिंग के साथ ही स्काल्प (सिर की त्वचा) का मसाज भी करता है.

 

  • आमतौर पर बहुत से लोग मेटल ब्रिसल हेयर ब्रश इस्तेमाल करते हैं, लेकिन ये सिर की त्वचा को नुक़सान पहुंचाता है.

 

  • मोटे दांत वाली कंघी से बालों को सुलझाने के बाद ही ब्रश का इस्तेमाल करें.
    ब्लो ड्राइंग के समय रबर कोटेड ब्रश का ही इस्तेमाल करें, ताकि इलेक्ट्रिक शॉक का डर न रहे.