Tag Archives: spinach

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के साथ ही इम्यूनिटी भी बूस्ट करता है पालक (8 surprising health benefits of spinach you may not know)

health benefits of spinach

health benefits of spinach

बाज़ार में हरी सब्ज़ियों के ढरे के बीच रखा पालक (health benefits of spinach) देखने में बहुत अच्छा लगता है, मगर इसका स्वाद कम ही लोगों को भाता है. वैसे स्वाद में भले ही ये थोड़ा कसैला हो, मगर इसके फ़ायदे जानकर आप भी रोज़ाना पालक खाना शुरू कर देंगे. पालक कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम्स से छुटकारा दिलाता है. अब ये आप तय करिए कि आपको डॉक्टर की कड़वी दवा खानी है या हेल्दी पालक.

हीमोग्लोबिन बढ़ाता है पालक
जिन लोगों को ख़ून की कमी है, उनके लिए पालक बहुत फ़ायदेमंद होता है. इसमें आयरन की मात्रा बहुत अधिक होती है, जिससे हीमोग्लोबिन बढ़ता है.

इम्यून सिस्टम को करता है बूस्ट
पालक में मौजूद फ्लेवोनोइड्स एंटीआक्सीडेंट का काम करता है. ये इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के साथ ही हार्ट डिसीज़ से लड़ने में भी मदद करता है. पालक खाने से भूख भी बढ़ती है.

स्ट्रॉन्ग मसल्स
पालक मसल्स को भी मज़बूत बनाता है. बच्चों की हड्डियों को मज़बूत बनाने के लिए उन्हें पालक ज़रूर खिलाएं. आपने देखा होगा कि एक्सपर्ट्स जिम करनेवालों को पालक का सूप पीने के लिए कहते हैं, इससे उनकी मांसपेशियां मज़बूत होती हैं.

स्टोन प्रॉब्लम में है फ़ायदेमंद
स्टोन यानी पत्थरी होने पर पालक ज़रूर खाना चाहिए. दरअसल, पालक में ऐसे गुण होते हैं, जो स्टोन गलाकर ख़त्म कर देता. रोज़ाना पालक के पत्तों का काढ़ा बनाकर पीने से स्टोन पिघलकर यूरिन के ज़रिए बाहर निकल जाता है.

health benefits of spinach

डाइजेशन सिस्टम को रखता है दुरुस्त ((health benefits of spinach))
यदि आपको भी पाचन संबंधी समस्या है, तो पालक खाना शुरू कर दीजिए. सुबह उठकर आधा ग्लास कच्चे पालक का रस पीने पर जल्द फ़ायदा होगा.
आंखों की रोशनी बढ़ाता है. आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए डॉक्टर अक्सर हरी सब्ज़ियों का सेवन करने की सलाह देते हैं. हरी सब्ज़ियों में पालक बेस्ट है. इससे आंखों की रोशनी बढ़ाने में मदद मिलती है. गाजर व टमाटर के रस में समान मात्रा में पालक का रस मिलाकर पीने से भी आंखों की सेहत ठीक रहती है.

आंखों की रोशनी बढ़ाता है
आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए डॉक्टर अक्सर हरी सब्ज़ियों का सेवन करने की सलाह देते हैं. हरी सब्ज़ियों में पालक बेस्ट है. इससे आंखों की रोशनी बढ़ाने में मदद मिलती है. गाजर व टमाटर के रस में समान मात्रा में पालक का रस मिलाकर पीने से भी आंखों की सेहत ठीक रहती है.

आर्थराइटिस में उपयोगी
आर्थराइटिस, ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारी से बचना चाहते हैं, तो आज से ही पालक खाना शुरू कर दीजिए. पालक, टमाटर और खीरा का सलाद बनाकर खाएं या फिर सब्ज़ी के रूप में इसका सेवन करें.

ब्लड प्रेशर और अस्थमा रोकने में मददगार
पालक ख़ून बढ़ाने के साथ ही ब्लड सर्कुलेशन को भी ठीक रखता है, इसलिए लो ब्लड प्रेशर के मरीज़ों के लिए पालक फ़ायदेमंद है. एक ग्लास पालक के जूस में थोड़ा-सा सेंधा नमक मिलाकर पीने से सांस संबंधी समस्या से राहत मिलती है.

पालक में मौजूद पोषक तत्व?
प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फैट, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, विटामिन ए, बी, सी आदि.

12 सुपर फूड, जो आपको देंगे इंस्टेंट एनर्जी(12 Super food for instant energy)

energy booster food

क्या आप भी दिनभर थकान महसूस करती हैं? तो दिनभर की थकान को चुटकियों में दूर करने के लिए अपनी डायट में शामिल करें कुछ सुपरफूड, जो दिनभर आपको रखेंगे फ्रेश और एनर्जेटिक.

energy booster food

 

दही

दही में प्रोबायोटिक्स यानी अच्छे बैक्टीरिया और कार्बोहाइड्रेट होते हैं, जो थकान दूर करके आपको एनर्जेटिक बनाते हैं. दही को आप सुबह के नाश्ते में भी शामिल कर सकते हैं. दही में फ्रूट्स मिलाकर खाना भी एक बेहतरीन विकल्प है. एनर्जेटिक बनाने के साथ ही दही के सेवन से इम्यून सिस्टम भी मज़बूत बनता है.

 

सौंफ

सुनकर शायद आपको थोड़ी हैरानी होगी, लेकिन सौंफ में पाए जानेवाले पोषक तत्व सोडियम, कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन आदि शरीर में थकान महसूस कराने वाले हार्मोन्स को ख़त्म कर देते हैं. सौंफ को चबा-चबा कर खाएं या फिर सौंफ वाली चाय पीएं. थकान मिनटों में छूमंतर हो जाएगी और आप तरोताज़ा महसूस करेंगे.

 

केला

ऑफिस से आने के बाद शाम को यदि आपको बहुत ज़्यादा थकान महसूस हो रही है और आपसे उठा नहीं जा रहा हो, तो 2-3 केले खा लें. केले में पोटैशियम पाया जाता है जो शरीर में मौजूद शुगर को एनर्जी में बदल देता है और आपकी थकान दूर हो जाती है.

 

अजवायन

क्या कभी आपने अजवायन की चाय पी है? नहीं..? तो पीकर देखिए, थकान मिनटों में दूर हो जाएगी. अजवायन को गरम पानी में उबालकर चाय की तरह पीएं. सुबह-शाम थोड़ी-थोड़ी मात्रा में इसे पीने से शरीर को ऊर्जा तो मिलती ही है, साथ ही मस्तिष्क की नसों को आराम और जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है.

 

संतरा

संतरे मे मौजूद विटामिन बी6 और फॉलिक एसिड थकान दूर करके आपको एनर्जेटिक बनाता है. जब भी आपको थकान लगे, तो संतरा खाएं या उसका जूस पीएं. संतरे का जूस प्रेग्नेट महिलाओं के लिए भी बहुत फ़ायदेमंद होता है.

 

अखरोट

एनर्जी बढ़ाने वाले फूड की बात हो और अखरोट का नाम न आए, भला ऐसा कैसे हो सकता है. ओमेगा3 फैटी एसिड से भरपूर अखरोट मिनटों में थकान दूर करने में मदद करता है. इतना ही नहीं, अखरोट खाने से एंग्ज़ाइटी और डिप्रेशन से भी राहत मिलती है. यदि आप एक्सरसाइज़ करके थक चुके हैं, तो अखरोट खाइए.

 

ओटमील

फाइबर और एंटीऑक्सिडेंट के गुणों से भरपूर ओटमील कई तरह की बीमारियों से बचाने के साथ ही एनर्जेटिक भी रखता है. सुबह नाश्ते में ओटमील खाने से आप दिनभर फ्रेश और एनर्जेटिक महसूस करेंगे. अपनी पसंद के अनुसार आप ओट्स से स्वीट या नमकीन रेसिपी बना सकती हैं.

 

मशरूम

दिन मे एक कप मशरूम खाने से शरीर को 50 प्रतिशत आयरन मिलता है. मशरूम खाने से रक्त की कमी की समस्या नहीं होती. इसके सेवन से शरीर को ऊर्जा मिलती है, साथ ही हाई ब्लडप्रेशर और डायबिटीज़ के मरीज़ों के लिए भी ये फ़ायदेमंद होता है. मशरूम में अन्य सब्ज़ियों के मुक़ाबले प्रोटीन, विटामिन ई और सेलेनियम की मात्रा अधिक होती है.

 

पपीता

सुबह-सुबह पपीता खाने से डाइजेशन सिस्टम ठीक रहने के साथ ही शरीर को ऊर्जा भी मिलती है. पपीते में मौजूद विटामिन बी6 और फॉलिक एसिड शरीर की थकान दूर करने में मदद करते हैं. ऑफिस में शाम के समय भूख लगने पर पपीता खाएं. इससे तुरंत एनर्जी मिलेगी. इसके अलावा पपीता कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित रखने और वज़न घटाने में भी मदद करता है.

 

पालक

इसमें मैग्नीशियम, आयरन और पोटैशियम की भरपूर मात्रा होती है. मैग्नीशियम शरीर में ऊर्जा उत्पन्न करने में मदद करता है और पोटैशियम पाचन क्रिया को दुरुस्त रखता है. दोपहर के भोजन में सलाद के रूप में पालक खाने से आप दिनभर तरोताज़ा महसूस करेंगे.

 

अदरक

थकान महूसस होने पर अदरक वाली चाय पीजिए या फिर अदरक को पतला-पतला काटकर नमक के साथ खाइए. आप तरोताज़ा महसूस करेंगे. अदरक में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट मसल्स को रिलैक्स करने के साथ ही इम्यून सिस्टम को भी मज़बूत बनाते हैं.

 

अंडा

अंडे में प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है. दिन में एक अंडा खाने से शरीर को 30 प्रतिशत प्रोटीन मिलता है. एक्सरसाइज़ के बाद एक अंडा खाइए, इससे थकान दूर होने के साथ ही मसल्स भी रिलैक्स होंगी.

 

सही खाना ही नहीं, सही समय पर खाना भी है ज़रूरी (Healthy Eating: Are You Eating At The Right Time?)

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाएं?(Top Immunity booster food)

best Immunity booster food

हमारी इम्यूनिटी काफ़ी हद तक हमारे खान-पान व लाइफस्टाइल से जुड़ी होती है. अगर आप भी चाहते हैं कि हमेशा हेल्दी और फिट रहें और बीमारियां आपके पास आने से भी डरें, तो आप भी ऐसी चीज़ें खाएं, जिनसे आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़े.

best Immunity booster food
इम्यूनिटी बढ़ानेवाले फूड्स

दही: प्रोबायोटिक्स, जिन्हें हम गुड बैक्टीरिया भी कहते हैं, दही में भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं. इनका नियमित सेवन इम्यूनिटी बढ़ाता है.
ग्रीन टी: यह एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है और इम्यून सिस्टम पर इसके सकारात्मक प्रभाव से आजकल सभी वाक़िफ़ हैं. कुछ शोध बताते हैं कि इसमें मौजूद पॉलीफीनॉल्स के एक प्रकार के कारण इंफ्लूएंज़ा के वायरस का ख़ात्मा होता है. तो रोज़ाना ग्रीन टी ज़रूर पीएं. इसका पूरा फ़ायदा लेने व कड़वापन दूर करने के लिए पानी उबलने से थोड़ा पहले ग्रीन टी मिलाएं और 1-2 मिनट से ज़्यादा पानी में ग्रीन टीन को न रखें. इसके स्वाद में इज़ाफ़ा करना हो, तो नींबू का रस व शहद मिलाकर पी सकते हैं, लेकिन दूध न मिलाएं, वरना प्रोटीन्स पॉलीफीनॉल्स के साथ मिलकर उसे बेअसर कर देंगे.
विटामिन डी: अमेरिका में एक अध्ययन किया गया, जिसमें यह पता चला कि जिन बच्चों को रोज़ाना विटामिन डी सप्लीमेंट्स दिए गए, उन्हें अन्य बच्चों के मुकाबले फ्लू होने की संभावना 40% तक कम हो गई. ऐसे माना जाता है कि विटामिन डी हमारे इम्यून सेल्स को उन बैक्टीरिया व वायरस को पहचानकर ख़त्म करने में मदद करता है, जो हमें बीमार कर सकते हैं. विटामिन डी आपको धूप से मिलेगा. खाने में साल्मन जैसी फैटी फिश से भी कुछ मात्रा में विटामिन डी मिल सकता है.
चिकन सूप: अगर सर्दी है, नाक बह रही है, तो चिकन सूप बेहतरीन इलाज है. यह कफ को पतला करके वायरस व बैक्टीरिया को बाहर निकालने में मदद करता है और आपके इम्यून सिस्टम को सर्दी से लड़ने में मदद करता है. चिकन सूप में थोड़ी हरी मिर्च मिलाकर और स्पाइसी बना लें, तो दुगुना लाभ होगा.
सोल्यूबल फाइबर्स: सिट्रस फ्रूट्स, सेब, गाजर, बींस और ओट्स सोल्यूबल फाइबर्स से भरपूर होते हैं. ये शरीर को विभिन्न प्रकार के शोथों से लड़ने में मदद करते हैं.
जौ और ओट्स: इनमें बीटा-ग्लूकैन होता है, जो एक तरह का फाइबर है, जिसमें एंटीमाइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज़ होती हैं और यह कई तरह की बीमारियों व फ्लू से रक्षा करता है. यह इम्यूनिटी तो बढ़ाता ही है, साथ ही घाव को जल्दी भरने में मदद करता है और एंटीबायोटिक्स को भी और असरकारक बनाने में मदद करता है.
लहसुन: इसमें अलाइसिन नाम का तत्व होता है, जो इंफेक्शन्स और बैक्टीरिया से लड़ता है. जो लोग लहसुन का नियमित सेवन करते हैं, उन्हें सर्दी व अन्य इंफेक्शन्स होने की संभावना काफ़ी कम रहती है. यही नहीं, जो लोग एक हफ़्ते में लहसुन की 6 कलियां खाते हैं, उन्हें कोलोरेक्टल कैंसर होने की 30% संभावना और पेट के कैंसर की संभावना 50% तक कम होती है.
ब्लैक टी: हार्वर्ड की एक स्टडी में यह पाया गया, जिन लोगों ने 2 हफ़्तों तक दिन में 5 कप ब्लैक टी पी, उनके रक्त में अन्य लोगों की अपेक्षा 10 गुना अधिक वायरस से लड़नेवाले इंटरफिरॉन यानी विषाणु अवरोधक पाए गए. दरअसल, उसमें मौजूद अमीनो एसिड इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए ज़िम्मेदार है.
मशरूम: यह सेलिनियम (एक प्रकार का मिनरल) और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है. सेलिनियम की कमी से फ्लू की संभावना बहुत हद तक बढ़ जाती है. साथ ही इसमें राइबोफ्लेविन और नायसिन भी पाए जाते हैं, जो इम्यून सिस्टम को हेल्दी रखते हैं.
तरबूज़: इसमें बहुत ही स्ट्रॉन्ग एंटीऑक्सीडेंट- ग्लूटाथायॉन होता है, जो इम्यून सिस्टम को मज़बूत करके इंफेक्शन्स से लड़ने में मदद करता है.
पत्तागोभी: इम्यूनिटी बढ़ानेवाले तत्व ग्लूटामाइन से यह भरपूर होती है. इसका सूप भी बनाकर पी सकते हैं या सब्ज़ी बनाकर खाएं.
बादाम: विटामिन ई से भरपूर बादाम भी रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं. विटामिन ई इम्यूनिटी को बढ़ाता है, साथ ही इसमें राइबोफ्लेविन और नायसिन भी होता है, जो तनाव के कारण हुए नुक़सान से उबरने में मदद करता है.
पालक: इसे सुपर फूड कहा जाता है. यह कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है. नई कोशिकाओं के निर्माण व डीएनए के रिपेयर में मदद करता है. हेल्दी रहने के लिए व इसका भरपूर लाभ लेने के लिए हल्का या कम पके रूप में इसका सेवन करें.
शकरकंद: एंटीऑक्सीडेंट्स और बीटाकेरोटीन से भरपूर शकरकंदरोगप्रतिरोधक शक्ति बढ़ाता है और कैंसर से भी बचाव करता है.
एंटीऑक्सीडेंट्स: ब्रोकोली, हरी मिर्च, पपीता, संतरा, कीवी, स्ट्रॉबेरी, हरी पत्तेदार सब्ज़ियां भी एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती हैं, जो इम्यून सिस्टम को मज़बूत करके आपको हेल्दी रखती हैं.

– गीता शर्मा