stress buster

कोरोना महामारी को हराने के लिए लोग देशव्यापी लॉकडाउन के कारण घरों में बंद हैं, लेकिन एक महीने से ज़्यादा घरों में रहने के कारण लोग अब स्ट्रेस और एंग्जायटी के शिकार हो रहे हैं. इसका सीधा असर उनकी सेहत पर पड़ रहा है. ऐसे में बहुत ज़रूरी है कि हम स्ट्रेस बस्टर फूड्स को खाने में शामिल करें, ताकि स्ट्रेस का सामना कर सकें.

डार्क चॉकलेट

चॉकलेट मूड को बेहतर बनाने का सबसे बेहतर ऑप्शन है. दरअसल चॉकलेट खाने से शरीर में एंडॉर्फिन्स बनते हैं, जिसके कारण स्ट्रेस दूर होता है और आप अच्छा महसूस करते हैं. खाने के बाद डार्क चॉकलेट का एक टुकड़ा आपके मूड को बूस्ट करने के लिए बेस्ट है.

केला

केले में मौजूद पोटैशियम ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है, जिससे हमारा ब्लड प्रेशर सामान्य रहता है. केले में प्राकृतिक शक्कर होता है, जो एनर्जी बूस्ट करता है. यही वजह है कि हेल्थ एक्सपर्ट सुबह के नाश्ते में केला खाने की सलाह देते हैं, ताकि शरीर को ज़रूरी ग्लूकोज़ की पूर्ति हो सके.

सिट्रस फ्रूट्स

संतरा, मोसंबी जैसे सिट्रस फ्रूट्स में विटामिन सी और एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो स्ट्रेस को कम करने का काम करते हैं. इसमें मौजूद मैग्नीशियम के कारण बॉडी रिलैक्स होती है और नींद अच्छी आती है. विटामिन सी हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मज़बूत बनाता है और घावों को जल्दी भरता है.

पिस्ता

पिस्ता में जिंक और मैग्नीशियम होता है, जो टेन्स हुई नर्व्स को शांत करता है. इसीलिए ज़्यादातर लोग वर्कप्लेस पर पिस्ता रखते हैं, ताकि जब भी अच्छा न महसूस करें, तो कुछ निकालकर खा लें. आप भी जब टेन्स महसूस करें, तब पिस्ता के कुछ पीसेज़ खा लें, आपको बेहतर लगेगा.

दही

रिसर्च में पता चला है कि पेट में मौजूद बैक्टीरिया के कारण भी स्ट्रेस होता है. दही में मौजूद प्रोबायोटिक्स पाचन शक्ति को दुरुस्त करके पेट को मज़बूत बनाता है, जिससे ब्रेन को अच्छी फीलिंग्स का सिग्नल मिलता है. कैल्शियम और प्रोटीन से भरपूर दही के रोज़ाना सेवन से स्ट्रेस का स्तर कम होता है.

– अनीता सिंह

यह भी पढ़ें: कैसे दूर करें अपना डिप्रेशन (Natural Treatments For Depression)

स्ट्रेस या तनाव आजकल आज की भागदौड़भरी ज़िंदगी में हमारे जीवन का हिस्सा बन गया है. आज हालात ये हैं कि हम हर छोटी-छोटी बात का स्ट्रेस ले लेते हैं, पर ये स्ट्रेस हमारी सेहत को  न सिर्फ़ बुरी तरह प्रभावित करता है, बल्कि कई बीमारियों का कारण भी बन जाता है. बीमारियों की इस जड़ स्ट्रेस यानी तनाव को दूर रखने के लिए आज़माएं ये 4 योगासन- सुलभ जानुशिरासन, अधोमुख स्वस्तिकासन, सुप्त बद्धकोणासन, सुप्त सर्वांगासन. ये 4 योगासन नियमित रूप से करने से आप  स्ट्रेस यानी तनाव से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं.

Yoga Pose For Stress Relief

तनाव दूर करके मन को शांत रखने के लिए करें ये 10 आसान उपाय

1) रात में सोने से पहले ही अगले दिन की प्लानिंग कर लें. ऐसा करने से आप क्लियर रहेंगे कि अगले दिन आपको किस समय कौन सा काम करना है. काम का सही प्रबंधन करके आप अपना स्ट्रेस काफी हद तक कम कर सकते हैं.

2) रात में जल्दी सोने और सुबह जल्दी उठने की आदत डालें, ताकि आपको पर्याप्त नींद मिल सके. सुबह जल्दी उठने से आप वर्कआउट के लिए आसानी से समय निकाल पाएंगे.

3) किसी भी काम को लास्ट मिनट के लिए न रखें, आप अपने हर काम को जितनी जल्दी निपटा देंगे, आपका तनाव उतना ही कम होता चला जाएगा. अतः अपना हर काम समय से करें. 

4) उतना ही काम हाथ में लें, जितना आप आसानी से कर सकें. मल्टीटास्किंग करने वाले कई लोग हमेशा तनाव में रहते हैं इसलिए काम के साथ-साथ अपनी सेहत का भी विशेष ध्यान रखें. 

5) रोज़ सुबह उठकर सबसे पहले मुस्कुराएं और मन में ये सोचें कि आपका आज का दिन बहुत अच्छा बीतने वाला है.

यह भी पढ़ें: पीसीओडी (PCOD)/पीसीओएस (PCOS) से घर बैठे छुटकारा पाने के लिए करें ये 4 योगासन (4 Effective Yoga Poses To Treat PCOD/PCOS At Home)

Yoga Pose For Stress Relief

6) रोज़ सुबह कुछ समय योग, ध्यान और एक्सरसाइज़ के लिए ज़रूर निकालें. ऐसा करने से आपका स्टेमिना बढ़ेगा और आप अपने काम के प्रति ज़्यादा फोकस्ड रहेंगे. तनाव दूर करके मन को शांत रखने के लिए हमारे बताए 4 योगासन ज़रूर करें, ये 4 योगासन रोज़ करने से आप स्ट्रेस फ्री रहेंगे और अपना हर काम आसानी से पूरा कर लेंगे.

7) अपने खानपान पर विशेष ध्यान दें. हेल्दी डायट लें, ऐसा करने से आप हमेशा फिट और हेल्दी बने रहेंगे. 

8) अपनी हॉबीज़ के लिए समय निकालें. हमारे शौक हमें खुश रखते हैं और हमारा तनाव दूर करते हैं.

9) ऐसे लोगों से दूर रहें जो हर समय नकारात्मक बातें करते हैं. ऐसे लोगों के साथ रहें जो हमेशा पॉज़िटिव रहते हैं.

10) हमेशा अच्छे कपड़े पहनें और बन-ठन के रहें. ऐसा करने से आपका कॉन्फिडेंस बढ़ेगा और आप अपना हर काम कॉन्फिडेंस से करेंगे, जिससे आपको हर काम में सफलता मिलेगी और आप खुश रहेंगे.

तनाव दूर करके मन को शांत रखने के लिए रोज़ करें ये 4 योगासन, इन 4 योगासन को करने की विधि जानने के लिए देखें ये वीडियो :

सुबह (Morning) के समय सबसे बेहतरीन कार्डियो एक्सरसाइज़ क्या हो सकता है? चलिए हम आपको एक हिंट देते हैं. ज़्यादातर लोग मन ही मन फिट रहने के लिए यही एक्सरसाइज़ करना पसंद करेंगे. जी हां, हम सेक्स (Sex) की बात कर रहे हैं.

Health Benefits Of Morning Sex

 आजकल की इस भागदौड़ भरी ज़िंदगी में अधिकांश लोग घंटों तक लगातार काम करते हैं, जिसके चलते घर आते-आते वे इस कदर थक जाते हैं कि रात में घर पहुंचने के बाद बिस्तर पर जाते ही गहरी नींद की आगोश में समा जाते हैं. रोज़मर्रा की इस दिनचर्या से कइयों की सेक्स लाइफ पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है. कई बार लोग तनाव और चिंता के कारण भी सेक्स के प्रति उदासीन नज़र आते हैं, जबकि सेक्स तनाव दूर करने के साथ-साथ मूड को बेहतर बनाने में मदद करता है. ज़्यादातर लोग रात में सेक्स करना पसंद करते हैं, लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि रात की बजाय सुबह के व़क्त किया गया सेक्स सेहत के लिहाज से ज़्यादा फ़ायदेमंद माना जाता है.

दरअसल, साल 2015 में सेक्स टॉय कंपनी लव हनी ने एक सर्वे कराया था, जिसमें 2300 लोगों को शामिल किया गया था. इस सर्वे में शामिल अधिकांश पुरुषों ने यह माना कि उन्हें सुबह 6-9 बजे के बीच सेक्स करना अच्छा लगता है, जबकि महिलाओं का कहना था कि उन्हें रात में 11-2 बजे के बीच सेक्स करना ज़्यादा पसंद है. इसके अतिरिक्त साल 2018 में हुए एक सर्वे में शामिल 1000 वयस्कों में से 53 फ़ीसदी ने यह माना कि सुबह में सेक्स करने से वे दिनभर ऊर्जावान महसूस करते हैं.

1. तनाव होता है गायब

सुबह के व़क्त सेक्स करने से शरीर में ऑक्सीटोसिन नामक स्ट्रेस दूर करने वाला हार्मोन रिलीज़ होता है, जिससे तनाव को दूर भगाने में मदद मिलती है और मूड बेहतर होता है. अगर आपको अपने दिन की शुरुआत अच्छी करनी है तो सुबह के समय सेक्स करने की आदत डाल लीजिए.

2. त्वचा में आता है निखार 

सुबह के समय पुरुषों में कामेच्छा को बढ़ाने वाला सेक्स हार्मोन टेस्टोस्टेरॉन का स्तर तेज़ी से बढ़ता है, जिससे लिंग में कड़ापन आता है. सुबह के व़क्त सेक्स करने से बीमारियों की संभावना कम हो जाती है और इससे त्वचा में गजब का निखार आता है.

Morning Sex Benefits
3. वीर्य की गुणवत्ता होती है बेहतर

एक रिसर्च के अनुसार, सुबह के व़क्त सेक्स करने से पुरुषों में वीर्य की गुणवत्ता 12 फ़ीसदी तक बढ़ जाती है. खासकर जिन महिलाओं को गर्भधारण करने में दिक्कत होती है, उन्हें सुबह में सेक्स करना चाहिए. इससे गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है और सेक्स संबंधी कई समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है.

4. बढ़ती है रोग-प्रतिरोधक क्षमता

सुबह के व़क्त सेक्स करने से शरीर में इम्योनोग्लोबिन ए नामक एंटीबॉडी बनता है, जो शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करता है. इससे दूसरी बीमारियों का ख़तरा 30 फ़ीसदी तक कम होता है और व्यक्ति लंबे समय तक स्वस्थ रहता है.

5. बेहतरीन एक्सरसाइज

सुबह के समय सेक्स करना किसी बेहतरीन एक्सरसाइज से कम नहीं है. दरअसल, सुबह के समय हवा में ऑक्सीज़न की मात्रा अधिक होती है और इस दौरान सेक्स करने से व्यक्ति बड़ी-बड़ी सांसें लेता है, जिससे ऑक्सीज़न आसानी से फेफड़ों तक पहुंचता है. इससे दिमाग शांत रहता है और हार्ट अटैक का ख़तरा भी काफ़ी हद तक कम होता है.

यह भी पढ़ें: दूर कीजिए सेक्स से जुड़ी 10 ग़लतफ़हमियां (Top 10 Sex Myths Busted)

यह भी पढ़ें: सेक्सुअल पावर बढ़ाने के लिए खाएं ये 5 सुपर फूड्स (Top 5 Super Foods To Boost Your Sex Power)

जादू की झप्पी यानि आलिंगन (Amazing health benefits of hug) प्यार के इज़हार का एक तरीका तो है ही, इसके कई हेल्थ बेनेफिट्स भी हैं. इससे दिल की धड़कनें नियंत्रित रहती हैं, जिससे ऑक्सीटोसिन के साथ-साथ मेटाबोलिज़्म भी बेहतर होता है. आलिंगन के बाद बहुत अच्छी नींद आती है. वैज्ञानिक दावा करते हैं कि नियमित आलिंगन से उम्र बढ़ती है. इतना ही नहीं, आलिंगन मानसिक स्वास्थ्य सही रखता है. अगर कोई उदास हैं और उसका कोई साथी आकर उसे हग कर ले तो अच्छा लगता है और उदासी दूर हो जाती है.

Health Benefits of Hug

1. सोच सकारात्मक करे

आलिंगन से हर किसी की सोच सकारात्मक हो जाती है, क्योंकि इससे दिमाग़ में सकारात्मक प्रतिक्रिया होती है. इस आधार पर कह सकते हैं कि आलिंगन इंसान की ज़िंदगी को सकारात्मकता बना देती है. नियमित आलिंगन करने वाले के स्वभाव से नकारात्मकता दूर हो जाती है.

2. बेचैनी होती है दूर

ख़ून में ऑक्सीटोसिन नाम के हार्मोन का जितना ज़्यादा रिसाव होगा, कोई भी व्यक्ति उतना ही ज़्यादा हेल्दी होगा. यह
हार्मोन इंसान की बेचैनी को भी ख़त्म करता है. यानी आप अगर बेचैनी महसूस कर रहे हैं तो अपने प्रिय को गले लगा लीजिए. आपकी बेचैनी ख़त्म हो जाएगी.

3. दिल के लिए अच्छा

किसी व्यक्ति को आलिंगन में लेने से ज़्यादातर ठंड के समय में आपका शरीर गर्म रहता है. आलिंगन में लेने से एक पल के लिए दिल धड़कना बंद करता है जो फ़ायदा पहुंचाता है, क्योंकि इससे दिल के टिश्यूज़ मज़बूत होते हैं.

4. मृत्यु का डर दूर हो जाता है

दो स्त्री-पुरुष के बीच नियमित आलिंगन और स्पर्श कई बार उनमें मौत के डर को कम करता है. रिसर्च से पता चलता है कि किसी बहुत क़रीबी व्यक्ति का आलिंगन करने से व्यक्ति को अपने अस्तित्व संबंधी डर से मुक्ति मिल जाती है.

5. ब्लडप्रेशर करे कंट्रोल

दो स्त्री-पुरुष के बाच आलिंगन से दोनों का हाई ब्लडप्रेशर भी नियंत्रित रहता है. जो लोग हाई ब्लडप्रेशर से परेशान हैं, उन्हें इस थेरेपी की मदद लेनी चाहिए. दरअसल, आलिंगन से शरीर का ऑक्सीटोसिन ख़ून में जाने लगता है और हाई ब्लडप्रेशर नियंत्रित हो जाता है.

यह भी पढ़ें: 7 तरह के सेक्सुअल पार्टनरः जानें आप कैसे पार्टनर हैं

6. दूर करे थकावट

अगर आप बहुत ज़्यादा थके हुए हैं तो आपके लिए भी आलिंगन बहुत ज़रूरी है आलिंगन में यह माद्दा है कि यह चुटकी में थकान को दूर भगाता है. आलिंगन से दिमाग शांत होता है. आपका ध्यान उस चीज़ से हटता है जिसे लेकर आप परेशान हैं.

7. एनर्जी बूस्ट करता है

अगर आप अकेलेपन और आलस्य के शिकार हैं तो आलिंगन आपके लिए फ़ायदेमंद हो सकता है. ख़ून में बढ़ी ऑक्सीटोसिन की मात्रा मोराल बुस्टअप करती है. इसीलिए आलिंगन के बाद लोग तरोताज़ा महसूस करने लगते हैं और अकेलेपन का एहसास भी दूर हो जाता है.

8. स्ट्रेस बस्टर भी है

जब कोई अपने बहुत क़रीबी साथी को गले लगाता है, तो उसके अंदर का सारा तनाव पलक झपकते दूर हो जाता है. यह ख़ून में बढ़ते ऑक्सीटोसिन का कमाल है. इसलिए कई विशेषज्ञ तनावग्रस्त लोगों को अपने प्रियतम से आलिंगन की सलाह देते है.

9. दिल के लिए लाभप्रद

अपने किसी ख़ास का नियमित रूप से आलिंगन से दिल की धड़कन नियंत्रित रहती है, जो ऑक्सीटोसिन और मेटाबॉलिज़्म का निर्माण करता है. दिल के मरीज़ों को अपने जीवन साथी या प्रेमी-प्रेमिका को नियमित रूप से हग करना चाहिए.

10. अनिद्रा का दुश्मन

आलिंगन को अनिद्रा का दुश्मन माना जाता है. जिन्हें रात में नींद न आती हो या कम नींद आती हो उन्हें अपने प्रिय से प्यार की झप्पी लेनी चाहिए. इससे उन्हें ख़ूब नींद आएगी. विशेषज्ञ कहते हैं कि आलिंगन के बाद बहुत अच्छी नींद आती है. जो लोग ख़ूब हग करते हैं, वे जमकर सोते हैं.

11. बेहतर होती है मेमोरी पावर

रिसर्च में यह भी पता चला है कि नियमित रूप से आलिंगन सुख लेने वाले स्त्री-पुरुष की स्मरणशक्ति बहुत लंबे समय तक दुरुस्त रहती है. विशेषज्ञ कहते हैं कि आलिंगन न करने वालों की तुमना मैं नियमित आलिंगन करने वाले स्त्री-पुरुष की स्मरण शक्ति भी बेहतर होती है.

12. लंबी उम्र में फायदेमंद

ऑक्सीटोसिन के रिसाव से शारीरिक दमखम बढ़ता है. इसीलिए नियमित रूप से आलिंगन करने और हमेशा ख़ुश रहने वाले लंबी उम्र जीते हैं. दरअसल, अगर कोई प्रिय आकर अचानक ज़ोर से हग कर ले तो बहुत अच्छा लगता है, इसका सकारात्मक और दूरगामी असर उम्र पर पड़ता है.

यह भी पढ़ेंसेफ सेक्स के 20 + असरदार ट्रिक्स