Suresh

Suresh Kalmadi
आख़िरकार … को खेल मंत्रालय के आगे झुकना ही पड़ा. सुरेश कलमाड़ी और चौटाला को आजीवन आईओए का अध्यक्ष बनाने के फैसले पर उसने यू टर्न ले लिया है और दोनों के नाम की चर्चा को अब रद्द कर दिया. आईओए ने अपने अध्यक्ष एन रामचंद्रन के देश से बाहर होने के कारण जवाब देने के लिये 15 दिन का समय मांगा था.

हम आपको बता दें कि भ्रष्टाचार के आरोपी सुरेश कलमाड़ी और अभय सिंह चौटाला की नियुक्तियों से नाराज़ खेल मंत्रालय ने भारतीय ओलम्पिक संघ (आईओए) की मान्यता रद्द कर दी थी. मंत्रालय ने दोनों दागी नेताओं को आईओए का आजीवन मानद अध्यक्ष चुने जाने पार कारण बताओ नोटिस जारी कर आईओए से जवाब तलब किया था. अपनी मान्यता रद्द किए जाने के डर से आईओए ने यू टर्न लेते हुए ये फैसला लिया.

ग़ौरतलब है कि आईओए के इस निर्णय से आईओए के अंदर भी बवाल मचने लगा था. हर तरफ़ से दबाव के कारण ही लगता है कि आईओए ने अपना ़फैसला बदल लिया.