Swara Bhasker

बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर सोशल मीडिया पर बहुत ज़्यादा एक्टिव हैं और एक्टिंग से ज़्यादा अपने कॉन्ट्रोवर्शियल बयानबाज़ी को लेकर चर्चा में रहती हैं. अपने बिंदास बयानबाज़ी को लेकर हमेशा वो ट्रोलर्स के निशाने पर भी रहती हैं. हाल ही में स्वरा अपने नए घर में शिफ्ट हुई हैं और उन्होंने गृह प्रवेश पूजा की कुछ फोटोज़ सोशल मीडिया पर शेयर की हैं, जिन पर कुछ लोग उन्हें बधाई दे रहे हैं, तो कई लोग उन्हें जमकर ट्रोल भी कर रहे हैं.

स्वरा भास्कर ने 7 घंटे तक की गृह प्रवेश की पूजा

Swara Bhasker

दरअसल पिछले ढाई सालों से स्वरा के घर पर रिनोवेशन का काम चल रहा था. कुछ समय पहले ही वे अपने घर में वापस लौटी हैं. री-डेवलपमेंट के बाद घर में शिफ्ट होने से पहले स्वरा ने बाकायदा 7 घण्टे तक गृहप्रवेश पूजा करवाई और उसके बाद गृह प्रवेश किया. एक्ट्रेस ने बताया कि उनके पुजारी ने करीब 7 घंटे तक 7 तरह की पूजा कराई, जिनमें गणेश पूजा, सत्यनारायण पूजा, रुद्राभिषेक, अंत में हवन और फिर उन्होंने गृह प्रवेश की गई. इस पूजा की कुछ फोटोज़ भी उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर की हैं. देखें फोटोज:

Swara Bhasker
Swara Bhasker
Swara Bhasker
Swara Bhasker
Swara Bhasker

रेनोवेशन के बाद शेयर की थीं घर की फोटोज

Swara Bhasker

कुछ दिनों पहले ही स्वरा ने घर की लाइब्रेरी से लेकर लिविंग रूम तक कि कुछ फोटोज़ शेयर की थीं और एक लंबा पोस्ट शेयर हुए बताया था कि- ‘ढाई साल के बाद मेरे नए ‘ पुराने ‘ घर में वापसी. फरवरी 2019 के बाद मेरे अपने घर में पहली रात. काफी ब्लेस्ड फील कर रही हूं. महामारी के दौर में हम सभी की जिंदगियां बदल गई हैं। हमने काफी कुछ खोया भी है, लेकिन अभी भी बहुत कुछ ऐसा है जिसके लिए हमें आभारी होना चाहिए.’ देखें फोटोज:

Swara Bhasker
Swara Bhasker
Swara Bhasker

ट्रोलर्स सुना रहे हैं जमकर खरी खोटी

Swara Bhasker

हालांकि इस गृहप्रवेश को लेकर सेलेब्स और कई फैन्स स्वरा को बधाई दे रहे हैं, तो कई अक्सर हिन्दू विरोधी बयानों और हिन्दुओं का विरोध करने वालों के समर्थन में रहने वाली स्वरा भास्कर को जमकर खरी खोटी भी सुना रहे हैं और उन्हें उनके हिन्दू विरोधी बयानों की याद दिला रहे हैं. एक यूजर ने कहा कि हिन्दुओं को आतंकवादी कहने वाली मैडम देवताओं की पूजा कर रही हैं, तो एक यूज़र ने उन्हें पापिन औरत तक कह दिया है. जबकि एक यूजर ने उन पर निशाना साधते हुए कहा, “चर्च में जाओ, सजदा करो, नमाज पढ़ो… पूजा पाठ तो ढोंग है… ऐसा करने से सेक्युलर देवता नाराज हो जाएंगे.”

Swara Bhasker

तो एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘दीदी को ब्राह्मणवाद को गरियाना भी है और दीदी को ब्राह्मण बुलाकर पूजा भी करवाना है. ऐसे कैसे चलेगा दीदी? हिप्पोक्रेसी ने जहर चाट लिया होगा.”

Swara Bhasker

वैसे यह पहली बार नहीं है जब स्वरा को ट्रोल किया गया हो. अलग-अलग मुद्दों पर अपने विचार रखने और बिंदास बयानबाज़ी के लिए स्वरा अक्सर ही सोशल मीडिया पर ट्रोल होती रहती हैं. हाल में अफगानिस्तान के मसले पर कमेंट करने के लिए भी स्वरा को जमकर ट्रोल किया गया था.

Swara Bhaskar
फोटो सौजन्य:ट्वीटर और इंस्टाग्राम

स्वरा भास्कर अपने बिंदास और बेबाक अंदाज़ के लिए जानी जाती हैं। इस बार विमेंस डे के मौके पर स्वरा भास्कर ने वीमेन एम्पावरमेंट के नाम पर जो वीडियो शेयर किया है उसके लिए उन्हें ट्रोल किया जा रहा है. स्वरा भास्कर ने महिला ट्रैफिक पुलिस का एक वीडियो शेयर किया है जिसमे महिला अपने बच्चे को गोद में लिए हुए है और उसके साथ ही ट्रैफिक कंट्रोल करती नजर आ रही है. ये वीडियो चंडीगढ़ की महिला कॉन्स्टेबल प्रियंका का है. वीडियो के साथ स्वरा ने लिखा है ,’चंडीगढ़ पुलिस कॉन्स्टेबल प्रियंका अपने बेबी को गोद में लिए ट्रैफिक कंट्रोल करती हुई. वह सेक्टर 23-24 में तैनात हैं. उनके जज्बे को सलाम है.

Swara Bhaskar
फोटो सौजन्य:इंस्टाग्राम

अब अपने इस ट्वीट पर स्वरा ट्रोल होती जा रही हैं.लोग इस वीडियो पर कमेंट करते हुए लिख रहे हैं कि ये वीमेन एम्पावरमेंट नहीं बल्कि शोषण है. कई अंतर्राष्ट्रीय कंपनियों जैसे गूगल में तो कुत्ते और बिल्लियों को भी संभालने के लिए केयर सर्विस एरिया बनाया जाता है. लेकिन अपने देश में तो छोटे बच्चे को संभालने के लिए भी कोई जगह नहीं है. मजबूरन कामकाजी महिलाओं को ये सब झेलना पड़ता है. कुछ लोगो ने तो ये तक कह दिया ‘इस तरह बच्चे को बीच सड़क पर नहीं लाना चाहिए इससे उसके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ेगा’. कई फॉलोवर्स ने तो स्वरा को इस वीडियो पर तालियों वाले इमोजी लगाने पर भी खूब खरी खोटी सुनाई. उन्होंने लिखा कि इस वीडियो में ताली बजानेवाली क्या बात है ?

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर स्वरा ने इस वीडियो को शेयर किया था. लेकिन उन्होंने कुछ ना लिखते हुए सिर्फ ताली बजाते हुए इमोजी ही शेयर किये थे लेकिन इस ट्वीट से उन्होंने अपने फॉलोवर्स खासतौर पर महिलाओं को ही नाराज़ कर दिया है. स्वरा भास्कर ने हमेशा से समाजिक मुद्दों पर खुलकर बात की हैं. किसान आंदोलन में भी उन्होंने जमकर किसानों को सपोर्ट किया था. स्वरा अक्सर महिलाओं की मेहनत और उनके समर्पण की बात सामने रखती आयीं हैं लेकिन इस बार उनका ये ट्वीट लोगों को खास पसंद नहीं आया. बात करें स्वरा की फिल्मों की तो स्वरा भास्कर जल्द ही फिल्म ‘जहाँ चार यार’ में नज़र आएंगीं.

निर्भया की मौत को आठ साल हो गए, लेकिन हमारे देश में अब भी कुछ नहीं बदला. एक बार फिर उत्तरप्रदेश के हाथरस में एक बेटी गैंगरेप की शिकार हुई और उसकी भी निर्मम मौत हो गई. बलात्कारियों ने हैवानियत की सारी हदें पार कद दी. बलात्कारियों ने उस बेटी को इतनी पीड़ा दी है ,जिसकी हम और आप कल्पना भी नहीं कर सकते. बलात्कारियों ने उस बेटी की जीभ काट ली, रीढ़ की हड्डी पर गंभीर चोट की और उसे गला घोंटकर मारने की भी की. और आखिरकार उसकी मृत्यु हो गई. हाथरस में गैंगरेप की शिकार हुई देश की इस बेटी की निर्मम मृत्यु कई सवाल खड़े करती है. क्या इस देश में बेटी होना गुनाह है? क्या इस देश में बेटियों की स्थिति कभी नहीं सुधरेगी? क्या इस देश में कोई भी, किसी भी लड़की के साथ दुष्कर्म कर सकता है? इस देश में बेटियों की सुरक्षा के लिए ठोस कदम कब उठाए जाएंगे?

Hathras Gangrape Case

ये है हाथरस गैंगरेप का सच
यूपी के हाथरस में 19 साल की एक दलित लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार ने एक बार फिर पूरे देश की झकझोर कर रख दिया है. घटना 4 सितंबर की है, जब चार वहशी दरिंदों ने 19 साल की लड़की के साथ न सिर्फ दुष्कर्म किया, बल्कि उसकी जीभ काट ली, रीढ़ की हड्डी पर गंभीर चोट की और उसे गला घोंटकर मारने की भी की. इतने जख्मों के साथ पीड़िता का अलीगढ़ के स्थानीय अस्पताल में इलाज चल रहा था, लेकिन जब उसकी हालत में सुधार नहीं हुआ तो उसे दिल्ली के सफ़दरजंग अस्पताल लाया गया. वहां भी उसकी हालत नहीं सुधरी और आखिरकार उसकी मृत्यु हो गई.

अंतिम संस्कार में माता-पिता को शामिल नहीं किया गया
हाथरस गैंगरेप की शिकार लड़की का अंतिम संस्कार रात 3 बजे किया गया और उसके अंतिम संस्कार में उसके माता-पिता को शामिल नहीं किया गया. लड़की की मां अपनी बेटी को हल्दी लगाकर आखिरी विदाई देना चाहती थीं, लेकिन उनकी ये इच्छा भी पूरी नहीं हो सकी. यहां पर सवाल ये उठता है कि आखिर रात 3 बजे अंतिम संस्कार करने की जरूरत क्या थी? अंतिम संस्कार के लिए उसके मृत शरीर को उसके माता-पिता को क्यों नहीं सौंपा गया?

यह भी पढ़ें: निर्भया को मिला न्याय: निर्भया के चारों दोषियों को मिली फांसी की सज़ा (Nirbhaya Gets Justice: Nirbhaya’s All Four Convicts Hanged Till Death)

क्या निर्भया की तरह इस बेटी को भी न्याय मिलने में लंबा समय लगेगा?
निर्भया को इन्साफ मिलने में पूरे आठ साल लग गए. निर्भया के साथ हुए बलात्कार के समय पूरा देश सड़कों पर आ गया था, तब ऐसा लग रहा था कि अब देश में बेटियों की स्थिति सुधरेगी, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ. कुछ समय पहले हैदराबाद में एक डॉक्टर के साथ हुए बलात्कार के समय जब पुलिस ने आरोपियों का एनकाउंटर कर दिया था, तो पूरे देश ने इसका समर्थन किया था कि ऐसे दोषियों के लिए यही सज़ा सही है. एक बार फिर देश की एक और बेटी गैंग रेप का शिकार हुई और आज वो हमारे बीच नहीं है. आपको क्या लगता है, उसके दोषियों को क्या सज़ा मिलनी चाहिए?

Hathras Gangrape Case

हाथरस गैंगरेप पर फूटा बॉलीवुड सेलेब्स का गुस्सा, ट्वीट करके मांगा इंसाफ
हाथरस गैंगरेप मामले में बॉलीवुड सेलिब्रिटीज़ ने ट्वीट करके अपना गुस्सा जाहिर किया है और इन्साफ की मांग की है. कंगना रनौत से लेकर अक्षय कुमार, विराट कोहली, स्वरा भास्कर समेत कई सेलिब्रिटीज़ ने पीड़िता के लिए इंसाफ मांगा है. आप भी पढ़िए सेलिब्रिटीज़ के ये ट्वीट:

यह भी पढ़ें: निर्भया की मां आशा देवी के संघर्ष को सलाम! आशा देवी ने देश को दी न्याय की आशा (Salute To The Struggle Of Asha Devi, Nirbhaya’s Mother! Asha Devi Gave Hope To The Country For Justice!)

×