t

Dhoni

आख़िर ऐसे कैसे कूल होकर मैदान पर कप्तानी कर लेते हैं महेंद्र सिंह धोनी, मैच के पहले क्या खाते हैं, विरोधी टीम के एग्रेशन के बाद भी कैसे उनका दिमाग़ इतना कूल रहता है, जैसी बातें अगर किसी भारतीय कप्तान के बारे में हुई हैं, तो वो स़िर्फ माही हैं. टीम को लीड करने का उनका अपना ही अंदाज़ था. सौरव गांगुली के बाद जब टीम की कप्तानी उनके हाथ में आई, तो क्रिकेट फैन्स ये देखकर दंग रहने लगे कि इस इंसान में ग़ज़ब का धैर्य है. एग्रेशन तो जैसे दूर-दूर तक नहीं. धोनी की कप्तानी अब उनके फैन्स को देखने को नहीं मिलेगी, क्योंकि कैप्टन कूल माही ने वनडे और टी-20 मैंचों के कप्तानी छोड़ दी है. माही ने कहा कि वो अब स़िर्फ टीम में एक विकेटकीपर और बल्लेबाज़ के तौर पर ही खेलेंगे. आइए, देखते हैं कैप्टन कूल से जुड़े कुछ यादगार लम्हें.

Dhoni

टी-20 वर्ल्ड कप
टी-20 का पहला वर्ल्ड कप 2007 में हुआ. वर्ल्ड कप जीतना आसान नहीं होता. टीम की कप्तानी माही के हाथ में थी. अपनी कैंप्टेंसी में माही ने टीम इंडिया की झोली में वर्ल्ड कप ट्रॉफी डाली. टीम में सभी युवा क्रिकेटर्स ही थे ऐसे में किसी को बहुत अनुभव नहीं था, लेकिन धोनी ने अपनी चपल कप्तानी की वजह से टीम को ट्रॉफी दिलाया.

Dhoni

वर्ल्ड कप 2011
2 अप्रैल 2011 दर्शकों से खचाखच भरा वानखेड़े स्टेडियम तो आपको याद ही होगा. 1983 के बाद भारत को फिर से वर्ल्ड कप जीतने की आस दिखाई दे रही थी. इस समय टीम के कप्तान थे महेंद्र सिंह धोनी. श्रीलंका के ख़िलाफ़ धोनी के ऐतिहासिक छक्के ने भारत को टी-20 की तरह वनडे का भी वर्ल्ड चैंपियन बना दिया. कपिल देव के बाद एक बार फिर से भारत माही की कप्तानी में वर्ल्ड चैंपियन बना.

Dhoni

आईसीसी चैंपियन्स ट्रॉफी 2013
कप्तान रहते हुए धोनी ने कई रिकॉर्ड बनाएं. उनमें से एक था आईसीसी की चैंपियन्स ट्रॉफी पर भारत का क़ब्ज़ा.

कॉमनवेल्थ बैंक सीरीज़
ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका जैसी धाकड़ टीमों को पटखनी देते हुए भारत के कैप्टन कूल ने कॉमनवेल्थ बैंक सीरीज़ पर जीत हासिल की थी.

इंटरेस्टेटिंग फैक्ट्स
* माही दुनिया के इकलौते कप्तान हैं, जिन्होंने आईसीसी की तीनों फॉरमेट ट्रॉफी पर क़ब्ज़ा किया है.

* वनडे में दुनिया के दूसरे ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने 199 वनडे मैचों में टीम को 110 मैच में जीत दिलवाई हो.

* टी20 मैचों में दुनिया के पहले ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने 72 मैचों में 41 बार टीम को जीत दिलाई हो.

* अपनी कप्तानी में धोनी ने देश के लिए दो एशिया कप जीते.

* 12वीं पास हैं धोनी. हालांकि बाद में उन्होंने बीकॉम में दाखिला लिया, लेकिन पूरा नहीं कर पाए.

कप्तानी छोड़ने पर किसने क्या कहा?
महेंद्र सिंह धोनी के कप्तानी छोड़ने के फैसले पर आइए, देखते हैं किसने क्या कहा.

 

https://twitter.com/itsSSR/status/816675292005748737

 

– श्वेता सिंह