Talangana Police

हैदराबाद (Hyderabad) में हुए गैंगरेप-मर्डर (Gangrape) के चारों बलात्कारी अपराधियों को पुलिस द्वारा एनकाउंटर पर मार दिए जाने की हर तरफ़ सराहना हो रही है. फिल्मी दुनिया से जुड़े शख़्सियतों ने भी इस पर अपनी बात रखी और पुलिस की तारीफ़ की.

Celebrities Reactions To The Killing of Gangrape Accused

 

अनुपम खेर, ऋषि कपूर, विवेक ओबेरॉय, अभिजीत, रकुल प्रीत, नागार्जुन आदि ने तेलंगाना पुलिस को बधाई देते हुए धन्यवाद कहा.

रकुल ने तो यहां तक कह दिया कि रेप जैसे अपराध को अंजाम देने के बाद तुम कहां तक भाग पाओगे…

ऋषि कपूर- वाह तेलगांना पुलिस. मेरी तरफ़ से बधाई!..

अनुपम खेर- चलो! अब जितने भी लोगों ने इस तरह का घिनौना अपराध करनेवालों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई थी और उनके लिए ख़तरनाक से ख़तरनाक सज़ा चाही थी, मेरे साथ ज़ोर से बोलो- जय हो!

विवेक ओबेरॉय- उसी जगह उसी समय शिकारी बने शिकार… अब इस तरह के सभी दानव डर को महसूस करेंगे. बलात्कार व हत्या जैसे जघन्य अपराध को करने के बारे में सौ बार सोचेंगे.

तेलंगाना सीएमओ, साइबराबाद पुलिस, ख़ासकर वीसी सज्जानार न्याय दिलाने के लिए बधाई के पात्र हैं. यह उन दानवों के लिए एक बहुत बड़ा संदेश भी है, जो क़ानून तोड़ते हैं व व्यवस्था के पीछे छुपते फिरते हैं.

जया बच्चन जिन्होंने पिछले दिनों राज्यसभा में दोषियों को मॉब लिचिंग द्वारा सज़ा दिलवाने की बात कही थी, ने भी संतुष्टि प्रकट करते हुए कहा कि देर आए, दुरुस्त आए…

अभिजीत (गायक)- एक अच्छी ख़बर सुनने को मिली है. मैं तेलंगाना पुलिस के साथ-साथ वहां के लॉ एंड ऑर्डर को शुभकामनाएं देना चाहता हूं. ऐसे घिनौने अपराध की यही सज़ा है.

Celebrities Reactions To The Killing of Gangrape Accused

साउथ फिल्म इंडस्ट्री रिएक्शन…

नागार्जुन- सुबह जब उठा, तब तक न्याय दिया जा चुका था.

जूनियर एनटीआर- न्याय हुआ, अब पीड़िता की आत्मा को शांति मिलेगी.

समांथा अक्किनेनी- आई लव तेलंगाना

अनसुया भारद्वाज- ख़ुश हूं, गौरवान्वित हूं.

लवण्या- ये चार लोग इसके हक़दार थे.

साइबराबाद पुलिस कमिश्‍नर सी.पी. सज्जनार की भी काफ़ी तारीफ़ हो रही है. उनके इस साहसिक कदम को देखते हुए लोगों को फिल्म सिंबा की भी ख़ूब याद आई. इस फिल्म में इंस्पेक्टर बने रणवीर सिंह को भी पीड़िता को न्याय दिलाने व बलात्कारियों को सज़ा देने जैसी दुविधा से उलझते हुए दिखाया गया है.

पुलिस अपराध को समझने की ख़ातिर क्राइम सीन रिक्रिएट कराने के लिए चारो बलात्कारी अपराधियों को गुरुवार की रात बैंगलुरू-हैदराबाद राष्ट्रीय राजमार्ग 44 वाले घटनास्थल पर ले गई थी. इसी दौरान अपराधियों ने पुलिस पर पथराव किया फिर हथियार छीनकर पुलिस पर फायरिंग करके भागने की कोशिश की थी. तब आत्मरक्षा में पुलिस की जवाबी कार्यवाही में गोली चलानी पड़ी, जिसमें अपराधी मारे गए.

वैसे जहां हर तरफ़ इस एनकाउंटर की तारीफ़ हो रही है, वहीं कई ऐसे भी है, जिन्हें यह रास नहीं आया. वे अपना अलग राग अलापने से नहीं चूके. इनमें विशेष रूप से मेनका गांधी, अनुभव सिन्हा, अतुल कुलकर्णी, उर्मिला मातोंडकर, तहसीन पूनावाला हैं.

यह भी पढ़ेफिल्म रिव्यूः पति पत्नी और वो और पानीपत (Film Review Of Pati Patni Aur Woh And Panipat)