Tanhaji Challange

अजय देवगन उन कलाकारों में से हैं, जो हर काम सोच-समझकर व योजना के साथ करते हैं. इन दिनों अपनी फिल्म तान्हाजी- अनसंग वॉरियर के प्रमोशन के दरमियान उन्होंने हर मुद्दों पर खुलकर अपनी बात रखी, फिर चाहे वो फिल्में हो, क्रिकेट या फिर इन दिनों देश में चल रहे विवाद ही क्यों न हो.

Ajay Devgan

यह उनका मास्टर स्ट्रोक रहा कि जिस विषय में हमें पूरी जानकारी न हो, क्या हो रहा है, क्यों हो रहा है, ऐसे में उसके बारे में कुछ भी कहना ठीक नहीं है. हिंसा किसी भी समस्या का समाधान नहीं है. इससे देश का ही नुक़सान होता है. हमें स्टार्स को लोग सुनते हैं और हमारा अनुसरण करते हैं, इसलिए हमारा हर कदम बहुत सोच-समझकर होना चाहिए. क्योंकि इससे बहुत लोग प्रभावित होते हैं. फैन्स, सोशल मीडिया, कलाकार आदि…

कितना सच व सटीक कहा है अजय देवगन ने. कई बार कितने ही फिल्मी लोग बहकावे में आकार, गुमराह होकर या फिर अपनी अकड़ के कारण ऐसे कई एक्शन-रिएक्शन दे देते हैं, जो उन्हें नहीं देना चाहिए.

इसी संदर्भ में शाइना एन. सी. ने एक बहुत अच्छी बात कही कि एकमात्र हमारा ही ऐसा देश है, जहां विरोधी आसानी से अपने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी की आलोचना करते हैं, बहुत कुछ कहते हैं. विरोधी लोग इस आज़ादी का आनंद ज़रूर लें, पर अपनी छल-कपट से भरी गतिविधियों पर भी ज़रूर ध्यान दें…

Ajay Devgan

अजय देवगन ने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली की तुलना तान्हाजी वीर से भी की. उनका कहना था कि जिस तरह तान्हाजी ने दुश्मनों से जीत के लिए अपना सब कुछ दांव पर लगा दिया था, उसी तरह विराट कोहली भी ज़बर्दस्त योद्धा हैं. वे अपने आक्रामक व उम्दा खेल के साथ देश को जीत दिलाने के लिए जी-जान लड़ा देते हैं. साथ ही अजय ने अपने क्रिकेट खेलने के दिनों की यादों को भी साझा किया. वे भी ख़ूब क्रिकेट खेला करते थे. एक बार तो कैच पकड़ते समय उनकी हाथ की उंगली तक टूट गई थी. आज भी उनकी वो उंगली थोड़ी मुड़ी हुई है.

फिल्मों को लेकर भी उन्होंने बेबाक़ी दिखाई. उनके अनुसार, उम्र हो जाने पर उन्हें फिल्में मिलना बंद हो जाए, उससे पहले ही वे एक्टिंग को छोड़ प्रोडक्शन से जुड़ जाएंगे. वैसे भी फिल्मों में आने से पहले उनके पिता वीरू देवगन से उन्होंने फिल्म प्रोडक्शन से जुड़ी बारीक़ियों को सीखा था. वे शेखर कपूर व दीपक शिवदासानी जैसे निर्देशकों के असिस्टेंट भी रह चुके हैं.

Ajay Devgan

सिंघम पार्ट थ्री बनने की तरफ़ भी उन्होंने इशारा किया. जिस तरह सिंबा फिल्म में अंत में अक्षय कुमार के सीन थे और सूर्यवंशी फिल्म के बारे में संकेत दिया गया था. उसी तरह सूर्यवंशी में रणवीर सिंह व अजय देवगन के भी एक्शन सीन हैं और सिंघम 3 के बारे में इशारा किया गया है.

तान्हाजी- द अनसंग वॉरियर की टक्कर दीपिका पादुकोण अभिनीत छपाक और रजनीकांत की दरबार फिल्म से होनेवाली है. इसमें कौन-सी फिल्म बाज़ी मारेगी और आगे निकल जाएगी, वो दो दिन में पता चल जाएगा. वैसे दरबार को थोड़ा फ़ायदा ज़रूर होगा, क्योंकि यह फिल्म दोनों फिल्म के एक दिन पहले यानी गुरुवार को रिलीज़ होनेवाली है.

 

वैसे अजय देवगन की इस फिल्म को लेकर तान्हाजी चैलेंज भी ख़ूब ट्रेंड कर रहा है, जिसमें एक शख़्स दस लोगों को इस मूवी के फ्री टिकट देने के साथ तीन अन्य लोगों को इसका चैलेंज देने के साथ टैग कर रहा है. है ना दिलचस्प अंदाज़. इसमें तजिंदर पाल सिंह बग्गा बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं. हमारे तान्हाजी जैसे महान योद्धा के लिए इस तरह का सम्मान प्रशंसनीय है. लंबे समय के बाद अजय देवगन के साथ उनकी पत्नी काजोल भी ख़ास अंदाज़ में फिल्म में नज़र आएंगी. सैफ अली ख़ान ख़लनायक के रूप में ख़ूब जंच रहे हैं. वैसे हमारा चैलेंज तो इस तिकड़ी फिल्म में से आपके नंबर वन फिल्म व पसंद को जानने का रहेगा…

Ajay Devgan

Ajay Devgan

यह भी पढ़ेजेएनयू का दौरा दीपिका पर पड़ा भारी, सोशल मीडिया पर बायकॉट छपाक हो रहा है ट्रेंड (#BoycottChhapaak Trends On Twitter After Deepika Padukone Reaches JNU To Express Solidarity)