Toilet Ek Prem Katha

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार (Akshay Kumar) अपनी फिल्मों के ज़रिए न सिर्फ़ सामाजिक मुद्दों को उजागर करने की कोशिश करते हैं बल्कि वो लोगों को जागरुक भी करते हैं. जिस तरह से अक्षय फिल्म ‘टॉयलेट- एक प्रेम कथा’ में अपनी पत्नी के लिए टॉयलेट बनवाने के लिए बग़ावत करते हैं, ठीक उसी तरह से असल ज़िंदगी में भी उन्होंने आम लोगों के लिए टॉयलेट बनवाकर एक सराहनीय काम किया है.

जी हां, अक्षय ने मुंबई के जुहू बीच पर  बायो टॉयलेट बनवाया है, ताकि बीच को शौच मुक्त किया जा सके. अक्षय ने यह सराहनीय काम शिवसेना के युवा लीडर आदित्य ठाकरे के साथ मिलकर किया है. बता दें कि अक्षय ने जुहू बीच पर आम लोगों के लिए बनाए गए इस बायो टॉयलेट पर 10 लाख रुपए ख़र्च किए हैं.

दरअसल, पिछले साल अगस्त में अक्षय की पत्नी ट्विंकल खन्ना ने एक तस्वीर पोस्ट करते हुए कैप्शन लिखा था कि ‘गुड मॉर्निंग, मुझे लगता है कि टॉयलेट एक प्रेम कथा 2 का यह पहला सीन है’. इस तस्वीर के साथ वो यह बताने की कोशिश कर रही थीं कि खुले में शौच करनेवाले लोगों की वजह से मॉर्निंग वॉक बेकार चला जाता है. हालांकि उस वक्त लोगों ने उनके इस ट्वीट को जमकर रीट्वीट भी किया था.

बता दें कि अक्षय ने जो टॉयेलट बनवाया है उसमें 6 सीट है, जिसमें से 3 महिलाओं के लिए और 3 पुरुषों के लिए है, जबकि पेशाब के लिए अलग व्यवस्था की गई है. बीएमसी की मानें तो अक्षय द्वारा किए गए इस सहयोग की वजह से खुले में शौच की समस्या का आंशिक तौर पर समाधान हुआ है.

यह भी पढ़ें: देखिए ‘हेट स्टोरी 2’ की बोल्ड पंजाबी एक्ट्रेस सुरवीन चावला की 10 ग्लैमरस Pics

फिल्म- टॉयलेट: एक प्रेम कथा

स्टारकास्ट- अक्षय कुमार, भूमि पेडनेकर, अनुपम खेर, सना खान

निर्देशक- श्री नारायण सिंह

रेटिंग- 3.5 स्टार

फिल्म रिव्यू: 'टॉयलेट: एक प्रेम कथा' देगी एक ज़रूरी संदेश

सच्ची घटना पर आधारित फिल्म टॉयलेट: एक प्रेम कथा कहानी है प्रियंका भारती की, जिसने अपने पति का घर सिर्फ़ इसलिए छोड़ दिया था, क्योंकि उसके घर में टॉयलेट नहीं था. इसी कहानी को फिल्म के ज़रिए दिखाने की कोशिश की है फिल्म के निर्देशक श्री नारायण सिंह ने. अक्षय कुमार के लिए ख़ास है ये फिल्म, क्योंकि उन्होंने फिल्म में केवल ऐक्टिंग ही नहीं की है, बल्कि वो इस फिल्म के को-प्रोड्युसर भी हैं.

कहानी

फिल्म की कहानी है मथुरा के पास एक गांव के रहने वाले 36 साल के केशव (अक्षय कुमार) की, जो मांगलिक है, इसलिए पहले उसकी शादी एक भैंस से कराई जाती है. साइकल की दुकान चलाने वाले केशव को तब प्यार हो जाता है, जब वो साइकल की डिलीवरी देने पहुंचता है कॉलेज टॉपर जया (भूमि पेडनेकर) के घर. केशव को जया से प्यार हो जाता है और दोनों शादी भी कर लेते हैं. यहां से शुरू होती है फिल्म की असली कहानी, जब जया को पता चलता है कि जिस घर में उसकी शादी हुई है, वहां घर में शौचालय ही नहीं है, तब वो अपना ससुराल छोड़ कर मायके चली जाती है. रूढ़िवादी परंपराओं और बातों को दरकिनार कर क्या केशव गांव में शौचालय बनवाकर अपनी पत्नी को वापस ला पाता है? ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी.

फिल्म की यूएसपी

फिल्म का सब्जेक्ट इस फिल्म की सबसे बड़ी यूएसपी है. खूले में शौच करने की समस्या पर पूरी फिल्म बनाने का निर्णय ही काबिल-ए-तारीफ़ है. गांव की रियल लोकेशन कहानी को सपोर्ट करती है.

निर्देशन की तारीफ़ किए बगैर ये रिव्यू पूरा नहीं हो सकता है. श्री नारायण सिंह ने फिल्म को वास्तिवकता के क़रीब लाने में कोई कमी नहीं रखी है. यहां तक की गांव के रहने वाले केशव यानी अक्षय कुमार को जो बड़े ब्रांड्स की नकली टी-शर्ट्स पहनाई गई हैं, उसमें भी ह्यूमर भर दिया है.

स्वच्छता अभियान को लेकर गावों में क्या नियम-कानून है, इसकी जानकारी भी आपको ये फिल्म दे देगा.

यह भी पढ़ें: Family Time!!! मीरा के साथ शाहिद चले छुट्टियां मनाने

क्या है कमज़ोरी?

कुछ डायलॉग्स, जो सुनने में थोड़े बुरे लगते हैं. इसके अलावा फिल्म का सेकंड हाफ, जो बहुत ही ज़्यादा लंबा और बोरिंग लगने लगता है.

किसकी ऐक्टिंग में था दम?

अक्षय कुमार एक बेहतरीन ऐक्टर हैं ये उन्होंने फिर साबित कर दिया है. अक्षय ने साबित कर दिखाया है कि अच्छा अभिनय दिखाने के लिए ऐक्टिंग आनी ज़रूरी है, न कि बड़े-बड़े फिल्मों के सेट्स और न ही बड़ा बजट. केशव के किरदार के साथ पूरा न्याय कर रहे हैं अक्षय कुमार.

भूमि पेडनेकर की ये दूसरी फिल्म है. इससे पहले दम लगाके हइशा में भी उनकी ऐक्टिंग की सराहना हुई थी. इस बार भी उनका काम अच्छा है.

फिल्म के बाक़ी कलाकारों का काम भी अच्छा है.

फिल्म देखने जाएं या नहीं?

बिल्कुल जाएं ये फिल्म देखने. एक ज़रूरी संदेश देती है ये फिल्म. अगर आप अक्षय कुमार के फैन हैं, तो इस फिल्म को मिस नहीं कर सकते हैं आप. फिल्म को देखने के बाद ऐसा बिल्कल नहीं लगेगा कि आपके टिकट के पैसे बर्बाद हुए हैं.

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें.

'टॉयलेट: एक प्रेम कथा' 3 कट्स के साथ होगी रिलीज़

टॉयलेट: एक प्रेम कथा को सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन ने तीन कट्स के साथ रिलीज़ होने की मंजूरी दे दी है. फिल्म 11 अगस्त को रिलीज होगी. पहले ख़बरें आ रही थीं कि सीबीएफसी ने फिल्म को 8 कट्स दिए हैं, लेकिन ख़ुद अक्षय ने इस ख़बर को ग़लत बताया है, उन्होंने कहा कि केवल तीन वर्बल कट्स फिल्म से किए गए हैं. 

टॉयलेट: एक प्रेम कथा रिलीज़ से पहले ही अपने अलग सब्जेक्ट को लेकर काफ़ी चर्चा में है. ख़ास बात ये है कि फिल्म ने रिलीज़ से पहले ही कई रिकॉर्ड्स बना दिए हैं. ये पहली ऐसी फिल्म होगी, जो 22 यूरोपियन देशों में रिलीज़ की जाएगी. 

यह भी पढ़ें: हॉस्पिटल से डिस्चार्ज हुए दिलीप कुमार

अक्षय कुमार अपनी इस फिल्म का जमकर प्रमोशन भी कर रहे हैं. प्रमोशन के चलते फिल्म की टीम ने मिलकर 24 जगहों पर 24 टॉयलेट भी बनवाए हैं.

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें.

tepk-759 (1)

टॉयलेट: एक प्रेम कथा का पहला गाना हंस मत पगली प्यार हो जाएगा… रिलीज़ हो गया है. ये फिल्म का रोमांटिक गाना है, जिसमें अक्षय कुमार भूमि का पीछा करते नज़र आते हैं. भूमि से एक तरफ़ा प्यार में दिवाने अक्षय हर जगह उनका पीछा करते हैं और चुपके-चुपके तस्वीरें लेते हैं. इस गाने को गाया है सोनू निगम और श्रेया घोषाल ने. फिल्म का ट्रेलर पहले ही ख़ूब सुर्खियां बटोर चुका है. 11 अगस्त को फिल्म रिलीज़ होगी.

देखें फिल्म का गाना

अक्षय ने ट्विटर पर गाने की पिक्चर शेयर करते हुए लिखा, “एक बार पलट के तो देख ले दिन बन जाएगा, हंस मत पगली प्यार हो जाएगा”

यह भी पढ़ें: Awww! दीया और बाती हम की ऐक्ट्रेस पूजा शर्मा की गोद भराई की क्यूट पिक्चर्स!

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें.

akshay-02-46-1487662389-175463-khaskhabar (1)

अक्षय कुमार हर बार अपनी फिल्मों के ज़रिए कोई न कोई संदेश देते हैं. एक बार फिर अक्षय एक बेहद ही अहम् मुद्दे को सामने लेकर आ रहे हैं अपनी फिल्म टॉयलेट: एक प्रेम कथा के साथ. गावों में शौचालय न होने की वजह से वहां पर फैली गंदगी और खुले में शौच करने की वजह से महिलाओं को होने वाली परेशानियों को फिल्म में दिखाने की कोशिश की गई है. अक्षय के साथ फिल्म में भूमि पेडनेकर भी हैं, जो अक्षय कुमार की पत्नी के रोल में हैं. ट्रेलर के डायलॉग्स भी मज़ेदार होने के साथ-साथ उन लोगों की आंखें खोलेंगे, जो अपने घर में शौचालय बनवाने से हिचकिचाते हैं. टॉयलेट: एक प्रेम कथा का ट्रेलर जैसे ही रिलीज़ किया गया , वैसे ही सोशल मीडिया पर छा गया, अब तक इस ट्रेलर को 57 लाख से ज़्यादा लोग देख चुके हैं. फिल्म 11 अगस्त को रिलीज़ होगी. देखें ये वीडियो.

एक बार फिर डायरेक्ट दिल से बोले अक्षय कुमार. इस बार एक अहम्मु द्दे को उठाया है अक्षय ने. इस बार अक्षय स्वच्छता की ओर सबका ध्यान खींचना चाहते हैं. खुले में शौच करने और उनकी वजह से फैलने वाली बीमारियों के बारे में अपने नए वीडियो में उन्होंने कई बातें बताई हैं. अक्षय ने सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा है, “समय है अपनी सोच और शौच दोनों बदलने का. देखिये, सोचिये और अपने विचार बताइये ??

अक्षय कुमार की फिल्म टॉयलेट- एक प्रेम कथा का प्रमोशन करते हुए अक्षय ने कहा, ”भले ही कुछ लोगों को लगे कि ये फिल्म का प्रमोशन है, तो आप सही सोच रहे हो, क्योंकि इस टॉपिक की जितनी पब्लिसिटी करो कम है.”

अक्षय ने आगे कहा, “सोच और शौच पर किसी का ज़ोर नहीं हैं. ये बात ज़रूरी है करना. हमारे सुपर पावर देश में उसमें आधी से ज़्यादा जनता, ख़ासकर महिलाएं इस वक़्त टॉयलेट नहीं जा सकती, जब उनकी बॉडी में प्रेशर बना होता है, क्योंकि उनके घर में टॉयलेट है ही नहीं. उन्हें रोज़ खुले में या खेत में जाना पड़ता है. लेकिन वो दिन की रोशनी में नहीं जा सकती हैं, उनको सुबह सूरज निकलने से पहले जाना पड़ता है. अगर वो सुबह नहीं जा पातीं, तो उन्हे पूरे दिन रोक कर रखना पड़ता है, क्योंकि फिर वो सूरज ढलने के बाद ही जा सकती हैं. पुरुषों की तरह नहीं है कि जब मन आया दीवार की तरफ़ मुंह करके शुरू हो गए. ये हमारे देश के लिए एक शर्मनाक बात है. अपने आप को स्ट्रॉन्ग मर्द कहने वालों एक बार ज़रा औरतों की तरह रोक के दिखाओ यार, बॉडी ऐसा जवाब देगी की नानी याद आ जाएगी, बीमारियां हो जाएंगी. ये बीमारियां ट्रांसफर भी हो सकती हैं आपके बच्चों में.” अक्षय ने ये भी कहा कि कई बच्चों की मौत होती हैं इन बीमारियों से. अक्षय ने कहा कि हमे गलत सोचने की बीमारी है, लोगों को लगता है कि खेत और जंगल हैं तो घर में टॉयलेट क्यों बनवाएं. 54 प्रतिशत लोगों के घर में टॉयवेट है ही नहीं. भारत इस शर्मनाक लिस्ट में नंबर एक पर है. जिन लोगों के घर में टॉयलेट नहीं है, उन लोगों से अक्षय ने गुज़ारिश की है कि वो अपने घरों में टॉयलेट बनवाएं.

अक्षय का टॉयलेट रोमांस! (  Akshay’s restroom romance ) akshay kumar

अक्षय कुमार अब रोमांस करते नज़र आएंगे टॉयलेट में. जी हां ऐसा सच में होने जा रहा है. अक्षय करने वाले हैं एक फिल्म जिसका नाम है टॉयलेट- एक प्रेम कथा. इस फिल्म के ज़रिए निर्देशक नीरज पांडे और अक्षय की जोड़ी हैट्रिक करेगी. इससे पहले दोनों ने साथ में स्पेशल 26 और बेबी साथ में की है. ख़बर है कि यह फिल्म प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान से इंस्पायर्ड होगी.

Akshay Kumar will be seen romancing in the restroom . Yes, it really is going to be . Akshay , who is a film named Toylet- a love story . The film by director Neeraj Pandey took a pair of he  said. Special 26 and together with the two earlier in the baby . Prime Minister informed that the film will be inspired by the Clean India campaign