Tag Archives: trend

ज्वेलरी डिज़ाइनिंग में बनाएं करियर (Create a Career in Jewellery Designing)

Jewellery Designing

Jewellery Designing

किसी भी पार्टी, फंक्शन आदि में जाने से पहले ख़ूबसूरत कपड़ोेंं के साथ ज्वेलरी का टच पर्सनालिटी को और भी निखारता है. फैशन ने आज ग्लोबल स्तर पर लोगों के जीवन को पूरी तरह से बदल दिया है. ज्वेलरी का बढ़ता ट्रेंड ही आज युवाओं को इसमें करियर बनाने के लिए आकर्षित कर रहा है. फैशन की दुनिया में क़दम रखना चाहते हैं, तो ज्वेलरी डिज़ाइन आपके लिए बेहतर विकल्प हो सकता है. ज्वेलरी डिज़ाइन में करियर बनाने के लिए कैसे करें शुरुआत? आइए, जानते हैं.

क्या है ज्वेलरी डिज़ाइन?
तरह-तरह के गहनों को बनाने की कला को ही ज्वेलरी डिज़ाइन कहते हैं. गोल्ड, सिल्वर, पर्ल, प्लेटिनम, आदि धातुओं को तराशकर उनसे
तरह-तरह के गहने बनाए जाते हैं. इसी तरह हाथी दांत, पत्थर, सीप आदि का भी प्रयोग स्टाइलिश ज्वेलरी बनाने में किया जाता है. ज्वेलरी डिज़ाइनर उन्हें कहते हैं, जो ज्वेलरी की स्टाइल, पैटर्न आदि सेट करते हैं.

शैक्षणिक योग्यता
ज्वेलरी डिज़ाइन में करियर बनाने के लिए 12वीं पास होना बहुत ज़रूरी है. इसके बाद आप आगे के कोर्स कर सकते हैं. दसवीं पास वालों के लिए भी ज्वेलरी डिज़ाइन में बेहतरीन करियर विकल्प है. दसवीं के बाद आप शॉर्ट टर्म कोर्सेस कर सकते हैं. आगे के कोर्स के लिए इच्छुक व्यक्ति को ऐप्टीट्यूड टेस्ट देना पड़ता है. इसके बाद ही आप आगे के कोर्स के लिए आवेदन भर सकते हैं.

क्या हैं कोर्सेस?
ज्वेलरी डिज़ाइन में करियर बनाने के लिए डिप्लोमा, डिग्री या सर्टीफिकेट कोर्स कर सकते हैं.

सर्टीफिकेट कोर्सेस

  • बेसिक ज्वेलरी डिज़ाइन
  • डायमंड आइडेंटीफिकेशन एंड ग्रेडिंग
  • कैड फॉर जेम्स एंड ज्वेलरी
  • कलर्ड जेमस्टोन आइडेंटिफिकेशन

डिग्री कोर्सेस

  • बीएससी इन ज्वेलरी डिज़ाइन
  • बैचलर ऑफ ज्वेलरी डिज़ाइन
  • बैचलर ऑफ एक्सेसरीज़ डिज़ाइन
  • मास्टर्स डिप्लोमा इन ज्वेलरी डिज़ाइन एंड टेक्नोलॉजी

डिप्लोमा कोर्सेस

  • डिप्लोमा इन ज्वेलरी डिज़ाइन एंड जैमोलॉजी
  • एडवांस ज्वेलरी डिज़ाइन विद कैड
  • ज्वेलरी मैनुफैक्चरिंग

कोर्स के दौरान
तेज़ी से बढ़ते इस क्षेत्र की डिमांड लोगों को इसमें करियर बनाने के लिए आकर्षित कर रही है. ज्वेलरी डिज़ाइन कोर्स के दौरान अलग-अलग पत्थरों, ज्वेलरी बनाने में कलर कॉम्बिनेशन, डिज़ाइन थीम, प्रेज़ेंटेशन, फ्रेमिंग, कॉस्ट्म ज्वेलरी आदि सिखाया जाता है.

तकनीकी शिक्षा
ज्वेलरी डिज़ाइन कोर्स के दौरान कम्प्यूटर एडेड ज्वेलरी सॉफ्टवेयर, जैसे- ज्वेल कैड, ऑटो कैड, 3 डी स्टूडियो आदि के बारे में टेक्निकल नॉलेज भी दिया जाता है. इसके साथ ही फोटोशॉप, कोरल ड्रॉ, वेट एंड मेटल कम्पोजिशन के बारे में भी बताया जाता है.

प्रमुख संस्थान

  •  जैमोलॉजी इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, मुंबई.
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई.
  •  जैमस्टोन्स आर्टिसन्स ट्रेनिंग स्कूल, जयपुर.
  • इंडियन जैमोलॉजी इंस्टीट्यूट, नई दिल्ली.
  • जैम एंड ज्वेलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल, जयपुर.
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी, नई दिल्ली.
  • ज्वेलरी डिज़ाइन एंड टेक्नोलॉजी इंस्टीट्यूट, नोएडा.
  • एसएनडीटी यूनिवर्सिटी, मुंबई.

पर्सनल स्किल 
ज्वेलरी डिज़ाइन में करियर बनाने के लिए सबसे पहले इस क्षेत्र के प्रति लगाव और ज्वेलरी डिज़ाइन का सेंस होना बहुत ज़रूरी है. इसके साथ ही क्रिएटिव, कल्पनाशील, न्यू ट्रेंड का सेंस, फैशन सेंस आदि के साथ मेहनती होना बहुत आवश्यक है. ज्वेलरी डिज़ाइन में करियर बनाने की सोच रहे हैं, तो धैर्य को अपना साथी बना लें. इस काम में ईमानदारी भी बहुत ज़रूरी होती है. ख़ासतौर पर अगर आप किसी गोल्ड, डायमंड जैसी धातुओं से ज्वेलरी बनाने में लगे हैं, तो थोड़ी सी भी लापरवाही आपके व्यक्तित्व पर प्रश्‍न चिह्न लगा सकती है. ग्लोबल मार्केट और फैशन के प्रति रुचि होना बहुत ज़रूरी है.

रोज़गार के अवसर
ज्वेलरी डिज़ाइन में आगे बढ़ने के लिए बहुत स्कोप है. कोर्स करने के बाद आप फुल टाइम किसी कंपनी के साथ जुड़कर काम शुरु कर सकते हैं. ज्वेलरी डिज़ाइन हाउस, एक्सपोर्ट हाउस, फैशन हाउस आदि जगहों पर आप काम शुरु कर सकते हैं. इसके साथ ही अगर आप आर्थिक रूप से मज़बूत हैं, तो ऑफिस-कम होम से भी काम शुरु कर सकते हैं. घर से काम शुरु करने के कई फ़ायदे होते हैं. घर के काम के अलावा आप अपने करियर को भी संवार सकते हैं. इतना ही नहीं दिन में किसी ऑफिस में काम करके आप घर पर पार्ट टाइम इस काम को जारी रख सकते हैं. आप अगर किसी कंपनी से फुल टाइम नहीं जुड़ना चाहते तो फ्रीलांस के तौर पर काम शुरू कर सकते हैं. इससे आप मनमुताबिक़ पैसा कमा सकते हैं.

सैलरी
पढ़ाई के तुरंत बाद किसी कंपनी में जॉब लगने पर शुरुआत में 7 से 8 हज़ार रुपए प्रति माह आप कमा सकते हैं. अनुभव के साथ इस क्षेत्र में आप उम्मीद से ज़्यादा कमा सकते हैं. अनुभव होने पर 18 से 20 और फिर इसी तरह आगे बढ़ते रहते हैं. प्रसिद्ध ज्वेलरी डिज़ाइनर महीने का लाख रुपए भी लेते हैं.

टॉप कंपनी
ज्वेलरी डिज़ाइन का कोर्स करने के बाद आप नौकरी के लिए इन जगहों पर जा सकते हैं.

  •  तनिष्क
  •  गिली
  • नक्षत्र
  •  ज्वेलरी मेकिंग एंड डिज़ाइनिंग यूनिट्स
  • ज्वेलरी शॉप्स एंड शोरूम
  •  एंटीक एंड आर्ट ऑक्शन हाउसेस

– श्वेता सिंह 

कूल-क्लासी-कलरफुल कारपेट ( Cool, classy, ​​colorful carpet)

colorful carpet

colorful carpet

shaw-flooring-orange-carpet-500x500

अपने आशियाने को रिच और क्लासी लुक देने के लिए उसे सजाइए कलरफुल कारपेट से. अपने ड्रीम होम के लिए कैसे कर सकती हैं आप बेस्ट कारपेट का चुनाव? आइए, हम बताते हैं.

कारपेट का चुनाव करते समय कलर का ध्यान रखना ज़रूरी हैै. 

डार्क रेड
सादे रंग का ज़माना गया. अब ट्रेंड है ब्राइट कलर्स का. ऐसे में अपने घर को सजाइए डार्क रेड कारपेट से.

सिल्वर एंड गोल्ड
कुछ बोल्ड और ब्राइट ट्राई करना चाहती हैं, तो फर्श को सजाइए सिल्वर एंड गोल्ड कारपेट से. ये न स़िर्फ आपके घर की सुंदरता बढ़ाएगा, बल्कि रॉयल लुक का एहसास भी दिलाएगा.

वॉयलेट
अगर आप ट्रेंड सेटर बनना चाहती हैं, तो वॉयलेट कलर का कारपेट आपके लिए बेहतर होगा. इस तरह के कारपेट बड़े कमरों/हॉल में अच्छे लगते हैं.

ऑरेंज
ज़माना है कुछ नया और हटकर करने का. ऐसे में इस विंटर सीज़न में आप अपने आशियाने को आकर्षक बनाने के लिए वॉर्म ऑरेंज कलर के कारपेट का चुनाव कर सकती हैं.

Carpet-Models-4

क्या है ट्रेंड में?
* ब्राइट कलर और सॉफ्ट टेक्सचर वाले कारपेट ज़्यादा पसंद किए जा रहे हैं.
* एप्लाइड व वोवन पैटर्न्स के कारपेट का चुनाव घर को स्टाइलिश और मॉडर्न लुक देगा.
* मैटालिक और व्हाइट एंड ब्लैक प्रिंट के साथ ग्रीन कलर का कॉम्बिनेशन आपके घर को रिच लुक देगा.

1600x1200-home-interior-flooring-rugs-carpets-red-green-floral

ज़रूरी बातें
* कारपेट का चुनाव करते समय कमरे का ध्यान रखें. साइज़ और यूज़ के हिसाब से ही कारपेट का चुनाव करें.
* कारपेट ख़रीदते समय या तो अपने कमरे की फोटो लेकर जाएं या फिर स्पेशलिस्ट को अपने घर बुलाएं ताकि वो सही कारपेट ख़रीदने की सलाह दे सके.
* अगर घर में कोई पालतू जानवर है, तो उसका ध्यान रखकर कारपेट का चुनाव करें.
* सही कलर और ट्रेंड को ध्यान में रखकर कारपेट ख़रीदें.
* आपको बेडरूम, लिविंग रूम, स्टडी रूम आदि में से किसके लिए कारपेट चाहिए? इस बात का ध्यान रखकर कारपेट सलेक्ट करें.
* कमरे में आने वाली रोशनी का ध्यान रखना भी ज़रूरी है. यदि कमरे में पर्याप्त प्राकृतिक रोशनी आती है, तो डार्क शेड और कम रोशनी के लिए लाइट शेड के कारपेट का चुनाव करें.
* दीवारों के रंग को ध्यान में रखते हुए कारपेट का चुनाव करें.
* कारपेट ख़रीदते समय अपना बजट और कारपेट की क्वालिटी भी ज़रूर देखें.

carpet-cleaning-company-singapore

यूं करें कारपेट की सफ़ाई
* हफ़्ते में एक बार कारपेट को वैक्यूम क्लीनर से साफ़ करें.
* छोटे ब्रश से भी आप कारपेट को साफ़ कर सकती हैं.
* कारपेट को उल्टा करके बड़े ब्रश की मदद से भी आप उसे साफ़ कर सकती हैं.
* बहुत ज़्यादा गंदा होने पर प्रोफेशनल कारपेट क्लीनर की मदद ले सकती हैं.
* अगर कारपेट पर चाय/कॉफ़ी/पानी आदि गिर जाए, तो तुरंत उस पर एक साफ़ कपड़ा रखें और सुखाने की कोशिश करें. हां, कपड़े से कारपेट को रगड़ने की भूल न करें.

carpet-rumba-5280-b-violet

कारपेट की वैरायटी
कारपेट कई तरह के होते हैं. अपनी ज़रूरत और बजट के हिसाब से आप इनका चुनाव कर सकती हैं. कारपेट कितने प्रकार के होते हैं? आइए, जानते हैं.

वुलन कारपेट
इस तरह के कारपेट का चुनाव आप रफ एंड टफ यूज़ के लिए कर सकती हैं. इन्हें साफ़ रखना बहुत आसान होता है. ये बहुत टिकाऊ भी होते हैं.

सिल्क कारपेट
रिच, क्लासी, रॉयल लुक के लिए आप सिल्क कारपेट का चुनाव कर सकती हैं. इस तरह के कारपेट का रख-रखाव बहुत मुश्किल होता है या यूं कहें कि सिल्क की ख़ूबसूरती बनाए रखने के लिए सावधानी पूर्वक इसका इस्तेमाल करना होता है.

जूट कारपेट
इस तरह के कारपेट किफ़ायती होते हैं. प्रकृति के प्रति
लगाव रखने वालों और घर को कुछ अलग लुक देने की चाह रखने वालों के लिए ये कारपेट बेस्ट है. जूट कारपेट की एक कमी ये है कि नमी वाली जगह पर इसका इस्तेमाल नहीं
किया जा सकता.

सिंथेटिक कारपेट
नायलॉन के कारपेट बहुत ज़्यादा उपयोग में लाए जाते हैं और पसंद भी किए जाते हैं. नायलॉन के अलावा पॉलिस्टर, एक्रिलिक, ऑलफिन आदि के कारपेट भी डिमांड में रहते हैं.

लेदर कारपेट
लेदर कारपेट की डिमांड एक ख़ास वर्ग में ज़्यादा है. ये कई रंग व रेंज में उपलब्ध हैं. ये मशीन से बनाए जाते हैं. इस तरह के कारपेट देखने में बहुत आकर्षक होते हैं.

 

समर ट्रेंड रिपोर्ट

अब हॉट समर का स्वागत कीजिए कूल अंदाज़ में स्टाइलिश समर वेयर पहनकर. क्या है इस समर की ट्रेंड रिपोर्ट? आइए, हम आपको बताते हैं.

 

 

shutterstock_144293947

 

शॉर्ट एंड सेक्सी
* समर में सेक्सी शॉर्ट ड्रेस पहनकर बन जाएं स्टाइल आइकॉन.
* पेस्टल कलर की शॉर्ट ड्रेस आपको देगी यंग और फ्रेश लुक.
* हॉट पैंट, क्रॉप टॉप आदि भी समर के लिए बेस्ट आउटफिट हैं.

VERO-MODA-KANGANA74204-1

प्रिंट मेनिया
* फ्लोरल, चेक्स, स्ट्राइप्स, ग्राफिक, ज्योमैट्रिक आदि प्रिंट्स समर में आपको देंने न्यू लुक.
* हां, प्रिंट्स का चुनाव करते समय अपनी उम्र, फिगर, प्रोफेशन और कॉम्प्लेक्शन का ध्यान ज़रूर रखें.
* यंग और फ्रेश लुक के लिए फ्लोरल प्रिंट्स ट्राई करें.

Ethnic-Dukaan-Multicolor-Printed-Cotton-Kurti-With-Crushed-Skirt-price-2615
व्हाइट पावर
* हॉट समर में कूल नज़र आने के लिए व्हाइट कलर है बेस्ट ऑप्शन इसलिए अपने समर कलेक्शन में व्हाइट कलर को प्राथमिकता दें.
* डेलिकेट एम्ब्रॉयडरी, लेसवर्क, रोमांटिक कट्स व्हाइट कलर को और ज़्यादा ग्रेसफुल बनाते हैं.
* ट्रेंडी लुक के लिए व्हाइट कलर का पलाज़ो, कफ्तान, शर्ट, कोट सूट, पेंसिल स्कर्ट, ट्राउज़र, लखनवी अनारकली, साड़ी आदि ट्राई करें.
* प्लेन व्हाइट आउटफिट सिंगल कलर या मल्टीकलर की एक्सेसरीज़ पहन सकती हैं.

यह भी देखें: लॅक्मे फैशन वीक समर/रिज़ॉर्ट 2017: Day 3 में एक्ट्रेस बिपाशा बसु, डायना पेंटी, निम्रत कौर, स्वरा भास्कर के साथ ही कई बॉलीवुड सेलेब्रिटीज़ ने किया रैम्प वॉक

7542

शीयर सन्सेशन
* सेक्सी लुक के लिए पेस्टल कलर के शीयर ड्रेसेज़ ट्राई करें.
* शीयर ड्रेसेज़ पर डेलिकेट डेलिकेट एम्ब्रॉयडरी बहुत ख़ूबसूरत लगती है.
* गाउन, पलाज़ो, शर्ट, ड्रेस, साड़ी आदि पहन सकती हैं.

यह भी देखें: लॅक्मे फैशन वीक समर/रिज़ॉर्ट 2017 में दिखीं डिज़ाइनर साड़ियां 

Showstopper-model-Ujjwala-Raut-walks-for-Shriya-Som-at-LFW-SR-2016

 

शिमर एंड शाइन

* आपको किसी ख़ास फंक्शन में जाना है, लेकिन आप कलर को लेकर कन्फ्यूज़ हैं कि कौन-सा कलर पहनें, तो गोल्ड, सिल्वर, ब्रॉन्ज़ जैसे शिमरी शेड्स पहन लें. ये कभी आउटडेटेड नहीं होते और गॉर्जियस लुक देते हैं.
* इवनिंग पार्टी के लिए गोल्ड, सिल्वर कलर का गाउन, ड्रेस या साड़ी बेस्ट ऑप्शन है.

Aftershock-London-(8)

फोटो सौजन्य: वेरो मोडा, आफ्टरशॉक लंदन, एथनिक दुकान, LFW SR 2016 

फैशन की अन्य ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें