Trishul

पूनम ढिल्लों

बॉलीवुड का नूर कही जाने वाली पूनम ढिल्लों हो गई हैं 55 साल की. 1977 में मिस इंडिया कॉन्टेस्ट जीतने वाली पूनम ने बॉलीवुड में काम करने के बारे में कभी सोचा नहीं था, वो तो डॉक्टर बनना चाहती थीं. उनका जन्म 18 अप्रैल, 1962 को कानपुर मे हुआ. उनके पिता भारतीय वायुसेना में एयरक्राफ्ट इंजिनियर थे और मम्मी प्रिसिंपल थी. पूनम पढ़ाई में बेहद अच्छी थीं. 16 साल की उम्र में मिस इंडिया का खिताब जीतना उनकी लाइफ का सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट रहा. खिताब जीतने के बाद उन्हें उसी साल यश चोपड़ा ने अपनी फिल्म त्रिशूल में एक रोल ऑफर किया, लेकिन पूनम ने फिल्म करने से मना कर दिया. यश चोपड़ा के बहुत समझाने पर वो मना तो गईं, लेकिन इस शर्त पर कि वो सिर्फ़ स्कूल की छुट्टियों में ही शूटिंग करेंगी. त्रिशूल सुपरहिट साबित हुई और सबने पूनम को नोटिस किया. फिल्म नूरी ने पूनम के करियर को एक नया मुकाम दिया और एक के बाद एक लगभग 80 फिल्मों में अभिनय करके पूनम ने अपनी अलग पहचान बना ली.

साल 1988 में उन्होंने प्रोड्यूसर अशोक ठकारिया से शादी कर ली, जिसके बाद उन्होंने फिल्मों से दूरी बना ली. पूनम और उनके पति का रिश्ता कुछ सालों बाद टूट गया. पूनम अपने दो बच्चों बेटे इनमोल और बेटी पलोमा के साथ रहती हैं. फिल्मों के साथ-साथ छोटे पर्दे पर भी वो अपने अभिनय का जौहर दिखा रही हैं. सोशल वर्क में बिज़ी रहने वाली पूनम की अपनी मेकअप वैन कंपनी भी है, जिसका नाम वैनिटी है और ये बॉलीवुड के लोगों को मेकअप से जुड़ी सुविधाएं देती है.

मेरी सहेली की ओर से पूनम ढिल्लों को जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं.

Salim Khanसलीम खान हो गए हैं 81 साल के. सलमान ने पापा को बड़े ही अलग अंदाज़ में विश किया इंस्टाग्राम पर. उन्होंने अपने पिता की पुराने ब्लैक एंड व्हाइट फोटो शेयर की और लिखा, ”हैप्पी बर्थडे डैड.” 

View this post on Instagram

Happy birthday Dad

A post shared by Salman Khan (@beingsalmankhan) on

हर बेटे की तरह सलमान भी अपने पिता के बेहद क़रीब हैं. सलीम खान भी हर कदम पर बेटे सलमान का साथ देते हैं. जब भी सलमान मुश्किलों में होते हैं परिवार में से सबसे पहले उनके पिता ही उन्हें संभालते हैं.

बात करें सलीम खान की तो इंदौर में 24 नवंबर 1935 में जन्में सलीम साहब बॉलीवुड के बड़े स्क्रिप्ट राइटर रह चुके हैं. यूं तो सलीम खान हीरो बनने के लिए मुंबई आए थे, लेकिन किस्मत ने उन्हें एक लेखक के रूप में कामयाबी दिलाई.

बॉलीवुड में सलीम-जावेद का दोस्ताना काफ़ी चर्चा में रहा. दोनों की पहली मुलाकात साल 1966 में फिल्म सरहदी लुटेरा के सेट पर हुई थी, जिसमें सलीम ऐक्टिंग भी कर रहे थे. इसी फिल्म के सेट से हुई इनकी दोस्ती की शुरुआत.

दोनों ने मिलकर कई सुपर हिट फिल्में दी हैं, जिसमें शोले, दीवार, डॉन, सीता और गीता, यादों की बारात, ज़ंजीर, मजबूर, चाचा भतीजा, त्रिशूल, काला पत्थर, दोस्ताना, शान, क्रांति, शक्ति और मिस्टर इंडिया जैसी फिल्में शामिल हैं.

मेरी सहेली (Meri Saheli) की ओर से सलीम खान को जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं.