Tag Archives: Tulsi Is Good For Health

तुलसी के 15 हेल्थ बेनिफिट्स (15 Reasons Tulsi Is Good For Health)

Health Benefits Of Tulsi

Health Benefits Of Tulsi

मनुष्य के लिए तुलसी (Health Benefits Of Tulsi) वास्तव में प्रकृति का सबसे बड़ा वरदान है. हर पल आपका साथ देने के लिए आपके आंगन में यह है ही. आइए, तुलसी के घरेलू नुस्ख़े से आम बीमारियों को दूर करें.

खांसी और ज़ुकाम

* तुलसी, अदरक, प्याज़- इन तीनों के रस में शहद मिलाकर चाटें.

* 3 ग्राम तुलसी के सूखे पत्ते और 1 ग्राम अदरक रस की चाय पीने से खांसी व ज़ुकाम में आराम मिलता है.

* सूखी खांसी होने पर तुलसी के बीज और मिश्री बराबर मात्रा में पीसकर 3-3 ग्राम फांकें और पानी पी लें.

गला बैठना

* तुलसी, प्याज़ तथा अदरक पीसकर रस निकाल लें. इसमें शहद मिलाकर धीरे-धीरे चाट जाएं.

* तुलसी दल आंच पर तपाकर नमक के साथ चबाने से भी लाभ होता है.

यह भी पढ़े: करौंदे की 13 औषधीय उपयोगिता

आंखों की तकलीफ़

* थोड़ी-सी फिटकरी पीसें. तुलसी दल का काढ़ा बनाकर उसमें मिला दें. हल्का गर्म रह जाने पर रुई के फाहों से पलकों को सेकें. सूजन
दूर हो जाएगी.

* आंख आना (कंजेक्टिवाइटिस), आंख दुखना आदि शिकायत होने पर तुलसी का रस आंखों में काजल की तरह लगाएं या तुलसी रस में थोड़ा-सा शहद मिलाकर आंखों में 1-1 बूंद डालें. ऐसा करने से आंख ठीक हो जाती है.

अरुचि

* कभी-कभी कुछ भी खाने का मन नहीं करता. एक प्रकार से अरुचि उत्पन्न हो जाती है. ऐसे में तुलसी के बीज व पीपल बराबर मात्रा में लेकर पीस लें और 3 ग्राम पाउडर में शहद मिलाकर चाटें.

* तुलसी के पत्तों से बनी गरम-गरम चाय पीने से पसीना निकलकर अरुचि दूर हो जाती है.

उल्टी

* एक चम्मच तुलसी रस पीने से उल्टी थम जाती है.

* तुलसी रस में शहद मिलाकर चाटने से भी तुरंत लाभ होता है.

यह भी पढ़े: ख़रबूजा के 10 अमेजिंग न्यूट्रीशियस हेल्थ बेनेफिट्स

अजीर्ण

* 1 ग्राम काला नमक और 10 ग्राम तुलसी को एक साथ पीस लें. इसे खाकर पानी पी लें.

* अजीर्ण के साथ पेट में दर्द भी उठे, तो तुलसी और अदरक का रस मिलाकर एक-एक चम्मच, दो-दो घंटे के अंतराल पर तीन बार लें. यदि यह रस गुनगुना कर पी लें तो तुरंत लाभ होता है.

* 5 ग्राम तुलसी को 5 ग्राम कालीमिर्च के साथ पीसकर चाट जाएं, फिर भरपेट पानी पी लें.

अम्ल-पित्त

* तुलसी की बौर, काली मिर्च, नीम की छाल और पीपल बराबर मात्रा में लेकर पाउडर बना लें. 3 ग्राम एक बार में सुबह-सवेरे फांककर ताज़ा पानी पी लें. अम्लता व पित्त से राहत मिलेी.

– मूरत गुप्ता

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें- Dadi Ma Ka Khazana