Tag Archives: urinary tract infection

Personal Problems: पीरियड्स के बाद यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन हो जाता है (Do You Get Urinary Tract Infection (UTI) After Period?)

मेरी उम्र 32 साल है. पिछले १ साल से हर पीरियड्स (Periods) के बाद मुझे यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (Urinary Tract Infection) हो जाता है, जिसके लिए मुझे एंटबायोटिक्स लेनी पड़ती हैं. और पीरियड्स भी समय पर नहीं आते, आगे पीछे हो जाते हैं. मैं बहुत परेशान हो गई हूं, कृपया मेरी मदद करें.
– शांति कमानी, हैदराबाद.

आपके लक्षण देखकर लग रहा है कि ये यूरिनरी इंफेक्शन है. ज़्यादातर यूरिन इंफेक्शन का कारण बैक्टीरिया होते हैं, जो हमारी ही आंतों से आते हैं. ये हमारी आंतों को तो कोई नुकसान नहीं पहुंचाते, लेकिन जब शरीर के दूसरे हिस्सों में पहुंच जाते हैं, तब इंफेक्शन का कारण बनते हैं. कुछ बैक्टीरिया आपके गुदा द्वार (ऐनस) में रहते हैं, जो आपके ब्लैडर तक पहुंचकर यूरिन इंफेक्शन का कारण बनते हैं. सेक्सुअल एक्टिविटी के कारण भी महिलाओं को यूरिन इंफेक्शन होता है. इसके अलावा अनहाइजीनिक पब्लिक टॉयलेट इस्तेमाल करने और कम पानी पीने के कारण भी यूरिनरी टैक्ट इंफेक्शन (यूटीआई) होता है. यूटीआई में राहत के लिए भरपूर पानी पीएं, ताकि जर्म्स आपके शरीर से फ्लश आउट हो जाएं. इसके अलावा क्रैनबेरी का जूस और नींबू पानी पीएं. साफ़-सुथरी अंडरवेयर पहनें और प्राइवेट पार्ट्स की हाइज़ीन का ख़्याल रखें. अगर यह समस्या आपको बार-बार हो रही है, तो गायनाकोलॉजिस्ट से मिलें.पीरियड्स का यूरिन इंफेक्शन और एंटीबायोटिक्स से कोई कनेक्शन नहीं.

यह भी पढ़ें: पर्सनल प्रॉब्लम्स: क्या एनीमिया के कारण कंसीव नहीं कर पाऊंगी?

Urinary Tract Infection

 

मेरी उम्र ३९ है. १ साल पहले मैं डिप्रेशन में थी और पिछले ७ महीनों से मेरे पीरियड्स सिर्फ़ 2 दिन ही रहते हैं और ब्लीडिंग भी बहुत कम होती है. क्या यह मेनोपॉज़ की निशानी है? या फिर डिप्रेशन के कारण ऐसा हो रहा है. क्या मुझे किसी तरह का ट्रीटमेंट लेना होगा या फिर हेल्दी लाइफस्टाइल से ये ठीक हो जाएगा. कृपया, मार्गदर्शन करें.
– उमा विश्वास, फ़िरोज़पुर.

पीरियड्स के दौरान कम ब्लीडिंग के कई कारण हो सकते हैं, जैसे- हार्मोन्स का असंतुलन, पोषण की कमी, पीसीओएस, थायरॉइड प्रॉब्लम्स. अपने परिवार में पता करें कि अर्ली मेनोपॉज़ की हिस्ट्री तो नहीं. आपको कुछ ब्लड टेस्ट कराने होंगे. टेस्ट में ओवेरियन रिज़र्व चेक कराएं और सोनोग्राफी करवाएं ताकि पता चल सके कि कितने साल और रुक सकते हैं.

यह भी पढ़ें: पर्सनल प्रॉब्लम्स: क्या गर्भनिरोधक गोलियों से ब्रेस्ट कैंसर की संभावना बढ़ जाती है?

यह भी पढ़ें: पर्सनल प्रॉब्लम्स: क्या पीरियड्स न आना प्रेग्नेंसी की निशानी है?

Dr. Rajshree Kumar

 

डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

 

 

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies