useful tips

अक्सर देखा गया है कि महिलाएं अपने सेहत को लेकर थोड़ी लापरवाह रही हैं. जबकि आज की तारीख़ में महिलाओं को ख़ुद के लिए समय निकालना और अपनी सेहत का ध्यान रखना बेहद ज़रूरी हो गया है. ऐसे में यहां पर दिए गए पांच सलाहों को अपनाकर वे हर दिन अपने लिए और अपनों के लिए स्वयं को स्वस्थ रख सकती हैं. इस संदर्भ में हमें जे. सोमैया कॉलेज ऑफ फिजियोथेरेपी की डॉ. श्वेता मनवाड़कर, जो प्रोफेसर और फिजियोथेरेपिस्ट भी हैं कई उपयोगी जानकारियां दीं.

आज की कोरोना वायरस और लॉकडाउन की महामारीवाली स्तिथि में जब परिवार का हर सदस्य तनाव का सामना कर रहा है, तब उस परिवार को सुख-चैन के कुछ पल, ख़ुशी-अपनापन देने का सामर्थ्य ज़्यादातर परिवारों में, उस घर की गृहिणी के हाथ में ही होता है. ऐसे में यह बहुत ज़रूरी हो जाता है कि वो दूसरों के साथ-साथ अपनी भी शारीरिक और मानसिक तंदुरुस्ती का ख़्याल रखें. इसी से जुड़ी कुछ ऐसी ही बातें यहां पर दे रहे हैं.

१) सुबह का नाश्ता…

  • स्त्रियां सब को खिलाने की व्यस्तता में भी अपने ख़ुद के सुबह के नाश्ते के प्रति भी ख़ास ध्यान दें.
  • दिन की शुरुआत में लिया हुआ पौष्टिक आहार मेटाबॉलिज़्म के लिए अच्छा होता है और उससे आगे के काम करने के लिए एनर्जी मिलती है और वज़न भी कंट्रोल में रहता है.
  • सुबह के नाश्ते में पोहा, उपमा इत्यादि के साथ केला, सेब, संतरा आदि फल, पनीर, दूध, रागी, राजगिरा , सिंगदाना, कुरमुरा, सूखा मेवा इत्यादि लें.
  • इन सबसे शरीर को भरपूर मात्रा में कैल्शियम और विटामिन डी मिलता है.

२) नियमित एक्सरसाइज़…

  • तंदुरुस्त रहने के लिए हर दिन शारीरिक व्यायाम करना अत्यंत आवश्यक है.
  • हफ़्ते के तीन दिन ३० मिनट तक एरोबिक एक्सरसाइज़ और हफ़्ते के दो दिन ३० मिनट तक स्नायु की ताकत बढ़ाने के व्यायाम ज़रूरी है.
  • इससे आपका पूरे हफ़्ते में १५० मिनट का एक्सरसाइज़ का ज़रूरी कोटा पूरा हो जाएगा.
  • हर ३० मिनट की एक्सरसाइज़ के पहले १० मिनट का वॉर्मअप और अंत में १० मिनट का कूल डाउन अवश्य करें.
  • एक्सरसाइज़ के बारे में अपने डॉक्टर और फिजियोथेरेपिस्ट कि सलाह ज़रूर लें.
  • इस तरह सही तरीक़े से एक्सरसाइज़ करने पर बिना किसी दर्द के व्यायाम का लाभ मिलेगा.
  • घर पर चलने के लिए जगह न हो, तो आप थोड़ी-सी जगह में भी 8 के आंकड़े में जितनी देर चाहे उतनी देर बिना रुके चल सकती हैं. इस तरह के चलने को ‘इन्फिनिटी वॉक’ कहा जाता है.
  • घर पर नियमित रूप से किए गए आसान स्ट्रेचेस, स्क्वॉट्स, अगर वेट्स नहीं हो, तो पानी की बोतल हाथ में पकड़कर हाथ की ताकत बढ़ाने के लिए किए गए एक्सरसाइज़ इन सबका ख़ासकर महिलाओं में हड्डियां और स्नायु ताकतवर बनाने में बहुत मदद मिलती है.
  • घर पर एक्सरसाइज़ करने के लिए योगा मैट का इस्तेमाल अवश्य करें.
  • व्यायाम के लिए एक समय और जगह निश्‍चित करेंगी, तो इससे हर दिन करने में आसानी भी होगी और मदद भी मिलेगी. साथ ही जल्दी ही एक्सरसाइज़ करना आपकी पॉज़िटिव आदत बन जाएगी.

यह भी पढ़ें: क्या आप अचानक मोटी हो गई हैं? जानें मोटापे का इमोशनल कनेक्शन (Are You Emotionally Overweight? Here Are 10 Easy Ways To Lose Weight Naturally)

३) एक्टिव रहने की आदत…

  • महिलाएं नियमित एक्सरसाइज़ के साथ-साथ दिनभर एक्टिव रहने की आदत डालें.
  • जैसे कोई भी मशीन पड़े-पड़े बिगड़ जाती है, वैसे ही अपने शरीर का भी है. अपने शरीर को मूवमेंट की आवश्यकता होती है, इसलिए एक ही शारीरिक स्थिति में बहुत देर तक ना बैठे.
  • जब ध्यान में आ जाए कि आप बहुत देर से बैठी हैं, जैसे- टीवी के सामने या कुछ पढ़ते वक़्त या मोबाइल देखते समय, फोन पर बात करते वक़्त, तो उठकर थोड़ा टहल लें.
  • बैठते वक़्त सीधा बैठे, चलते वक़्त सहजता से पर सीधा चले, रीढ़ की हड्डी व कंधे झुकाए नहीं.
  • आलसपन ना आने दे, इससे जितना दूर रहे बेहतर है.

४) मन की सफ़ाई…

  • तंदुरुस्त शरीर के लिए मन स्वस्थ होना भी अत्यावश्यक है.
  • कई शोधों से यह साबित हुआ है कि शरीर की बहुत-सी बीमारियों का मूल मन में ही होता है.
  • कई बार घर पर ऐसी कोई घटना घटती होती है, जिससे मन का चैन खो जाता है.
  • ऐसे में मन का दुखी होना स्वाभाविक है, लेकिन लंबे समय तक दुखी रहना शारीरिक स्वास्थ्य के लिए भी बेहद हानिकारक है.
  • इसलिए किसी भी ऐसी घटना के बाद जितनी जल्दी हो सके, उतनी जल्दी ख़ुद के भावनाओं पर काबू पाएं.
  • प्राणायाम, योग, ध्यान को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं. इससे मन को बेहद शांति मिलेगी.
  • जैसे हम गंदे-मैले कपड़े नहीं पहनते, वैसे ही मन भी मैला ना करे. अच्छा सोचें, अच्छा सुने और अच्छा बोलें.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बाद बच्चों को स्कूल के लिए कैसे तैयार करें: मैडम ग्रेस पिंटो, मैनेजिंग डायरेक्टर रायन इंटरनेशनल ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस (How To Prepare Children For School After Lockdown: Madam Grace Pinto, Managing Director, Ryan International Group Of Institutions)

५) स्वस्थ परस्पर संबंध…

  • अच्छी सेहतभरी ज़िंदगी जीने के लिए अपनों का साथ और विश्‍वास बेहद ज़रूरी है.
  • परिवार के लोगों के साथ बैठकर बातें करें.
  • उनके साथ हंसी-मज़ाक के साथ ख़ुशी के पल बिताएं.
  • घर पर कैरम, कार्ड्स आदि खेल भी खेल सकते हैं.
  • कुछ महिलाएं घर के ज़िम्मेदारियों में ख़ुद को पूरी तरह से व्यस्त कर लेती हैं. ऐसा बिल्कुल ना करें.
  • आपके जितने भी गहरे दोस्त हों, उनसे नियमित रूप से संपर्क में रहें.
  • रिश्तेदारों से भी अपनापन व मधुर संबंध रखें.
  • उनका हालचाल पूछने के लिए समय-समय पर फोन करें. इससे आपका तनाव भी कम होगा और आत्मविश्‍वास भी बढ़ेगा.
    आपकी सामाजिक स्थिति जितनी समृद्ध होगी, आपके रिश्ते जितने मज़बूत होंगे, बीमारियां उतनी ही आपसे दूर रहेंगी और आप ख़ुशहाल जीवन जी सकेंगी.
Women's Health Tips

ऊषा गुप्ता

अक्सर चश्मा लगानेवाले अपने आंखों के आसपास व नाक पर पड़नेवाले निशान व दाग़-धब्बे से परेशान रहते हैं. उनकी इस समस्या को दूर करने के लिए हम यहां पर कुछ होम रेमेडीज़ दे रहे हैं.

Ways To Get Rid Of Specs Marks

* ऐलोवीरा की फ्रेश पत्तियों से जेल निकालकर आंखों के आसपास के निशान व गहरे हिस्सों पर लगाएं. जेल के सूखने के बाद ठंडे पानी से धो लें.

* संतरे के छिलके को सुखाकर पीस लें. अब इस पाउडर में थोड़ा-सा दूध मिलाकर पेस्ट बना लें. इस पेस्ट को निशानवाले हिस्से पर लगाएं. 15-20 मिनट बाद जब पेस्ट सूख जाए, तब इसे ठंडे पानी से धो लें. दाग़-धब्बे मिटाने के अलावा इस पेस्ट से चेहरा ग्लो भी करता है.

* शहद में थोड़ा-सा दूध व ओट्स अच्छी तरह से मिक्स कर लें. इस मिश्रण को काले घेरे व दाग़वाली जगह पर लगाकर सूखने तक यूं ही रहने दें. फिर पानी से धो लें.

* आलू को कद्दूकस करके दाग़वाली जगह पर लगाएं. जब पेस्ट सूख जाए यानी कम-से-कम 15-20 मिनट बाद पानी से धो लें. यदि इसे नियमित रूप से इस्तेमाल करते रहें, तो काफ़ी प्रभावकारी परिणाम मिलते हैं.

* गुलाबजल को सॉफ्ट कॉटन यानी रुई में डुबोकर आंखों के आसपास लगाएं. थोड़ी देर बाद ठंडे पानी से आंखों को धो लें. गुलाबजल एक नेचुरल स्किन टोनर है. इससे न केवल आपके निशान दूर होंगे, बल्कि आंखों की रंगत ख़ूबसूरत होने के साथ हेल्दी भी लगेगी.

* खीरे को गोलाई में पतले स्लाइस में काट लें. इसे चश्मे से हुए दाग़वाली जगहों पर व आंखों के ऊपर कम-से-कम आधे घंटे तक रखें. फिर खीरे की स्लाइस को हल्के हाथों से चेहरे व निशानवाली जगहों पर रब करें.

* फ्रेश नींबू को निचोड़कर उसमें थोड़ा-सा पानी मिलाएं. इसमें कॉटन बॉल डुबोकर दाग़वाली जगहों पर लगाएं. 15-20 मिनट बाद पानी से धो लें.

– श्रद्धा गुप्ता

यह भी पढ़ेचेहरे के दाग-धब्बे हटाने के 10 आसान घरेलू उपाय (10 Effective Home Remedies To Get Rid Of Dark Spots, Pigmentation And Scars)

अमरूद (Guava) की तासीर ठंडी होती है. पेट संबंधित बीमारियों के लिए यह बहुत उपयोगी फल है. इसमें विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है. ये मेटाबॉलिज़्म को बेहतर बनाता है, जिससे शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर नियंत्रित रहता है. इसमें मौजूद लाइकोपीन नामक फाइटो न्यूट्रीएंट कैंसर व ट्यूमर के ख़तरे से बचाता है. साथ ही इसमें पाया जानेवाला बीटा कैरोटीन स्किन प्रॉब्लम्स को दूर करता है. अमरूद में प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है, जो डायबिटीज़ के मरीज़ों के लिए फ़ायदेमंद है. थायरॉइड को नॉर्मल करने के लिए भी डॉक्टर अमरूद के सेवन की सलाह देते हैं. अमरूद में मौजूद पोटैशियम व मैग्नीशियम मांसपेशियों व दिल को मज़बूत रखते हैं और इससे जुड़ी कई बीमारियों से भी बचाते हैं. आइए इसके स्वास्थ्य संबंधी अन्य लाभ के बारे में जानते हैं.

Benefits Of Guava

* यदि कब्ज़ की समस्या हो, तो सुबह खाली पेट पका हुआ अमरूद खाना फ़ायदेमंद रहता है.

* आंखों की सूजन व आंखों के नीचे के काले घेरे यानी कालेपन को दूर करने के लिए अमरूद की पत्तियों को पीसकर उसका पेस्ट बनाकर लगाएं.

* दस्त की शिकायत होने पर अमरूद के पत्तों का रस निकालकर इसकी कुछ बूंदें एक कप गुनगुने पानी में मिलाकर पीएं.

* यदि मुंह से दुर्गंध आती है, तो अमरूद की कोमल पत्तियों को चबाना लाभदायक होता है. इससे दांतों का दर्द भी कम होता है.

* बच्चों के पेट में कीड़े हों, तो अमरूद खिलाएं, तुरंत फ़ायदा होगा.

यह भी पढ़ेकपूर का कमाल (11 Incredible Benefits Of Camphor)

* अमरूद को काले नमक के साथ खाने से पाचन संबंधी समस्या दूर हो जाती है, इसलिए इसे पाचन क्रिया के लिए बेहतरीन फल माना जाता है.

* एक लीटर पानी में 10-15 अमरूद के पत्ते डालकर 15 मिनट तक उबाल लें. ठंडा होने पर इसे छानकर बालों की जड़ों में लगाने से बालों का गिरना-झड़ना दूर हो जाता है. साथ ही इसका नियमित रूप से इस्तेमाल करने से बाल ख़ूबसूरत, मज़बूत व चमकदार बनते हैं.

* पीरियड्स के समय होनेवाले असहनीय दर्द से राहत के लिए हर रोज़ छह मिलीग्राम अमरूद के रस का सेवन करें. इसके अलावा अमरूद के पत्ते का रस पीने से पीरियड्स में होनेवाली ऐंठन से भी आराम मिलता है.

* अध्ययन द्वारा यह साबित हुआ है कि डिप्रेशन के समय अमरूद का सेवन उपयोगी होता है. दरअसल, अमरूद में प्रचुर मात्रा में मैग्नीशियम होता है, जो तनाव व चिंता को दूर करने में अहम् भूमिका निभाता है.

* मितली या उल्टी की परेशानी होने पर अमरूद के पत्ते खाने से राहत मिलती है.

* नेचुरल ग्लो में भी अमरूद मदद करता है. यदि आप नियमित रूप से अमरूद खाते हैं, तो आपकी त्वचा खिली-खिली रहेगी.

* डेंगू के बुख़ार में अमरूद के पत्तों का उपयोग लाभप्रद होता है. पांच कप पानी में अमरूद के दस पत्ते डालकर तब तक उबालें जब तक पानी तीन कप न रह जाए. फिर इस मिश्रण को ठंडा करके मरीज़ को दिनभर में तीन बार एक-एक कप दें.

यह भी पढ़ेसंतरा खाने के 11 लाजवाब फ़ायदे (11 Amazing Benefits Of Eating Orange)

* रिसर्च से यह पता चला है कि अमरूद के पत्तों की चाय बनाकर नियमित रूप से तीन महीने तक पीने से शरीर में मौजूद बैड कोलेस्ट्रॉल दूर होता है व ट्राइग्लिसराइड्स कम होते हैं.

* यदि पित्त की समस्या हो जाए, तो उसके लिए भी अमरूद का सेवन करना उपयोगी होता है.

* मुंह में छाले हों, तो अमरूद की पत्तियों को चबाने से आराम मिलता है.

* यदि आप नियमित रूप से अमरूद खाते हैं, तो आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है. रिंकल व अन्य त्वचा संबंधी परेशानियां कम होती हैं.

सुपर टिप

हर रोज़ अमरूद खाने से सर्दी-ज़ुकाम जैसी मौसमी बीमारियां कम होती हैं.

– ऊषा गुप्ता

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazana

*    किताबों को कीड़ों से बचाने के लिए आलमारी में चंदन की लकड़ी रखें या फिर सूखी नीम की पत्तियों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

*    आईना साफ़ करने के लिए गुनगुने पानी में एक चम्मच स़फेद विनेगर मिलाकर इस मिश्रण से साफ़ करें. फिर काग़ज़ से पोंछ लें.

Useful Home Tips

*    तांबे की वस्तुओं को साफ़ करने के लिए सूखे कपड़े पर केचअप लगाकर रगड़कर साफ़ करें. फिर पानी से धो लें. यदि आप चाहें तो नींबू का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

*    घर की कांच की चीज़ों को काग़ज़ से साफ़ करें. फिर टेलकम पाउडर छिड़ककर पोंछ लें.

*    फर्नीचर के दाग़-धब्बों को मिटाने के लिए पेट्रोलियम जेली का इस्तेमाल करें. इसे दाग़वाली जगहों पर लगाकर रातभर रहने दें. फिर सुबह स्पॉन्ज या फिर कपड़े से साफ़ कर लें.

*    संतरे के छिलके को सुखाकर पाउडर बना लें. इसे आलमारी के किनारों पर रखें. इससे कपड़ों में कीड़े नहीं लगेंगे.

*    दीमक से परेशान हैं, तो जहां पर भी दीमक लगी हो, वहां पर करेला या नीम का रस छिड़क दें.

*    रसोईघर की सिंक साफ़ करने के लिए आधे कप स़फेद विनेगर में एक-एक चम्मच नींबू का रस और बेकिंग सोडा मिलाकर

सिंक में छिड़क दें. 10-15 मिनट बाद ब्रश से रगड़कर गर्म पानी से क्लीन करें.

*    घर की टाइल्स को साफ़ करने के लिए डिटर्जेंट पाउडर का उपयोग करें.

*    यदि घर में क्रॉकरोच की समस्या है, तो आधा कप गेहूं के आटे में दो चम्मच बोरिक पाउडर व दूध मिलाकर गूंधकर छोटी-छोटी गोली बना लें. जहांं-जहां पर क्रॉकरोच के होने की संभावनाएं हों, वहां पर गोली रख दें.

*    यदि काली चींटियों से परेशान हैं, तो आटे में हल्दी व शक्कर मिलाकर छिड़क दें.

*    एल्युमीनियम के बर्तनों को साफ़ करना हो, तो बर्तन में सेब के छिलके व पानी डालकर उबाल लें, फिर इसे क्लीन करें.

*    रबर के खिलौनों को साफ़ करने के लिए बेकिंग सोडा से साफ़ करके पानी से धो लें.

*    खिड़कियों व दरवाज़ें के शीशे को रीठे के पानी से साफ़ करें.

*    फूलों को अधिक समय तक फ्रेश रखने के लिए पानी में थोड़ा-सा शक्कर व नमक मिला दें.

– ऊषा गुप्ता

 

कुकिंग को आसान बनाने के लिए हमारे बताए 10 उपयोगी टिप्स ट्राई करें और अपने रोज़ के खाने को दें नया स्वाद.

Best Kitchen Tips

 

1) पिसे हुए मसाले को हमेशा धीमी आंच पर पकाएं, इससे रंग और टेस्ट अच्छा आता है.
2) ग्रेवी को स्वादिष्ट बनाने के लिए उसमें थोड़ी-सी शक्कर मिलाएं.
3) जब टमाटर का सीज़न न हो तो ग्रेवी में टोमैटो केचअप या सॉस का इस्तेमाल किया जा सकता है.
4) खीर बनाने के लिए हमेशा भारी बर्तन का इस्तेमाल करें, ताकि दूध जले नहीं.
5) अगर मसाले में दही डालना हो, तो पहले उसे अच्छी तरह फेंट लें और धीरे-धीरे मसाले में डालें.
6) सब्ज़ियां काटने के लिए हमेशा लकड़ी के चॉपिंग बोर्ड का इस्तेमाल करें. मार्बल स्लैब पर सब्ज़ियां काटने से चाकू की धार कम हो जाती है.
7) सब्ज़ियों का जितना हो सके उतना पतला छिलका निकालने की कोशिश करें.
8) घर में तैयार अदरक, लहसुन और हरी मिर्च के पेस्ट को ज़्यादा समय तक रखने के लिए उसमें 1 टीस्पून गरम तेल और नमक मिलाएं.
9) खाना बार-बार गरम न करें, इससे उसमें मौजूद पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं.
10) ग्रेवी के लिए हमेशा पके हुए लाल टमाटर ही इस्तेमाल करें, इससे रंग अच्छा आता है.

यह भी पढ़ें: बच्चों को खिलाएं 10 हेल्दी-टेस्टी रेसिपीज़

ये टिप्स भी हैं काम के
* फ्रिज को दुर्गंध रहित रखने के लिए उसमें नींबू का टुकड़ा रखें.
* कप में से कॉफ़ी के दाग़ हटाने के लिए उसमें कोई भी सोडा 3 घंटे के लिए भरकर रखें.
* हरी मिर्च काटने के बाद हाथों में होने वाली जलन से बचने के लिए उंगलियों को शक्कर मिलाए हुए ठंडे दूध के बाउल में रखें.
* चीज़ को कद्दूकस करने के बाद मशीन (ग्रेटर) को साफ़ करने के लिए उससे आलू कद्दूकस करें, इससे छेद में जमा चीज़ साफ़ हो जाएगा.
* फर्श पर अंडा गिर जाए, तो उस पर नमक छिड़ककर कुछ देर के लिए छोड़ दें. फिर उसे पेपर या टॉवेल से साफ़ करें, अंडा आसानी से साफ़ हो जाएगा.

यह भी पढ़ें: जब घर आएं मेहमान तो ऐसे करें रसोई की तैयारी 

कई बार जिन छोटी-छोटी बातों को हम छोटा समझकर अनदेखा कर देते हैं, वही बातें बड़े काम की होती हैं. यहां हम ऐसी ही कुछ छोटी-छोटी बातों के बारे में बता रहे हैं, जो आपके काम आएंगी.

 

Depositphotos_5420299_m (1)

अपनाएं ये हेल्थ टिप्स

पीरियड्स की तकलीफें
– जैसे ही पीडियड्स के समय दर्द शुरू हो, दो-तीन ग्लास गर्म पानी पी लें.
– एक जगह बैठने या लेटे रहने की बजाय टहलें. इससे दर्द से राहत मिलती है.
– दादी मां ये नुस्खा आज़माएं- एक टीस्पून शक्कर को आधा टीस्पून घी और आधा टीस्पून अजवायन के साथ गर्म करें और पानी के साथ इसका सेेवन करें.
– पीरियड्स नियमित न हो तो यह नुस्खा आज़माएं- 10 ग्राम तिल को 200 ग्राम पानी में उबालें. चौथाई रहने पर उसे उतारकर तथा उसमें गुड़ मिलाकर पीएं.
– गाजर का रस पीने से भी पीरियड्स नियमित हो जाता है. सुबह-शाम 200 ग्राम गाजर का जूस पानी के साथ पीनेे से मासिक धर्म नियमित होने लगता है.
– पीरियड्स अनियमित तथा दर्द के साथ हो तो आधा चम्मच कलौंजी दिन में दो बार मासिक धर्म के दौरान लें. कलौंजी के बीजों का चूर्ण बनाकर रख लें और इसे गर्म पानी के साथ लें.
– 2 से 3 ग्राम अदरक, 4 काली मिर्च, एक बड़ी इलायची, इन्हें कूटकर उबलते पानी में डालिए, फिर इसमें काली चाय, दूध और शक्कर मिलाइए. उबालकर थोड़ी देर रखने के बाद गर्म ही पीजिए. मासिक धर्म के दर्द से मुक्ति के लिए यह अत्यंत उपयोगी नुस्खा है.
कमर दर्द
– कमरदर्द के लिए सबसे अच्छा तरीका है स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज़, जो दर्द को कम करता है. पेट के बल लेट जाएं और हाथों को सामने की ओर फैला लें. पैरों को स्ट्रेच करें. सांस लें और बाएं हाथ और दाएं पैर को ऊपर उठाएं. सांस छोड़ते हुए पूर्वावस्था में आ जाएं. अब दाएं हाथ व बाएं पैर से भी यही दोहराएं. 10 बार यह क्रिया करें.
– पेनकिलर लेने से बेहतर है कि जहां दर्द है, वहां बर्फ से सेकें. दिन में तीन बार 20 मिनट तक सेंक दें.
– एक ही पोजीशन में ज्यादा समय तक खड़े होने या बैठने से बचें. अगर आप ऑफ़िस में काम करती हैं तो हर 45 मिनट पर ब्रेक लें.

ये भी पढ़ें: ईज़ी कुकिंग: 32 हेल्दी-टेस्टी मसाले बनाएं घर बैठे और कुकिंग को बनाएं आसान

अपनाएं ये डेली हेल्दी हैबिट्स
– दिनभर में कम से कम तीन-चार लीटर अवश्य पीएं.
– शरीर से टॉक्सिन्स को निकालने के लिए सुबह खाली पेट एक ग्लास पानी में एक नींबू निचोड़कर पीएं.
– सुबह का नाश्ता स्किप न करें. नाश्ते में हेल्दी चीज़ें जैसे अंकुरित अनाज, दूध, दलिया, अंडा जैसी सब्ज़ियां शामिल करें. लंच और डिनर में हरी सब्ज़ियां और सलाद अवश्य शामिल करें.
– नियमित एक्सरसाइज़ करें. रोज़ाना नहीं तो हफ्ते में चार दिन तो किसी न किसी तरह की एक्सरसाइज़ ज़रूर करें जैसे स्विमिंग, वॉकिंग, आउटडोर गेम्स आदि.
– डॉक्टर से मिलकर हर छः महीने में नियमित रूप से चेकअप ज़रूर करवाएं.
– काम के दौरान हर एक घंटे में अपनी सीट से उठकर थोडा टहल आएं.
– उठने-बैठने का पोश्‍चर सही रखें. कई बार हमारे ग़लत पोश्‍चर से पीठदर्द-कमरदर्द की शिकायत हो जाती है.
– जंक फूड से परहेज करें. साथ ही अत्यधिक चाय-कॉफी का सेवन करने से बचें. इसके बजाय वेजीटेबल जूस या फ्रूट जूस लें.
– कम से कम 7 घंटे की नींद अवश्य लें. लेट नाइट तक जागने की आदत छोड़ दें और सुबह जल्दी उठने की आदत डालें.

होम टिप्स
– अचार को फफूंदी से बचाने के लिए अचार के जार में थोड़ी-सी भुनी हुई हींग रख दें.
– आलू व प्याज़ को कभी एक साथ न रखें. इससे आलू जल्दी सड़ने लगते हैं.
– सब्ज़ियों को ज़्यादा दिनों तक ताज़ा बनाए रखने के लिए उसे अख़बार में लपेटकर रखें.
– पकने के बाद चावल का पानी फेंकने के बजाय उसका इस्तेमाल सूप या दाल में मिलाने के लिए करें.
– पनीर को कई दिनों तक सुरक्षित रखने के लिए उसे फ्रिज में रखने से पहले ब्लॉटिंग पेपर में लपेट दें.
– पनीर को फ्रिज मेें रखने से पहले उस पर थोड़ी-सी चीनी बुरक दें. यह लंबे समय तक फ्रेश रहेगा.
– दही जमाते समस बर्तन में एक हरी मिर्च साबूत ही डाल दें. दही ज़्यादा अच्छा जमेगा.
– जले हुए दूध की महक दूर करने के लिए इसमें पान के दो पत्ते डालकर कुछ मिनट उबालें.
– आलू को उबालते समय पानी में थोड़ा-सा नमक मिला दें. छिल्के आसान से निकल जाएंगे.
– आटा गूंधने से पहले थाली में थोड़ा-सा नमक लगा लें. आटा थाली में चिपकेगा नहीं.
– यदि आप पापड़ को करारे ही रखना चाहती हैं तो पापड़े के डिब्बे में कुछ मेथीदाने रख दें.
– अगर वडा बनाते समय घोल पतला हो गया हो और वडे तलने में तकलीफ़ हो रही हो तो त्तेल में एक टेबलस्पून घी मिला दें.
– अगर इडली सॉ़फ़्ट बनाना हो तो इडली स्टीम करने के लिए मोल्ड मेंडालते समय मिश्रण को ़ज़्यादा चलाएं नहीं.
– यदि चावल बच गए हों तो उसमें सूजी, नमक, खट्टा दही और गरम पानी डालकर मिक्सी में पीस लें और इस मिश्रण से इडली बना लें.
– यदि भिंडी को तेज़ आंच पर पकाना हो तो 2 टेबलस्पून छांछ डाल दें. भिंडी कुरकुरी बनेगी.
– घी में थोड़ा-सा अजवायन डालकर गर्म करने से घी में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा घट जाती है.

सेफ्टी टिप्स

– घर का मेन गेट डबल डोर वाला रखें, एक लकड़ी का और दूसरा जालीदार, ताकि दरवाज़ा खोलने से पहले आगंतुक को देखा जाए सके.
– सेफ्टी चेन ज़रूर लगवाएं.
– मुख्य दरवाज़े पर मैजिक आई लगवाएं. अगर आपके घर में बच्चे हैं तो मैजिक आई बच्चे की ऊंचाई पर लगवाएं, ताकि डोरबेल बजने पर वे लोगों को पहचानकर दरवाज़ा खोल सकें.
– दरवाज़े के पास पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था होनी चाहिए, इस बात का ध्यान रखें.
– अनजान व्यक्ति की पूरी पहचान किए बिना दरवाज़ा न खोलें.
– कामवाली बाई और किराएदार का पुलिस वेरिफिकेशन करवाना न भूलें. सुरक्षा के लिए ये ज़रूरी है.
– घर पर आनेवाले किसी भी व्यक्ति चाहे वो रिपेयरिंग वाला हो, कोई सेल्समैन या मीटर रीडिंग करनेवाला, उसका आइडेंटिटि कार्ड देखे बिना उसे घर में घुसने न दें.
– अपनी सेफ्टी का भी ख़्याल रखें. इसके लिए सबसे ज़रूरी है हमेशा सतर्क रहना.
– सुनसान जगहों पर या देर रात अकेले न जाएं. ऐसी जगहों पर हमेशा गु्रप में ही जाएं.
– सेल्फ डिफेंस के गुर सीखें. ये इमरर्जेंसी में आपके काम आ सकता है.
– बहुत ज़्यादा कैश लेकर घर से न निकलें. बस ज़रूरत भर के पैसे पास में रखें. हां एटीएम कार्ड या क्रेडिट कार्ड साथ में ज़रूर रखें.
– किसी भी अनजान व्यक्ति से अपने क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड संबंधी या कोई अन्य पर्सनल जानकारी शेयर न करें.

मेकअप से पहले

– मेकअप करने से पहले चेहरे को गुनगने पानी से च्रूर धोएं. इसके बाद ऑयल फ़ी मॉइश्‍चराइज़र से मसाज करने के बाद ही मेकअप शुरू करें.
– मेकअप करने से पहले अपनी स्किन पर 5-10 मिनट तक ब़र्फ घिस लें. इसके बाद मेकअप करने से वो ़ज़्यादा देर तक टिकता है.
– लिपस्टिक लगाने के लिए लिप ब्रश का इस्तेमाल करें. इससे लिपस्टिक पूरे होंठों पर समान रूप से अप्लाई होगी और लंबे समय तक टिकी रहेगी.
– अगर चाहती हैं कि आईब्रोज़ के बाल शाइनी नज़र आएं तो आईब्रोज़ पर थोड़ी-सी आई क्रीम अप्लाई करें.

हेल्दी सेक्स

– सेक्स में रुचि कम हो गर्ई है तो स्केटिंग या कोई एक्सरासाइ़ज़ करें, आपमें सेक्स की इच्छा दोबारा जाग जाएगी.
– सेक्स पेनकिलर का काम तो करता ही है, साथ ही ये तीन तरह से और फ़ायदेमंद है.
– ये माहवारी के समय होनेवाली तकलीफ़ों को कम करता है.
– माइग्रेन का ददर्र् उठने पर सेक्स करने से फौरन राहत मिल जाती है.
– ह़फ़्ते में दो बार सेक्स करनेवाले लोगों के शरीर में इम्यूनोग्लोब्यूलिन ए की मात्रा ज्यादा पाई जाती है, जो सर्दी से शरीर को सुरक्षा करता है.
– जिन लोगों को नींद आने की शिकायत हो, उसके लिए सेक्स से बेहतर कुछ हो ही नहीं सकता, क्योंकि सेक्स के बाद अच्छी नींद आती है. रिसर्च के अनुसार ये नींद वाली दूसरी दवाओं की तुलना में 10 गुना ज्यादा कारगर है.

शॉपिंग टिप्स

– शॉपिंग पर जाने से पहले लिस्ट ज़रूर बना लें. ऐसा करने से आप गैरज़रूरी चीज़ें ख़रीदने से बच जाएंगी.
– साथ ही बजट भी बनाएं कि किस चीज़ पर कितना ख़र्च करना है. इससे आप फिज़ूलख़र्च से बच जाएंगी.
– सारे बिल्स कैश में ही दें. एक रिसर्च के अनुसार अगर हम डेबिट या क्रेडिट कार्ड से बिल भरते हैं तो हम 20-50 % अधिक ख़र्च करते हैं.
– स़िर्फ टाइमपास के लिए शॉपिंग करने न जाएं. साथ ही बोर हो रही हैं या स्ट्रेस में हैं तो चलो शॉपिंग कर लेते हैं वाली आदत भी ठीक नहीं. ऐसी स्थिति में आप बिना सोचे-समझे बेकार की चीज़ों पर पैसा ख़र्च देती हैं.
– आजकल आए दिन दुकानदार या मॉल्स तरह-तरह की स्किम्स ऑफर करते रहते हैं. इन ऑफर्स का का फायदा उठाएं. इससे आपके पैसों की बचत होगी.
– मार्केट में जाकर जल्दी-जल्दी शापिंग करने की बजाय पहले विंडो शॉपिंग करें और यह पता लगाने की कोशिश करें कि मार्केट में कहां कौन-सी चीज़ सस्ते दाम में मिल रही है. ऐसा करके आप अच्छी चीज़ें कम क़ीमत में ख़रीद सकती हैं.

ये भी पढ़ें: विंटर स्पेशल: 17 वुलन केयर एंड निटिंग ट्रिक्स

ये भी पढ़ें: राशि के अनुसार होम डेकोर