Vahbiz Dorabjee

ग्लैमर की चकाचौंध से भरपूर छोटा पर्दा हो या बड़ा पर्दा, कलाकारों की खूबसूरती और टैलेंट के साथ-साथ उनकी फिटनेसनेस बेहद जरूरी है. उनका वेट, साइज और फिगर उनके करियर में बहुत महत्वपूर्ण रोल अदा करता है, ख़ासतौर से एक्ट्रेसेस के लिए. जो एक्ट्रेस जितनी स्लिम फिट होती है, उनके सक्सेस होने के चांसेस ज्यादा होते हैं और जो प्लस साइज होती हैं, प्रतिभावान होने के बाद भी उनको काम मिलने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है. उनकी फिगर और प्लस साइज की खिल्ली उड़ाई जाती है. लेकिन छोटे परदे की कुछ अभिनेत्रियां ऐसी हैं, जो प्लस साइज होने के बाद भी जिन्होंने अपनी एक्टिंग से दर्शकों का दिल जीत लिया. आइये उन पर  एक नज़र डालते हैं 

1. भारती सिंह

Bharti Singh

छोटे परदे की लाफ्टर क्वीन भारती सिंह इंडस्ट्री के बेस्ट कॉमेडियंस में से एक हैं. वह प्लस साइज है. पर उनकी ख़ासियत है कि प्लस साइज होने के बावजूद होने अपने मोटापे को, अपनी फिगर को अपने लक्ष्य के आगे नहीं आने दिया. प्लस साइज होने के बाद भी वह अपनी पर्सनालिटी के प्रति काफी कॉन्फिडेंट नज़र आती हैं. ऑनस्क्रीन कॉमेडी करते हुए वह अपने वजन का मज़ाक उडाती है. प्लस साइज़ होने के बाद भी वह अपने लुक्स को लेकर बहुत खुश रहती हैं. भारती की  सबसे अच्छी बात है कि उसने अपने आपको बदलने की कभी कोशिश नहीं की. यहाँ तक की वह तो अपने बढे हुए वजन को वरदान मानती हैं.

2. अंजलि आनंद

 टेलीविज़न का एक नया चेहरा है अंजलि आनंद, जो ऑनस्क्रीन काफी कॉन्फिडेंट दिखाई देती है. अंजलि ने स्टार प्लस पर प्रसारित सीरियल ढाई किलो प्रेम से अपने एक्टिंग करियर की शुरूआत की थी. यह शो ओवरवेट कपल के बारे में है, जिसमें वह दीपिका का लीड रोल निभा रही है. दीपिका एक ऐसे लड़की है, जो अपने लुक्स और वेट से संतुष्ट और खुश है. असल जीवन में भी अंजलि इंडियन की मोस्ट फेमस प्लस साइज मॉडल है. उनका चेहरा, खूबसूरत फीचर्स उनकी पर्सनेलिटी को स्लिम लुक देते हैं और इसी बात का फायदा उठया अंजलि ने मॉडल बनकर. वह उन लड़कियों में से नहीं हैं, जो अपने मोटापे का लेकर परेशान रहती हैं, हमेशा रोती रहती हैं. अंजलि अपने प्लस साइज के बारे में बिना झिझक बात करती हैं. प्लस साइज होने के बाद भी कॉन्फिडेंट और ग्लैमरस दिखती हैं.

3. डेलनाज ईरानी

Delnaaz Irani

छोटे और बड़े परदे की मशहूर अभिनेत्रियों में से एक हैं डेलनाज़ ईरानी. पिछले २ दशकों से ज्यादा समय से डेलनाज़ अपनी बेहतरीन एक्टिंग से हमारा मनोरंजन करती आ रही है. डेलनाज़ प्लस साइज की होने के बावजूद बहुत सुंदर है. लेकिन अपनी शानदार एक्टिंग और खूबसूरती की वजह से से ग्लैमर वर्ल्ड में अपनी खास पहचान बनाने में कामयाब हो पाई है.एक इंटरव्यू के दौरान डेलनाज़ ने खुलासा किया कि एक बार मुझे शाइना एनसी के लिए उनके प्लस साइज के फैशन ब्रांड के लिए रैंप वॉक करना था. पहले मुझे थोड़ा अजीब लगा, लेकिन बाद में मैंने पूरे कॉन्फिंडेंस के साथ रैंप वॉक किया. जब लोगों ने मुझे देखा तो आश्चर्य से कहा कि मुझे वे लोग स्ट्रांग और कॉंफिडेंट फैट वुमन के तौर पर देख रहे हैं, जो स्लिम लुक वाली वुमन करती है. हां, मैं प्लस साइज हूं और रैंप वॉक कर सकती हूं। मैं एक प्लस साइज हूं और मैं लगभग सभी फैशन ट्रेंड्स को रॉक कर सकती हूं.

4. रिताशा राठौर

Ritasha Rathore

छोटे परदे की “बड़ो बहू” रिताशा राठौर ऑफस्क्रीन बहुत ही शांत है. वह प्लस साइज वुमन है, इसके बावजूद रिताशा को बिकनी और शॉर्टस पहनने से परहेज नहीं है. रिताशा को पहले अपने प्लस साइजवाली बात को एक्सेप्ट करने में कुछ वक्त लगा, लेकिन आज बोल्ड रिताशा को अपनी पर्सनेलिटी पर गर्व है. अपने प्लस साइज के बारे में बात करते हुए, रिताशा ने कहती हैं, “मुझे अपनी बॉडी और प्लस साइज को स्वीकार करने में थोड़ा ज्यादा समय लगा, क्योंकि इसके पीछे कुछ हेल्थ रीज़न था. मुझे पता है कि मुझे अपना वजन कम करना चाहिए. मैं ये भी जानती हूं कि प्लस साइज होने के बाद भी में क्यूट, सेक्सी और ब्यूटीफुल लगती हूँ. मझे इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है, तो मैं लोगों की बात क्यों सुनू.” रिताशा ऑनस्क्रीन और ऑफस्क्रीन, सभी प्लस साइज की  महिलाओं को प्रेरित करती है. खुशी से अपनी बॉडी साइज को एक्सेप्ट करें और जो पहनना चाहते हैं, उसे पहनें.

5. चांदनी भगवानानी

Chandni Bhagwanani

छोटे पर्दे के सबसे फेमस चेहरों में से एक चांदनी भगवानानी. चांदनी उन एक्ट्रेस में से एक है, जो केवल ब्यूटीफुल ही नहीं हैं, बल्कि टैलेंटेड भी हैं. चांदनी का मशहूर बाल कलाकार में से एक होने से लेकर लीड एक्ट्रेस तक  का सफर बहुत अच्छा रहा. यंग होने पर उन्होंने अमिता का अमित में काम किया. एक समय था जब वह प्लस साइज थीं, लेकिन अब होने काफी वजन कम कर लिया रहा है. तब भी उन्हें क्यूट स्माइल और शानदार एक्टिंग के कारण दर्शको का बहुत प्यार मिला. अमिता का अमित सीरियल के दौरान एक इंटरव्यू में अपने वजन के बारे में बात करते हुए कहा था, “जब मैं छोटी थी तब से मैं टेलीविजन इंडस्ट्री  का हिस्सा रही हूं और मुझे पता है कि यहां कैसे काम करता है. लीड रोल निभानेवाली टेलीविज़न की अभिनेत्रियाँ सुंदर और पतली हैं, जबकि मैं थोड़ी मोटी हूँ. लेकिन मैं एक ऐसा शो करना चाहती थी, लीड एक्ट्रेस मेरी तरह मोटी हो.

6. वाहबिज दोराबजी

Vahbaj Dorabji

पारसी ब्यूटी वाहबिज दोराबजी मशहूर टीवी एक्ट्रेस है, जिन्हें “प्यार की एक कहानी” और “हमारी बहू रजनीकांत” से लोकप्रियता मिली। एक वक्त था जब  वाहबिज प्लस साइज थी और लोगों ने उनका काफी मज़ाक उडाया था लेकिन बहुत काफी समय से वाहबिज वजन कम करने के लिए जिम में कड़ी मेहनत कर रही है. इसकी वजह यह नहीं है कि वाहबिज अपने प्लस साइज को लेकर दुखी या परेशान है,  बल्कि वह अपने हेल्थ इशू के चलते अपने वजन की कम करना चाहती है. वाहबिज कहती हैं कि व्यक्तिगत रूप से आपकी अपनी पहचान होनी जरूरी है. इसलिए वाहबिज अपनी हेल्थ इशू को दरकिनार करते हुए अपने प्लस साइज को मेंटेन करने में लगी है और उनमें आए बदलाव को देखकर उनके फैंस  भी बेहद खुश हैं.

7. अक्षय नाईक

Akshay Naik

टीवी शो “ये रिश्ता क्या कहलाता है” से अक्षय नाईक को घर-घर में पहचान मिली. ये ही स्माल स्क्रीन की  प्लस साइज एक्ट्रेसेस में से एक है, जो केवल खूबसूरत ही नहीं, बेहद टैलेंटेड  भी है. वह केवल शानदार एक्टर ही नहीं हैं, बल्कि ट्रेंड डांसर और  वॉइस ओवर आर्टिस्ट भी हैं.

8. पुष्टी शक्ति

Pushtiie Shakti

सीरियल माही वे की एक्ट्रेस माही वे पुष्टी शक्ति को कौन नहीं जानता है. पुष्टी शक्ति उन एक्ट्रेस में से एक हैं, जो प्लस साइज होने के बावजूद सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली एक्ट्रेसेस में से एक है. इस सीरियल में उन्होंने ओवरवेट लड़की का किरदार निभाया है, वह जैसी है, खुश है अपने लुक्स और वेट को लेकर खुश हैं. अपने एक साक्षात्कार में, पुश्तैनी ने कहा, “एक समय था जब में सोचती थी  हाय मैं  बहुत मोटी हूं. जब मैं थियेटर कर रही थी, तो कुछ लोग मेरे पास आए और कहा कि तुम बहुत सुंदर हो, लेकिन तो वजन कम करो. तब मैं बहुत परेशां हो गई थी. लेकिन आज पुष्टि अपने प्लस साइज और वेट को लेकर बहुत पॉजिटिव हैं.

यह भी पढ़ें : ये हैं बॉलीवुड के वो 8 स्टार्स जिन्होंने सफलता पाने के लिए न्यूमेरोलॉजी के अनुसार किया अपने नाम में हेर-फेर (8 Bollywood Stars Who Changed The Spelling Of Their Names)

ग्लैमर इंडस्ट्री में काम का प्रेशर, फिट बने रहने का प्रेशर, पॉप्युलैरिटी का प्रेशर… एक साथ कई प्रेशर झेलते हैं ये सितारे. ऐसे में यदि पर्सनल लाइफ ठीक नहीं, तो इनका तनाव और बढ़ जाता है. लेकिन टीवी की कुछ अभिनेत्रियां ऐसी भी हैं, जो तलाक के बाद भी टूटी नहीं हैं, बल्कि तलाक के बाद ये और भी मशहूर हो गई हैं, इनके फॉलोवर्स और भी बढ़ गए हैं. आइए, हम आपको बताते हैं कुछ ऐसी टीवी अभिनेत्रियों के बारे में, जिन्होंने तलाक के बाद खुद को और अपने करियर को भी बहुत अच्छी तरह संभाला और सफलता की राह पर लगातार आगे बढ़ रही हैं.

Divorced TV Actresses

रश्मि देसाई

Rashmi Desai

टीवी इंडस्ट्री की जानी मानी अदाकारा रश्मि देसाई की एक्टिंग जितनी शानदार है, उतनी ही जानलेवा है उनकी खूबसूरती. उतरन सीरियल में तपस्या का किरदार निभाकर रश्मि देसाई घर-घर की चहेती टीवी एक्ट्रेस बन गई हैं. बिग बॉस 13 में शानदार पारी खेलने के बाद रश्मि देसाई ने नागिन 4 में अपनी एक्टिंग का जलवा दिखाया. रश्मि देसाई के शोरवरी के किरदार ने भी दर्शकों का दिल जीत लिया था. रश्मि देसाई को आप रियालिटी शो झलक दिख ला जा, नच बलिए, फियर फैक्टर, खतरों के खिलाड़ी आदि में भी देख चुके हैं. अपने पहले ही शो ‘उतरन’ में काम करते हुए रश्मि अपने कोस्टार नंदिश संधू को अपना दिल दे बैठी. फिर 2011 में दोनों ने शादी कर ली, लेकिन शादी के दो साल बाद ही दोनों के अलग होने की ख़बर मीडिया में आने लगी थी. हालांकि दोनों ने अपने रिश्ते को ठीक करने की बहुत कोशिश की, इसके लिए दोनों ने डांस रियलिटी शो ‘नच बलिए’ में हिस्सा भी लिया, लेकिन फिर भी उनका रिश्ता टूट ही गया. जब हालात बनते नजर नहीं आए, तो 2015 में रश्मि देसाई और नंदिश संधू ने तलाक ले लिया. तलाक के बाद रश्मि देसाई में बहुत बदलाव देखने को मिले, अब वो अपने करियर को लेकर और ज्यादा गंभीर हो गईं. आज रश्मि देसाई टीवी इंडस्ट्री की टॉप एक्ट्रेसेस में से एक हैं और ‘बिग बॉस 13’ में काम करने के बाद रश्मि की फैन फॉलोविंग और भी बढ़ गई है.

जेनिफर विंगेट

Jennifer Winget

माया मेहरोत्रा उर्फ़ जेनिफर विंगेट को उनके सबसे पॉप्युलर सीरियल ‘बेहद’ से एक नई पहचान मिली है. इस सीरियल में जेनिफर विंगेट ने एक ऐसी लड़की का किरदार निभाया है, जिसका ओबसेशन कब क्या कर दे, ये कोई नहीं जानता. ये सीरियल इतना हिट हो गया कि इसके बाद जेनिफर की फैन फॉलोविंग बहुत ज्यादा बढ़ गई. जेनिफर विंगेट को करियर में इतनी सफलता तलाक के बाद मिली है. जेनिफर विंगेट की शादी एक्टर करन सिंह ग्रोवर से हुई थी. दोनों की मुलाकात ‘दिल मिल गए’ सीरियल में काम करने के दौरान हुई थी. फिर दोनों ने शादी कर ली, लेकिन शादी के कुछ समय बाद ही दोनों अलग हो गए. तलाक के बाद जेनिफर ने खुद को संभाला और अपनी एक्टिंग को भी और ज्यादा निखारा. आज जेनिफर टीवी इंडस्ट्री में अपनी एक अलग पहचान रखती हैं. बता दें कि करन सिंह ग्रोवर इस समय बिपाशा बसु के पति हैं और बिपाशा के साथ ये उनकी तीसरी शादी है, लेकिन जेनिफर ने अभी तक शादी नहीं की है.

यह भी पढ़ें: टीवी के रियलिटी शो की कड़वी सच्चाई (The Dark Side Of Indian Reality TV Shows)

श्वेता तिवारी

Shweta Tiwari

‘कसौटी ज़िंदगी की’ सीरियल की प्रेरणा यानी श्वेता तिवारी टीवी इंडस्ट्री में एक जानामाना चेहरा हैं, लेकिन श्वेता तिवारी की शादीशुदा ज़िंदगी कुछ ख़ास अच्छी नहीं रही. श्वेता तिवारी की पहली शादी साउथ फिल्म इंडस्ट्री के एक्टर और फिल्म प्रोड्यूसर राजा चौधरी से हुई, लेकिन ये रिश्ता नहीं निभ पाया और श्वेता ने राजा को तलाक दे दिया. बता दें कि इनकी एक बेटी भी है. फिर श्वेता तिवारी ने एक्टर अभिनव कोहली से शादी की, लेकिन ये शादी भी निभ न सकी और श्वेता अपने बच्चों के साथ अलग रहने लगीं. बता दें कि श्वेता और अभिनव का एक बेटा भी है. इस समय श्वेता तिवारी अपने दोनों बच्चों की परवरिश अकेले कर रही हैं और टीवी इंडस्ट्री में खूब काम भी कर रही हैं.

वाहबिज दोराबजी

Vahbaj Dorabji

‘प्यार की ये एक कहानी’ की पंछी यानी एक्ट्रेस वाहबिज दोराबजी को भी साथ काम करते हुए विवियन डीसेना से प्यार हो गया और दोनों ने शादी कर ली. शायद इनका रिश्ता भी टूटने के लिए ही बना था, तभी तो शादी के तीन साल बाद ही वाहबिज दोराबजी और विवियन डीसेना अलग हो गए. वाहबिज ने विवियन डीसेना से अलग होने के बाद खुद को टूटने नहीं दिया. वाहबिज सोशल मीडिया पर अपना टॉक शो करती हैं और कई तरह के क्रिएटिव वीडियो अपलोड करती हैं.

स्नेहा वाघ

Sneha Wagh

‘एक वीर की अरदास: वीरा’ सीरियल में वीरा की मां का किरदार निभानेवाली स्नेहा वाघ की शादी एक्टर अविष्कार दर्वेकर से हुई थी. बता दें कि शादी के समय उनकी उम्र सिर्फ 19 साल की थी, लेकिन कच्ची उम्र का ये प्यार लंबे समय तक नहीं टिक पाया और दोनों का तलाक हो गया. ख़बरों के अनुसार, स्नेहा की ये शादी घरेलू हिंसा के कारण टूटी थी. इसके बाद स्नेहा इंटीरियर डेकोरेटर अनुराग सोलंकी को डेट करने लगी थीं. दोनों शादी भी की, लेकिन दोनों के विचार एक-दूसरे से टकराने लगे और ये शादी भी जल्दी ही टूट गई. शायद स्नेहा वाघ को सच्चा प्यार नहीं मिल पाया और वो फिर से अकेली हो गईं, लेकिन अकेले होकर भी स्नेहा टूटी नहीं हैं, वो आज भी ज़िंदगी का खुलकर स्वागत करती हैं.

यह भी पढ़ें: 6 मशहूर टीवी एक्ट्रेस जो अब स्क्रीन पर नज़र नहीं आती, क्या है इनकी गुमनामी की वजह (6 Famous TV Actresses Who Disappeared From The Small Screen)

दलजीत कौर

Daljeet Kaur

‘इस प्यार को क्या नाम दूं’ सीरियल की अंजलि दी यानी एक्ट्रेस दलजीत कौर को भी तलाक के दर्द से गुजरना पड़ा है. दलजीत कौर ने बिग बॉस 13, गुड्डन तुमसे ना हो पाएगा आदि सीरियल में भी काम किया है. दलजीत की शादी शालीन भनोट से हुई थी, लेकिन शादी के पांच साल बाद ही दोनों ने तलाक ले लिया. बता दें कि इनका एक बेटा भी है. दलजीत कौर को जब शालीन भनोट के साथ रहना मुश्किल लगने लगा, तो उन्होंने पति पर घरेलू हिंसा का आरोप लगाकर पुलिस कंप्लेंट की और अपने बेटे को लेकर शालीन भनोट से अलग हो गई. तलाक के बाद भी दलजीत ने अपना काम जारी रखा और अपने करियर में लगातार आगे बढ़ रही हैं.

‘प्यार की ये एक कहानी’ की एक्ट्रेस वाहबिज दोराबजी (Vahbiz Dorabjee) अपने पति (Husband) विवियन डीसेना (Vivian Dsena) से साल 2016 में ही अलग हो गई थीं लेकिन अभी भी दोनों का आधिकारिक तलाक नहीं हुआ है. हाल में ऐसी खबरें आई थी कि वाहबिज ने विवियन से एलिमनी के रूप में मोटी रकम मांगी है, जिस कारण तलाक में लगातार देरी हो रही है. जिसके बाद वाहबिज ने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट लिखकर अपनी बात सामने रखी थी. हालांकि वाहबिज ने अपने पोस्ट में यह नहीं बताया था कि आज तक दोनों तलाक क्यों नहीं हो पाया है ?

Vahbiz Dorabjee And Vivian Dsena

ताजा  मिली जानकारी के अनुसार, वाहविज ने विवियन के ऊपर कई सारे आरोप लगाए हैं, जिनमें से घरेलू हिंसा भी एक है. सूत्र के अनुसार, वाहबिज ने तलाक के हलफनामे में विवियन पर यह आरोप लगाया है कि विवियन उनके साथ मारपीट करते थे, जिस कारण वो तलाक चाहती हैं. कोर्ट ने इन आरोपों पर सुनवाई भी की है लेकिन अभी तक कोई फैसला नहीं आया है. वहीं विवियन ने पत्नी पर उन्हें धोखा देने और एक्टर विपुल रॉय के साथ अफेयर के आरोप लगाए. विवयन के मुताबिक उन्होंने कई बार अपनी पत्नी और उस एक्टर को साथ में पकड़ा था.

Vahbiz Dorabjee And Vivian Dsena

कुछ समय पहले वाहबिज ने एक वेवसाइट से बात करते हुए बताया था कि, ‘हमेशा महिला को ही इन मामलों में दोषी क्यों माना जाता है ? हर कोई महिला सशक्तिकरण की बात करता है लेकिन क्या इसे वाकई माना जाता है ? लोग हमेशा ही महिलाओं को इसी तरह से नीचा दिखाते हैं. मैं एक सशक्त महिला हूं जो अपने विचार रखने से नहीं डरती हूं.’

Vahbiz Dorabjee And Vivian Dsena

वाहबिज ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा, ‘मैं 2-3 साल तक चुप रही क्योंकि मैं अपने सम्मान की चिंता कर रही थी और मैंने सोचा था कि ये सारी अफवाहें खत्म हो जाएंगी, क्योंकि अब ये खत्म नहीं हो रही हैं, तो मेरे चुप रहने का कोई मतलब नहीं है.’ देखना होगा कि वाहबिज और विवियन को कब तक अदालत से तलाक मिल पाएगा और उसके बाद दोनों क्या बयान देते हैं ?

ये भी पढ़ेंः प्रियंका चोपड़ा ने अपनी होनेवाली भाभी इशिता कुमार को अनफॉलो किया, शादी टूटी? (Priyanka Chopra Unfollow Ishita Kumar)

फिल्मी दुनिया और छोटे पर्दे दूर से जितना ग्लैमरस दिखता है, क़रीब से शायद उतना ही उलझनों और उतार-चढ़ाव भरा होता है. इस रंगीन दुनिया में जितनी जल्दी रिश्ते जुड़ते हैं, उतनी जल्दी टूट भी जाते हैं. ऐसा ही एक कपल, जिनका रिश्ता समय की कठोर परीक्षा में खरा नहीं उतर पाया, वो है जाने-माने टीवी एक्टर विवियन डीसेना (Vivian Dsena) और टीवी एक्ट्रेस वाहबिज़ डोराबजी (Vahbiz Dorabjee) का. इन दोनों की मुलाकात टीवी शो प्यार की इक कहानी के सेट पर हुई. दोनों के बीच प्यार हुआ और फिर उन्होंने 2013 में शादी कर ली, शादी के तीन साल बाद ही 2016 में अलग हो गए.

Vahbiz Dorabjee And Vivian Dsena

विवियन डीसेना और वाहबिज़ भले ही अलग हो गए हैं, लेकिन उनका कानूनी रूप में तलाक़ नहीं हुआ है. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो वाहबिज़ दोराबजी गुजाराभत्ता के रूप में विवियन डीसेना से 2 करोड़ मांग रही हैं. इतनी बड़ी रकम ही दोनों के तलाक का रोड़ा बना हुआ है. वैसे ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, जब किसी सेलेब्रिटी ने गुजाराभत्ता के रूप में पार्टनर से इतनी बड़ी रकम की डिमांड की है. एक मशहूर अख़बार ने जब वाहबिज़ डोराबजी से उनकी डायवोर्स और उससे जुड़े गुजारा भत्ता के बारे में जानने की कोशिश की तो उन्होंने इस पर साफ-साफ कमेंट करने से इंकार कर दिया. उन्होंने कहा कि यह मेरा पर्सनल मामला है. वाहबिज़ ने कहा,” हम एक-दूसरे पर छींटा-कशी नहीं करना चाहते. हमारे लिए यह बहुत मुश्किल समय है. हम बहुत सी परेशानियों से जूझ रहे हैं. हम दोनों ने इस बात की स्वीकार कर लिया है कि हम साथ नहीं रह सकते और हम अपनी ज़िंदगी में आगे बढ़ रहे हैं. पर हम एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप नहीं लगाना चाहते.”

Vahbiz Dorabjee And Vivian Dsena

वाहबिज़ इस तरह की अफवाहें फैलाने वाली मीडिया से भी खफा है. उन्होंने कहा,” मीडिया पर ऐसी बहुत सी स्टोरीज़ आ रही हैं, जो मेरे चरित्र को तार-तार कर रही हैं और डायवोर्स के लिए सिर्फ मुझे जिम्मेदार ठहरा रही हैं. लेकिन मुझसे जुड़ी इन अफवाहों में कोई सच्चाई नहीं है. डायवोर्स में देरी होने के पैसे के अलावा भी कई कारण हैं. मुझे दुख इस बात का है, कि लोग या मीडिया इस बारे में सोचते भी नहीं हैं. शादी या तलाक दो लोगों के बीच होता है और सिर्फ उन्हें ही सच्चाई पता होती है. सिर्फ एक व्यक्ति के कारण शादी नहीं टूटती”

Vahbiz Dorabjee And Vivian Dsena

अंत में जब उनसे यह पूछा गया कि क्या उन्होंने गुजाराभत्ता के रूप में विवियन से 2 करोड़ रुपए की मांग की है, तो उन्होंने कहा, ” पत्नी का पति के संपत्ति में 20% प्रतिशत का कानूनी तौर हक होता है. मैं इस बात पर कोई कमेंट नहीं करना चाहती कि मैंने कहा मांगा है और विवियन क्या चाहता है? लोग ऐसे रिएक्शन दे रहे हैं जैसे कि पहली बार किसी सेलेब्रिटी का डायवोर्स हो रहा है.”

Vahbiz Dorabjee And Vivian Dsena

एक अन्य इंटरव्यू में में वाहबिज़ ने कहा था कि उनके डायवोर्स की वजह जलन नहीं है, न कि वे विवियन की सफलता से जलती हैं. उन्होंने कहा था,” मैं विवियन को छह सालों से जानती हूं. हमने तीन साल डेट किया और तीन साल पति-पत्नी के रूप में रहे. शादी के बाद मैंने घंटों काम करने की बजाय अपने पति को समय देने का निर्णय किया. यह निर्णय मैंने सोच-समझ कर लिया था. इसलिए उसके काम या शोहरत से जलने का तो सवाल ही नहीं उठता. उस समय मैं विवियन की सबसे बड़ी सपोर्ट सिस्टम थी. हमारे अलग होने की वजह उसका या मेरा करियर नहीं है. जब किसी महिला की शादी होती है, तो वो अपने पति की सफलता से इंसिक्योर नहीं होती, बल्कि उसे इस बात का गर्व होता है.”

ये भी पढ़ेंः फिल्म रिव्यूः कलंक (Film Review Of Kalank)

 

त्योहार का समय ढेर सारी ख़ुशियां लेकर आता है. यही वो समय होता है जब हम दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ मिलकर ख़ुशियां बांटते हैं. गणेशोत्सव के ख़ास मौ़के पर टेलीविज़न के कुछ सितारों ने भी बप्पा का जमकर स्वागत किया और अपने दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ मिलकर इस फेस्टिवल को और भी ख़ास बना दिया. आइए, हम आपको दिखाते हैं टीवी सेलिब्रिटीज़ की गणपति बप्पा के साथ फोटो सेशन की कुछ झलकियां.

टीवी सितारों का गणपति बप्पा के साथ फोटो सेशन

 

गुंजन उतरेजा (Gunjan Utreja): गणपति बप्पा और दोस्तों की मेज़बानी करते हुए.

अर्जुन बिजलानी (Arjun Bijlani): बप्पा और दोस्तों के साथ सेल्फी लेते हुए.

करन वाही (Karan Wahi): गणपति बप्पा के साथ शांति और ख़ुशी के पल बिताते हुए.

जैस्मिन भसीन (Jasmin Bhasin): टीवी सीरियल टशन-ए-इश्क़ के सितारों के साथ.

View this post on Instagram

FRIENDS ❤️ #reunion #tashaneishq

A post shared by Jasmin Bhasin (@jasminbhasin2806) on

वाहबिज़ दोराबजी (Vahbiz Dorabjee): बप्पा के लिए किया साज-शृंगार.

रश्मि देसाई (Rashami Desai): अपने गणपति बप्पा ख़ुद बनाते हुए.

विमेन्स डे के ख़ास मौके पर हमने कुछ टीवी सेलिब्रिटीज़ से बात की और जाना कि उन्हें किन महिलाओं ने प्रभावित किया.

अनुष्का रमेश
मुझे ओपरा विनफ्रे से बहुत प्रेरणा मिलती है. जब मुझे उनके बारे में पता चला कि किस तरह संघर्ष करके वो अपनी समस्याओं से उबरीं और कामयाब हुईं, तब से मैं उनकी फैन हो गई हूं. उन्होंने ख़ुद सफलता हासिल की और समाज के लिए भी काम किया.

Women's Day

मृणाल जैन
मैं एक्ट्रेस रेखा से बहुत प्रभावित हूं. वो एक कामयाब महिला हैं, उन्होंने ख़ुद को ट्रांसफॉर्म किया है और अपनी शर्तों पर ज़िंदगी जी है. उनके जैसी गॉर्जियस लेडी मैंने आज तक नहीं देखी.

2 Mrunal close up body shot

रिशिना कंधारी
मुझे सिमी गरेवाल बहुत आकर्षक लगती हैं. वो बहुत ग्रेसफुल हैं और उन्होंने ख़ुद को बहुत अच्छी तरह मेन्टेन किया है. उनके चेहरे पर हमेशा मुस्कुराहट रहती है और वो हमेशा परफेक्ट नज़र आती हैं.

Women's Day

वाहबिज़ दोराबजी
मैं अपनी मां को अपना रोल मॉडल मानती हूं. आज मैं जो कुछ भी हूं मां की वजह से ही हूं. इसके बाद मैं करीना कपूर और कंगना राणावत का नाम लूंगी. कंगना ने बिना किसी गॉडफादर के ग्लैमर इंडस्ट्री में अपनी अलग पहचान बनाई है, महिलाओं के मुद्दे पर भी वो हमेशा आगे आकर हिस्सा लेती हैं.

Women's Day

अंकित गेरा
मैं दीपिका पादुकोण से बहुत प्रभावित हूं. वो अपने हर प्रोजेक्ट पर बहुत मेहनत करती हैं. उनकी पॉज़िटिव एनर्जी बहुत वायब्रेंट है.

Women's Day

मात्र 17 साल की उम्र से करियर की शुरुआत, पहले ही शो में बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का डेब्यू अवॉर्ड, थायरॉइड जैसी बीमारी के कारण बढ़ते वज़न के बावजूद अपनी अलग पहचान बनाना… ऐसी कई बातें हैं जो वाहबिज़ दोराबजी को ख़ास बनाती हैं. आइए, वाहबिज़ की ज़िंदगी के ऐसे ही कुछ अनछुए पहलुओं के बारे में जानें.

Vahbiz Dorabjee

 

दर्शकों को लगता है मैं पंजाबी हूं
जब मैंने बहू हमारी रजनीकांत शो जॉइन किया था, तो मैं बहुत नर्वस थी, क्योंकि इसमें मेरा कैरेक्टर (मैगी भाभी) पंजाबी है और मुझे पंजाबी नहीं आती. इस शो में जो मेरे पापाजी बने हैं, राजेन्द्र चावला जी, उनकी वजह से मुझे बहुत मदद मिलती है. वो पंजाबी हैं, इसलिए वो मेरी बहुत सारी प्रॉब्लम्स सुलझा देते हैं. मैं हेल्दी हूं और मेरे फीचर्स पंजाबियों जैसे हैं, इसलिए दर्शकों को भी लगता है कि मैं पंजाबी हूं, लेकिन मैं पंजाबी नहीं पारसी हूं. इस शो की ख़ास बात ये है कि शो में काम करनेवाले सभी लोग बहुत अच्छे हैं. हम सब सेट पर बहुत शरारत करते हैं, रोज़ साथ खाना खाते हैं, इससे काम करने में बहुत मज़ा आता है.

मैं मॉडल बनना चाहती थी
मेरी फैमिली में मेरे कज़िन पूना में मॉडलिंग करते थे और वो वहां पर बहुत पॉप्युलर थे. उन्हें देखकर मुझे भी लगता था कि मैं भी मॉडल बनूं. मेरी हाइट अच्छी थी, इसलिए मैं रैम्प मॉडल बनना चाहती थी. जॉन अब्राहम, ज़ुल्फी सैयद, डिनो मोरिया… इन लोगों को देखकर मैं बहुत इंस्पायर होती थी. मैंने कुछ ब्यूटी कॉन्टेस्ट में भी हिस्सा लिया था, लेकिन मैं सिलेक्ट नहीं हो पाई, लेकिन मैंने कभी हार नहीं मानी.

छोटी उम्र से ही काम करना शुरू कर दिया 
मैंने 17 साल की उम्र से ही काम करना शुरू कर दिया था. मैंने पूना में कई शोज़ के लिए रैम्प वॉक किया. मुंबई आकर मैंने एक मॉडलिंग एजेंसी जॉइन की और कई शोज़ के लिए रैम्प वॉक किया. फिर मैंने सोचा, क्यों न मैं ऐड्स के लिए भी ट्राई करूं. मैंने इसके लिए बहुत मेहनत की. रोज़ वडाला (मुंबई) से अंधेरी तक लोकल ट्रेन में मैं अपने कपड़ों का बैग लेकर ऑडिशन देने जाती थी, दिनभर में 4-5 ऑडिशन देती थी. धीरे-धीरे मुझे काम मिलने लगा. पहला ऐड पेप्सी के लिए मिला, (हंसते हुए) वो भी शाहरुख़ ख़ान प्रियंका चोपड़ा, जॉन वगैरह के साथ, फिर डर्मी कूल, डेल लैपटॉप, वाघबकरी चाय आदि कई ऐड्स में मैंने काम किया.

Vahbiz Dorabjee
डेली सोप करूंगी ये नहीं सोचा था
मॉडलिंग के करियर में स्ट्रगल कम नहीं था. मुझे स्ट्रगल करते देख मेरे पैरेंट्स हमेशा कहते कि वापस आ जाओ, लेकिन मैं हार कहां मानने वाली थी. फिर मेरे पैरेंट्स ने ही कहा कि तुम टेलीविज़न शो के लिए क्यों नहीं ट्राई करती, लेकिन मुझे लगता था कि मैं इतने घंटे काम नहीं कर सकूंगी. मैं फिल्मों में काम करना चाहती थी, लेकिन उसके लिए लंबा इंतज़ार करने से अच्छा मैंने सोचा टीवी ही ट्राई कर लेते हैं. फिर मैंने टीवी के लिए कुछ ऑडिशन दिए और मुझे प्यार की एक कहानी शो का ऑफर मिल गया. पहले ही शो के लिए मुझे सपोर्टिंग एक्ट्रेस का डेब्यू अवॉर्ड मिला. दर्शकों ने मुझे बहुत प्यार दिया, लोग मुझे पहचानने लगे.
… और मेरा वज़न बढ़ने लगा  
प्यार की एक कहानी शो के बाद मुझे थायरॉइड की प्रॉब्लम हो गई और मेरा वज़न तेज़ी से बढ़ने लगा. एक लड़की जिसने अपना करियर रैम्प मॉडल के रूप में शुरू किया हो, उसके लिए वज़न बढ़ना कितना बड़ा स्ट्रेस हो सकता है ये आप अच्छी तरह समझ सकती हैं. शुरू-शुरू में तो मुझे ये बात एक्सेप्ट करने में बहुत तकलीफ़ हुई, लेकिन धीरे-धीरे मैंने ख़ुद को समझा लिया और अपने बढ़े हुए वज़न के साथ ही ख़ुद को साबित करने की ठान ली. इस बीच मैं बहुत डिप्रेस्ड रहने लगी थी. एक तो काम नहीं मिल रहा था, उस पर वज़न भी बढ़ रहा था. एक बार तो मैंने यहां तक सोच लिया कि मैं इवेंट कंपनी खोल देती हूं. मैं इस बारे में सोच ही रही थी कि मुझे बहू हमारी रजनीकांत शो का ऑफर मिल गया और मैंने प्लान चेंज कर दिया. मैं ये इंडस्ट्री छोड़ना नहीं चाहती, मैं यहां बहुत ख़ुश हूं और ऐसे ही काम करते रहना चाहती हूं.
मेरे पैरेंट्स मेरे बेस्ट फ्रेंड हैं
मैं आज जो कुछ भी हूं अपने पैरेंट्स की वजह से हूं. उन्होंने हमेशा मुझे सही राह दिखाई, क़दम-क़दम पर संभाला और हमेशा सही गाइडेंस दिया. सच कहूं तो मेरे पैरेंट्स ही मेरे बेस्ट फ्रेंड हैं. मेरे पापा बिल्डर हैं और मेरा छोटा भाई पापा का बिज़नेस संभाल रहा है, लेकिन मुझे बिज़नेस में कभी दिलचस्पी नहीं रही. मेरे पापा ने कई बार बिज़नेस जॉइन करने को कहा भी, लेकिन मैंने कभी दिलचस्पी नहीं दिखाई. मुझे तो इसी इंडस्ट्री में रहना था. फिर मेरी फैमिली ने भी कहना छोड़ दिया और मुझे एक्टिंग के फील्ड में आगे बढ़ने में मदद की.

Vahbiz Dorabjee
स्ट्रॉन्ग होना ज़रूरी है
लोग अक्सर कहते हैं कि इस इंडस्ट्री में लड़कियों को एक्सप्लॉइट किया जाता है, लेकिन मैं इस इंडस्ट्री में नौ साल से काम कर रही हूं और मुझे कभी किसी ने एक शब्द भी ग़लत नहीं कहा. मेरे ख़्याल से ये आप पर होता है कि आप कितने स्ट्रॉन्ग हैं और ख़ुद को किस तरह प्रेज़ेंट करते हैं. मैंने अपने कई फ्रेंड्स को काम के लिए बहुत स्ट्रगल करते देखा है, अपने घर से दूर अकेले रहते देखा है, इसलिए मैं ख़ुद को बहुत भाग्यशाली मानती हूं कि मुझे हमेशा मेरे पैरेंट्स का सपोर्ट मिला और काम के लिए भी बहुत स्ट्रगल नहीं करना पड़ा.
ख़ुशी के मंत्र
इस दुनिया में ऐसा कोई नहीं है जिसे दुख न हो, लेकिन ये आप पर है कि आप अपने दुख को ख़ुद पर कितना हावी होने देते हैं. यदि आप दुख से बाहर नहीं निकलेंगे तो आप ज़िंदगी में आगे बढ़ ही नहीं पाएंगे. इसके लिए पॉज़िटिव एटिट्यूड बहुत ज़रूरी है. और हां, ख़ुद को बिज़ी रखना भी. मैं ख़ासकर महिलाओं से कहना चाहूंगी कि प्लीज़, ख़ुद को बिज़ी रखें, इससे आप किसी भी दुख से बाहर निकल सकती हैं. निगेटिव चीज़ों के बारे में सोचने की बजाय ज़िंदगी के पॉज़िटिव पहलू को देखें, अपने आसपास देखें कि लोगों के पास आपसे भी ज़्यादा दुख है. ऐसा करके आप हल्का महसूस करेंगे.
मेरी एनर्जी का राज़
आप मेरी मां को देखेंगी, तो मेरी एनर्जी का राज़ जान जाएंगी, शायद एनर्जी भी मुझे विरासत में मिली है. अभी हाल ही में हम दोपहर दो बजे से लेकर रात दो बजे की शिफ्ट कर रहे थे. सब लोग थककर चूर हो गए थे और मैं रात को एक बजे अपनी ही दुनिया में खोई हुई सेल्फी ले रही थी. मुझे देखकर मेरा शेड्यूलर कहने लगा, ङ्गङ्घवाहबिज़, आपकी एनर्जी का जवाब नहीं. इतनी रात में भी आप सेल्फी ले रही हैं?फफ मैं चुपचाप बैठ ही नहीं सकती, कुछ न कुछ करती रहती हूं. मेरी दादी मां 84 साल की हैं और कनाडा में रहती हैं. वो आज भी इतनी एनर्जेटिक और बातूनी हैं कि आप हैरान रह जाएंगी. हमारे घर में सब ऐसे ही एनर्जेटिक हैं और हमेशा ख़ुश रहते हैं.

Vahbiz Dorabjee
मैं बहुत अच्छी कुक नहीं हूं
मैंने शादी के बाद कुकिंग का एक कोर्स किया था और बहुत सारी रेसिपीज़ सीखी थीं, जैसे तवा पुलाव, शेज़वान पनीर वगैरह, लेकिन हमारा शेड्यूल इतना बिज़ी होता है कि किचन में जाने का समय ही नहीं मिलता. हम सुबह आठ बजे घर से निकलते हैं और रात में दस-ग्यारह बजे घर लौटते हैं, ऐसे में खाना बनाने का टाइम ही नहीं बचता. फिर भी मैं चाय, कोल्ड कॉफी विद आइस्क्रीम वगैरह बना लेती हूं.
हां, मैं शॉपहॉलिक हूं
(हंसते हुए) आप मुझे शॉपहॉलिक कह सकती हैं, क्योंकि मैं अपने ज़्यादातर पैसे शॉपिंग पर ख़र्च कर देती हूं. कपड़े मेरी कमज़ोरी हैं, ख़ासकर ड्रेसेज़, मैं ख़ुद को नई-नई ड्रेसेज़ ख़रीदने से रोक नहीं पाती. मेरे पास इतने कपड़े हैं कि मेरे पापा अक्सर मुझसे कहते हैं कि तुम गैराज सेल क्यों नहीं लगा देती. शॉपिंग की लत मुझे मेरी मां से लगी है, मां को भी शॉपिंग बहुत पसंद है. जब मैं छोटी थी, तो मां अपनी कमाई के ज़्यादातर पैसे मेरे लिए कपड़े ख़रीदने में ख़र्च कर देती थीं. इंडियन आउटफिट में मुझे साड़ी और अनारकली बहुत पसंद हैं. मेरी मां ने मुझे बहुत सारी ख़ूबसूरत साड़ियां ख़रीदकर दी हैं. मुझे काजल, बिंदी, चूड़ी वगैरह पहनना भी बहुत पसंद है.
मेरे बैग में कैश हमेशा रहता है
मुझे समझ नहीं आता कि लोग बिना कैश के कैसे घूमते हैं. मेरे बैग में क्रेडिट कार्ड के साथ ही कैश भी हमेशा रहता है, क्या पता कब ज़रूरत पड़ जाए. इसके अलावा सैनिटाइज़र, काजल-लिपस्टिक और परफ्यूम, ये पांच चीज़ें मेरे बैग में हमेशा होती हैं.
मुझे सब पिंकी कहते हैं
मेरे पहले शो प्यार की एक कहानी के डायरेक्टर पार्थो मित्रा मुझे पिंकी नाम से पुकारते थे, क्योंकि मैं अक्सर पिंक या रेड कलर की ड्रेस में ही नज़र आती थी. अब तो मेरा पेट नेम पिंकी ही पड़ गया है. मेरे सारे फ्रेंड्स भी कहते हैं कि वाहबिज़ आएगी, तो पिंक कलर में ही नज़र आएगी. मेरे ससुराल में भी सब मुझे पिंकी कहते हैं. आप मुझे ज़्यादातर पिंक या रेड कलर में ही देखेंगी.

Vahbiz Dorabjee

मेरे फेवरेट डेस्टिनेशन
अगर आप मुझसे मेरे पांच फेवरेट डेस्टिनेशन पूछेंगी, तो मैं सबसे पहले नाम लूंगी मालदीव का, क्योंकि ये मेरा फेवरेट डेस्टिनेशन है. दूसरा लंदन है, क्योंकि मेरे मामाजी वहां रहते हैं, इसलिए मेरे लिए वो मेरा दूसरा घर है. इसके बाद नंबर आता है गोवा का, मेरे ख़्याल से गोवा हम सभी के लिए एक अच्छा गेटवे है. दुबई भी मुझे बहुत पसंद है. वहां का खाना, लाइफस्टाइल, इंफ्रास्ट्रक्चर, शॉपिंग… सब कुछ मुझे लुभाता है और सबसे अच्छी बात कि वो हमारे देश से बहुत नज़दीक है. हां, ऑस्ट्रेलिया भी मुझे बहुत पसंद है.
मेरा स्किन केयर रूटीन
मुझे अच्छी स्किन अपने पैरेंट्स से विरासत में मिली है, लेकिन अच्छी स्किन को भी मेंटेनेंस की ज़रूरत होती है, इसलिए मैं ख़ूब सारा पानी और नारियल पानी पीती हूं, फ्रूट्स खाती हूं ताकि स्किन हाइड्रेटेड रहे. घर से बाहर निकलने से पहले सनस्क्रीन लगाना नहीं भूलती. हमें रोज़ 10-12 घंटे मेकअप लगाकर रखना पड़ता है, इसलिए बेस मेकअप से पहले मैं प्राइमर ज़रूर लगाती हूं, इससे स्किन सेफ रहती है. और हां, सोने से पहले मेकअप उतारना नहीं भूलती. कुछ लोग स़िर्फ बेबी ऑयल लगाकर काम चला लेते हैं, लेकिन ऐसा करना ठीक नहीं है. आपको मेकअप रिमूवर, टोनर, फेसवॉश सभी का इस्तेमाल करना चाहिए और आख़िर में नाइट क्रीम लगाकर त्वचा को नरिश करना चाहिए, तभी आपकी त्वचा लंबे समय तक यंग और हेल्दी बनी रहेगी. ख़ूबसूरती का सीधा संबंध डायट से है, इसलिए डायट का ख़ास ध्यान रखना भी ज़रूरी है.
मेरे मेकअप ट्रिक्स
मैं मेकअप प्रॉडक्ट्स के चुनाव पर ख़ास ध्यान देती हूं. कोई भी मेकअप प्रॉडक्ट्स लगाने से त्वचा को नुक़सान हो सकता है, इसलिए हमेशा अच्छी क्वालिटी के मेकअप प्रॉडक्ट्स का ही इस्तेमाल करना चाहिए. मैं मेकअप के लिए मैक के प्रॉडक्ट्स इस्तेमाल करती हूं. अगर मैं डे टाइम में कहीं जा रही हूं तो मैं बहुत ही सटल (लाइट) मेकअप करती हूं, मेकअप के लिए पिंक, पीच जैसे लाइट शेड्स का इस्तेमाल करती हूं. हां, नाइट पार्टीज़ के लिए मुझे डार्क कलर का मेकअप पसंद है, तब मैं रेड, मरून कलर की लिपस्टिक लगाना पसंद करती हूं. स्मोकी आई मेकअप करना पसंद करती हूं. हां, मैं इस बात का हमेशा ध्यान रखती हूं कि लिप या आई मेकअप में से कोई एक चीज़ ही हाईलाइट हो. दोनों हैवी होंगे, तो मेकअप टैकी नज़र आता है.

Vahbiz Dorabjee
मेरा हेयर केयर रिजिम
कलरिंग, स्ट्रेटनिंग वगैरह से बाल डैमेज हो जाते हैं, इसलिए मैं हेयर स्पा ज़रूर कराती हूं. इसके साथ ही रेग्युलर ऑयल मसाज भी ज़रूरी है. अच्छी क्वालिटी का शैम्पू-कंडीशनर इस्तेमाल करना भी उतना ही ज़रूरी है.
मुझे इंडियन फूड पसंद है
मैं फूडी हूं और मुझे इंडियन फूड बहुत पसंद है. हम जब भी विदेश घूमने जाते हैं तो हमें इंडियन फूड की बहुत याद आने लगती है. हम वहां पर इंडियन रेस्टॉरेंट ढूंढ़कर वहां खाना ज़रूर खाते हैं.
मैं बहुत जल्दी तैयार हो जाती हूं
बेस लगाकर थोड़ा-सा ब्लशऑन, मस्कारा और लिपस्टिक लगा लो, बस हो गए आप तैयार. ख़ूबसूरत नज़र आने के लिए सबसे ज़रूरी एक्सेसरीज़ हैं आपका कॉन्फिडेंस और आपकी स्माइल, ये दोनों आपको दुनिया की सबसे ख़ूबसूरत औरत बना सकते हैं.
– कमला बडोनी