Vijay

रोहित शर्मा

टीम इंडिया के बेहतरीन बल्लेबाज़ रोहित शर्मा एक बार फिर से खेल के मैदान पर वापसी कर रहे हैं. रोहित शर्मा विजय हजारे ट्रॉफी में मुंबई के अंतिम दो मैचों में हिस्सा लेंगे. जल्द ही रोहित की वापसी टीम इंडिया में भी हो सकती है. फिलहाल रोहित के फैन्स उन्हें विजय हजारे ट्रॉफी में खेलते हुए देख सकते हैैं.

रोहित को न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ 29 अक्टूबर को खेले गए पांचवें और आख़िरी वनडे इंटरनेशनल मैच के दौरान चोट लग गई थी. रोहित अब अपनी फिटनेस साबित कर ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ तीसरे और चौथे टेस्ट के लिए टीम इंडिया में चयन हेतु अपनी दावेदारी पेश करेंग. चोट के कारण रोहित इंग्लैंड के ख़िलाफ़ पांच टेस्ट मैच, तीन वनडे इंटरनैशनल और तीन टी-20 मैचों की सीरीज़ के अलावा बांग्लादेश के ख़िलाफ़ हुए एकमात्र टेस्ट मैच में भी नहीं खेल पाए थे. रोहित शर्मा 4 और 6 मार्च को विजय हजारे ट्रॉफी में एक्शन में नज़र आएंगे.

रोहित के पास बहुत समय है ख़ुद को फिट साबित करने का. वैसे क्रिकेट में इंजरी कई बार लोगों का करियर भी खा जाती है. आशा है रोहित इस बात को पूरी तरह समझ रहे होंगे और वो विजय हजारे ट्रॉफी में अच्छा परफार्म करेंगे, ताकि भविष्य में जल्दी ही टीम इंडिया में शामिल हो सकें.

क्रिकेट प्रेमियों के रोहित ने ये ख़बर अपने ट्विटर अकाउंट से दी. रोहित ने लिखा, अंतत: पूरी तरह स्वस्थ हो गया. मैं विजय हजारे ट्रॉफी में चार और छह मार्च को होने वाले मैचों में खेलूंगा. यहां तक पहुंचने में मेरी मदद करने वाले हर शख्स का शुक्रिया.

– श्वेता सिंह 

27goel

भ्रष्टाचार के आरोपी सुरेश कलमाड़ी और अभय सिंह चौटाला की नियुक्तियों से नाराज़ खेल मंत्रालय ने शुक्रवार को भारतीय ओलम्पिक संघ (आईओए) की मान्यता रद्द कर दी. मंत्रालय ने दोनों दागी नेताओं को आईओए का आजीवन मानद अध्यक्ष चुने जाने पार कारण बताओ नोटिस जारी कर आईओए से जवाब तलब किया था, लेकिन आईओए से मिले जवाब से असंतुष्टि जाहिर करते हुए मंत्रालय ने संघ की मान्यता रद्द कर दी.

इस निलंबन के साथ ही आईओए को राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (एनओसी) के तौर पर सरकार से मिलने वाले विशेषाधिकार एवं सुविधाएं हासिल नहीं कर
सकेगा. इस फैसले से आईओए को सरकार से मिलने वाली वित्तीय मदद के अलावा अन्य मदद भी बंद हो जाएंगी. खेल मंत्री विजय गोयल ने एक बयान जारी कर कहा, सरकार ने आईओए की मान्यता तब तक के लिए रद्द कर दी है जब तक वह सुरेश कलमाड़ी और अभय सिंह चौटाला को आजीवन मानद अध्यक्ष बनाए जाने के फैसले को वापस नहीं ले लेता.

हालांकि खेल मंत्रालय ने ये भी कहा कि सरकार ओलिंपिक कार्यक्रम का बेहद सम्मान करती है और खेल की स्वायत्तता को बचाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन वह आईओए द्वारा नियमों के उल्लंघन पर चुप्पी नहीं साध सकती. बयान में कहा गया है, इसलिए यह फैसला लिया गया है कि आईओए को सरकार द्वारा दी गई मान्यता तब तक रद्द करते हैं जब तक आईओए इसको लेकर जरूरी कदम नहीं उठाता.

Vijay Amritraj

इंडियन टेनिस को दुनिया में पहचान दिलानेवाले विजय अमृतराज को जन्मदिन की बहुत-बहुत बधाई! विजय का जन्म 14 दिसंबर 1953 को चेन्नई में मैगी और रॉबर्ट अमृतराज के घर हुआ था. वर्ल्ड टेनिस में इंडिया को रिप्रेज़ेंट करनेवाले विजय पहले भारतीय खिलाड़ी हैं. विजय ने अपने करियर में काफ़ी उपलब्धियां हासिल कीं. 16 सिंगल्स और 13 डबल्स खिताब जीतनेवाले अमृतराज को डेविस कप टूर्नामेंट का हीरो कहा जाता था, क्योंकि उन्होंने डेविस कप में कई विश्‍व प्रसिद्ध दिग्गज खिलाड़ियों को मात दी थी.

टेनिस खेलते हुए विजय वर्ल्ड रैंकिंग में 16वें स्थान तक पहुंचे थे, जो कि भारत के लिए गर्व की बात थी. वैसे भी टेनिस का माहौल तब भारत में अनुकूल नहीं था. उसके लिए कोर्ट, और कोच, दोनों ही मिलना बहुत मुश्किल होता था. ऐसे में देश का नाम दुनिया में रोशन करनेवाले विजय अमृतराज देश के लिए एक बेहतरीन उपलब्धि साबित हुए. विजय अमृतराज देश के दूसरे खिलाड़ियों के लिए प्रेरणा स्रोत बन गए. अपने खेल के साथ-साथ उन्होंने देश के नवोदित खिलाड़ियों को काफ़ी सहयोग किया.

टेनिस कोर्ट ही नहीं, बल्कि फिल्मों में भी विजय ने क़िस्मत आज़माया. जेम्स बांड फिल्म ऑक्टोपसी और स्टार र्टैक फोर में वो नज़र आए थे. इसके साथ ही विजय अमृतराज एक बेहतरीन कमेंटेटर भी हैं. उनकी कॉमेंट्री दुनिया के दिग्गज कॉमेंटेटरों में से एक है.

– श्वेता सिंह