Virtual ID

UIDAI, Virtual ID, Aadhaar, Privacy Concernsक्या आपको अपने आधार कार्ड (Aadhaar Card) की गोपनीयता का ख़तरा बना रहता है, तो अब आपको डरने की ज़रूरत नहीं है, क्योंकि आपकी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सरकार अब ला रही है नया वर्चुअल आधार आईडी (Virtual Aadhaar ID) .

बैंक में अकांउट खोलने से लेकर टिकट बुक करने तक, नया मोबाइल फोन लेने जैसे सभी कामों के सरकार ने आधार कार्ड नंबर अनिवार्य कर दिया है, जिसके कारण आधार कार्ड की सुरक्षा को लेकर अनेक सवाल खड़े हो रहे हैं. इन सवालों के चलते अब सरकार इसमें कुछ बदलाव कर रही है, जिससे आपका डेटा सुरक्षित रहे. यह बदलाव है वर्चुअल आधार आईडी.
सरकार द्वारा आधार प्रणाली को चलानेवाली यूआडीएआई (भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण) के अनुसार, नागरिकों के आधार डेटा की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अब वे एक नया वर्चुअल आधार आईडी ला रहे हैं, जिसमें 16 अंकों के टेंप्रेरी नंबर होंगे. इस वर्चुअल आधार आईडी को लोग कभी भी और कहीं भी शेयर कर सकते हैं.

इस वर्चुअल आईडी के बहुत फ़ायदे हैं:
– आधार कार्ड नंबर के लीक होने और दुरुपयोग होने के मामले कम होंगे.
– आधार संबंधी जानकारी देने या वेरिफिकेशन के समय इस वर्चुअल आईडी से काम चल जाएगा.
मगर महत्वपूर्ण बात यह है कि यह वर्चुअल आईडी कुछ समय के लिए ही है, बाद में यूज़र को अपना नया आईडी ज़ारी करना होगा.