Tag Archives: wedding

वैवाहिक दोष और उन्हें दूर करने के उपाय (Marriage Problems And Their Astrological Solutions)

सभी पैरेंट्स की ख़्वाहिश होती है कि उनके बच्चों की शादी सही उम्र और समय पर हो जाए, लेकिन कभी-कभी किसी ग्रह या नक्षत्र के कारण बात बनते-बनते रह जाती है, जिससे परिवार में काफ़ी तनाव रहता है, ऐसे में आप ये उपाय करके उन वैवाहिक दोषों को दूर कर सकते हैं. क्या हैं वो उपाय बता रहे हैं पंडित राजेंद्रजी दुबे. 

Marriage Problems

जन्म कुंडली में दिए गए योग के अनुसार, विवाह का विचार मुख्य रूप से सप्तम भाव से किया जाता है. इस भाव से ही शादी के अलावा वैवाहिक जीवन से जुड़ी अन्य बातें, पति-पत्नी के आपसी संबंध, जुड़ाव, रिश्तों में मज़बूती आदि पर चिंतन-मनन किया जाता है. आइए, इससे जुड़े उपायों के बारे में जानते हैं.

–     शनि की प्रतिकूल स्थिति से भी विवाह में बाधा आती है. शनि के कारण आनेवाली बाधा को दूर करने के लिए प्रत्येक शनिवार को शिव लिंग पर काले तिल अर्पित करना चाहिए.

–      शनिवार को काले कपड़े में साबुत उड़द, लोहा, काला तिल और साबुन बांधकर दान करने से भी लाभ मिलता है.

–      गुरू की स्थिति अनुकूल नहीं होने पर भी विवाह में देरी होती है. गुरू को अनुकूल बनाने के लिए गुरूवार के दिन पीला वस्त्र धारण करना चाहिए. चने की दान, केला, हल्दी एवं केसर का सेवन लाभप्रद होता है.

–      जिन विवाह योग्य युवक-युवतियों का विवाह नहीं हो पा रहा है, उनको उत्तर या उत्तर-पश्‍चिम दिशा में स्थित कमरे में रहना चाहिए. इससे विवाह के लिए रिश्ते आने लगते हैं. उस कमरे में उन्हें सोते समय अपना सिर हमेशा पूर्व दिशा में रखना चाहिए.

–     किसी कन्या की शादी हो रही हो तो उसमें अपनी क्षमता एवं श्रद्धा के अनुसार गुप्तदान करना भी बहुत फायदेमंद होता है. इससे जल्दी शादी होती है तथा वैवाहिक जीवन खुशहाल होता है, लेकिन दान की चर्चा कभी भी किसी से न करना चाहिए.

–     गुरुवार को वट वृक्ष, पीपल, केले के वृक्ष पर जल अर्पित करने से विवाह बाधा दूर होती है.

–     गुरुवार को विवाह योग्य लड़की को तकिए के नीचे हल्दी की गांठ पीले कपड़े में लपेटकर रखनी चाहिए.

–     यदि लड़का या लड़की पीपल की जड़ में लगातार 13 दिन तक जल चढ़ाते हैं, तो विवाह से संबंधित परेशानियां दूर हो जाती हैं.

–     जिस युवती की शादी में अड़चनें आ रही हों, उसे घर की वायव्य दिशा में सोना चाहिए.

–    अविवाहित लड़के/लड़की को ऐसे कमरे में नहीं रहना चाहिए, जहां अधूरा काम किया हो यानी कमरे के पेंट, मरम्मत आदि का काम अधूरा पड़ा हो या जिस कमरे में बीम लटका हुआ दिखाई देता हो.

–     कई बार ऐसा भी होता है कि कोई युवक या युवती शादी के लिए राजी नहीं होते हैं, तो उनके कमरे की उत्तर दिशा की ओर क्रिस्टल बॉल कांच की प्लेट में रखें.

–     जिन विवाह योग्य युवक-युवतियों की शादी नहीं हो रही हो, उनके कमरे, बेडरूम व दरवाज़े का रंग गुलाबी, हल्का पीला या ब्राइट व्हाइट रंग का होना चाहिए. इससे स्थितियों में बदलाव आएगा.

यह भी पढ़ें: न्यूली मैरिड के लिए मॉडर्न ज़माने के सात वचन (7 Modern Wedding Vows For Newly Married)

 

Marriage Problems

–     इसके अलावा उन्हें अपने कमरे में पूर्वोत्तर दिशा में वॉटर फाउंटेन रखना चाहिए.

–     कुंआरी कन्याएं शीघ्र विवाह के लिए गुरुवार का व्रत करें. साथ ही केले के पेड़ के नीचे बैठकर बृहस्पति मंत्र के पाठ की एक माला का जाप करें.

–     यदि कुंडली में प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, द्वादश स्थान में मंगल स्थित है, तो जातक को मंगली योग होता है. इस योग के होने से शादी में देरी, शादी के बाद कपल्स में मतभेद, वाद-विवाद आदि समस्याएं होती हैं.

–    इससे बचने के लिए मंगली युवक या युवती मंगलवार का व्रत करें.

–     मंगल मंत्र का जाप करें और घट विवाह करें.

–     सप्तम में शनि स्थित होने से भी शादी-ब्याह में परेशानियां आती हैं.

–     इसके लिए ‘शं शनैश्‍चराय नम:’ मंत्र का जाप करें.

–     साथ ही शमी की लकड़ी, घी, शहद व मिश्री से हवन करें. अजब-ग़ज़ब टोटके

–     योग्य दूल्हे की प्राप्ति के लिए बालकांड का पाठ करना श्रेयस्कर होता है.

–     जब बेटी के पिता लड़केवालों से शादी की बात करने जाएं, तो बेटी बाल खुले रखे, तब तक जब तक पिता लौटकर घर न आ जाएं.

–     जो माता-पिता यह सोचते हैं कि उनकी बहू सुंदर व बुद्धिमान हो, तो वे गुरुवार व रविवार को बेटे के नाख़ून काटकर किचन में चूल्हे पर जला दें.

–     बेटी की शादी हो जाने के बाद विदाई के समय एक लोटे में गंगाजल, थोड़ी-सी हल्दी और एक सिक्का डालकर बेटी के सिर के ऊपर से सात बार घुमाकर उसके आगे फेंक दें. उसका वैवाहिक जीवन सुखी रहेगा.

– मूरत पन्नालाल गुप्ता

यह भी पढ़ें: शादी है जन्मों का साथ, क्यों आउटडेटेड लगने लगी है ये बात? (Why Concept Of Timeless Marriage Is Getting Outdated?)

शादी से पहले ही नहीं, बाद में भी ज़रूरी है फिट रहना (How To Stay Fit After Your Wedding)

यह सच है कि शादी (Wedding) के कुछ समय बाद ही प्यार और रोमांस पर ज़िम्मेदारियों की जिल्द चढ़ने लगती है. ऐसे में रूमानी ख़्याल बीते दिनों की बात बनकर रह जाते हैं और उनकी जगह ले लेते हैं बिल्स, ख़र्चे, आटे-दाल के भाव, रिश्ते निभाने का दबाव, बच्चे, परवरिश, लोन आदि. यही वजह है कि मन के साथ-साथ शरीर पर भी ये ज़िम्मेदारियां परत बनकर मोटापे (Fats) व बीमारियों (Diseases) के रूप में उभरने लगती हैं. हम लापरवाह होते जाते हैं और कमर व पेट का साइज़ हमारी मौजूदा परिस्थिति, शादीशुदा ज़िंदगी, हेल्थ, फिटनेस और सेक्स लाइफ की पहचान बन जाते हैं. 

Fitness Tips

हम अक्सर यही सोचते हैं कि जब तक शादी न हो जाए, तब तक हमारे लिए फिट रहना बहुत ज़रूरी है, ताकि हम अट्रैक्टिव लगें. शादी के बाद न स़िर्फ अपनी फिटनेस को लेकर, बल्कि हेल्थ और अट्रैक्शन को लेकर भी हमारी अप्रोच बहुत कैज़ुअल हो जाती है. चाहे लड़कियां हों या लड़के, सबका यही हाल होता है. शादी के शुरुआती समय को छोड़ दें, तो बाद में अपने प्रति इतने लापरवाह हो जाते हैं कि धीरे-धीरे एक-दूसरे के प्रति आकर्षण भी कम होने लगता है और इसका असर उनके रिश्ते व सेक्स लाइफ पर भी पड़ने लगता है.

क्यों हो जाते हैं बेपरवाह?

–    शादी के बाद ज़िंदगी शुरू होती है, जबकि हमारी यह सोच बन जाती है कि अब तो शादी हो चुकी, अब कुछ करने के लिए बचा नहीं लाइफ में, तो हम में एक नीरसता पनपने लगती है.

–     ज़िम्मेदारियों का बोझ जैसे-जैसे बढ़ता जाता है, वैसे-वैसे हेल्थ, आकर्षण, फिटनेस, प्यार-मुहब्बत जैसी बातें गौण होने लगती हैं.

–     कभी घर के लिए लोन की किश्तें, कभी बच्चों की फीस, तो कभी घर के बड़ों की हेल्थ प्रॉब्लम्स हमें अपने प्रति बेपरवाह बना देती हैं.

–     करियर की चुनौतियां और तमाम तरह के तनावों के बीच हेल्थ और फिटनेस जैसी चीज़ों के लिए हमें समय निकालना समय की बर्बादी लगने लगती है.

–     थकान, मोटापा और बेडौल बदन शादी के कुछ समय बाद ही हमारी पहचान बन जाते हैं.

–     न कोई चार्म रहता है, न कोई ग्लैमर और न ही ऊर्जा.

क्यों ज़रूरी है फिटनेस?

–     फिटनेस का प्रभाव आपके रिश्ते पर भी पड़ता है. शादी के बाद फिटनेस का ख़्याल रखना और भी ज़रूरी हो जाता है, क्योंकि इससे आप में यह एहसास बढ़ता है कि आप एक-दूसरे के लिए हेल्दी और आकर्षक नज़र आना चाहते हैं. इसके अलावा आप अधिक उत्साह व उमंग का अनुभव भी करते हैं.

–     कुछ कपल्स पर किए गए एक सर्वे के अनुसार, फिटनेस पर ध्यान देने के बाद उन्हें यह महसूस हुआ कि फिटनेस से न केवल उनके व्यक्तित्व पर, बल्कि उनके आपसी रिश्ते पर सकारात्मक प्रभाव हुआ.

–     जब कपल्स को यह महसूस कराया गया कि स़िर्फ हेल्दी रहने के लिए ही नहीं, बल्कि उन्हें अपने पार्टनर के लिए भी फिट रहना चाहिए, ताकि उनके बीच का चार्म बना रहे, तो उन्होंने इस सोच के साथ वर्कआउट और डायट करना शुरू किया कि यह कोई पर्सनल एजेंडा नहीं है, बल्कि यह रिश्ते में ताज़गी और गर्माहट बनाए रखने के लिए भी बेहद ज़रूरी है, तो वाकई उनका कॉन्फिडेंस बढ़ा और उनके रिश्ते भी सुधरे.

–     कपल्स को यह कहा गया कि आप अपने पार्टनर से यह कहें कि मुझे तुम्हारे लिए फिट, हेल्दी और आकर्षक बने रहना है. इसके बाद उन्हें महसूस हुआ कि उनकी बॉन्डिंग और स्ट्रॉन्ग हुई.

यह भी पढ़ें: इन 9 आदतोंवाली लड़कियों से दूर भागते हैं लड़के (9 Habits Of Women That Turn Men Off)

How To Stay Fit
कैसे एचीव करें गोल?

–     यह बात सही है कि शादी के कुछ समय बाद ही बहुत-सी चीज़ें बदलने लगती हैं. समय की कमी के साथ-साथ ऊर्जा व उत्साह की कमी भी होने लगती है. ऐसे में नीरसता पनपने लगती है, जो आप दोनों को एक-दूसरे से दूर भी कर सकती है. ऐसे में ज़रूरी है कि आप ख़ुद कोई रास्ता निकालें.

–     अपना टाइमटेबल और शेड्यूल तैयार करें.

–    एक डायरी बनाएं, जिसमें रोज़ की एक्टिविटीज़ और कैलोरीज़ की डिटेल्स रात को सोने से कुछ समय पहले नोट करें.

–    हर संडे उस डायरी में नोट की हुई चीज़ों पर आपस में बातचीत करें और देखें कि कहां क्या कमी रह गई.

–     सुबह जल्दी उठकर एक साथ वर्कआउट, वॉकिंग या जॉगिंग करें. इससे आप एक-दूसरे के साथ अधिक समय बिताएंगे.

–    एक-दूसरे को चैलेंज और मोटिवेट करें कि कौन ज़्यादा फिट और एनर्जेटिक है.

–     एक साथ वर्कआउट करने से पार्टनर एक-दूसरे के क़रीब आते हैं. दोनों में समन्वय व सामंजस्य बेहतर होता है, साथ ही शेयरिंग की भावना भी बढ़ती है.

–     घर के काम मिल-जुलकर करें. इससे एक्सरसाइज़ भी हो जाएगी और बॉन्डिंग भी स्ट्रॉन्ग होगी.

–     रियलिस्टिक गोल्स सेट करें. अगर आपको लग रहा है कि शादी के छह महीने बाद ही 4-5 किलो वज़न बढ़ गया है, तो कोशिश करें धीरे-धीरे डायट व रूटीन में बदलाव लाने की.

–     घर में खाने के हेल्दी ऑप्शन्स रखें. अनहेल्दी स्नैक्स की जगह ड्रायफ्रूट्स, भुने चने, मूंगफली आदि रखें.

–     हर महीने गोल बदलें कि अगले दो महीनों में कितना वज़न कम करना है और दोनों एक-दूसरे को चैलेंज करें.

–     पार्टनर को मोटिवेट करने के लिए आप यह भी कर सकते हैं कि तुम्हारे बर्थडे या हमारी एनीवर्सरी तक अगर तुम इस आउटफिट में फिट आ गए, तो मैं तुम्हें गिफ्ट, पार्टी या हॉलीडे पर ले चलूंगा/चलूंगी.

–     नियमित रूप से हेल्थ टेस्ट्स व चेकअप, जैसे- बीपी, ब्लड शुगर लेवल, कोलेस्ट्रॉल व अन्य टेस्ट्स करवाएं.  बच्चे होने के बाद ख़ुद को महत्वहीन

न समझें

–     अक्सर कपल्स बच्चे होने के बाद ख़ुद के प्रति और भी उदासीन हो जाते हैं. कभी-कभी ऐसा भी होता है कि एक पार्टनर ज़्यादा हेल्थ कॉन्शियस होता है, दूसरा बिल्कुल लापरवाह.

–     ऐसे में आप अपने फिट पार्टनर से ही सीख लें कि क्यों वो आपके सामने ज़्यादा यंग और एनर्जेटिक लगता है.

–     कई बार बच्चों के स्कूल में भी पीटीएम में आप देखेंगे कि कुछ कपल्स परफेक्ट लगते हैं. इसे भगवान की देन समझने की बजाय उनकी मेहनत को श्रेय दें और उनसे सीखें.

–     ख़ुद को चैलेंज करें कि अगली पीटीएम में आप भी परफेक्ट कपल नज़र आएंगे, इसके लिए कोशिश कल से नहीं, आज और अभी से ही शुरू कर दें.

–     यह भी ध्यान में रखें कि स़िर्फ अपने लिए या एक-दूसरे के लिए नहीं, बल्कि आपको अपने बच्चों के लिए भी फिट और हेल्दी रहना है.

–     बच्चों के साथ बहुत एनर्जी की ज़रूरत पड़ती है. ऐसे में आप ही थके-थके रहेंगे, तो बच्चों के साथ एक्टिविटीज़ में पार्टिसिपेट नहीं कर पाएंगे.

–     आप अगर हेल्दी खाएंगे और फिटनेस कॉन्शियस रहेंगे, तो बच्चे भी ऐसा ही करेंगे, क्योंकि बच्चों के पहले रोल मॉडल उनके पैरेंट्स ही होते हैं और वो आपसे ही सीखते हैं.

यह भी पढ़ें: शादी से पहले ज़रूरी है इन 17 बातों पर सहमति (17 Things Every Couple Must Talk About Before Getting Marriage)

Fitness Tips
फिटनेस का संबंध आपकी सेक्स लाइफ से भी है

–     अगर आप फिट होते हैं, तो आपका एनर्जी लेवल अधिक होता है, जिसका असर आपकी बॉडी इमेज व आपसी आकर्षण पर सकारात्मक तौर पर पड़ता है. इससे ज़ाहिर है कि आपकी सेक्स लाइफ बेहतर होती है.

–     हेल्दी डायट से आपकी सेक्स क्षमता भी बेहतर होती है. सेक्स लाइफ अच्छी होगी, तो आपसी संबंध और गहरे होंगे.

–     आप अपने रिश्ते में अधिक ऊर्जा व उत्साह का अनुभव करते हैं, क्योंकि फिटनेस से आपका कॉन्फिडेंस बढ़ता है.

–     आप यदि थके हुए और तनाव में रहेंगे, तो इसका सीधा असर आपकी सेक्स ड्राइव पर पड़ेगा.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स?

–     वर्कआउट, रेग्युलर एक्सरसाइज़, योगा, मेडिटेशन आदि से स्ट्रेस लेवल कम होता है.

–     एक्सपर्ट्स के अनुसार, स्ट्रेस किसी भी व्यक्ति को शारीरिक व भावनात्मक रूप से कमज़ोर बनाता है, जिससे रिश्तों में गर्माहट, जोश व आत्मीयता धीरे-धीरे कम होने लगती है.

–     सेक्स लाइफ को ख़राब करने में सबसे बड़ा रोल स्ट्रेस का ही होता है. जहां सेक्स लाइफ अच्छी नहीं होगी, वहां रिश्ता भी कमज़ोर होता चला जाएगा.

– विजयलक्ष्मी

यह भी पढ़ें: न्यूली मैरिड के लिए मॉडर्न ज़माने के सात वचन (7 Modern Wedding Vows For Newly Married)

न्यूली मैरिड के लिए मॉडर्न ज़माने के सात वचन (7 Modern Wedding Vows For Newly Married)

बदलते समय के साथ शादी का ट्रेंड (Wedding Trend) काफ़ी बदला है, तो भला दूल्हा-दुल्हन के सात वचन वही क्यों रहें? पहले लड़कियां कामकाजी नहीं थीं, तो घर के सदस्यों की देखभाल और अपने भरण-पोषण का वचन दूल्हे से लेती थीं, लेकिन अब तो वो भी कमाने लगी हैं, कामकाजी हैं, तो घर पर भी उन्हें हेल्पिंग हैंड की ज़रूरत पड़ती है. ऐसे में वचनों में थोड़ा बदलाव होना चाहिए. शादी के बाद सभी न्यूली मैरिड कपल्स को मॉडर्न ज़माने के ये सात वचन निभाने का वादा करना चाहिए.

Modern Wedding Vows

क्या हैं शादी के पारंपरिक सात वचन?

शादी के व़क्त अपने भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए कन्या वर से ये सात वचन लेती है, जिसकी पूर्ति का आश्‍वासन देने पर ही वह अर्द्धांगिनी बनने के लिए राज़ी होती है.

1. पहले वचन में कन्या वर से कहती है कि आप कभी तीर्थयात्रा पर जाओ, तो मुझे भी अपने संग ले जाना. किसी भी व्रत
उपवास और धार्मिक कार्यों में मुझे भी
वामांगी बनाना.

2. जिस प्रकार आप अपने माता-पिता का सम्मान करते हैं, उसी प्रकार मेरे माता-पिता का भी सम्मान करना.

3. तीसरे वचन में भी कन्या वर से वचन लेती है कि अगर आप जीवन की तीनों अवस्थाओं में मेरा पालन करने के लिए तैयार हैं, तभी मैं आपकी वामांगी बनूंगी.

4. अब तक आप घर-परिवार की ज़िम्मेदारियों से मुक्त थे, लेकिन अब शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं, तो परिवार की सभी ज़रूरतों को पूरा करने की ज़िम्मेदारी आपके कंधों पर होगी.

5. अपने घर के कार्यों में, लेन-देन या किसी भी चीज़ के लिए ख़र्च करते समय मुझसे विचार-विमर्श करेंगे.

6. अगर मैं अपनी सहेलियों के साथ बैठी हूं, तो वहां आकर आप मेरा अपमान नहीं करेंगे.

7. पराई स्त्रियों को मां के समान मानेंगे और पति-पत्नी के प्रेम के बीच किसी को नहीं आने देंगे.

मॉडर्न ज़माने के सात वचन

अब ये तो हो गए पारंपरिक सात वचन, जो कन्या वर से मांगती है, लेकिन आज ज़माना बराबरी और समानता का है. लड़कियां अब कमज़ोर नहीं, बल्कि लड़कों के कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं, ऐसे में घर-गृहस्थी की ज़िम्मेदारी भी दोनों मिलकर उठाते हैं.

1. घर का काम बांटकर करेंगे

आज ज़्यादातर शादीशुदा कपल्स वर्किंग हैं और अकेले रहते हैं. ऐसे में दोनों को ही घर के सभी काम ख़ुद करने पड़ते हैं. खाना
बनाने से लेकर घर की साफ़-सफ़ाई और देखभाल की ज़िम्मेदारी एक की न होकर दोनों की है, इसलिए दोनों को एक-दूसरे को यह वचन देना चाहिए कि वो घर के सारे काम मिल-बांटकर करेंगे.

2. एक-दूसरे की भावनाओं का  ख़्याल रखेंगे

शादी के शुरुआती दिनों में कपल्स की दुनिया काफ़ी अलग होती है. लविंग, केयरिंग और शेयरिंग में उनका पूरा समय बीतता है, लेकिन जब वो वापस काम पर लौटते हैं, तब असली परीक्षा शुरू होती है. घर-बाहर की ज़िम्मेदारी अक्सर कपल्स को चिड़चिड़ा बना देती है. शादी से पहले जहां पैरेंट्स सब कुछ संभाल लेते थे, वहीं अपनी गृहस्थी में सब कुछ
ख़ुद करना आसान नहीं होता. ऐसे में दोनों को एक-दूसरे की भावनाओं को समझना होगा.

3. एक-दूसरे के दोस्तों की रिस्पेक्ट करेंगे

माना कि शादी के बाद सब कुछ बदल जाता है, पर दोस्तों के साथ हमारी दोस्ती तो वही रहती है. शादी के बाद जब दोस्त मिलने आते हैं और कहीं बाहर मिलने भी बुलाते हैं, तो उन बातों को लेकर अक्सर कपल्स में नोंक-झोंक होने लगती है. हर किसी को हक़ है कि अपने दोस्तों के साथ समय बिताएं. ऐसे में आपको अपने पार्टनर को इतनी आज़ादी देनी होगी और उनके दोस्तों की भी रिस्पेक्ट करनी होगी. दोनों को ही यह याद रखना चाहिए कि दोस्तों की एक स्पेशल जगह होती है, जिससे किसी को भी महरूम नहीं करना चाहिए. तो आप दोनों भी वचन दें कि एक-दूसरे के दोस्तों की रिस्पेक्ट करेंगे.

यह भी पढ़ें:  शादी के बाद क्यों बढ़ता है वज़न? जानें टॉप 10 कारण (Top 10 Reasons For Weight Gain After Marriage)

यह भी पढ़ें:  मायके की तरह ससुराल में भी अपनाएं लव डोज़ फॉर्मूला (Love Dose Formula For Happy Married Life)

Wedding Vows

4. अपनी-अपनी हाइजीन का ख़्याल रखेंगे

कहते हैं कि मैरिड लाइफ की नींव हेल्दी सेक्स लाइफ पर टिकी होती है, इसलिए दोनों को ही अपने सेक्सुअल हेल्थ का ख़ास ख़्याल रखना चाहिए. रात को सोने से पहले ब्रश करना और प्राइवेट पार्ट्स को अच्छी तरह क्लीन करना दोनों की ही ज़िम्मेदारी है. पार्टनर को किसी तरह का सेक्सुअल इंफेक्शन न हो, इस बात को आप हाइजीन का ख़्याल रखकर ही सिक्योर कर सकते हैं.

5. एक-दूसरे के ऊपर अपनी मर्ज़ी नहीं थोपेंगे

प्यार में अक्सर कपल्स एक-दूसरे को ख़ुश करने के लिए पार्टनर की हर इच्छा को पूरी करते हैं, पर इस ख़ुशी को मजबूरी कभी न बनने दें. कैसे कपड़े पहनने हैं, कैसा व्यवहार करना है, किस तरह बातचीत करनी है… जैसी हज़ार चीज़ें हैं, जो न्यूली मैरिड कपल्स
एक-दूसरे पर थोपते हैं. पार्टनर की मर्ज़ी, हो न हो, अपनी मर्ज़ी चलाना अच्छी बात नहीं. आप दोनों इंडिपेंडेंट हो, वर्किंग हो, तो ज़ाहिर है,
बहुत-सी चीज़ें जानते हैं. ऐसे में यह ध्यान रखें कि कुछ भी करने से पहले पार्टनर की सलाह लें, चाहे बात सेक्सुअल रिलेशन की ही क्यों न हो. आपकी मर्ज़ी है, स़िर्फ इसलिए कुछ भी न करें.

6. हेल्दी लाइफस्टाइल मेंटेन करने में एक-दूसरे की मदद करेंगे

आज की हमारी लाइफस्टाइल में हेल्थ और फिटनेस बहुत ज़रूरी हो गया है, ऐसे में डायट से लेकर एक्सरसाइज़ तक दोनों को
एक-दूसरे को फिट रखने में मदद करनी होगी. यहां प्रॉब्लम तब आएगी, जब एक पार्टनर फूडी और दूसरा बहुत ही ज़्यादा फिटनेस कॉन्शियस होगा. यहां आप दोनों को बैलेंस करना होगा. और बात तब भी बिगड़ सकती है, अगर आप दोनों ही फूडी और आलसी हैं. ऐसे में दोनों को ही एक-दूसरे को मोटिवेट करना होगा. सुबह या शाम की रोज़ाना वॉक आप दोनों के साथ-साथ आपकी मैरिड लाइफ को भी हेल्दी बनाए रखेगी. तो आज ही एक-दूसरे से वचन लें कि दोनों मिलकर हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाएंगे.

7. सभी ख़र्चों की ज़िम्मेदारी दोनों की बराबर होगी

हैप्पी मैरिड लाइफ में फाइनेंस की भी अहम् भूमिका होती है. घर ख़र्च से लेकर इन्वेस्टमेंट और सेविंग्स दोनों की ही ज़िम्मेदारी है, क्योंकि यह आप दोनों की गृहस्थी है. सेविंग्स की ज़िम्मेदारी स़िर्फ पति की नहीं, बल्कि पत्नी की भी है. पति-पत्नी चाहें, तो ज़िम्मेदारियां बांट लें, जैसे पत्नी घर ख़र्च देखेगी, पति इन्वेस्टमेंट और सेविंग्स. और जो भी
इमर्जेंसी ख़र्च होगा, उसके लिए एक अलग से अकाउंट बनाकर कुछ पैसे दोनों रखते जाएंगे. ऐसे में किसी एक पर फाइनेंशियल प्रेशर नहीं होगा और आप दोनों की ही ज़िंदगी स्ट्रेस फ्री और ख़ुशहाल होगी.

सात फेरे के ये सात क़दम भी ज़रूर लें

1. अगर पत्नी का मायका और ससुराल एक ही शहर में है, तो महीने में कम से कम एक बार पत्नी को न स़िर्फ मायके जाने देंगे, बल्कि उसके साथ ख़ुद भी सास-ससुर का
हालचाल लेने जाएंगे.

2. जॉइंट फैमिली में नहीं रहते हैं, तो हर हफ़्ते अपने पैरेंट्स से मिलें. नई बहू के लिए सास-ससुर और ससुराल के बाकी सदस्यों से मेल-मिलाप बहुत ज़रूरी है.

3. हर दूसरे या तीसरे महीने कोई नई जगह देखने जाएं, क्योंकि एक बार बच्चे हो गए, तो कुछ समय के लिए घूमना-फिरना कम हो जाएगा, इसलिए अभी एक-दूसरे के साथ नई-नई जगहें देखें और क्वालिटी समय बिताएं.

4. वैसे तो हर हफ़्ते एक नई फिल्म रिलीज़ होती है, लेकिन महीने में कोई न कोई ख़ास फिल्म होती है, जिसे देखने ज़रूर जाएं.

5. 15-20 दिन या महीने में एक बार कैंडल लाइट डिनर पर जाने से मैरिड लाइफ में रोमांस बना रहता है और डेली रूटीन से भी ब्रेक मिल जाता है.

6. किसी दोस्त या रिश्तेदार से अपने पार्टनर को मिलाने ले जाएं. नए-नए लोगों से मिलने से मैरिड लाइफ में रोमांच बना रहता है.

7. ख़ुद को और पार्टनर को स्ट्रेस फ्री और पैंपर करने के लिए किसी स्पा ज़रूर ले जाएं.

– संतारा सिंह

यह भी पढ़ें: किस राशिवाले किससे करें विवाह? (Perfect Life Partner According To Your Zodiac Sign)

शादी मुबारक साइना और पी कश्यप! (Congratulations To Saina Nehwal And P Kashyap On Their Marriage)

Saina Nehwal And P Kashyap
शादी मुबारक साइना और पी कश्यप! (Congratulations To Saina Nehwal And P Kashyap On Their Marriage)

बैडमिंटन सुपरस्टार्स साइना नेहवाल (Saina Nehwal) और पी कश्यप (P Kashyap) बंध चुके हैं शादी (Wedding) के बंधन में. साइना ने सोशल मीडिया पर तस्वीर (Pictures) शेयर करके यह ख़ुशख़बरी अपने फैंस को दी. हमारी तरफ़ से दोनों को शुभकामनाएं!

दोनों काफ़ी समय से रिलेशनशिप में थे और बैडमिंटन की दुनिया में दोनों ने ही अपना ख़ास मुकाम हासिल किया है. सोशल मीडिया पर भी दोनों की साथ-साथ की कई तस्वीरें देखी जाती थीं और फैंस इसी इंतज़ार में थे कि कब दोनों मिस्टर एंड मिसेज़ कश्यप बनें.

सिंपल से आउटफिट्स में दोनों ही बेहद प्यारे और शालीन लग रहे थे.

Isha-Anand Wedding: Congratulations: ईशा-आनंद की शादी में हस्तियों व सितारों से सज गई महफिल… (Isha Ambani Wedding: Bollywood Stars And Famous Personalities Enjoy The Big Fat Indian Wedding…)

Isha-Anand Wedding

Isha Ambani Wedding Pics

Isha Ambani Wedding Photos

Isha-Anand Wedding

Isha Ambani
आज रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) और नीता अंबानी (Nita Ambani) की बेटी (Daughter) ईशा अंबानी (Isha Ambani) की शादी (Wedding) पिरामल ग्रुप के आनंद पिरामल (Anand Piramal) से हो गई. ईशा-आनंद को शादी मुबारक हो! शादी में मशहूर हस्तियों ने शिरकत की. जहां राजनीति से जुड़े प्रणव मुखर्जी, राजनाथ सिंह, देवेंद्र फडनवीस, चंद्रबाबू नायडू, पी चिदंबरम, ममता बनर्जी, हिलेरी क्लिंटन आदि ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई, वहीं फिल्म इंडस्ट्री से अमिताभ बच्चन से लेकर शाहिद कपूर, रितिक रोशन, अनिल कपूर सभी सितारे विशेष व ख़ास पहनावे के साथ नज़र आए. आलिया भट्ट, शिल्पा शेट्टी, माधुरी दीक्षित, रवीना टंडन, करण जौहर, टाइगर श्रॉफ अपने लुक के साथ बहुत हॉट लग रहे थे. अनिल कपूर बेटी सोनम कपूर के साथ बेहद लाजवाब लग रहे थे.
साउथ के सुपरस्टार रजनीकांत अपनी पत्नी के साथ ख़ास तौर पर उपस्थिति थे. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज उनका जन्मदिन भी है. हमारी तरफ से रजनी सर को जन्मदिन की बहुत-बहुत बधाई. सभी फिल्म स्टार बहुत ही आकर्षक और दिलकश लग रहे थे, खासकर नई शादीशुदा जोड़ी दीपिका पादुकोण-रणवीर सिंह और प्रियंका चोपड़ा-निक जोनस.
शादी में बच्चन परिवार एक खास अंदाज में नज़र आए, फिर चाहे वो अमिताभ बच्चन हो, जया बच्चन, श्वेता, अभिषेक, ऐश्वर्या और अमिताभ की पोती आराध्या. सैफ अली खान भी पत्नी करीना कपूर और साली करिश्मा कपूर के साथ जबरदस्त शाही लुक में दिखें.
खेल जगत से भी सचिन तेंदुलकर परिवार सहित हरभजन सिंह बरखा के साथ, तो महेश भूपति पत्नी लारा दत्ता के साथ विशेष रूप से शामिल हुए. युवराज सिंह माँ और पत्नी के साथ आए. आज उनका भी जन्‍मदिन है. हैप्पी बर्थडे युवी!
ईशा-आनंद को शादी की बहुत-बहुत बधाई हो!..
आइए, देखते हैं ईशा अंबानी की शादी में परिवार और मशहूर शख्सियतों के दिलकश अंदाज़.

Isha-Anand Wedding

Isha-Anand Wedding

Ranveer Deepika

Priyanka And Nick

Shahid Kapoor With Wife

Saif And Kareena At Isha Ambani's Wedding

Isha-Anand Wedding Isha-Anand WeddingIsha Ambani's Wedding

Isha Ambani's Wedding

Isha Ambani's Wedding

Isha Ambani's Wedding

Isha Ambani's Wedding

Isha Ambani's Wedding

  1. Isha Ambani's Wedding Isha Ambani's Wedding Isha Ambani's Wedding Isha Ambani's Wedding Isha Ambani's Wedding Isha Ambani's Wedding Isha Ambani's Wedding Isha Ambani's Wedding Pics Isha Ambani's Wedding Vidhya Balan Isha Ambani's Wedding Isha Ambani's Wedding Photos Isha Ambani's Wedding Pics Isha Ambani's Wedding

यह भी पढ़ेईशा अंबानी की शादी आज, फंक्शन शुरू, देखें पिक्स (Isha Ambani-Anand Piramal Wedding Today, Antilla Ready To Welcome Guests)

 

 

प्रियंका-निक की संगीत सेरेमनी का फ़र्स्ट लुक… देखें पिक्चर्स (Priyanka-Nick Wedding: First Pics From Sangeet Ceremony Out)

Priyanka Nick Wedding

प्रियंका-निक की संगीत सेरेमनी का फ़र्स्ट लुक… देखें पिक्चर्स (Priyanka-Nick Wedding: First Pics From Sangeet Ceremony Out)

प्रियंका (Priyanka) और निक (Nick) की संगीत सेरेमनी (Sangeet Ceremony) की पहली तस्वीरें (Pictures) ख़ुद प्रियंका ने सोशल मीडिया पर शेयर की हैं, जिसमें दोनों ही मस्ती के मूड में नज़र आ रहे हैं. दोनों ही परिवारों ने इस मौक़े पर काफ़ी मस्ती और डान्स किया. डान्स कॉम्पटिशन का भी मज़ा लिया गया. प्रियंका-निक देसी लुक में लग रहे हैं बेहद प्यारे! 

Priyanka Nick Wedding

Priyanka Nick Wedding

Priyanka Nick Wedding

Priyanka Nick Wedding

Priyanka Nick Wedding

Priyanka Nick Wedding

Priyanka Nick Wedding

Priyanka Wedding

प्रियंका-निक की मेहंदी सेरेमनी की पिक्चर्स हुई वायरल (Priyanka-Nick Wedding: First Pics From Mehendi Ceremony Out)

 

Priyanka Nick Wedding Pics

प्रियंका-निक की मेहंदी सेरेमनी की पिक्चर्स हुई वायरल (Priyanka-Nick Wedding: First Pics From Mehendi Ceremony Out)

प्रियंका (Priyanka) और निक (Nick) की शादी (Wedding) का इंतज़ार ख़त्म हुआ और इसी बीच उनकी मेहंदी (Mehendi) की रस्म की पिक्चर्स (Pictures) प्रियंका ने सोशल मीडिया पर शेयर की जिसमें नज़र आ रहा है दोनों का देसी अन्दाज़… 

Priyanka Nick Wedding Pics

Priyanka Nick Wedding Pics

Priyanka Nick Wedding Pics

Priyanka Nick Wedding Pics

 

रणवीर-दीपिका की शादी की पहली तस्वीरें…. (First Pics Of Newly Weds Ranveer And Deepika)

First Pics Of Ranveer And Deepika

रणवीर-दीपिका की शादी की पहली तस्वीरें…. (First Pics Of Newly Weds Ranveer And Deepika)

आख़िर लम्बा इंतज़ार ख़त्म हुआ और दीपिका रणवीर ने शेयर की अपनी शादी की पहली तस्वीरें!

शादी मुबारक… दोनों लग रहे हैं बेहद ख़ुश और ख़ूबसूरत

Ranveer And Deepika First Wedding Pics

दीपवीर की शादी का आया कार्ड, इस दिन दूल्हा-दुल्हन बनेंगे दीपिका-रणवीर (Deepika-Ranveer Announce Wedding Date)

Deepika-Ranveer Wedding Date

दीपवीर की शादी का आया कार्ड, इस दिन दूल्हा-दुल्हन बनेंगे दीपिका-रणवीर

बॉलीवुड के दीपवीर ने आख़िरकार अपनी शादी की तारीख़ अनाउंस कर दी. जी हां, जिसका सभी को बेसब्री से इंतज़ार था, वो दिन आ ही गया. बॉलीवुड के हॉटेस्ट कपल दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह की शादी की तारीख़ तय हो गई है. ये पावर कपल नवंबर की १४-१५ तारीख़ को बंधेंगे शादी के पवित्र बंधन में. यह ख़बर दोनों ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए अपनी शादी का कार्ड शेयर करते हुए किया. शादी का कार्ड तेज़ी से वायरल हो रहा है. कार्ड इंग्लिश और हिंदी दोनों भाषाओं में है. इस खुशखबरी से दीपिका-रणवीर के फैन बेहद खुश हैं.

Deepika-Ranveer Wedding Card

14-15 नवंबर को होगी शादी…

इस कार्ड में लिखा है, “14 और 15 नवंबर को हमारी शादी तय हुई है. इतने सालों में आपने हमें जो प्यार और स्नेह दिया है, उसके लिए हम आपके आभारी हैं और हमारे शुरू होने वाले प्रेम, दोस्ती और विश्वास के इस खूबसूरत सफर के लिए हम आपके आर्शीवाद की कामना करते हैं.” हालांकि, कार्ड में इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि शादी कहां से होगी, लेकिन ये खबरें सामने आई थीं कि अनुष्का शर्मा और विराट कोहली की तरह ही दोनों इटली में शादी कर सकते हैं. फिलहाल दोनों की शादी की शॉपिंग शुरू हो गई है.

– अनीता सिंह

शादी के दिन दूल्हा-दुल्हन न करें ये 18 ग़लतियां (18 Common Mistakes Brides And Grooms Must Avoid)

शादी (Wedding) का दिन हर किसी के लिए ख़ास होता है. उस दिन के लिए न जाने कितने सपने, कितनी उम्मीदें और न जानें कितनी आकांक्षाएं जोड़ रखी होती है सबने, ऐसे में छोटी-छोटी ग़लतियां (Mistakes) शादी के सारे उत्साह-उमंग को फीका कर सकती हैं. अगर आपकी भी शादी होनेवाली है, तो ज़रूरी बातों के साथ-साथ इन बातों का भी ध्यान रखें, ताकि शादी के दिन की ख़ुशियां ताउम्र आपके चेहरे पर मुस्कुराहट लाने का कारण बन सकें.

Brides And Grooms Mistakes

दुल्हन बचे इन ग़लतियों से

रितु की बारात आनेवाली थी. शादी के हॉल में घरवाले तैयारियों में लगे थे, पर रितु को कभी डेकोरेशन में कमी नज़र आ रही थी, तो कभी ब्यूटीशियन की तैयारी में कमी दिख रही थी, जिसके कारण उसे बहुत ग़ुस्सा आ रहा. ग़ुस्से में वो अपने मेकअप पर भी ध्यान नहीं दे रही थी. ब्यूटीशियन ने तो उसे तैयार कर दिया, पर लहंगे की मैचिंग चूड़ियां घर पर ही छूट गई थीं, जिससे उसका पारा और चढ़ गया. भाई ने आनन-फानन में चूड़ियां लाकर दीं, पर तब तक रितु ने सबका मूड ख़राब कर दिया था. जिसकी ख़ुशी के लिए सबने इतनी मेहनत की, अगर वही नाख़ुश रहे, तो सोचें कि घरवालों का क्या हाल होगा. शादी के दिन दुल्हन ऐसी कुछ ग़लतियों से बचे, तो वह ख़ूबसूरत दिन उसके साथ-साथ सभी के लिए ख़ास बन जाए.

1. लास्ट मोमेंट के लिए तैयारियां छोड़कर रखना

अक्सर कुछ दुल्हन कपड़े, ज्वेलरी, एक्सेसरीज़, अंडर गार्मेंट्स और स्पेशल ओकेज़न की स्पेशल ड्रेसेज़ या साड़ियां आदि लास्ट मोमेंट यानी शादीवाले दिन की पैकिंग के लिए छोड़कर रखती हैं, जिसके कारण जल्दबाज़ी में कुछ न कुछ छूट जाता है. आप अपनी पैकिंग शादी के 2-3 दिन पहले ही करके रख लें. शादी वाले दिन के लिए ये तैयारियां कभी भी न रखें, क्योंकि उस दिन व़क्त कैसे निकल जाएगा आपको पता भी नहीं चलेगा.

2. मन मुताबिक काम न होने पर ग़ुस्सा करना

माना कि आपने डेकोरेशन या म्यूज़िक अरेंजमेंट के लिए पहले से बात कर ली थी, पर अगर आख़िरी व़क्त पर किसी कारण उसमें कुछ बदलाव हो गए हैं, तो तिल का ताड़ न बनाएं. ग़ुस्सा करके अपना व घरवालों का मूड ख़राब न करें. ख़ुशी के इस मौ़के को ख़ुशगवार बनाए रखें.

3. रिश्तेदारों से ससुरालवालों की बुराई

अक्सर शादी के दिन दुल्हन के क़रीबी रिश्तेदार ससुरालवालों के बारे में जानने-समझने को आतुर रहते हैं, ऐसे में आपको ध्यान रखना चाहिए कि ससुरालवालों के बारे में आपको सकारात्मक ही बोलना है, क्योंकि किसी भी तरह की नकारात्मक सोच के साथ नए घर जाना सही नहीं. किसी भी तरह की नकारात्मक टिप्पणी मामले को बिगाड़ सकती है. क्या पता उन्हीं रिश्तेदारों में कोई ऐसा हो, जिसका कनेक्शन ससुराल पक्ष से हो.

4. सब कुछ ख़ुद करने की कोशिश करना

शादी के दिन रीति-रिवाज़ों की तैयारी, ख़ुद को तैयार रखना, नाते-रिश्तेदारों से मिलना-जुलना, घरवालों के छोटे-मोटे कई काम होते हैं, ये सब आप ख़ुद करने के चक्कर में न पड़ें. सभी को काम की ज़िम्मेदारियां पहले ही बांट दें. शादी के दिन दुल्हन को मेंटली और फिज़िकली रिलैक्स रहना बहुत ज़रूरी है, ऐसे में किसी भी तरह का फिज़िकल या मेंटल स्ट्रेस आपके ब्राइडल लुक के लिए सही नहीं होगा.

5. कुछ ज़्यादा ही हुकुम चलाना

शादी की गहमागहमी में अक्सर कुछ चीज़ें लोग भूल जाते हैं, ऐसे में सब की क्लास न लेती फिरें. हर कोई आपकी शादी को यादगार बनाने की कोशिश में लगा है, इसका ख़्याल रखें. उन्हें कुछ ऐसा न कह दें, जिससे उन्हें बुरा लगे.

6. दूल्हे से बहस करना

शादी की रस्मों के दौरान अगर दूल्हे राजा ने आपके मनमुताबिक कुछ नहीं किया, तो उनसे बहस करने न बैठ जाएं. ध्यान रखें कि शादी की रस्मों में आपके साथ-साथ उनके रिश्तेदार भी मौजूद हैं, अपने बेटे के साथ होनेवाली बहू का ऐसा व्यवहार उनपर आपका ग़लत इंप्रेशन डाल सकता है.

7 हर बात की शिकायत करना

किसी रिश्तेदार ने साड़ी या लहंगे के लिए कुछ कहा, किसी ने वेन्यू के लिए कुछ कहा या फिर किसी ने मेन्यू के बारे में कुछ कंपैरिज़न करके ताना मारा हो, तो उसे अवॉइड करें. शादियों में रिश्तेदार ऐसा करते ही हैं. इन बातों पर न तो ख़ुद परेशान हों और न ही ये बातें पैरेंट्स को
बताकर उन्हें परेशान करें. याद रखें आप हर किसी को ख़ुश नहीं रख सकतीं, इसलिए सब भूलकर अपना वेडिंग डे एंजॉय करें.

– कुछ भी न खाने की ग़लती

शादी के दिन काम की भागदौड़, लास्ट मोमेंेट की तैयारियों और एक्साइटमेंट के बीच अक्सर लड़कियां खाने पर ध्यान नहीं देतीं, जिसके कारण शाम तक उन्हें गैस-एसिडिटी हो जाती है या फिर चक्कर आने लगते हैं. आप ऐसा न करें. खाना समय से खाएं और पानी भी पर्याप्त पीएं, ताकि आप हाइड्रेटेड रहें और आपका चेहरा
खिला-खिला दिखे.

– सहेलियों के साथ मिलकर ससुरालवालों की ख़िंचाई करना

शादी की रस्मों के दौरान हंसी-मज़ाक अच्छा है, पर सहेलियों के साथ मिलकर ससुराल वालों की ख़िंचाई करना या मज़ाक बनाना ठीक नहीं.
ससुराल के लोग अब आपका परिवार हैं, ऐसे में उन पर आपका अच्छा प्रभाव नहीं पड़ेगा. हो सकता है, उसके लिए आपको बाद में सुनना भी पड़े, इसलिए जो भी करें, मर्यादा में रहकर करें.

– बहुत ज़्यादा हैवी लहंगा या साड़ी सिलेक्ट करना

शादी के दिन कई रस्में और विधि-विधान होते हैं और ऐसे में अगर आपका लहंगा और ज्वेलरी इतनी हैवी या चुभनेवाली है कि आप बहुत असहज महसूस कर रही हैं, तो शादी का सारा मज़ा किरकिरा हो जाएगा. कुछ लड़कियां तो इतने हैवी लहंगे पहन लेती हैं कि उठने-बैठन के लिए भी मदद की ज़रूरत पड़ती है. शादी का मतलब हैवी लहंगा या ज्वेलरी पहनना नहीं है. यह आपके लिए काफ़ी स्पेशल दिन है, तो आपका कंफर्टेबल रहना बहुत ज़रूरी है, इसलिए ऐसे कपड़े और ज्वेलरी पहनें, जो आप आसानी से कैरी कर सकें.

यह भी पढ़ें: किस राशिवाले किससे करें विवाह? (Perfect Life Partner According To Your Zodiac Sign)

 Brides And Grooms

दूल्हा बचे इन ग़लतियों से

– शेरवानी या सूट गाड़ी में न रखना

मुंबई में रहनेवाले किशोर की पिछले महीने शादी हुई. शादी का हॉल लड़कीवालों के घर के नज़दीक था, जो कि किशोर के घर से काफ़ी दूर था. जब किशोर की बारात हॉल पहुंची और शादी की विधि-विधान के लिए उसने शेरवानी ढूंढ़नी शुरू की, तो पता चला शेरवानी घर पर ही छूट गई. घर जाकर शेरवानी लाने में काफ़ी व़क्त निकल जाता, इसलिए पास में ही रह रहे किशोर के एक दोस्त ने उसे अपनी शादी की शेरवानी लाकर दी, जिससे फेरों की रस्म पूरी हुई. घरवाले एक-दूसरे के भरोसे रह गए और अच्छी-ख़ासी शेरवानी यूं ही रह गई. इससे सभी दूल्हों को सबक लेना चाहिए और शादी के कपड़े गाड़ी में रखना न भूलें.

– देर रात तक जागना

अक्सर देखा गया है कि शादी के ठीक पहले वाली रात दूल्हा भाई-बंधुओं और दोस्तों के साथ बैचलर पार्टी मनाने में इतना व्यस्त रहता है कि ठीक से सो नहीं पाता. एंजॉयमेंट के चक्कर में उसकी नींद पूरी नहीं होती, जिसके कारण शादी वाले दिन उसकी फोटोज़ उतनी अच्छी नहीं आती, जितनी फ्रेश फेस के साथ आ सकती थीं. इस बात का ख़ास ख़्याल रखें और अच्छी तरह नींद लें.

– एक्सेसरीज़ भूल जाना

शादी के लिए सब सूट या शेरवानी को ध्यान से ख़रीदते हैं, पर मोज़े, बेल्ट, कफलिंक्स, हैंकी आदि पर उतना ध्यान नहीं देते, जिससे बारात निकलने से पहले पता चलता है कि मोज़े नहीं हैं या फिर बेल्ट ख़रीदना भूल गए थे. आपके साथ ऐसा न हो, इसलिए इन बातों का ध्यान रखें.

– लास्ट मिनट की भाग-दौड़ ख़ुद करना

शादी के दिन सभी को समय से बुलाना, सभी वेंडर्स के साथ कोऑर्डिनेट करना, नाते-रिश्तेदारों को लाना-ले जाना, जैसे कई काम होते हैं, अगर आप ये सब काम ख़ुद करेंगे, तो थक जाएंगे. लास्ट मिनट की इस भाग-दौड़ की बजाय रिलैक्स करें, दूसरों में काम बांट दें.

– शादी की गाड़ी समय से न बुलाना

बारात निकलने के लिए सबसे ज़रूरी है, दूल्हे की गाड़ी. घर पर गाड़ी आने के बाद भी उसे सजाने में काफ़ी व़क्त लगता है, जिसके कारण ज़्यादातर बारातें लेट हो जाती हैं. अगर आप ऐसा नहीं चाहते, तो बारात निकलने के 2-3 घंटे पहले ही गाड़ी बुला लें.

– बिना बोले समझने की उम्मीद करना

आज आपकी शादी है, आप अपने लिए कुछ स्पेशल करवाना चाहते हैं या कुछ ख़ास करने की इच्छा है, तो आपको बोलना पड़ेगा. बिना बोले घरवालों से यह उम्मीद करना की वो अपने आप समझ जाएंगे, बेव़कूफ़ी है. अपने ख़ास दिन को और ख़ास बनाने के लिए जो चाहते हैं करें, घरवालों को भी अच्छा लगेगा.

– घरवालों की भावनाओं का ख़्याल न रखना

आज आपकी शादी है, इसका यह मतलब नहीं कि आप जो चाहें, बोलें, जो चाहें करें. सब आपको पैंपर करने के लिए वैसे ही कुछ न कुछ ख़ास करते रहते हैं. उनकी भावनाओं का ख़्याल रखें. मुझे यह पसंद नहीं या मुझे यह अच्छा नहीं लगता बोलकर उनका दिल न दुखाएं. माता-पिता के साथ-साथ बुआ, मौसी, चाची, दादी, नानी आदि की भी कई इच्छाएं होती हैं. इस दिन को अपने साथ-साथ उनके लिए भी ख़ास बनाएं और उन्हें हमेशा के लिए ढेरों ख़ुशियां दें.

– तैयारियों में कमी के लिए दुल्हन या घरवालों को सुनाना

कुछ दूल्हे ऐसे भी होते हैं, जो तैयारियों से नाख़ुश होने पर शादी के व़क्त ही नाराज़गी व्यक्त करने के लिए या तो मुंह फुला लेते हैं या फिर दुल्हन को सुनाते हैं. यह बहुत ही ग़लत है. ऐसा करके न स़िर्फ आप अपने ख़ास दिन को बर्बाद करते हैं, बल्कि दुल्हन व उसके घरवालों का भी मूड ख़राब कर देते हैं. इस बेकार-सी ग़लती से बचें.

घरवाले बचे इन ग़लतियों से

– लड़केवाले और लड़कीवाले दोनों के लिए सबसे ज़रूरी है कि वो शादी के हॉल में समय से पहुंचे, क्योंकि अगर वो लेट हो गए, तो सारे कार्यक्रम देरी से होंगे और रिश्तेदार देरी के कारण पूरी शादी एंजॉय नहीं कर पाएंगे.

– बारात पहुंचते ही पटाखों का शोर हर किसी को बता देता है कि बारात आ गई है, लेकिन कभी-कभार इससे हादसे भी हो जाते हैं. पटाखे जलाते समय इस बात का ध्यान रखें कि
नाचनेवालों के पास पटाखे उड़कर न जाएं, वरना किसी को चोट भी लग सकती है. दूल्हा-दुल्हन की गाड़ी में फर्स्ट एड बॉक्स ज़रूर रखें.

– रस्मों की चीज़ों के बैग संभालकर साथ रखें, वरना भीड़-भाड़ में बैग कहीं छूट सकते हैं.

– अरेंजमेंट का बैकअप ज़रूरी है. सभी वेंडर्स को पहले से इतल्ला कर दें कि किसी भी चीज़ की कमी के लिए शादी के व़क्त तैयार रहें.

– सबसे ज़रूरी बात इस गहमागहमी में यह न भूलें कि यह आपके बच्चे के लिए ख़ास दिन है, इसलिए किसी भी तरह की कमी के बावजूद ख़ुश रहें और माहौल को ख़ुशगवार बनाए रखें.

– अनीता सिंह

यह भी पढ़ें: शादी के बाद क्यों बढ़ता है वज़न? जानें टॉप 10 कारण (Top 10 Reasons For Weight Gain After Marriage)

शादी के बाद क्यों बढ़ता है वज़न? जानें टॉप 10 कारण (Top 10 Reasons For Weight Gain After Marriage)

अगर आपकी नई-नई शादी (New Marriage) हुई है और अचानक से अपने बढ़े हुए वज़न (Increased Weight) को लेकर आपके मन में कई सवाल उठे हैं और आप परेशान हैं, तो परेशान न हों. आपके सभी सवालों के जवाब यहां आपको मिलेंगे कि आख़िर शादी के बाद आपका वज़न इतनी तेज़ी से क्यों बढ़ा है? द ओबेसिटी जर्नल में प्रकाशित एक स्टडी के मुताबिक शादी के 5 साल के भीतर 82% कपल्स का वज़न 5-10 किलो तक बढ़ जाता है. इसमें महिलाओं का वज़न पुरुषों के मुकाबले ज़्यादा तेज़ी से बढ़ता है. लाइफस्टाइल में बदलाव के अलावा और क्या हैं कारण?

Weight Gain After Marriage

1. खानपान की आदतों में बदलाव

आपके मायके और ससुराल के खानपान में अंतर है. मसाले और पकाने की टेक्नीक दोनों जगह अलग है, जिसके कारण आपकी पाचनक्रिया पर इसका प्रभाव पड़ता है. इसके अलावा मायके खाने के बाद टहलना, मॉर्निंग वॉक जैसी चीज़ें आपके रूटीन में शामिल थीं, जो यहां नहीं हैं.

2. अक्सर बाहर खाना

शादी के बाद से ही दोस्तों, रिश्तेदारों के यहां खाने का सिलसिला जो शुरू होता है, वो कई हफ़्तों तक जारी रहता है. इस बीच हनीमून पर आप बेरोक-टोक हर तरह के खाने को एंजॉय करते हैं, जिससे ज़रूरत से ज़्यादा कैलोरीज़ खा लेते हैं.

3. प्राथमिकताएं बदल जाती हैं

शादी के बाद आप पति और ससुरालवालों की पसंद से खाना बनाती हैं और इंप्रेस करने के चक्कर में ख़ूब घी, तेल, मसाला इस्तेमाल करती हैं. इतनी मेहनत से बनाया खाना ख़राब न हो, इस चक्कर में ओवरईटिंग भी कर लेती हैं. समय के साथ बदली ये प्राथमिकताएं आपका वज़न बढ़ाने के लिए ज़िम्मेदार हैं.

4. लापरवाह हो जाती हैं

शादी के दिन स्टनिंग दिखने के लिए खाने-पीने पर ध्यान रखना, एक्सरसाइज़ करना, स्ट्रेस न लेना जैसी चीज़ें शादी के बाद लगभग पूरी तरह बदल जाती हैं. न चाहते हुए भी स्ट्रेस आ ही जाता है और बाकी कामों के चलते एक्सरसाइज़ का व़क्त नहीं मिलता. खाने का समय बदल जाता है और कहीं न कहीं यह सोच घर कर जाती है कि अब तो शादी हो गई, अब क्या फ़र्क़ पड़ता है.

5. नींद की कमी

शादी के बाद सोने का समय और पैटर्न दोनों ही बदल जाते हैं, जिससे नींद पूरी नहीं हो पाती. नींद की कमी भी वज़न बढ़ने का एक कारण है.

यह भी पढ़ें: 10 झूठ पति-पत्नी एक दूसरे से बोलते हैं (10 Lies Husband And Wives Tell Each Other)

After Marriage

6. पार्टनर का पैंपर करना

शादी के बाद सभी कपल्स एक-दूसरे पर अपना प्यार न्योछावर करने और ख़ुश रखने में कोई कसर नहीं छोड़ते. एक-दूसरे को पैंपर करने के लिए केक, पेस्ट्रीज़, चॉकलेट्स, पिज़्ज़ा, पास्ता जैसी सरप्राइज़ ट्रीट देते रहते हैं. कैलोरीज़ से भरपूर ये फैटी चीज़ें वज़न बढ़ाती हैं.

7. स्ट्रेस ईटिंग करना

शादी के बाद नए माहौल में ढलना थोड़ा मुश्किल होता है, ऐसे में अगर दुल्हन वर्किंग है, तो उसकी ज़िम्मेदारियां और भी बढ़ जाती है. ऑफिस के साथ-साथ घर पर भी अपना बेस्ट देने की कोशिश में हमेशा स्ट्रेस में रहती हैं और स्ट्रेस ईटिंग की शिकार हो जाती है.

8. हार्मोनल बदलाव

लाइफस्टाइल में बदलाव के कारण शरीर में हार्मोनल बदलाव होते हैं, जिसके कारण तेज़ी से वज़न बढ़ता है. इसके अलावा सेक्सुअल एक्टिविटीज़ के कारण होनेवाले हार्मोनल बदलाव भी इसका कारण बनते हैं. हांलाकि कुछ लोग इसे मिथ मानते हैं, पर वज़न बढ़ाने में हार्मोंस का अहम् रोल होता है, यह सभी मानते हैं.

9. मेटाबॉलिक बदलाव

आजकल ज़्यादातर कपल्स 28-30 साल की उम्र में शादी करते हैं. इस समय शरीर के मेटाबॉलिक रेट में बदलाव आता है, जिससे वज़न पहले के मुकाबले ज़्यादा तेज़ी से बढ़ता है.

10. प्रेग्नेंसी

बहुत-सी महिलाएं शादी के बाद ही कंसीव कर लेती हैं, जिससे परिवारवाले उसे पैंपर करने के लिए ओवर न्यूट्रीशियस चीज़ें खिलाते हैं, जिसे  डिलीवरी के बाद भी वो कम नहीं कर पातीं.

वेट कंट्रोल के लिए क्या करें?

– घर में हर कोई खाना खा ले, उसके बाद मैं खाऊंगी वाला एटीट्यूट बदलें. नियमित समय पर खाना खाएं. ओवरईटिंग से बचें.

– अपने लुक्स के प्रति लापरवाह न हों.

– स्ट्रेस ईटिंग से बचने के लिए ख़ुद को ख़ुश रखें.

– एक-दूसरे के साथ ज़्यादा से ज़्यादा समय बिताने के लिए योगा क्लासेस या जिम जॉइन करें.

– अनीता सिंह     

यह भी पढ़ें: मायके की तरह ससुराल में भी अपनाएं लव डोज़ फॉर्मूला (Love Dose Formula For Happy Married Life)

यह भी पढ़ें: पुरुषों में होते हैं महिलाओं वाले 10 गुण (10 Girly Things Men Do And Are Proud To Admit)

न्यूली मैरिड के लिए शादी से जुड़ी आवश्यक क़ानूनी सलाहें (Legal Things To Do For Newly Married Couples)

शादी के बाद लड़की की ज़िंदगी ही नहीं बदलती, ज़्यादातर मामलों में उसका सरनेम भी बदल जाता है. अगर शादी के पहले ही शादी के बाद होनेवाली ज़रूरी क़ानूनी बदलावों के बारे में जान-समझ लें, तो हर तरह की काग़ज़ी कार्यवाही आसान हो जाती है. बहुत-से लोग इसे अहमियत नहीं देते और जब ज़रूरत आ पड़ती है, तब भागदौड़ शुरू कर देते हैं. ऐसी स्थिति आपके सामने न आए, इसलिए शादी से जुड़ी ज़रूरी क़ानूनी सलाह को समझें.

Newly Married Couples

लड़कियां अपनी शादी को परफेक्ट बनाने के लिए सारी तैयारियां करती हैं, पर शादी के बाद विवाह को क़ानूनी मान्यता देने जैसे महत्वपूर्ण काम को अनदेखा कर देती हैं. मैरिज सर्टिफिकेट आपकी शादी का महज़ क़ानूनी गवाह नहीं, बल्कि भविष्य में होनेवाली किसी भी अनहोनी परिस्थिति में आपके लिए कवच की तरह काम करता है. वैसे भी वर्ष 2006 में सुप्रीम कोर्ट ने इसे अनिवार्य घोषित कर दिया है. इसलिए इसकी पूरी जानकारी रखना बहुत ज़रूरी है.

शादी का रजिस्ट्रेशन/मैरिज सर्टिफिकेट

हमारे देश में शादी का रजिस्ट्रेशन द हिंदू मैरिज एक्ट, 1955 या फिर द स्पेशल मैरिज एक्ट, 1954 के तहत किया जाता है. जहां हिंदू मैरिज एक्ट में पहले से हुई शादी का रजिस्ट्रेशन कर मैरिज सर्टिफिकेट प्राप्त किया जाता है, तो वहीं स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत शादी व उसका रजिस्ट्रेशन दोनों एक साथ किया जाता है.

स्पेशल मैरिज एक्ट- शादी/रजिस्ट्रेशन

इसे आमतौर पर कोर्ट मैरिज कहते हैं. इसमें विवाह के इच्छुक लोगों को अपने इलाके के मैरिज ऑफिसर या सब रजिस्ट्रार को नोटिस देनी पड़ती है. याद रहे, दोनों में से कोई एक उस स्थान पर 30 दिनों से रह रहा हो. इसके बाद मैरिज ऑफिसर से उन्हें एक महीने का नोटिस पीरियड मिलता है, जिसके ख़त्म होने पर तय दिन व समय पर शादी व उसका रजिस्ट्रेशन दोनों एक साथ किया जाता है.

रजिस्ट्रेशन के लिए डॉक्यूमेंट्स

– शादी के 1 महीने के भीतर ही रजिस्ट्रेशन करवाना चाहिए. अपने माता-पिता/गार्जियन और गवाहों के साथ आपको रजिस्ट्रार के ऑफिस में जाना पड़ता है.

– इस दौरान जो रजिस्ट्रेशन नहीं करा पाते हैं, उन्हें क्षमादान के साथ 5 साल के भीतर रजिस्ट्रार के पास यह प्रक्रिया पूरी करवानी पड़ती है.

– इसके लिए आप दोनों को बर्थ प्रूफ, रेसिडेंस प्रूफ, शादी की पूरी जानकारी वाला एफिडेविट, पति-पत्नी के पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ्स, शादी की एक फोटो, शादी का निमंत्रण कार्ड आदि डॉक्यूमेंट्स की ज़रूरत पड़ेगी.

– रजिस्ट्रेशन के 7-90 दिनों के भीतर आपका मैरिज सर्टिफिकेट मिल जाता है.

सरनेम बदलना

हर महिला को यह अधिकार है कि वो शादी के पहलेवाला अपना सरनेम बनाए रख सकती है, पर ज़्यादातर महिलाएं क़ानूनी झंझटों से बचने के लिए सरनेम बदलवा ही लेती है. अगर आप भी अपना सरनेम बदलना चाहती हैं, तो आपको ये टिप्स.

– मैरिज सर्टिफिकेट मिलने के बाद सरनेम बदलने के लिए आपको राज्य सरकार के गैज़ेट ऑफिस में जाकर सरनेम बदलने के लिए आवेदन देना पड़ता है.

– सरनेम बदलने के बाद आपके बदले हुए नाम को ऑफिशियल बनाने के लिए किसी स्थानीय समाचार पत्र में प्रकाशित किया जाता है.

– उस समाचार पत्र की कॉपी आपको हमेशा संभलाकर रखनी चाहिए. भविष्य में उसे आप लीगल डॉक्यूमेंट के तौर पर इस्तेमाल कर

सकते हैं.

यह भी पढें:  20 Tips: शादी से पहले करें शादी के बाद की तैयारियां

Documents Change

ज़रूरी डॉक्यूमेंट्स में बदलाव

एक बार सरनेम में बदलाव हो जाए, तो आपको अपने सभी ज़रूरी काग़ज़ातों पर इसे बदलना पड़ता है. याद रहे, जब भी डॉक्यूमेंट्स में सरनेम बदलवाएं, आधे-अधूरे नहीं, बल्कि सभी में बदलवाएं.

पैन कार्ड: आजकल ज़्यादातर फाइनेंशियल  ट्रांज़ैक्शन्स के लिए आपको पैनकार्ड की ज़रूरत पड़ती है. ऐसे में मैरिज सर्टिफिकेट मिलते ही अपना पैनकार्ड अपडेट करवाएं.

– पैनकार्ड पर सरनेम बदलने की प्रक्रिया नया पैनकार्ड लेने जैसे ही है.

– इसके लिए आपको पैनकार्ड नेम करेक्शन का फॉर्म भरकर साथ में पुराने पैनकार्ड का नंबर और मैरिज सर्टिफिकेट या ऑफिशियल गर्वंमेंट गैज़ेट की कॉपी जमा करनी होगी.

– इसके अलावा आप जॉइंट नोटराइज़्ड एफिडेविट जमा करके भी पैनकार्ड अपडेट कर सकते हैं.

– पैनकार्ड अपडेट होने पर अपने इन्कम टैक्स पेपर्स अपडेट करना ना भूलें.

बैंक अकाउंट्स: आपका अगला क़दम बैक अकाउंट्स को अपडेट करना है. यहां

आपको अपने नाम के साथ-साथ नए पते को भी अपडेट कराना होगा.

– नाम बदलने के लिए आपको एक फॉर्म भरकर देना होगा और साथ ही में मैरिज सर्टिफिकेट की कॉपी और ऑफिशियल गर्वंमेंट गैज़ेट जमा करना होगा.

– एड्रेस बदलने के लिए आपको अपने पति के एड्रेस प्रूफ और पासपोर्ट की कॉपी जमा करनी होगी.

पासपोर्ट: चाहे बात आइडेंटिटी प्रूफ की हो या रेसिडेंशियल प्रूफ की, पासपोर्ट सबसे बेस्ट लीगल प्रूफ है. अपने पुराने पासपोर्ट को अपडेट करने के लिए-

– आपको पासपोर्ट री-इश्यू के लिए अप्लाई करना होगा.

– इसके साथ आपको आपका मैरिज सर्टिफिकेट और पुराना ओरिजनल पासपोर्ट, पासपोर्ट की सेल्फ अटेस्टेड कॉपी और पति के पासपोर्ट की कॉपी भी जमा करनी होगा.

फाइनेंशियल डॉक्यूमेंट्स: शादी के बाद आपको अपने फाइनेंशियल डॉक्यूमेंट्स, जैसे- इन्वेस्टमेंट्स, इंश्योरेंस, लोन आदि के डॉक्यूमेंट्स को भी अपडेट करना होगा.

– इन्वेस्टमेंट्स, जैसे- म्यूचल फंड, पोस्ट ऑफिस, स्टॉक्स बॉन्ड आदि को अपडेट करें. – पर्सनल या हाउसिंग लोन आदि से जुड़े सभी डॉक्यूमेंट्स पर सरनेम ज़रूर बदलवाएं.

– सभी के साथ लाइफ इंश्योरेंस, मेडीक्लेम आदि को भी अपडेट करें. अगर आप किसी और की इंश्योरेंस पॉलिसी में नॉमिनी हैं, तो उसे भी

अपडेट ज़रूर कराएं. इन सभी के लिए आपका मैरिज सर्टिफिकेट और पति का रेसिडेंशियल प्रूफ जमा करना है.

प्रॉपर्टी: आजकल लड़कियां आत्मनिर्भर होती हैं, इसलिए प्रॉपटीज़ आदि की पूरी जानकारी संभालकर रखती हैं. अगर आप भी किसी प्रॉपर्टी की मालकिन या वारिस हैं, तो शादी के बाद उन डॉक्यूमेंट्स को अपडेट करना न भूलें. प्रॉपर्टी से जुड़े पेपर्स के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने लीगल एडवाइज़र से मिलें.

वोटिंग कार्ड: यह भी एक बहुत ज़रूरी आइडेंटिटी और रेसिडेंशियल लीगल प्रूफ है. शादी के बाद नेम करेक्शन का फॉर्म भरकर आप अपना नाम चेंज करा सकती हैं. इसके अलावा अपने ससुराल के  इलेक्टोरल रोल में भी आपको अपना नाम दर्ज कराना होगा.

ये छोटी-छोटी बातें बहुत मायने रखती हैं, इसलिए शादी के बाद इन सभी ज़रूरी डॉक्यूमेंट्स को अपडेट कराएं. हमेशा ध्यान रखें, आपके सभी डॉक्यूमेंट्स पर आपका एक जैसा नाम होना चाहिए.

एनआरआई दूल्हे के मामले में

पिछले कुछ सालों में एनआरआई शादियों में जिस तरह की धोखाधड़ी सामने आई है, बहुत-से पैरेंट्स अपनी बेटियों की सुरक्षा के लिए ऐसे रिश्तों को कम तवज्जों दे रहे हैं. पर इसका यह कतई मतलब नहीं कि सभी एनआरआई लड़कों को शक के घेरे में खड़ा कर दें, पर अपने सुरक्षित भविष्य के लिए थोड़ी सावधानी ज़रूर बरतें.

– शादी से पहले लड़के के बारे में पूरी छानबीन करें. उसका नाम, पता, सोसाइटी में इमेज आदि सोशल मीडिया के ज़रिए या फिर वहां स्थित इंडियन ऐम्बसी के ज़रिए पता करें.

– अगर आप किसी और धर्म के लड़के से शादी कर रही हैं और शादी के बाद धर्म बदलना आदि प्रक्रिया है, तो शादी से पहले अपने लीगल एडवाइज़र से यहां व वहां के क़ानूनों की पूरी जानकारी हासिल कर लें, ताकि शादी के बाद किसी भी अनहोनी स्थिति में आप ख़ुद को लाचार महसूस न करें.

– जहां तक हो सके, शादी अपने ही देश में करें. विदेशी धरती पर शादी करने पर आप कई ज़रूरी  क़ानूनी हक़ीक़तों से अनजान रहती हैं, जिसका ग़लत फ़ायदा आपके ससुराल वाले उठा सकते हैं.

– अनीता सिंह

यह भी पढें: ये 7 राशियां होती हैं मोस्ट रोमांटिक