Weight Loss Tips

वज़न कम करना और स्लिम होना आसान काम नहीं. इसके लिए डायट-एक्सरसाइज़ के साथ ही आपको कुछ बातों का भी ध्यान रखना होगा. स्लिमिंग रूल्स को अपनी लाइफस्टाइल का हिस्सा बनाना होगा. इससे ना सिर्फ आपका वज़न कम होगा, बल्कि वेट मैनेजमेंट भी आसान हो जाएगा.

स्लिमिंग रूल्स
1. कार्बोहाइड्रेट कम करेंः कार्बोहाइडे्रट भी दो तरह के होते हैं- कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट और सिंपल कार्बोहाइड्रेट. कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है, जो सेहत के लिए अच्छे होते हैं. मोटापा कम करना है तो इनका इस्तेमाल करें. ये साबुत अनाज, दालों, ओट्स, ज्वार आदि में मिलता है. सिंपल कार्बोहाइड्रेट का ग्लासेमिक इंडेक्स ज़्यादा होता है. जो हाई ब्लडप्रेशर, डायबिटीज़, मोटापा जैसी बीमारियों का कारण बनते हैं. इसलिए इनसे बचें. ये पास्ता, मैदा, ब्रेड, चावल, शक्कर आदि में होता है.
2. प्रोटीन का सेवन बढ़ाएंः प्रोटीन शरीर का मेटाबोलिज़म लेवल बढ़ाता है, जिससे फैट खाने के बावजूद आपका शरीर तेज़ी से कैलोरी बर्न करने लगता है. इससे वज़न घटता है. सभी दालों, ड्राइफ्रूट्स, बींस, हरी पत्तेदार सब्ज़ियां. सोयाबीन, दही, फिश, अंडा आदि प्रोटीन के अच्छे स्रोत हैं.
3. फाइबर भी हैं ज़रूरीः फाइबर मोटापा कम करता है और बैड कोलेस्ट्रॉल को भी. इसके सेवन से आपको जल्दी ही पेट भर जाने का एहसास होता है. ऐसे में आप कम कैलोरी खाते हैं. इसलिए अपने डायट में फाइबर ज़रूर शामिल करें. ये ओटमील, बीन्स, मटर, फल, आदि में शामिल होता है.
4. ख़ूब पानी पीएंः पानी आपके मेटाबोलिज़म लेवन को ठीक रखता है और इससे पेट भरा होने का एहसास भी होता है. खाना खाने से आधा घंटे एक गिलास पानी पीएं. इससे कम खाने से भी आपको पेट भरने का एहसास होगा. गुनगुना पानी पीएं. इससे मेटाबोलिज़म बेहतर होता है और एक्स्ट्रा कैलोरीज़ भी बर्न होती हैं.
5. रोज़ 30 से 60 मिनट एक्सरसाइज़ करेंः यदि आपके पास समय की कमी है और आप एक बार में 30 से 60 मिनट का समय नहीं निकाल पाती हैं तो एक्सरसाइज़ को 10-10 मिनट के तीन हिस्सों में बांट लें और जब भी 10 मिनट का समय मिले, झटपट एक्सरसाइज़ कर लें.

Weight Loss and Slimming Tips


6. हेल्दी नाश्ते सहित दिन में 3 बार खाना ज़रूर खाएंः ब्रेकफास्ट, लंच या डिनर में से यदि आप कुछ भी स्किप करेंगी तो ज़्यादा भूख लगेगी और आप ज़रूरत से ज़्यादा स्नैक्स खा लेंगी, जो आपके वज़न को बढ़ाने का काम करेगा. इसलिए कोई भी मील स्किप ना करें. साथ ही हर दो घंटे में कुछ न कुछ खाते रहें, इससे मेटाबॉलिज़्म भी ठीक रहता है.
7. सब्ज़ियों और फलों पर रखें फोकसः अपने ब्रेकफास्ट में फल, जैसे- सेब, केले, स्ट्रॉबेरी आदि शामिल करें. फ्रूट सलाद खाएं या फ्रूट योगर्ट यानी दही में फल मिलाकर खाएं. यदि आप सैंडविच खा रही हैं, तो उसमें ढेर सारी सब्ज़ियां डालें और यदि उपमा आपकी पसंद है तो उसमें भी रवा कम और सब्ज़ियां ज़्यादा शामिल करें. नाश्ते में कुछ मीठा, जैसे- कॉर्नफ़्लैक्स, ओटमील या पोरेज खाती हों, तो उसमें ढेर सारे फल डाल दें.
8. वज़न पर रखें नज़रः नियमित रूप से वज़न चेक करने से आपको पता चलता रहेगा कि वज़न को मेंटेन रखने की कोशिशें कितनी क़ामयाब हो रही हैं. यही नहीं, यदि थोड़ी-सी लापरवाही से वज़न बढ़ गया हो तो इससे पहले कि वो और बढ़ जाए, उस पर नियंत्रण पाने की कोशिशें शुरू कर सकती हैं. इसलिए बेहतर होगा कि रेग्युलर वज़न चेक करते रहें.
9. घर में रेडी टु ईट्स फूड्स न रखेंः हम जब भी स्ट्रेस में होते हैं, यूं ही फुर्सत में बैठे होते हैं या फिर बोर होते हैं तो न चाहते हुए भी रेडी टु ईट हाई फैट या हाई कैलोरी फूड, जैसे- नमकीन, समोसे, कचौरी, बिस्किट्स, केक आदि खा ही लेते हैं. इससे बचने के लिए बेहतर होगा कि आप अपने घर में रेडी टु ईट और इस तरह के दूसरे कंफर्ट फूड रखना ही बंद कर दें.
10. हेल्दी फूड पहले खाएंः जब भी खाना खाएं, पहले हेल्दी चीज़ें खाएं, जैसे- सलाद, दही, स्प्राउट्स, सब्ज़ियां वगैरह. इसके बाद ही अपना फेवरेट फूड खाएं. इससे यह फ़ायदा होगा कि जब आप हाई कैलोरी फूड खा रही होंगी, तब तक आपकी भूख कम हो चुकी होगी और आप उसे कम मात्रा में ही खाएंगे.
11. एक्टिव बने रहेंः बच्चों के खिलौने समेटना होे, कपड़े सुखाने हों, बाहर बच्चों के साथ खेलना हो, ऑफिस में सहकर्मी से कुछ पूछने उनकी सीट तक जाना पड़े या प्रिंट लेने प्रिंटर तक, एक्टिव रहने का कोई मौका न छोड़ें. ख़ुद को एक्टिव बनाए रखने वाले काम करती रहें. इससे भी कैलोरीज़ बर्न होती हैं और वज़न को कंट्रोल में रखना आसान हो जाता है.
12. एक्सरसाइज़ में बदलाव करते रहेंः रोज़-रोज़ एक ही तरह की एक्सरसाइज़ न करें, इसमेें बदलाव लाएं. दो दिन जॉगिंग करें तो दो दिन स्विमिंग. बीच में एक दिन एरोबिक्स, साइकलिंग या योग करें, तो एक दिन डांस करें या आउटडोर गेम्स खेलें. इससे एक्सरसाइज़ में वेरिएशन तो मिलेगा ही, एक्सरसाइज़ करने का उत्साह भी बना रहेगा.
13. स्ट्रेस से बचेंः जब भी हम स्ट्रेस में होते हैं, कुछ-न-कुछ खाते रहते हैं. इसलिए जैसे ही लगे कि आप स्ट्रेस्ड फ़ील कर रहे हैं तो तुरंत ही एक ग्लास पानी पीएं और तनावमुक्त होने के लिए एक्सरसाइज़ करें, गहरी सांसें लें, मसल रिलैक्सेशन तकनीक अपनाएं या फिर फनी बुक्स पढ़ें. इससे खाने पर से आपका ध्यान हटेगा और आप बेवजह कैलोरीज़ खाने से बच जाएंगे.

Weight Loss and Slimming Tips


14. आउटसाइड फूड हफ्ते में एक बार ही खाएंः एक नियम बनाएं कि चाहे जो हो, बाहर का खाना कम खाएंगे. आजकल होटलों और रेस्टॉरेंट्स में खाने का चलन बहुत बढ़ गया है. इससे वज़न तो बढ़ता ही है, दूसरी हेल्थ प्रॉब्लम्स भी सकती हैं. इसलिए जहां तक संभव हो, खाना घर का बना हुआ ही खाएं. यदि बाहर खाना आपकी मजबूरी है तो यह तय कर लें कि क्या और कितना खाना है.
15. साथ रखें हेल्दी स्नैक्सः यदि आपको कुछ-न-कुछ खाते रहने की आदत है तो बैग में हेल्दी स्नैक्स रखें, लेकिन इन्हें भी सीमित मात्रा में ही खाएं. फ्रूट, होल व्हीट लो शुगर बिस्किट्स, वेजीटेबल सैंडविच, डॉयफ्रूट्स, कुरमुरा-चना आदि. इससे आप ऊलजुलूल खाने से बच जाएंगे.
16. दिन की शुरुआत हाई फाइबर ब्रेकफास्ट से करेंः सुबह का नाश्ता कभी-भी स्किप न करें और ध्यान रखें कि आपका नाश्ता ऐसा हो, जिसमें फाइबर की मात्रा ज़्यादा हो. आप दलिया, कॉर्नफ्लैक्स, ओटमील, ब्राउन ब्रेड सैंडविच, चीला या फाइबरयुक्त कोई अन्य नाश्ता खा सकती हैं.
17. वॉक के लिए दस मिनट निकालेंः सुबह थोड़ा जल्दी उठें और 10 मिनट ज़रूर टहलें. वर्किंग हैं तो लंच टाइम में खाने के बाद 10 मिनट की वॉक आपको एनर्जेटिक बनाए रखेगी. शाम को भी वॉक के लिए 10 मिनट का टाइम तो निकाला ही जा सकता है. सोने के पहले धीमे-धीमे टहलना भी अच्छा आइडिया है.
18. खाना समय पर खाएंः थोड़ा मुश्किल ज़रूर है, फिर भी कोशिश करें कि आपके हर मील का टाइम फिक्स हो. ख़ासकर डिनर सोने के दो घंटे पहले करने की आदत डालें. लेट नाइट डिनर वज़न बढ़ाता है.
19. क्रेविंग को कंट्रोल करना सीखेंः कई बार भूख नहीं होती, बस कुछ खाने का मन करता रहता है. चटपटा खाने की क्रेविंग होती है. आपके साथ भी ऐसा हो, तो अपना ध्यान डायवर्ट करें. म्यूज़िक ऑन कर डांस करें, अपनी वॉर्डरोब मैनेज करने में मन लगाएं या फिर अपना फेवरेट कोई भी काम करें. इससे आपको भूख की याद ही नहीं आएगी.
20. ख़ुद को रिवॉर्ड देंः वज़न कम करना आसान नहीं, लेकिन अगर आपने अपनी विल पावर और कोशिशों से वज़न कम कर लिया है तो ख़ुद को इसके लिए रिवॉर्ड दें. फ्रेंड्स के साथ सेलिब्रेट करें या ख़ुद को वो प्यारी-सी ड्रेस ग़िफ़्ट करें, जो वज़न बढ़ जाने की वजह से आप नहीं ख़रीद पाई थीं. ये आपके लिए मोटीवेशन का काम करेंगे.

टेलीविज़न की मशहूर एक्ट्रेस दीपिका सिंह जितनी ख़ूबसूरत हैं, उतनी ही समझदार भी हैं. ‘दीया और बाती हम’ सीरियल की आईपीएस ऑफिसर संध्या (दीपिका का किरदार) की तरह ही दीपिका भी ज़िंदगी के हर चैलेंज का बहादुरी से सामना करती हैं. बेटे (सोहम) के जन्म के बाद दीपिका सिंह ने 18 किलो वज़न कम (Deepika Singh’s Weight Loss Secrets करके एक बार फिर सबको चौंका दिया है. इतने कम समय में दीपिका ने इतना वज़न कैसे कम किया? आइए, उन्हीं से ही जानते हैं.

दीपिका, आप फिर से पहले की तरह स्लिम-ट्रिम हो गई हैं. आपने इतनी जल्दी वज़न कैसे कम किया? (Deepika Singh’s Weight Loss Secrets)
मैंने वज़न कैसे कम किया, इससे पहले मैं आपको ये बताना चाहती हूं कि मेरा वज़न इतना ज़्यादा कैसे बढ़ गया. मेरा वज़न बढ़ने के ऐसे कई कारण थे, जिन पर मेरा कोई कंट्रोल नहीं था, जैसे-
* प्रेग्नेंसी के दौरान मुझे थायरॉइड की प्रॉब्लम हो गई थी, जिसके कारण मेरा वज़न तेज़ी से बढ़ने लगा था.
* फिर डिलीवरी के बाद मेरे घरवालों ने मुझे ख़ूब खिलाया-पिलाया, ताकि मुझे कमज़ोरी न आ जाए और बच्चे को दूध की कमी न हो.
* हमारे यहां 40 दिन तक घर से बाहर निकलने की इजाज़त नहीं है, इसलिए बैठे-बैठे बज़न और बढ़ने लगा.
* मैंने अपने बच्चे के लिए डाइपर का इस्तेमाल कभी नहीं किया. मुझे लगता है कि पीरियड्स के दौरान जब पांच दिन पैड पहनने में मुझे इतनी परेशानी होती है, तो इतने छोटे बच्चे को डायपर क्यों पहनाया जाए. जन्म के कुछ समय तक वो बार-बार कपड़े गीले करता था इसलिए मेरी नींद पूरी नहीं हो पाती थी, नींद की कमी से भी मेरा वज़न बढ़ने लगा. उस पर सोहम प्री-मैच्योर था इसलिए मैं उसका कुछ ज़्यादा ही ध्यान रखती थी.
* इस तरह मेरा वज़न 54 किलो से लगभग 72 किलो पहुंच गया. बढ़े हुए वज़न के कारण मुझे कमर दर्द की शिकायत भी होने लगी थी.

कब लगा कि अब वज़न कम करना ज़रूरी हो गया है? 
सोहम (बेटे) का जन्म 28 मई को हुआ और जुलाई की शुरुआत में जब मैंने अपना वज़न चेक किया, तो मैं हैरान रह गई. मेरा वज़न बढ़कर 72 किलो हो गया था. फिर 10 जुलाई से मैंने योगा करना शुरू किया था, लेकिन उससे भी बहुत ज़्यादा फर्क नहीं पड़ रहा था. मेरी बॉडी इतनी स्टिफ हो गई थी कि मैं कुछ भी नहीं कर पा रही थी. साथ ही मुझे कमर दर्द भी हो रहा था. मैंने डांस की प्रैक्टिस भी की, लेकिन मैं डांस कर ही नहीं पा रही थी. फिर जब मेरे बर्थडे (26 जुलाई) के दिन मेरी बहन और मां ने मुझसे कहा कि तुम्हारा वज़न कुछ ज़्यादा ही बढ़ने लगा है, तो ये मेरे लिए एक सिग्नल था. उसके बाद से मैंने फिटनेस की तरफ़ ध्यान देना शुरू कर दिया. सोहम के जन्म के ठीक 2 महीने बाद 28 जुलाई से मैंने जिम ज्वाइन कर लिया. हालांकि मैं जिम में बहुत कम टाइम ही बिता पाती थी, क्योंकि मुझे सोहम को दूध पिलाने के लिए जल्दी घर आना होता था. ब्रेस्ट फीडिंग की वजह से मैं वेट ट्रेनिंग तो कर नहीं सकती थी, इसलिए मैं जिम में ट्रेडमिल, क्रॉस ट्रेनर, कार्डियो वगैरह ही करती थी. कई बार मैं ब्रेस्ट पंप से उसके लिए दूध भी रखकर जाती थी. इसके अलावा ब्रेस्ट फीडिंग और डांस के कारण भी मेरा वज़न तेज़ी से कम हो रहा था.

आप क्या डांस की स्पेशल ट्रेनिंग ले रही हैं?
हां, मैं ओड़ीसी डांस सीख रही हूं. हफ्ते में तीन दिन मेरे गुरु सनातन चक्रवर्ती जी मुझे ओड़ीसी डांस सिखाते हैं. मुझे डांस करना बहुत पसंद है. डांस मेरे लिए पूजा की तरह है, इससे मुझे आध्यात्मिक शांति मिलती है. जब भी मैं डांस करती हूं, तो मैं ख़ुद को एक अलग ही दुनिया में पाती हूं. मेरे ख़्याल से डांस एक अच्छी एक्सरसाइज़ है और इससे बहुत ख़ुशी मिलती है. जिम, डांस, योगा, मेडिटेशन के साथ-साथ मैंने अपनी डायट पर भी ख़ास ध्यान देती हूं.

यह भी पढ़ें: बच्चों के न खाने के बहाने: सेलिब्रिटी मॉम के ईज़ी सॉल्यूशन

आपके पूरे दिन का डायट प्लान क्या होता है? (Deepika Singh’s Weight Loss Secrets)
डायटिंग का ये मतलब नहीं है कि ख़ुद को खाने इतना दूर कर लो कि आपकी इमयूनिटी ही ख़राब हो जाए. फिर कल को जब आप कोई चीज़ खाएं तो आपकी बॉडी उसे डाइजेस्ट ही न कर पाए. हर चीज़ खानी चाहिए, लेकिन लिमिट में. साथ ही रेग्युलर एक्सरसाइज़ भी करनी चाहिए, ताकि आपका खाना अच्छी तरह पच जाए. मैं बार-बार नहीं खाती. दिन में 3-4 बार ही खाती हूं, वो भी घर का बना नॉर्मल खाना.
* मैं सुबह छह बजे उठ जाती हूं. सुबह मैं एक बॉटल गर्म पानी में 1-2 टीस्पून दालचीनी पाउडर मिलाकर पीती हूं. ये शरीर के टॉक्सिन बाहर निकालकर शरीर की सफ़ाई का काम करता है. ये इतना अच्छा प्रयोग है कि इसे आप सफ़र के दौरान भी कर सकते हैं. मेरा पानी पीने का भी नियम है. मैं शाम चार बजे तक ख़ूब पानी पीती हूं, उसके बाद ज़रूरत के हिसाब से पीना पीती हूं.
* 8 बजे तक मैं नाश्ता कर लेती हूं. नाश्ते में पोहा या ओट्स में मूंगफली, फ्रूट्स वगैरह डालकर खाती हूं. इससे मैं फ्रूट्स भी उसी समय खा लेती हूं.
* हफ्ते में तीन दिन सुबह दस बजे मेरी डांस क्लास शुरू हो जाती है (हंसते हुए), वो भी सोहम के हिसाब से आगे-पीछे होती रहती है. बाकी के दिन मैं योगा कर लेती हूं. साढ़े ग्यारह बजे तक डांस या योगा करने के बाद मैं शिकंजी (नींबू पानी) या छाछ पीती हूं. मुझे लो बीपी की प्रॉब्लम है इसलिए मैं नमक-शक्कर वाला नींबू पानी पीती हूं. कुछ देर बाद मन हुआ तो सलाद ले लेती हूं, नहीं तो सीधे लंच करती हूं.
* एक-डेढ़ बजे तक मैं लंच कर लेती हूं. लंच में 2 रोटी, 2 सब्ज़ी (एक सूखी और एक रस वाली), दाल, दही, हरी मिर्च, प्याज़… बिल्कुल देसी स्टाइल में खाना खाती हूं मैं. आजकल हमारे घर में राजस्थान से टीट का अचार आया हुआ है, तो मैं अचार भी स्वाद लेकर खा रही हूं.
* शाम पांच बजे मैं चाय के साथ बिस्किट या खाखरा लेती हूं. कई बार चना या मूंगफली खा लेती हूं.
* घर में खाना चाहे कितने बजे भी बने मैं शाम सात बजे अपने लिए दो परांठे बनवा लेती हूं और उन्हें सब्ज़ी या दाल जो भी मिले उसके साथ खा जाती हूं. आजकल आम आए हुए हैं, तो आम के साथ भी खा जाती हूं. सात बजे मैं डिनर कर ही लेती हूं.
* मैं सोहम को ब्रेस्ट फीड कराती हूं इसलिए मुझे 10 बजे फिर भूख लग जाती है. उस समय मैं एप्पल शेक पीती हूं. उसमें मैं फ्लैक सीड्स भी डालती हूं. मुझे एप्पल शेक बहुत पसंद है.
* मैं शुरू से अच्छा खाना खाती हूं. मैंने कभी क्रैश डायट नहीं की. हां, खाना पचाने के लिए मैं रेग्युलर एक्सरसाइज़ हमेशा करती हूं.
* वेट लॉस को लेकर मेरा जो ऑब्ज़रर्वेशन रहा है, वो है टाइमिंग. यदि आप राइट टाइम पर राइट चीज़ें और राइट प्रपोर्शन में खाते हैं, तो आपका वज़न जल्दी घटता है. रागी की रोटी खाओ, घी-तेल मत खाओ… इन सबसे कहीं ज़्यादा ज़रूरी टाइम पर खाना है. आप जिस टाइम पर खाते हैं, रोज़ उसी टाइम पर खाइए. साथ ही ख़ूब पानी पीएं, मैं हमेशा से ख़ूब पानी पीती हूं. साथ ही एक्टिव रहना, रेग्युलर एक्सरसाइज़ करना भी उतना ही ज़रूरी है.
* फिट रहकर, सही डायट लेकर, रेग्युलर एक्सरसाइज़ करके हम बीमारियों से दूर रह सकते हैं, बढ़ती उम्र के संकेतों को कम कर सकते हैं और हमेशा कॉन्फिडेंट नज़र आ सकते हैं.

आपका मां बनने का अनुभव कैसा था?
सच कहूं तो दिया और बाती से भी ज़्यादा मेहनत मां बनने में लगी. मां बनना औरत के लिए एक तरह से ट्रांसफॉर्मेशन का टाइम होता है. आज जब मैं ये सब सोचती हूं तो मुझे बहुत ख़ुशी होती है. मैंने पहले से ही तय कर लिया था कि मेरी डिलीवरी नॉर्मल होगी, मैं बच्चे को अपना दूध ही पिलाऊंगी और उसे डायपर नहीं पहनाऊंगी. मैंने सोहम की देखभाल के लिए मेड नहीं रखी. मुझे डर लगता है कि वो हाइजीन का ख़्याल रखेगी या नहीं. पहले मैंने मेड रखने की कोशिश की थी, लेकिन मुझे उनका काम पसंद नहीं आया. एक बार तो सोहम को आंख में इंफेक्शन हो गया था. मेड्स बच्चे को डाइपर पहनाकर फ्री हो जाती हैं इसलिए मैं अपने बच्चे को उनके हवाले नहीं करना चाहती थी.

क्या प्रेग्नेंसी के दौरान आपको कोई हेल्थ प्रॉब्लम हुई थी?
जैसा कि मैंने पहले भी बताया कि प्रेग्नेंसी के दौरान मुझे थायरॉइड हो गया था, जिसके कारण मेरा वज़न तेज़ी से बढ़ने लगा था. इसके साथ ही मुझे आठवें महीने में ही पेन शुरू हो गए थे, जिसके कारण मुझे रेस्ट करने की सलाह दी गई और डिलीवरी को नौवें महीने तक पोस्टपोन किया गया. मेरी डिलीवरी मेहर अंबे नर्सिंग होम, मुलुंड (मुंबई) में हुई थी. डॉक्टर रीता ने प्रेग्नेंसी के दौरान मुझे हेल्दी डायट और फिट रहने में बहुत मदद की. वो मुझे बताती थी वॉक ज़्यादा किया करो इसलिए मैं खाना खाने के बाद वॉक करती थी. साथ ही उन्होंने मुझे प्रेग्नेंसी के दौरान योगा करने को भी कहा. इन सबसे मेरा वज़न बहुत ज़्यादा नहीं बढ़ा और मेरा स्टेमिना भी अच्छा हो गया. वॉक और योग के कारण डिलीवरी के बाद भी मुझे काफी मदद मिली. यदि आप एक्टिव नहीं हैं, तो आपका स्टेमिना कम हो जाता है, जिससे आप बीमार जैसे दिखने लगते हैं इसलिए प्रेग्नेंट महिलाओं को हमेशा एक्टिव रहना चाहिए. प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रीदिंग एक्सरसाइज़ बच्चे और मां को बहुत रिलैक्स करती है.

यह भी पढ़ें: एक्स बॉयफ्रेंड शरद मल्होत्रा ने रुलाया दिव्यांका त्रिपाठी को

Deepika Singh's Weight Loss Secrets
दीपिका सिंह के स्पेशल हेल्थ टिप्स
* जब भी मैं बहुत थक जाती हूं या मुझे लगता है कि मेरी बॉडी को रिलैक्सेशन की ज़रूरत है, तो मैं मेडिटेशन करती हूं. इससे मुझे बहुत अच्छा महसूस होता है.
* मैं बहुत ज़्यादा नहीं सोती. मैं सोने में नहीं, जीने में विश्‍वास करती हूं. मुझे उगता सूरज देखना अच्छा लगता है. सुबह की ताज़ा हवा अच्छी लगती है. मैं हमेशा जल्दी उठती हूं.
* 72 किलो से अब मैं फिर से 54 किलो की हो गई हूं इसलिए मैं बहुत ख़ुश हूं. 18 किलो वज़न घटाकर मैंने अपना टारगेट अचीव कर लिया है. अब मुझे इससे कम वज़न नहीं करना है इसलिए मैं इसे ही मेन्टेन करूंगी. अब मैं शेप में आ गई हूं इसलिए मैंने जिम जाना बंद कर दिया है. अब मैं अपने वज़न को डांस और योगा से बैलेंस कर रही हूं.
* मेटाबॉलिज़्म रेट का सीधा संबंध डायजेशन है. यदि आपका खाना ठीक से पच रहा है, तो आपका मेटाबालिज़्म भी ठीक रहेगा. इसीलिए बॉडी की सफ़ाई ज़रूरी है. दालचीनी पाउडर मिला गरम पानी यही काम करता है.
* मैं खाते समय हमेशा ये सोचती हूं कि आज न जाने कितने लोगों को खाना नहीं मिला होगा, ये सोच मुझे लिमिट में खाने में मदद करती है. आज हमारे पास पैसे ज़्यादा आ गए हैं, लग्ज़री ज़्यादा आ गई है, इसका ये मतलब नहीं कि हम उनका ग़लत फ़ायदा उठाएं.

दीपिका सिंह के ब्यूटी सीक्रेट्स
* मैंने अभी तक अपने बालों को कलर नहीं किया है. पहले कभी-कभार मैं बालों में मेहंदी लगा लेती थी, लेकिन पिछले 2 सालों से मेहंदी भी नहीं लगाई है. प्रेग्नेंसी के दौरान घरवाले कहते थे कि मेहंदी लगाने से कहीं तुमहें सर्दी न हो जाए. अब बच्चे के जन्म के बाद कहते हैं कि कहीं बच्चे को सर्दी न हो जाए इसलिए मैं अभी भी मेहंदी नहीं लगा रही हूं.
* बालों में कलर न करने की वजह ये है कि बाज़ार में भले ही अमोनिया फ्री हेयर कलर उपलब्ध हैं, लेकिन बालों में कलर प्रोटेक्ट करने के लिए जो शैंपू लगाना पड़ता है, उसमें तो केमिकल होता ही है. मैं अपने शरीर पर केमिकल का कम से कम इस्तेमाल करती हूं इसलिए मैं बालों में कलर करने से बचती हूं. मैं बालों के लिए हर्बल शैंपू इस्तेमाल करती हूं.
* शूटिंग के अलावा मैं मेकअप नहीं करती. स्किन केयर के लिए भी मैं देसी उबटन का ही इस्तेमाल करती हूं.
* मैं पल्सेस, चावल, कलौंजी और बादाम को पीसकर पाउडर बनाकर एयर टाइट कंटेनर में रख देती हूं. फिर बाथरूम में ये पाउटर एक बाउल में रखती हूं और इस उबटन को साबुन की तरह लगाकर नहाती हूं. नहाने में मुझे 15 मिनट लग जाते हैं, लेकिन ये संतुष्टि होती है कि मैंने अपने शरीर पर कोई केमिकल नहीं लगाया. बॉडी वॉश या साबुन लगाने के बाद कितना भी पानी डालो, वो बॉडी में रह ही जाता है. उबटन यदि शरीर पर रह भी जाए तो उसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता.
* मैं हल्दी, केसर, दूध, पपीता आदि से लेप बनाकर चेहरे पर लगाती हूं.
* इसके अलावा जब भी टाइम मिलता है, तो मैं आटे में सरसों का तेल मिलाकर बॉडी मसाज भी करती हूं, इससे त्वचा को ग्लो मिलता है.

यह भी पढ़ें: दर्शकों को ख़ूब हंसाते हैं ये सीरियल्स, बताइए कौन सा कॉमेडी सीरियल है आपका फेवरेट?

मैं अपना अतीत नहीं भूली हूं
मेरा बचपन पहाड़गंज में बीता है, जहां आज भी लोग पानी की किल्लत झेलते हैं. बचपन में जब मैं पहाड़गंज में रहती थी, तो हमारे यहां पानी के टैंकर आते थे. मेरी मां, मैं और मेरी बहनें तीसरी मंज़िल तक बाल्टी से पानी भरकर ले जाते थे. कई बार फिसल भी जाते थे. मैंने लाइट और पानी की बहुत दिक्कत देखी है इसलिए मैं इन्हें कभी वेस्ट नहीं करती. कई बार जब लाइट चली जाती थी, तो हम लैंप में पढ़ाई करते थे. मैं आज भी घर के किसी भी रूम की लाइट, पंखा या एसी कभी खुला नहीं छोड़ती. मैं अपना अतीत नहीं भूली हूं इसलिए आज भी मैं पानी ज़रा भी वेस्ट नहीं करती. मुझे ये लगता है कि मैं अपनी तरह से कोशिश करती रहूंगी. मुझे देखकर कुछ लोग भी बदल सकें, तो मेरे लिए ये बहुत बड़ी बात होगी.

– कमला बडोनी

Easy Ways To Lose Weight

वज़न घटाने (Easy Ways To Lose Weight) के लिए ज़रूरी नहीं की हैवी वर्कआउट ही किया जाए. यहां पर बताए गए आसान तरीक़ों से भी आप अपना वज़न कम कर सकते हैं.

1. रोज़ाना 1 ग्लास पानी में 1 टीस्पून एप्पल साइडर विनेगर मिलाकर पीने से वज़न कम होता है.

2. 100 ग्राम एप्पल साइडर विनेगर में केवल 22 कैलोरी होती है. लो कैलोरी वाला ड्रिंक पीना चाहते हैं, तो यह बेस्ट ऑप्शन है. इसे पीने से मेटाबॉलिज़्म तेज़ होता है और शरीर में जमा एक्स्ट्रा फैट बर्न होता है.

3. एप्पल साइडर विनेगर में एसिटिक एसिड होता है, जो फैट को बर्न करता है. रोज़ाना एप्पल साइडर विनेगर का सेवन करने से मोटापा कम होता है और मेटाबॉलिक सिंड्रोम से बचाता है.

4. एप्पल साइडर विनेगर को ड्रेसिंग के तौर पर लेने की बजाय अलग से पानी के साथ दिन में 1-2 बार लें.
कुछ अन्य तरीक़ों से भी कर सकते हैं वेट लॉस-

5. 1 कप टमाटर के जूस में 1 कप लो फैट दही, आधा टीस्पून नींबू का रस, चुटकीभर कालीमिर्च पाउडर, नमक और बारीक़ कटा हुआ अदरक डालकर ब्लेंड करें. रोज़ाना इस जूस को पीने से वज़न कम होता है.

और भी पढ़ें: वेट लॉस टिप ऑफ द डे: 8 इटिंग हैबिट्स फॉर वेट लॉस (Weight Loss Tip Of The Day: 8 Eating Habits For Weight Loss)

6. करौंदे का जूस रोज़ाना पीने से वज़न कम होता है. इस जूस को पीने से फैट बर्न होता है और मेटाबॉलिज़्म भी ठीक रहता है.

7. नियमित रूप से खाने में वर्जिन कोकोनट ऑयल का सेवन करें. चाहें तो सलाद में ड्रेसिंग के तौर पर भी यूज़ कर सकते हैं.

8. सुबह खाली पेट पत्तागोभी का जूस पीने से वेट लॉस होता है. यह शुगर व कार्बोहाइड्रेट्स को फैट्स में बदलने से रोकती है, जिससे वज़न कम होता है.

9. भुनी हुई हींग, काला नमक और जीरे को समान मात्रा में लेकर मिक्सर में पीस लें. दही के साथ दिनभर में दो बार इसका सेवन करें.

10. रोज़ाना सुबह गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पीने से वज़न कम होता है. चाहें तो उसमें एक चम्मच नींबू का रस भी मिला सकते हैं.

और भी पढ़ें:  वेट लॉस टिप ऑफ द डे: 5 स्मार्ट टिप्स फॉर वेट लॉस (Weight Loss Tip Of The Day: 5 Smart Tips For Weight Loss)

 – देवांश शर्मा

Weight Loss Tips

बदलती लाइफस्टाइल के कारण अधिकतर लोग बढ़ते वज़न (Weight) से परेशान हैं. वज़न बढ़ने का मतलब अन्य बीमारियों को भी न्योता देना. इसलिए समय रहते ही वज़न नियंत्रित करना बेहद ज़रूरी है. हम यहां पर ऐसे टिप्स (Tips) बता रहें हैं, जिन्हें अपनाकर आप अपना वेट लॉस (Weight Loss) कर सकते हैं.

१. वज़न कम करने के लिए फूलगोभी खाएं. फूलगोभी के पत्तों को सलाद के तौर पर खा सकते हैं. चाहें तो इन पत्तों को उबालकर भी खा सकते हैं.

२. क्रेनबेरी के जूस में स्वादानुसार नींबू का रस या ऐप्पल साइडर विनेगर .मिलाकर पीने से वज़न कम हाेता है.

३. 1 ग्लास गुनगुने पानी में आधा टीस्पून कालीमिर्च पाउडर, 1 टीस्पून शहद और 2-3 नींबू का रस मिलाकर पीने से वेट लॉस होता है.

४. टमाटर का सूप पीने से भी वज़न कम होता है. टमाटर को सलाद के तौर पर खा सकते

५. करेले का जूस पीने में थोड़ा कड़वा होता है, लेकिन नींबू का रस मिलाकर भी पी सकते हैं. इसे पीने से वेट लॉस होता है.

और भी पढ़ें: वेट लॉस टिप ऑफ द डे: 12 ईज़ी टिप्स फॉर वेट लॉस (Weight Loss Tip Of The Day: 12 Easy Tips For Weight Loss)

६. १ ग्लास पानी में नींबू का रस और अदरक का रस मिलाकर पीने से भी वज़न कम हाेता है. नींबू में माैजूद विटामिन सी पेट के अआसपास जमा फैट काे बर्न करता है.

७. वज़न कम करने के लिए लाैकी का जूस पीएं.

८.  हरी सब्ज़ियों का जूस भी वेटलॉस करने में मदद करता है. सप्ताह में २-३ बार हरी  सब्ज़ियों का जूस पीएं.

९. १ ग्लास पानी में २ टीस्पून जीरा भिगाेकर रखें. सुबह इस पानी काे उबालकर ठंडा करके पीएं और जीरेे काे चबाएं.

१०. २ टीस्पून अदरक का रस,  १ टीस्पून शहद और  २ टीस्पून ऐलाेवीरा पल्प मिलाकर राेज़ाना सुबह खाली पेट लेने से वेट लाॅस हाेता है.

और भी पढ़ें: वेट लॉस टिप ऑफ द डे: 6 स्वीट स्नैक्स फॉर वेट लॉस (Weight Loss Tip Of The Day: 6 Sweet Snacks For Weight Loss)

                                                                                  -देवांश शर्मा

Weight Loss Tips
वेट लॉस (Weight Loss) के दौरान ज़्यादातर लोग फाइबर लेने के चक्कर में माइक्रोन्यूट्रिशन जैसे- विटामिन, मिनरल्स लेना कम कर देते हैं, जिससे शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है. माइक्रोन्यूटिशन ऐसे पोषक तत्व होते हैं, जो वज़न कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. इन्ही माइक्रोन्यूटिशन्स में से एक विटामिन सी. खट्टे व रसीले फलों (Juicy Fruits) में विटामिन सी भरपूर होता है और इन फलों का सेवन करने से वेट लॉस होता है. आइए जाने कैसे.

  1. नींबू                            

Nimbu

विटामिन सी से भरपूर नींबू वेट लॉस में बहुत फ़ायदेमंद होता है. क्या आप जानते हैं कि 100 ग्राम नींबू में 53 मिलिग्राम विटामिन सी होता है. 1 ग्लास गुनगुने पानी में 1 टीस्पून नींबू का रस और 1 टीस्पून शहद मिलाकर सुबह-सुबह खाली पेट पीएं.

2. अमरूद

Guava
अधिकतर लोगों को यह बात मालूम भी नहीं होगी कि अमरूद लो कैलोरी फूड है. यह फाइबर से भरपूर होता है. इसे खाने के बाद लंबे समय तक पेट भरा रहता है. अमरूद इसमें विटामिन सी प्रचूर मात्रा में होता है. 100 ग्राम अमरूद में 223 मिलीग्राम विटामिन सी होता है. इसलिए वेट लॉस में अमरूद का सेवन करना चाहिए.  इसे फू्रट सलाद के तौर पर खा सकते हैं या फिर ऐसे भी खा सकते हैं.

और भी पढ़ें: वेट लॉस टिप ऑफ द डे: 4 बीटरूट जूस फॉर वेट लॉस (Weight Loss Tip Of The Day: 4 Beetroot Juice For Weight Loss)

3. संतरा

Orange
वेट लास के लिए संतरे को सुपर फूड्स माना जाता है. इसमें बहुत कम कैलोरी और फैट होता है, जो वज़न कम करने में मदद करता है. जी100 संतरे में 53. मिलिग्राम विटामिन सी होती है. संतरे का जूस पीने से अच्छा है कि संतरे को छीलकर ऐसे ही खाएं.

4. पपीता

papaya
पपीता केवल वेट लॉस के लिए ही नहीं, बल्कि अनेक बीमारियों में फ़ायदेमंद होत हैं. इसमें ऐसे एंटीऑक्सी डेंट्स होते हैं, जो वज़न कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. 100 ग्राम पपीते में 62 मिलिग्राम विटामिन होता है. इसे फ्रूट सलाद के तौर पर खा सकते हैं.

और भी पढ़ें: वेट लॉस टिप ऑफ द डे: 4 डिटॉक्स टी फॉर वेट लॉस (Weight Loss Tip Of The Day: 4 Detox Teas For Weight Loss)

– देवांश शर्मा

Tips For Weight Loss

1. वेट लॉस करना चाहते हैं, तो सुबह उठकर गुनगुने पानी में नींबू का रस मिलाकर पीएं. रोज़ाना पीने से वेट लॉस होगा.
2. रोज़ सुबह खाली पेट 1 ग्लास गुनगुने पानी में नींबू का रस और शहद मिलाकर पीने से वेट लॉस होता है.
3. नींबू पानी की तरह लेमन-जिंजर-हनी टी भी पी सकते हैं. पैन में 1 कप पानी गरम करें. उबलने पर आंच से उतार लें. 1-1 टीस्पून शहद और नींबू का रस डालकर अच्छी तरह मिक्स करें. इच्छानुसार चाहें, तो शक्कर भी मिला सकते हैं.
4. दिन में एक बार ग्रीन टी पीएं. इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स और कैफीन जैसे तत्व होते हैं, जो वज़न कम करने मदद करते हैं.

और भी पढ़ें: वेट लॉस टिप ऑफ द डे: 7 वेज़ टु लूज़ वेट (Weight Loss Tip Of The Day: 7 Ways To Lose Weight)

5. ग्रीन टी के अतिरिक्त चाहें तो ब्लैक टी भी पी सकते हैं.
6 वज़न कम करने के लिए 2 टीस्पून ऐलोवीरा जूस को 1 ग्लास पानी में मिलाकर पीएं.
7. रोज़ाना सुबह 10-12 करीपत्तों को खाने से भी वजन कम होता है. इन्हें 3-4 महिनों तक लगातार खाएं.
8. नींबू के रस में शहद व दालचीनी पाउडर मिलाकर लेने से वज़न कम करने में मदद मिलती है.

और भी पढ़ें: वेट लॉस टिप ऑफ द डे: 7 सीक्रेट्स ऑफ वेट लॉस (Weight Loss Tip Of The Day: 7 Secrets Of Weight Loss)

– देवांश शर्मा

 

घर के 5 काम करके आप आसानी से अपना वज़न घटा (Weight Loss) सकती हैं और ऐसा करना कोई मुश्किल काम नहीं है. आमतौर पर देखा गया है कि बहुत से लोग मोटापा कम करने के लिए स़िर्फ सूप या सलाद का सेवन करते हैं, लेकिन यह तरीक़ा सही नहीं है. इन तरीक़ों से फ़ायदे की जगह नुक़सान ही होता है. वज़न कम (Lose Weight) करने के लिए आहार में कैलोरी कम करना बहुत ज़रूरी है, परंतु इस तरह नहीं. आपको वज़न घटाने के लिए एक्सरसाइज़ भी करनी होगी.यदि आपके पास एक्सरसाइज़ करने के लिए समय नहीं है, तो आप घर के 5 काम करके अपना वज़न आसानी से घटा सकती हैं.

Household Work

घर के 5 काम करें और वज़न घटाएं
1) पोंछा लगाते समय 30 मिनट में 145 कैलोरी खर्च होती है जो ट्रेडमिल पर 15 मिनट दौड़ने के बराबर है.
2) कपड़े धोते समय 60 मिनट में 85 कैलोरी बर्न होती है जो 100 सिटअप करने के बराबर है.
3) खाना बनाते समय 60 मिनट में 150 कैलोरी खर्च होती है जो 15 मिनट एरोबिक्स करने के बराबर है.
4) डस्टिंग करते समय 30 मिनट में 180 कैलोरी खर्च होती है जो 15 मिनट तक साइकिल चलाने के बराबर है.
5) बिस्तर लगाते समय 15 मिनट में 66 कैलोरी बर्न होती है जो डेढ़ कि.मी. पैदल चलने के बराबर है.

यह भी पढ़ें: वेट लॉस टिप ऑफ द डे: 7 वेज़ टु लूज़ वेट (Weight Loss Tip Of The Day: 7 Ways To Lose Weight)

 

फूड कैलोरी काउंट
घर के कामों से वज़न घटाने के साथ-साथ आपको डायट का भी ध्यान रखना होगा. डायटिंग करते समय कुछ भी खाने से पहले आपको उसमें मौजूद कैलोरी की जानकारी होना बेहद ज़रूरी है, वरना आपकी सारी मेहनत बेकार जा सकती है. डायट और एक्सरसाइज़ के सही कॉम्बिनेशन से ही आप वज़न घटा सकती हैं. आइए, हम आपको बताते हैं कि किन चीज़ों में कितनी कैलोरी होती है, ताकि आप उस हिसाब से अपना डायट प्लान करें.

* डायटिंग के हिसाब से यदि नॉन वेज फूड का कैलोरी काउंट जानना चाहती हैं, तो आपको बता दें कि एक अंडे में 80 कैलोरी होती है और 60 ग्राम मटन, मछली और चिकन में लभगग 70 कैलोरी होती है.
* साउथ इंडियन डिशेज़ में तीन-चौथाई डोसा, डेढ़ इडली, 50 ग्राम पोहा, 60 ग्राम उपमा इन सभी में लगभग 100 कैलोरी होती है.
* डेयरी प्रॉडक्ट्स में 750 ग्राम छाछ में 100 कैलोरी होती है. इसी तरह 30 ग्राम चीज़, 180 मि.ली. गाय के दूध, 260 मि.ली. स्किम्ड मिल्क और 160 ग्राम दही में 100 कैलोरी होती है.
* 100 ग्राम उबले चावल में 100 कैलोरी होती है. 44 ग्राम फुलके और 40 ग्राम या 2 स्लाइस ब्रेड में 100 कैलोरी होती है.
* इसी तरह 140 ग्राम दही की कढ़ी, 100 ग्राम राजमा और 120 ग्राम सांभर में 100 कैलोरी होती है.
* एक कप पालक में 40 कैलोरी और एक कप ब्रोकली में 55 कैलोरी.

4 योगासन घटाते हैं वज़न, जानने के लिए देखें वीडियो:

 

Weight Loss Tip

  • अपने दिन की शुरुआत गुनगुना पानी पीने से करें. रोज़ाना गुनगुना पानी पीने से वेट लॉस होता है साथ ही मेटाबॉलिज़्म में भी सुधार होता है.
  • इसी तरह से दिन में लंच और खाना खाने के बाद गुनगुना पानी पीएं.
  • दिन में कम से अधिक से अधिक 5 बार गुनगुना पानी पीएं.
  • गुनगुने पानी में दालचीनी पाउडर मिलाकर पीने से वज़न तेज़ी से कम होता है.

ये भी पढ़ें7 क्विक वेट लॉस टिप्स (Weight Loss Tip Of The Day: 7 Quick Weight Loss Tips)

  • 1 ग्लास गुनगुने पानी में 1 टीस्पून शहद और चुटकीभर दालचीनी पाउडर मिलाकर पीने से फैट्स कम होता है और वेट लॉस होता है.
  • गुनगुने पानी में शहद और नींबू का रस मिलाकर पीएं. ऐसा करने से वज़न तुरंत कम होगा.
  • रात को गुनगुने पानी में ककड़ी के स्लाइस, पुदीने के पत्ते और अदरक का 1 टुकड़ा कद्दूकस करके डालें. सुबह उठकर पीने से वज़न कम होता है.

ये भी पढ़ें: 10 इफेक्टिव वेट लॉस टिप्स (Weight Loss Tip Of The Day: 10 Effective Weight Loss Tips)

           – देवांश शर्मा

Weight Loss Tip

क्या आप अपना वज़न तेज़ी से कम करना चाहते हैं, लेकिन लाख कोशिशों के बाद आपक वज़न कम नहीं हो रहा है, तो परेशान होने की ज़रूरत नहीं है. हम यहां पर आपको कुछ वेट लॉस टिप्स बता रहें, जिन्हें अपनाकर आप अपना वज़न कम कर सकते हैं.

1. मिश्री-सौंफ-साबूत धनिया का समान मात्रा में लेकर पीस लें. नियमित तौर पर सुबह खाली पेट और खाना खाने के बाद इस पाउडर को खाएं. इसे खाने से भी फैट्स कम होते हैं.
2. रातभर बेर के पत्तों को भिगोकर रखें. सुबह छानकर इस पानी को पीएं. लगातार पीने से वेट लॉस होता हैं
3. लौकी को उबालकर नमक मिलाकर खाने से भी वेट लॉस होता है.
4. 1 कप पानी में सौंफ, जीरा और साबूत धनिया मिलाकर गरम करें. 2-3 मिनट तक उबाल लें. छानकर पीएं. इस चाय को रोज़ाना पीने से वज़न कम होता है.

और भी पढ़ें: मोटापा कम करने के १० योगासन
5. 1 ग्लास पानी में 1 टीस्पून एप्पल साइडर विनेगर और आधे नींबू का रस मिलाकर रोज़ाना सुबह खाली पेट पीएं. एप्पल साइडर विनेगर वेट लॉस में फ़ायदेमंद होता है.
6. 1 कप पानी में सौंफ, जीरा और साबूत धनिया मिलाकर गरम करें. 2-3 मिनट तक उबाल लें. छानकर पीएं. इस चाय को रोज़ाना पीने से वज़न कम होता है.
7. 250 ग्राम सौंफ को 1-2 दिन धूप में सुखाएं. फिर भूनकर पीसकर पाउडर बना लें. छानकर रखें. नियमित रूप से 2 टीस्पून पाउडर गरम पानी के साथ सुबह-शाम लें.

और भी पढ़ें: 10 स्मार्ट ट्रिक्स फॉर वेट लॉस

                                                                                          – पूनम नागेंद्र शर्मा

वज़न कम करने के लिए ज़रूरी नहीं कि जिम में कड़ी मेहनत करके पसीना बहाया, डायट संबंधी बातों का ध्यान रखकर आप अपना वेट लॉस (Simple Tips For Weight Loss) कर सकते हैं. आइए जाने कैसे?

Simple Tips For Weight Loss

  • मैदेवाले ब्रेड व चावल की बजाय ब्राउन ब्रेड और ब्राउन राइस को अपने डायट में शामिल करें.
  • सलाद के रूप में गोभी के पत्ते कच्चे या फिर उबालकर खाएं.
  •  हर रोज़ सुबह लहसुन की 2-3 कलियां खाएं और उसके बाद नींबू पानी पीएं.
  • जौ व चने के आटे को मिक्स करके रोटी बनाएं और खाएं.
  • ब्रेकफास्ट में भले ही आप जूस, चाय-कॉफी आदि लें, पर इसके बाद दिनभर पानी को ही अपना मेन ड्रिंक बनाएं. दिन में जब भी प्यास लगे, तो पानी ही पीएं.

यह भी पढ़ें: 8 हेल्दी सूप्स फॉर वेट लॉस

  • पीतल के लोटे या किसी बर्तन में रातभर पानी रखें. सुबह उठकर खाली पेट इसे पीएं.
  • जूस पीने की बजाय फ्रूट्स खाएं. इससे आपको भूख कम लगेगी और आप
    कम खाएंगे.
  • पका हुआ नींबू और शहद मिलाकर पीने या चाटने से वेट लॉस होता है.
  • सलाद, कॉफी, सूप आदि में भी दालचीनी पाउडर मिलाकर सेवन करने से वज़न कम करने में मदद मिलती है.

यह भी पढ़ें: 6 बेस्ट फ्रूट्स फॉर वेट लॉस

 – देवांश शर्मा 

‘ये है मोहब्बतें’ की शगुन यानी अनीता हसनंदानी (Anita Hassanandani) छोटे पर्दे का एक मशहूर चेहरा हैं और ‘नागिन 3’ में जल्द ही उनका एक अलग अवतार देखने को मिलेगा. साल  2001 में ‘कभी सौतन कभी सहेली’ से टीवी की दुनिया में क़दम रखने वाली अनीता हसनंदानी एक्टिंग के अलावा अपनी फिटनेस और ग्लोइंग स्किन के लिए भी जानी जाती हैं. हालांकि अनीता आज जितनी फिट और ख़ूबसूरत नज़र आती हैं, उसके लिए उन्हें काफ़ी मेहनत करनी पड़ी है. चलिए जानते हैं वेट लॉस के लिए अनीता का एक्सरसाइज़ रूटीन और डायट प्लान.

Diet secret of Anita Hassanandani

वर्कआउट रूटीन
  • अनीता अपनी बॉडी के शेप को मेंटेन रखने के लिए जमकर पसीना बहाती हैं. जी हां, अपनी फिटनेस के लिए वो एक्सरसाइज़ और योगा करती हैं.
  • हर रोज़ सुबह उठने के बाद अनीता डीप ब्रिथिंग एक्सराइज़ करती हैं. वो सम वृत्ति, नाड़ी शोधन, कपाल भाति जैसे योग आसन करना पसंद करती हैं.
  • वेट लॉस के लिए वो हर दिन अलग-अलग तरह की एक्सरसाइज़ करती हैं. स्किपिंग, स्विमिंग, डांसिंग, वेट ट्रेनिंग, वॉकिंग और रनिंग जैसे एक्सरसाइज़ उनके डेली वर्कआउट रूटीन का हिस्सा हैं.
  • योग अभ्यास के बाद अनीता आधे घंटे के लिए वॉक करती हैं. अनीता बेली डांस भी करती हैं उनका मानना है कि इससे कमर लचीली और आकर्षक होती है.

 

यह भी पढ़ें: सेलिब्रिटी फिटनेस: जानें कैसे ख़ुद को फिट और मेंटेन रखती हैं ख़ूबसूरत सोनम कपूर 

डायट प्लान 

अनीता हसनंदानी फूड लवर हैं और खाने को देखकर वो ख़ुद को रोक नहीं पाती हैं. बावजूद इसके वो ख़ुद को आसानी से फिट और मेंटेन रख पाती हैं.

  • अनीता दिन में 5 बार खाती हैं. उनका मानना है कि बार-बार कुछ खाते रहने से भूख कम लगती है, जिससे लंच या डिनर में आप कम खाना खाते हैं और वज़न कंट्रोल में रहता है.
  • अनीता हसनंदानी को मीठा बहुत पसंद है. मीठा देखकर वो ख़ुद को कंट्रोल नहीं कर पाती हैं, लेकिन एक एक्ट्रेस होने के नाते वो इस बात का ख़ास ख़्याल रखती हैं कि उन्हें मीठा कितनी मात्रा में खाना है.
  • फूड लवर होने के साथ-साथ वो अपनी डायट का भी ख़्याल रखती हैं, लेकिन हफ्ते में एक दिन वो चीट डायट करती हैं जिसमें वो आम दिनों से ज़्यादा खाती हैं.
  • अनीता ब्रेकफास्ट में 2 अंडे खाती हैं और इसके साथ वो कोई भी एक साउथ इंडियन डिश जैसे उपमा, डोसा या इडली खाना पसंद करती हैं. लंच में वो 2 रोटी और उसके साथ ग्रिल्ड फिश और ताज़ा सब्ज़ी खाती हैं.
  • शाम के समय अनीता थोड़े से सूखे मेवों के साथ फिल्टर कॉफी पीना पसंद करती हैं. रात के डिनर में वो नॉनवेज खाने से परहेज़ करती हैं, क्योंकि यह आसानी से पचता नहीं है और वज़न बढ़ने का ख़तरा रहता है.

यह भी पढ़ें: सेलिब्रिटी फिटनेस: अपनी ख़ूबसूरती और फिटनेस को कैसे मेंटेन रखती हैं टीवी की नागिन मौनी रॉय

 

 

वेट लॉस के लिए एक्सरसाइज़ के साथ-साथ सही खानपान भी ज़रूरी है. अगर आप भी वेट लॉस करना चाहते हैं, तो पीएं ये हेल्दी सूप्स (Healthy Soups For Weight Loss).Weight Loss Tip, Healthy Soups For Weight Loss

  • वज़न घटाने के लिए शिमला मिर्च का सूप भी बेहद फ़ायदेमंद है. यह कैलोरी बर्न करने के साथ-साथ कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करता है.
  • भोजन से पहले कच्चा टमाटर या टोमैटो सूप पीएं.
  • रोज़ाना सुबह एक ग्लास लौकी का जूस पीएं, पर जूस को छाने नहीं. छानने से इसमें मौजूद फाइबर निकल जाता है. फाइबर से भरपूर लौकी का जूस पीने से पेट भरा रहता है और भूख भी जल्दी नहीं लगती.

इसे भी पढ़ें: 6 बेस्ट फ्रूट्स फॉर वेट लॉस 

  • लौकी के जूस में पुदीने या तुलसी के पत्तों का रस मिलाकर पीने से वज़न जल्दी कम होता है.
  • 2 टीस्पून एलोवीरा के जूस में मेथी के पत्तों का रस मिलाकर रोज़ाना पीने से वज़न कम होगा.
  • करेले का जूस पीने में कडुवा होता है, लेकिन यह जूस शरीर में जमा फैट्स को बर्न करने में मदद करता है.
  • वेटलॉस करने में खीरे का जूस अहम् भूमिका निभाता है. इससे न केवल वज़न कम होता है, बल्कि स्किन भी शाहनी होती है.
  • रोज़ाना 1 ग्लास पत्तागोभी का जूस पीएं. पत्तागोभी के जूस में फैट्स कम करनेवाली प्रॉपर्टीज़ होती हैं, जिनसे वेटलॉस होता है.

इसे भी पढ़ें: 8 ट्रिक्स फॉर वेट लॉस 

 – देवांश शर्मा