what are the benefits of an...

एजुकेशन लोन (Education Loan) न केवल उच्च शिक्षा के लिए धन उपलब्ध कराता है, बल्कि अन्य लाभ भी प्रदान करता है. एजुकेशन लोन लेने के क्या-क्या फ़ायदे (Benefits) हैं, आइए हम आपको बताते हैं.

1. बाकी लोन के मुक़ाबले एजुकेशन लोन बहुत जल्दी और आसानी से मिलता है.

2. इसकी मदद से आप अपने मनचाहे कोर्स को पूरा कर अपना सपना साकार कर सकते हैं.

3. अगर आपके पास बैंक जाने का समय नहीं है, तो आप उस बैंक की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन भी इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं.

4. एजुकेशन लोन पर दिए जानेवाले ब्याज की राशि को आप इन्कम टैक्स में जोड़कर इन्कम टैक्स रिटर्न फाइल करने में अगले आठ सालों तक रियायत पा सकते हैं.

5. जिसके नाम पर एजुकेशन लोन लिया जा रहा है, वह आयकर की धारा 80 ई के अंतर्गत लोन के दिए जानेवाले पूरे ब्याज पर डिडक्शन का दावा कर सकता है.

6. व्यक्तिगत सफलता के अलावा इसके कारण देश में सारक्षता दर में भी बढ़ोतरी हुई है.

और भी पढ़ें: ऐसे पढ़ाई के साथ करें कमाई भी (Earn While You Learn)

7. जाने-माने शिक्षण संस्थान में दाख़िला लेने पर कई राष्ट्रीय बैंक एजुकेशन लोन में डिस्काउंट भी देते हैं. इसलिए किसी भी बैंक में एजुकेशन लोन लेने से पहले उनकी प्रायोरिटी लिस्ट ज़रूर देख लें.

8. कई बैंक ग्राहकों को लुभाने के लिए एजुकेशन लोन के साथ-साथ इंश्योरेंस भी देते हैं, जिसके लिए आपको मासिक प्रीमियम भरना होता है या फिर वह फ्री होता है.

9. ञ्च् चार लाख तक के लोन पर कोई ब्याज़ नहीं देना पड़ता. इसके अलावा आपको कोई सिक्योरिटी भी नहीं देनी पड़ती.

10. कुछ लोग एजुकेशन लोन की बजाय पर्सनल लोन लेते हैं, क्योंकि एजुकेशन लोन में लिमिटेशन होता है और उन्हें उससे ज़्यादा अमाउंट चाहिए होता है. यहां ध्यान देनेवाली बात यह है कि एजुकेशन लोन के ब्याज़ की दर पर्सनल लोन के मुक़ाबले बहुत कम होती है और एजुकेशन लोन में पर्सनल लोन की बजाय रीपेमेंट ऑप्शन्स ज़्यादा हैं.

11. कोर्स ख़त्म होने के सालभर बाद या नौकरी मिलने के छह महीने बाद आपके रीपेमेंट की प्रक्रिया शुरू हो जाती है. लोन चुकाने के लिए आपको पांच से सात साल का समय दिया  जाता है.

और भी पढ़ें: एजुकेशन लोन की एबीसी ( ABC Of Education Loan)

– अनीता सिंह

Paramparik Mehendi Design

Paramparik Mehendi Design (E-Book)

Rs.30
Paneer Recipe

Paneer Recipe (E-Book)

Rs.30

Non Veg Recipe (E-Book)

Rs.30