Tag Archives: Wonderful Benefits Of Banana

केले के 20 चमत्कारी फ़ायदे (20 Surprising Health Benefits Of Bananas)

केला (Bananas) एनर्जी लेवल को काफ़ी बढ़ाता है. दुनियाभर में तीन सौ से भी अधिक क़िस्म के केले पाए जाते हैं. इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन्स होते हैं. यह आयरन, पोटैशियम, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, विटामिन ए से भरपूर होता है. आयुर्वेद के अनुसार पका केला शीतल, वीर्यवर्द्धक, भूख-प्यास, आंखों से संबंधित बीमारियों आदि को दूर करता है. रिसर्च के अनुसार केले के सेवन से तनाव, डिप्रेशन में भी राहत मिलती है. नियमित रूप से एक केला खाने से न केवल शरीर स्वस्थ रहता है, बल्कि बीमारियां भी पास नहीं आतीं. 

 Health Benefits Of Bananas

* यदि कब्ज़ की परेशानी है, तो केले का सेवन लाभदायक है, क्योंकि यह आंतों की अच्छी तरह से सफ़ाई कर देता है. इसे दही के साथ खाएं.

* यदि मुंह में छाले हों, तो गाय के दूध से बनी दही में केला मिलाकर खाएं.

* लूज़ मोशन यानी दस्त होने पर पके हुए केले को मैश करके मक्खन की तरह बनाकर उसमें मिश्री के कुछ दाने मिलाकर दिनभर में दो-तीन बार लेने से आराम मिलता है.

* गैस की समस्या होने पर रोज़ रात को सोने से पहले ईसबगोल या दूध के साथ केला खाएं.

* खांसी की तकलीफ़ होने पर पके हुए केले को काटकर उसमें शक्कर मिलाकर ढंक दें. इसे गर्म पानी में थोड़ी देर डुबोकर रखें. फिर इसे शरबत की तरह पी लें. खांसी में काफ़ी आराम मिलेगा.

यह भी पढ़े: बहरापन  दूर करने के 15 आसान उपाय (15 Home Remedies For Deafness)

* यदि आंतों में सूजन है, तो केले का नियमित सेवन करने से यह समस्या दूर हो जाती है.

* यदि जल जाएं, तो उस स्थान पर केले का पल्प लगाएं. तुरंत आराम मिलेगा.

* दाद, खाज-खुजली होने पर केले को मसलकर उसमें नींबू का रस मिलाकर लगाएं. तुरंत आराम मिलता है.

* शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी हो यानी एनीमिया की समस्या हो, तो प्रतिदिन नियमित रूप से केले खाएं.

* श्‍वेत प्रदर की तकलीफ़ होने पर हर रोज़ एक केला एक चम्मच देसी घी के साथ सुबह-शाम सेवन करने से लाभ होता है.

* यदि शरीर में ख़ून की कमी हो, तो हर रोज़ सुबह दो-तीन केले खाएं और इलायचीवाला दूध पीएं.

* यदि अस्थमा यानी दमा की समस्या हो, तो केले को छिलके के साथ काटकर उसमें कालीमिर्च पाउडर व नमक लगाकर रातभर चांदनी में रखें. सुबह इस केले को आग में भूनकर खाने से अस्थमा में लाभ होता है.

* यदि नाक से रक्त निकलने लगे यानी नकसीर फूटने की समस्या होने पर एक पका केला शक्कर मिले दूध के साथ नियमित रूप से खाने पर हफ़्तेभर में आराम मिल जाता है. इसके अलावा नकसीर की समस्या भी दूर हो जाती है.

यह भी पढ़े: प्रेग्नेंसी में होनेवाली उल्टी के लिए 9 होम रेमेडीज़ (9 Effective Home Remedies For Vomiting During Pregnancy)

* सूखी खांसी या फिर पुरानी खांसी की तकलीफ़ हो, तो दो केले को मिक्सर में पीसकर उसमें दूध व इलायची मिलाकर शर्बत की तरह पीएं.

* नियमित रूप से केला खाते रहने से किडनी के कैंसर का ख़तरा कम हो जाता है.

* चोट या खरोंच आने पर उस जगह पर केले का छिलका बांध दें.

* यदि आप दुबले-पतले हैं और अपना वज़न बढ़ाना चाहते हैं, तो हर रोज़ एक ग्लास दूध के साथ दो पके हुए केले खाएं.

* चेहरे के ग्लो के लिए केले के पल्प को चेहरे पर लगाकर थो़ड़ी देर बाद चेहरा धो लें.

* एक्सरसाइज़ करने के आधे घंटे पहले एक केला खाने से वर्कआउट्स करने पर होनेवाली थकान नहीं होती और एनर्जी लेवल भी अच्छा रहता है.

सुपर टिप

केले में विटामिन ए अधिक मात्रा में होता है, इस कारण हर रोज़ एक केला खाने से आंखों की रोशनी तेज़ होती है.

– ऊषा गुप्ता

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazan

औषधीय गुणों से भरपूर केला (Health Benefits of Banana)

Health Benefits of Banana

Health Benefits of Banana

केले (Health Benefits of Banana) में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन, आयरन, मैग्नीशियम व विटामिन बी 6 है. केला खाने से कब्ज़ व गैस की समस्या दूर होती है. हर रोज़ केले व दूध का सेवन करने से तंदुरुस्ती बढ़ने के साथ-साथ शरीर में ख़ून की मात्रा भी बढ़ती है. केले में पाए जानेवाले फाइबर से पाचन क्रिया अच्छी रहती है. यह खून को पतला कर धमनियों में ख़ून के संचालन को भी ठीक करता है. दरअसल, इसमें पाया जानेवाला मैग्नीशियम शरीर में जाकर रक्त में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है. कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होने से धमनियों में रक्त का संचालन सही रहता है.

* पीलिया यानी जॉन्डिस के मरीज़ को कच्चा या अधपका केला खिलाने से फ़ायदा होता है.

* पेचिश होने पर पके केले को मसलकर नमक और पिसा जीरा मिलाकर मरीज़ को खिलाएं.

* जीभ पर पड़े छालों को दूर करने के लिए दो-तीन दिन तक लगातार सुबह दही के साथ केला खाएं और इसके बाद ही कुछ खाएं. छाले ठीक हो जाएंगे.

* सूखी खांसी होने पर दो केले को मिक्सर में पीसकर उसमें दूध व स़फेद इलायची मिलाकर पीने से राहत मिलती है.

* यदि प्रदर रोग की समस्या हो, तो केला व दूध की खीर बनाकर हर रोज़ सुबह-शाम खाएं या फिर भोजन करने के बाद दो केले नियमित रूप से लें.

* दस्त यानी लूज़ मोशन होने पर पके हुए केले को मक्खन की तरह फेंटकर उसमें थोड़ी-सी कुछ दाने मिश्री मिलाकर दिनभर में दो-तीन बार खाने से राहत मिलती है.

* यदि चोट लग जाए और ख़ून बंद न हो, तो वहां पर केले के डंठल का रस लगाएं या फिर केले का छिलका लगाने से भी लाभ होता है.

यह भी पढ़े: तिल के 11 अमेज़िंग हेल्थ बेनिफिट्स

* बेचैनी व घबराहट होने पर पके हुए केले (Health Benefits of Banana) को फेंटकर उसमें एक टीस्पून मिश्री व एक छोटी इलायची पीसकर मिलाएं और खाएं.

* दाद होने पर केले के गूदे को नींबू के रस में पीसकर पेस्ट बनाकर दाद पर लगाएं.

* अल्सर की शिकायत होने पर कच्चा केला खाने से लाभ होता है.

* यदि आपको बार-बार यूरिन होने की समस्या है, तो केले के रस में घी मिलाकर पीएं.

* जलने पर केले को मसलकर जले हुए स्थान पर लगाएं.

* छोटे बच्चे को दस्त हो, तो पके केले को इतना घोंटें कि वह मक्खन की तरह पतला हो जाए और इसे बच्चे को चटा दें. दस्त बंद हो जाएगा.

* पके केले को घी के साथ खाने से पित्त रोग तुरंत शांत होता है.

* एक पका हुआ केला मीठे दूध के साथ लगातार आठ दिन तक सेवन करने से नकसीर की समस्या दूर हो जाती है.

* दो केले को एक टीस्पून शहद में मिलाकर खाने से सीने के दर्द में आराम मिलता है.

* बाल गिरने की समस्या होने पर केले के गूदे में नींबू का रस मिलाकर बालों में लगाएं.

यह भी पढ़े: बदहज़मी दूर करने के 20 कारगर उपाय

सुपर टिप

ब्लड प्रेशर की समस्या होने पर नियमित रूप से केला खाएं. यह रक्त की अशुद्धियों को दूर करने के साथ-साथ शरीर में रक्त के बहाव को भी सही करता है.

रिसर्च

रिसर्च के अनुसार, अवसाद यानी डिप्रेशन के मरीज़ों के लिए केला फ़ायदेमंद है. दरअसल, केले में ऐसे प्रोटीन पाए जाते हैं, जो शरीर को रिलैक्स करते हैं. इसी कारण डिप्रेशन के मरीज़ जब भी केला खाते हैं, तो उन्हें आराम मिलता है.

हेल्थ अलर्ट

केला फ़ायदेमंद तो है, पर इसमें कुछ परहेज़ भी रखें.

* रात में केला न खाएं.

* केला खाने के बाद पानी न पीएं.

* पाचनशक्ति कमज़ोर होने पर इसे न खाएं.

* गठिया और डायबिटीज़ के मरीज़ भी इसे न खाएं.

* केला खाली पेट न खाकर भोजन के बाद ही खाएं, तो अधिक लाभप्रद होगा, क्योंकि यह कब्ज़नाशक और पाचक दोनों है.

– नरेंद्र भुल्लर

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazana