Tag Archives: World Cancer Day

वर्ल्ड कैंसर डे 2019: कैंसर से बचने के आसान घरेलू उपाय (World Cancer Day 2019: How To Cure Cancer Naturally)

क्या आप जानते हैं कि हमारे देश में कैंसर (Cancer) के रोगियों की संख्या लगातार बढ़ रही है? क्या आप जानते हैं कि भारत में हर वर्ष मुंह और गले के कैंसर से पीड़ित 10 लाख रोगी सामने आ रहे हैं? इनमें से आधे मरीज़ों की मृत्यु रोग की पहचान देर से होने से होती है. इसी तरह स्तन, फेफड़े, सर्वाइकल कैंसर से पीड़ित रोगियों की संख्या में भी कोई कमी नहीं है. कैंसर के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए विश्‍व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) हर साल 4 फरवरी को वर्ल्ड कैंसर डे (World Cancer Day) मनाता है. कैंसर से बचना आसान है, बशर्ते हम अपनी लाइफ स्टाइल सही रखें और सेहत से जुड़े संकेतों पर ध्यान दें.

World Cancer Day

शरीर के संकेतों को समझें
कैंसर की शुरुआत में शरीर के किसी भाग में असामान्य सेल ग्रोथ होती है. यह सेल ग्रोथ धीरे-धीरे अन्य अंगों तक भी पहुंच जाती है. 35 से 50 वर्ष की उम्र के दौरान सिगरेट, शराब, मोटापा, जंक फूड, प्रदूषण आदि के कारण कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है. कैंसर के एक तिहाई मामले शुरुआती दौर में पता चल जाने पर ठीक हो जाते हैं. अतः सेहत के प्रति सतर्क रहें और शरीर में होने छोटे-छोटे बदलावों या सेहत से जुड़े संकेतों को नज़रअंदाज़ न करें.

इस हेल्थ ड्रिंक से कैंसर को दूर भगाएं, देखें वीडियो: 

कैसे करें कैंसर के संकेतों की पहचान?
कैंसर के अधिकतर रोगियों के न बच पाने की सबसे बड़ी वजह है रोग का सही समय पर पता न चलना. यदि बीमारी का पता पहली स्टेज में ही चल जाए, तो मरीज को बचाना आसान हो जाता है. अतः कैंसर से बचने के लिए इसके संकेतों पहचानना बहुत ज़रूरी है. आइए, जानते हैं कैंसर के लक्षणों के बारे में.

1) पेशाब में खून आना
यदि पेशाब में से खून निकले, तो ये ब्लैडर या किडनी कैंसर का संकेत हो सकता है. ऐसा इंफेक्शन के कारण भी हो सकता है, फिर भी डॉक्टर की सलाह लेना ज़रूरी है.

2) तिल या मस्से जैसा निशान
यदि शरीर पर अचानक तिल या मस्से जैसा निशान उभर आए, तो उसे नज़रअंदाज़ न करें. ये तिल या मस्सा ही हो ये ज़रूरी नहीं, ये कैंसर का लक्षण भी हो सकता है.

3) गांठ उभर आना
यदि शरीर के किसी भी हिस्से पर गांठ महसूस हो, तो उस पर ध्यान ज़रूर दें. हालांकि हर गांठ कैंसर का संकेत नहीं होती, लेकिन उसे नज़रअंदाज़ करना ख़तरनाक हो सकता है. ख़ासकर स्तन में गांठ हो, तो डॉक्टर को ज़रूर बताएं.

4) घाव का न भरना
यदि कोई जख़्म लंबे समय तक नहीं भरता, तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए और डॉक्टर से इसकी जांच करवानी चाहिए.

5) बेवजह वजन घटना
वज़न घटना भी कैंसर का संकेत हो सकता है. वयस्कों का वज़न आसानी से नहीं घटता. कोई यदि बिना वजह दुबला होता जा रहा है, तो उसकी वजह जानना बेहद ज़रूरी है.

6) पाचन में तकलीफ़
पाचन में तकलीफ़ होना भी सामान्य बात नहीं है. यदि आपको लगातार पाचन में दिक्कत हो रही है, तो डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करें.

7) निगलने में दिक्कत
यदि आपको निगलने में दिक्कत हो रही है और ऐसा लगातार हो रहा है, तो इसे हल्के में न लें. ये गले के कैंसर का संकेत भी हो सकता है. ऐसी स्थिति में डॉक्टर के पास अवश्य जाएं.

8) दर्द में सुधार न होना
हालांकि हर दर्द कैंसर का संकेत नहीं होता, लेकिन दर्द में यदि कोई सुधार न हो यानी दर्द लगातार बरकरार रहे, तो ये कैंसर भी हो सकता है. अत: शरीर के किसी भी अंग में लगातार दर्द होने पर उसकी जांच अवश्य कराएं.

9) पीरियड्स का न रुकना
यदि पीरियड्स के बाद भी लगातार ब्लीडिंग होती रहे, तो इसे नज़रअंदाज़ न करें, महिलाओं के लिए ये संकेत सही नहीं है. ये सर्वाइकल कैंसर का संकेत भी हो सकता है.

यह भी पढ़ें: दमा के मरीज़ क्या खाएं, क्या न खाएं (Diet Guide For Asthma Patients)

World Cancer Day 2019

कैसे से बचने के 20 प्राकृतिक तरीके
कैंसर से बचना आसान है, यदि इसके संकेतों को जल्दी पहचान लिया जाए. कैंसर के जिन मरीज़ों की पहचान पहली स्टेज पर हो जाती है, उन्हें आसानी से बचाया जा सकता है. अतः कैंसर से बचाव के लिए सकर्त और सचेत रहना बहुत ज़रूरी है.

1) हरी पत्तेदार सब्ज़ियों का अधिक से अधिक सेवन करें. साथ ही फूलगोभी, पत्तागोभी, टमाटर, एवोकाडो, गाजर जैसे फल और सब्ज़ियों को अपनी डायट में ज़रूर शामिल करें.
2) खाने में तेल का प्रयोग कम करें. हो सके तो ऑलिव ऑयल में खाना बनाएं.
3) अपना वज़न कंट्रोल में रखें. मोटापे के कारण कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है.
4) प्रदूषण से ख़ुद को बचाने की कोशिश करें, क्योंकि प्रदूषण के कारण भी कैंसर हो सकता है.
5) रात में जल्दी सोएं और सुबह जल्दी उठें. साथ ही आठ घंटे की पर्याप्त नींद लें.
6) सिगरेट, शराब, गुटका, पान मसाला आदि से दूर रहें.
7) नियमित रूप से एक्सरसाइज़, योग व मेडिटेशन करते रहें. ये कैंसर से बचने का बहुत ही कारगर उपाय है.
8) यदि परिवार में ब्रेस्ट कैंसर की हिस्ट्री है, तो नियमित रूप से चेकअप ज़रूर करवाएं.
9) नमक सीमित मात्रा में खाएं. नमक के अधिक सेवन से पेट का कैंसर होने की संभावना रहती है.
10) शक्कर का सेवन भी कम करें. शक्कर का ज़रूरत से ज़्यादा सेवन मोटापे के साथ ही कैंसर का कारण भी बन सकता है.

10 आदतें बिगाड़ सकती हैं आपकी किडनी की सेहत, देखें वीडियो:

11) इलेक्ट्रोनिक चीज़ों का कम से कम प्रयोग करें.
12) रोज़ 4 से 6 बादाम खाने से शरीर में कैंसर नहीं होता तथा शरीर व दिमाग़ भी स्वस्थ रहता है.
13) दांत, कान, आंख, मलद्वार, मूत्रद्वार तथा त्वचा की अच्छी तरह सफ़ाई करें. ऐसा न करने से भी कैंसर होने की संभावना रहती है.
14) बारीक आटा, चावल, मैदा तथा रिफाइंड ऑयल का ज़रूरत से ज़्यादा सेवन करने से भी कैंसर रोग हो सकता है. अत: इनका कम से कम प्रयोग करें.
15) साफ़-सुथरे वातावरण में अधिक से अधिक रहें.
16) साल में एक-दो बार किसी हिल स्टेशन की सैर अवश्य करें.
17) भावनात्मक रूप से मज़बूत बनें, क्योंकि भावुक होना भी कैंसर को न्योता देना है.
18) इसी तरह तनाव से दूर रहने की कोशिश करें.
19) चाय-कॉफी का अधिक सेवन न करें.
20) मांसाहार से परहेज़ करें, ख़ासकर रेड मीट का सेवन न करें.

यह भी पढ़ें: सेहत का हाल बताता है मुंह (What Your Mouth Says About Your Health)

World Cancer Day 2019

कैंसर से बचने के 20 आसान घरेलू उपाय

हमारे किचन में ही ऐसी कई चीज़ें मौजूद होती हैं, जिनके सेवन से हम कैंसर से दूर रह सकते हैं. कौन-सी हैं वो चीज़ें? आइए, जानते हैं.

1) तुलसी
तुलसी को कैंसर किलर कहा जाता है. तुलसी के नियमित सेवन शरीर के अनेक रोग समाप्त हो जाते हैं. अत: हर रोज़ तुलसी के 2 या 3 पत्ते अवश्य खाएं. ऐसा करने से आपको कैंसर तो क्या ज़ुकाम भी नहीं होगा.

2) गाय का दूध
गाय के दूध में इतनी शक्ति होती है कि ये हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के साथ ही हमें कई रोगों से भी बचाता है. गाय के दूध के नियमित सेवन से आप कैंसर को अपने जीवन से दूर रख सकते हैं.

3) हल्दी
हल्दी का हमारे भोजन में विशेष स्थान है और इसका प्रयोग शुभ कार्यों में भी किया जाता है. हल्दी एक बेहतरीन एंटीसेप्टिक है इसलिए इसका नियमित प्रयोग अवश्य करें. हल्दी का रोज़ाना सेवन कैंसर से बचने का आसान घरेलू उपाय है.

4) पानी
पानी ख़ूब पीएं. दिनभर में कम से कम 3 से 5 लीटर पानी ज़रूर पीएं. हां, गंदे पानी के सेवन से बचें, क्योंकि इसके प्रयोग से कैंसर हो सकता है. अत: स्वच्छ व शुद्ध पानी ही पीएं. इसके अलावा रात में तांबे के बर्तन में पानी भरकर रखें. इसमें 3 या पांच तुलसी के पत्ते डाल दें. सुबह खाली पेट यह पानी पीएं. कैंसर से बचने का यह एक कारगर नुस्खा है.

5) पुदीना
पुदीना यानी मिंट में ऐसे रासायनिक तत्व पाये जाते हैं जिनमें कैंसर के लिए ज़िम्मेदार फ्री रेडिकल्स से लड़ने की शक्ति होती है. पुदीना का नियमित प्रयोग करके कैंसर से आसानी से बचा जा सकता है.

6) नीम
नीम को आयुर्वेद में सर्व रोग नाशक कहा गया है. नीम में कैंसर से लड़ने की भी ताक़त होती है. कैंसर के रोगी को यदि रोज़ नीम के 8-10 पत्ते खिलाए जाएं, तो उसकी सेहत में जल्दी ही सुधार होने लगता है.

7) सोया
सोया कैंसर से लड़ने में प्रभावशाली होता है. सोया में मौजूद ओमेगा 3 शरीर में पोषक तत्व पहुंचाकर कैंसर के शुरुआती लक्षणों को पहले ही रोक दाता है इसलिए भोजन में सोया का अधिक से अधिक प्रयोग करें. यह टयूमर को बढ़ने नहीं देता और उसके आकार को भी घटाता है.

8) दही
दही आंतों में होने वाले कैंसर से बचाता है.
दही में मौजूद बैक्टीरिया कैंसर से लड़ने में मददगार होते हैं. ये शरीर में कैंसर को बढ़ने से रोकते हैं.

9) नारियल पानी
नारियल पानी के सेवन में आंतों और लीवर के कैंसर में फायदा मिलता है. साथ ही ये कैंसर की संभावना को भी कम करता है. अत: नियमित रूप से नारियल पानी का सेवन करें.

10) बेल
बेल का जूस भी कैंसर को रोकने में प्रभावी है. बेल के जूस का सेवन करने से ब्लड कैंसर और हड्डियों के कैंसर का प्रभाव कम हो जाता है.

नाभि में छिपे हैं ये 12 हेल्थ सीक्रेट्स, देखें वीडियो:

11) गाजर
गाजर का सेवन सेहत के लिए जितना फ़ायदेमंद है, कैंसर की रोकथाम के लिए भी उतना ही असरदार है. गाजर को सलाद की तरह खाएं या इसका जूस नियमित रूप से पीएं.

12) टमाटर
टमाटर में मौजूद प्रोटीन शरीर में कैंसर के प्रभाव से होने वाले खतरों को कम करता है इसलिए अपने डेली डायट में टमाटर का प्रयोग अवश्य करें. साथ ही टमाटर का सलाद, सूप आदि का भी सेवन करें.

13) पत्तागोभी
पत्तागोभी भी कैसर को रोकने में मददगार है इसलिए पत्तागोभी का भी नियमित सेवन करते रहें.

14) लहसुन
कैंसर के रोगी के लिए लहसुन एक उपयोगी औषधि की तरह है. कैंसर के रोगी को यदि लहसुन को पीसकर पानी में घोलकर पीने के लिए दिया जाए, तो इससे कैंसर के रोग में बहुत फ़ायदा होता है. कैंसर से बचने के लिए लहसुन का पानी कोई भी पी सकता है.

15) कलौंजी
कलौंजी भी कैंसर की रोकथाम में कारगर है. इसमें मौजूद कैरोटिन कैंसर के प्रभाव को शरीर में ही नहीं देता. अत: कलौंजी का नियमित प्रयोग करते रहें.

16) ग्रीन टी
एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर ग्रीन टी शरीर के अंदर की गंदगी को ख़त्म करती है और कैंसर के सेल्स को खत्म करने में मदद करती है.

17) चुकंदर
चुंकदर का आधा कप जूस दिन में 2 से 3 बार पीने से कैंसर को शुरुआत में ही रोका जा सकता है. चुकंदर ब्लड कैंसर से होने वाले प्रभावों से शरीर की रक्षा करता है.

18) नींबू
नींबू का रस कैंसर रोगी के लिए बहुत फ़ायदेमंद है. इसके सेवन से कैंसर में फ़ायदा मिलता है.

19) अंगूर
अंगूर का सेवन या अंगूर का जूस पीना भी कैंसर से बचाव का कारगर उपाय है.

20) अदरक
अदरक का रस दिन में दो बार रोज़ान दो चम्मच की मात्रा में लेने से कैंसर में बहुत लाभ होता है.

यह भी पढ़ें: जानिए किन कारणों से होता है डायबिटीज़? (Diabetes Causes: How Do You Get Diabetes)