Young Look

हम सभी हमेशा जवां रहना चाहते हैं, लेकिन आजकल की दौड़भाग भरी तनाव की ज़िंदगी में कम उम्र में ही हमारी बॉडी शिकायत करने लगती है और हमारे शरीर पर भी बढ़ती उम्र के संकेत तेज़ी से दिखाई देने लगते हैं. लेकिन आप अपने बॉडी क्लॉक को रोककर उसे उल्टा घुमा सकते हैं और अपनी उम्र से 10 साल छोटे नज़र आ सकते हैं.

Fitness

फिटनेस

फिटनेस के लिए हर किसी को, हर उम्र में मेहनत करनी ही चाहिए. यदि आप फिट नहीं हैं, तो आपको कई शारीरिक समस्याएं हो सकती हैं. आप कितने फिट हैं और फिट रहने के लिए आपको क्या करना चाहिए, आइए हम आपको बताते हैं.

30 से 50 की उम्र

  • सामान्य
    यदि आप आसानी से 3 मंजिल तक सीढ़ियां चढ़ जाते हैं और आपकी सांस हल्की-सी फूलने या तेज़ चलने लगती है, तो यह एकदम सामान्य बात है. ऐसा अक्सर हम सबके साथ होता है. सांसों का फूलना हमारे वजन और लाइफ स्टाइल पर निर्भर होता है.
  • असामान्य
    यदि 3 मंजिल तक सीढ़ियां चढ़ने में आपको एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ रहा है, सांस लेने में परेशानी हो रही है, सिरदर्द हो रहा है तो यह चिंता की बात है. इसी तरह आपको यदि 2 मंजिल तक सीढ़ियां उतरने में भी मुश्किल हो रही है, तो यह भी चिंता की बात है.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    30 की उम्र में कार्डियोवास्कुलर एक्सरसाइज़ करना बहुत फायदेमंद होता है. इससे मेटाबॉलिक रेट बढ़ता है जो उम्र बढ़ने की क्रिया को धीमा कर देती है. 40 की उम्र में रेजीस्टेंस एक्सरसाइज़ करना शुरू कर देना चाहिए. इसके साथ-साथ स्केवट्स और प्रेसअप भी करें. इससे हड्डियां मजबूत होती हैं और ऑस्टियोपोरोसिस से बचाव होता है.

50 से 70 की उम्र

  • सामान्य
    इस उम्र में जोड़ों में जकड़न होने लगती है. जिससे पहले की तरह तेज़ी से उठना-बैठना, चलना-फिरना नहीं हो पाता जो कि एक सामान्य लक्षण है.
  • असामान्य
    यदि आपको व्यायाम करने या मेहनत के काम करने के बाद चक्कर आने लगते हैं तो यह चिंता की बात है.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    रोजाना वॉक करने जाएं. इससे सेहत ठीक रहती है, क्योंकि ताजी हवा आपकी सांसों में जाती है. इसके अलावा टहलने से जोड़ों में लचीलापन बना रहता है और पेट की चर्बी कम होती है. साथ ही ऑस्टियोआर्थराइटिस (जोड़ों का दर्द, जकड़न) से बचाव होता है. यदि आप ऑस्टियोआर्थराइटिस से पीड़ित हैं तो वॉक करने से इसकी तीव्रता कम होती है.
Fitness Tips

जोड़ों का दर्द

जोड़ों का दर्द एक आम समस्या है और ये तकलीफ अब कम उम्र के लोगों को भी होने लगी है. जोड़ों का दर्द से बचने और इससे छुटकारा पाने के लिए आपको अपना बॉडी क्लॉक इस तरह टर्न करना चाहिए.

30 से 50 की उम्र

  • सामान्य
    इस उम्र में ज़्यादातर लोगों को जोड़ों में लगातार दर्द रहता है या रह रहकर दर्द होता है, साथ ही ज़्यादा काम करने या एक्टिविटी करने से ये दर्द बढ़ जाता है.
  • असामान्य
    आराम करने पर भी दर्द होता है और चलने-फिरने या हिलने-डुलने से भी दर्द होता है. सारी शारीरिक क्रियाएं बंद करने के बाद भी दर्द होता ही रहता है.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    अपने वजन को कंट्रोल में रखें. उसे बढ़ने ना दें. याद रखें आपका 1 किलो बढ़ा हुआ वजन जोड़ों पर 4 गुना भार बढ़ा देता है. बैठे रहने की बजाय रोज़ के कामकाज और शारीरिक गतिविधियां करते रहें. एक ही दिन घंटों जिम में पसीना बहाने की बजाय रोजाना थोड़ी-थोड़ी नियमित एक्सरसाइज़ करें या हप्ते में 4-5 दिन जिम जाएं. यदि जोड़ों में बहुत दर्द है, तो डॉक्टर से संपर्क करें.

50 से 70 की उम्र

  • सामान्य
    जोड़ों में पीड़ा या दर्द होना, जोड़ों से आवाज़ आना सामान्य बात है.
  • असामान्य
    जोड़ों में तेज़ दर्द, लंबे समय तक दर्द, चेतनाशून्यता या पिन चुभोने जैसा दर्द होता है. कई बार दर्द इतना बढ़ जाता है कि इसे दूर करने के लिए अक्सर पेनकिलर लेना पड़ता है.
  • टर्न करें बॉडी क्लॉक
    जोड़ों के लिए वजन कम करना बहुत फायदेमंद है. वजन कम होने से जोड़ों को ज़्यादा भार नहीं उठाना पड़ता. ऐसी डायट फॉलो करें जिससे वजन कम हो सके. बढ़ती उम्र में लंबे समय तक एक्सरसाइज़ करना ठीक नहीं, इसलिए रोजाना लगातार 30 मिनट एक्सरसाइज़ करने की बजाय 30 मिनट के समय को 3-4 भागों में बांट लें, यानी दिन में 3 बार 10-10 मिनट एक्सरसाइज़ करें.

यह भी पढ़ें: 10 बुरी आदतें बढ़ाती हैं मोटापा, क्या आप भी हैं इन बुरी आदतों के शिकार? (10 Bad Habits That Make You Fat, How to Break Them)

Fitness Tips

याददाश्त

उम्र के साथ कई लोगों की याददाश्त तेज़ी से कम होने लगती है, कई लोगों को अल्ज़ाइमर जैसी समस्या भी हो जाती है. उम्र के साथ याददाश्त कम होना कब सामान्य है और कब नहीं, आइए जानते हैं.

30 से 50 की उम्र

  • सामान्य
    हम सबकी भूलने की आदत होती है, जैसे बाज़ार जाने पर किसी चीज़ को खरीदना भूल जाना, फोन नंबर्स का भूलना, बातचीत करते समय जगह या व्यक्ति का नाम भूलना आदि. यदि आप काफी व्यस्त रहते हैं तो यह समस्या और भी बढ़ जाती है.
  • असामान्य
    अपना पता भूलना, चीज़ों को भूलना, ख़ुद को भी भूल जाना चिंता का विषय है.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    अपने स्ट्रेस/तनाव को कम करने की कोशिश करें. ऐसे लोगों के साथ रहें जो खुश रहते हैं और आपको भी उनके साथ रहने से ख़ुशी मिलती है. नियमित रूप से योग, ध्यान और एक्सरसाइज़ करें.

50 से 70 की उम्र

  • सामान्य
    हम देखते हैं कि बुजुर्गों को रोज़मर्रा की चीज़ें भी याद रखना मुश्किल हो जाता है. 70 की उम्र तक पहुंचते-पहुंचते बातचीत करते समय चीज़ों, व्यक्तियों या जगहों के नाम ज़ुबान पर नहीं आते. इन्हें याद करने के लिए ख़ुद को बहुत एकाग्र (कान्सन्ट्रेट) करना पड़ता है.
  • असामान्य
    बुजुर्ग कई बार अपने आपको भूल जाते हैं. अपना नाम, कहां रह रहे हैं? उन्हें कुछ भी याद नहीं रहता. कई बार रिश्तेदारों को भी पहचान नहीं पाते.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    खुद को मन और दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए हेल्दी डायट लें. मानसिक रूप से सक्रिय रहें. आसान व्यायाम, योग और ध्यान करें. यदि भूलने की बीमारी ज्यादा बढ़ गई है, तो डॉक्टर से संपर्क करें.
Health Care Tips

सुनने की क्षमता

बढ़ती उम्र के साथ-साथ सुनने की क्षमता भी कम होने लगती है. कई बार ये समस्या इतनी बढ़ जाती है कि इसका ट्रीटमेंट जरूरी हो जाता है. आप अपनी सुनने की क्षमता को ऐसे बढ़ा सकते हैं.

30 से 50 की उम्र

  • सामान्य
    सुनने में कोई प्रॉब्लम नहीं होती. अलग से कोई लक्षण भी नहीं दिखाई देते.
  • असामान्य
    इसमें कई लक्षण दिखाई देते हैं. कानों में अक्सर भिनभिनाने की आवाज़ या घंटियों की आवाज़ सुनाई देती है. ये लोग दोस्तों या परिवार के सदस्यों से बात करने की अपेक्षा टीवी या रेडियो का वॉल्युम बढ़ा कर सुनते हैं. इन्हें एक बार में लोगों द्वारा कही गई बातें ठीक से सुनाई नहीं देतीं, इसलिए ये उन्हें अपनी बात फिर से कहने के लिए कहते हैं. इन लक्षणों से ज़ाहिर होता है कि सुनने की क्षमता का धीरे-धीरे कम हो रही है.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    सुनने की क्षमता को बचाए रखने के लिए शोरगुल वाले स्थानों पर न जाएं. आई पॉड, मोबाइल या साउंड सिस्टम का वॉल्युम ज़्यादा ना बढ़ाएं, ये कानों को नुकसान पहुंचाते हैं, जिससे सुनने की क्षमता धीरे-धीरे कम होती जाती है. सुनने की क्षमता बहुत कम हो गई है, तो डॉक्टर को दिखाएं.

50 से 70 की उम्र

  • सामान्य
    उम्र बढ़ने के साथ-साथ सुनने की क्षमता कम होती जाती है. बैकग्राउंड म्यूजिक वाली जगहों पर, जैसे पब्स, रेस्टोरेंट या किसी कार्यक्रम में आपसी बातचीत ठीक से सुनाई नहीं देती.
  • असामान्य
    अच्छी तरह न सुन पाने का जीवन और लाइफ स्टाइल पर गहरा प्रभाव पड़ता है. इससे व्यक्ति सोशल फंक्शन्स में जाने से कतराने लगता है.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    यदि सुनने में बहुत ज़्यादा अड़चन आ रही है, तो हियरिंग टेस्ट करवाएं. डॉक्टर की सलाह के अनुसार हियरिंग ऐड्स (कान की मशीन) लगवाएं. इससे आपको सारी समस्याओं से निज़ात मिल जाएगी.
Health Care Tips

देखने की क्षमता

बढ़ती उम्र का असर हमारी आंखों पर भी पड़ता है और हमारी देखने की क्षमता कम होने लगती है. अपनी देखने की क्षमता को आप इस तरह बेहतर बना सकते हैं.

30 से 50 की उम्र

  • सामान्य
    30 की उम्र में आंखों की दृष्टि को लगभग स्थिरता प्राप्त हो जाती है और वे हेल्दी होती हैं. 38 से 48 की उम्र के बीच दृष्टि में काफी परिवर्तन आने लगते हैं और आपको चीज़ों को देखने के लिए उन्हें पास या दूर रखना पड़ता है. यही वेकअप कॉल है कि अब आपकी उम्र बढ़ रही है.
  • असामान्य
    चश्मा लगाने पर भी धुंधला दिखना, आंखें लाल होना, आंखों में दर्द होना असामान्य बात है.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    40 वर्ष की उम्र तक पहुंचते ही आंखों के डॉक्टर के पास जाएं. आंखों का पूरा चेकअप करवाएं, जिसमें आंखों के नंबर की जांच के अलावा मोतियाबिंद और ग्लूकोमा का भी चेकअप हो. मायोपिया (दूरदृष्टि) को लेसर सर्जरी द्वारा कम किया जाता है, जिससे चश्मा पहनने की आवश्यकता नहीं होती. आजकल बाइफोकल की जगह प्रोग्रेसिव ग्लासेस आ गए हैं, इनसे उम्र का पता नहीं चलता.

50 से 70 की उम्र

  • सामान्य
    इस उम्र में फ्लोट्रस आना, जिसमें लगता है कि नज़रों को मक्खियां क्रॉस कर रही हैं. कई बार आंखें ड्राई लगने लगती हैं. यही समय है जब आंखों की जांच करवाई जानी चाहिए. इस उम्र में डॉक्टर की सलाह का सख़्ती से पालन करें.
  • असामान्य
    लाइट के फ्लैशेस दिखना, आंखों का लाल होना, आंखों में चुभन, सीधी लाइन का लहराती हुई दिखना गंभीर लक्षण है.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    समय-समय पर आंखों का चेकअप करवाते रहें. ऐसा करने से यदि रेटिना की फटन हो रही हो, डार्क स्पॉट हो या अन्य कोई बीमारी हो, तो पकड़ में आ जाती है. इनका समय रहते इलाज करवाने से आंखों की रोशनी बनी रहती है. ड्राई आईज और लाल आंखों के लिए डॉक्टर की सलाह पर आई ड्रॉप्स का इस्तेमाल करें.
Health Care Tips

दांतों की समस्या

उम्र बढ़ने के साथ-साथ दांत भी कमज़ोर होने लगते हैं और दांतों की कई समस्याएं शुरू हो जाती हैं. बढ़ती उम्र में आप अपने दांतों को इस तरह मजबूत बनाए रख सकते हैं.

30 से 50 की उम्र

  • सामान्य
    कभी-कभार दांतों से ख़ून आना, दांतों में सड़न की शुरुआत, दांतों के इनेमल का कम होना, माइल्ड सेंसिविटी और दांतों का पीला/मलिन पड़ना सामान्य लक्षण हैं.
  • असामान्य
    दांत टूटना, दांतों का हिलना, दांतों में सड़न, मसूड़ों का फूलना या अपनी जगह से सरक जाना, दांतों का घिस जाना और ठंडी या गर्म चीज़ें खाने से दांतों में तेज़ झनझनाहट होना यानी सेंसिविटी होना असामान्य लक्षण हैं.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    दांतों में सड़न की शुरुआत होते ही डेंटिस्ट के पास जाकर दांत साफ करवाएं एवं फिलिंग करवाएं. दांतों की अच्छी तरह देखभाल के लिए दिन में 2 बार ब्रश करें. फ्लॉसिंग (दांतों के बीच की गंदगी निकालने के लिए) एवं नियमित माउथवॉश करें.

50 से 70 की उम्र

  • सामान्य
    कभी-कभार दांतों की पुरानी फिलिंग का निकाल जाना, मसूढ़ों का अपनी जगह से सरक जाना, इनेमल का नष्ट होना और इससे सेंसिटिविटी का बहुत बढ़ जाना, दांतों का मलीन होना आदि.
  • असामान्य
    दांतों की फिलिंग का नियमित रूप से टूटना या बाहर निकलना, मसूढ़ों में सूजन, ख़ून निकलना, मसूढ़ों का सरकना, जबड़ों के ज्वॉइंट्स में दर्द होना आदि.
  • ऐसे टर्न करें बॉडी क्लॉक
    दांतों में फिलिंग करवाएं. सड़े हुए दांत को बचाने के लिए रुट कनाल ट्रीटमेंट करवाएं और उस पर कैप या क्राउन बिठाएं, ताकि फिलिंग बाहर ना निकल सके. सेंसिटिविटी हो तो डॉक्टर की सलाह से सॉफ्ट ब्रश और सेंसिटिविटी टूथपेस्ट का इस्तेमाल करें. फ्लोराइड माउथवॉश से रिन्स करें.

तारक मेहता का उल्टा चश्मा के जेठालाल यानी दिलीप जोशी को उनके रिवाइंड लुक में पहचान भी नहीं पाएँगे आप. यक़ीन ना हो तो खुद देख लें.

आसिफ़ शेख़ जिन्हें आप भाबीजी घर पर हैं में विभूति के नाम से जानते हैं, यंग एज में वो लगते थे और भी डैशिंग और स्मार्ट.

रोनित रॉय बड़े स्टार हैं और हैंडसम भी. उनकी पहली ही फ़िल्म के सुपरहिट गानों ने उन्हें रातों रात स्टार बना दिया था. देखें उनका रिवाइंड लुक.

अयूब खान आज जितने डैशिंग लगते हैं यंग एज में उतने ही मासूम लगते थे. देखें उनका रिवाइंड लुक.

यह भी पढ़ें: कोकिला मोदी से लेकर कमोलिका तक, देखें अपने फेवरेट टीवी स्टार्स के रिवाइंड लुक्स! (Watch Rewind Looks Of Your Favourite TV Actresses)

मलाइका अरोड़ा आज भी सूपर हॉट हैं. उनकी उम्र तो मानो बढ़ ही नहीं रही. बीस साल पहले वो जैसी दिखती थीं आज उससे भी कहीं हसीन लगती हैं.

Malika Arora khan looking 20 in 40

नीचे जो तस्वीर है वो पंद्रह साल पुरानी है जो मलाइका ने खुद अपने इंस्टा पर शेयर की, अपनी बहन अमृता के साथ मलाइका तब भी लग रही हैं सेक्सी.

Malika Arora khan

ये जो नीचे की तस्वीरें हैं ये हाल ही की हैं जिसमें साफ़ साफ़ देखा का सकता है कि मलाइका बेहद खूबसूरत और जवाँ नज़र आ रही हैं.

Malika Arora khan looking 20 in 40
Malika Arora  cute

सुष्मिता सेन मिस यूनिवर्स रह चुकी हैं और बढ़ती उम्र के साथ उनकी ख़ूबसूरती निखरती ही जा रही है. वो भी अपनी फिटनेस का ख़्याल रखती हैं. इसमें साफ़ नज़र आ रहा है जब सुष्मिता महज़ १६ साल की थीं और अब जब वो चालीस पार हैं तो और भी ग्लैमरस नज़र आने लगी हैं.

Susmita sen

नीचे की ये तस्वीरें उनकी हाल ही की हैं.

Susmita sen looking young and cute
Susmita sen looking young and cute
Susmita sen looking young and cute

काजोल अपने टैलेंट के लिए तो मशहूर हैं ही लेकिन अब वक़्त के साथ यह सांवली सलोनी अभिनेत्री बेहद निखरती जा रही हैं. नीचे जो तस्वीर है उसमें काजोल की शुरुआती फ़िल्म व आज की पिक एकसाथ है जिसमें उनका निखरता हुस्न इस बात की गवाही दे रहा है कि उम्र का उनपे कोई असर नहीं.

Kajol looking young in 40's

ये तस्वीरें काजोल की लेटेस्ट पिक्स हैं.

Kajol looking stunning
Kajol hot
Kajol cute

ऐश्वर्या राय भले ही चालीस पार हैं लेकिन उनकी ख़ूबसूरती की तो दुनिया आज भी दीवानी है. आज भी वो बेहद यंग और ब्यूटीफुल लगती हैं. इस तस्वीर में आप कंपेयर कर सकते हैं.

Aishwarya rai Bachchan

ऐश की लेटेस्ट पिक्स में भी वो पहले की ही तरह हसीन लग रही हैं.

Aishwarya rai Bachchan looking beautiful
Aishwarya rai Bachchan  hot
Aishwarya rai Bachchan  hot
Aishwarya rai Bachchan  beautiful

करिश्मा कपूर को रंगत और फ्लॉलेस स्किन विरासत में मिली है और कुछ कमाल है उनकी फिटनेस का जो वो बेहद सुंदर लगती हैं आज भी.

Karishma Kapoor

करिश्मा की लेटेस्ट पिक्स में वो और भी ग्लैमरस लग रही हैं.

Karishma Kapoor  hot
Karishma Kapoor beautiful
Karishma Kapoor in white dress

 

Real Age Of Your Favorite Film Stars

क्या आप जानते हैं यंग नज़र आनेवाले इन 16 बॉलीवुड स्टार्स की असली उम्र? (Do You Know The Real Age Of Your Favorite Film Stars?)

झकास अनिल कपूर: आज भी किसी युवा एक्टर से कहीं अधिक जवां और एनर्जेटिक नज़र आनेवाले अनिल कपूर सच में हैं झकास. उनकी उम्र है 63 वर्ष,  लेकिन आज भी उनकी फिटनेस, मेंटेन्ड बॉडी और यंग लुक देखकर फैंस हैरत में पड़ जाते हैं कि आख़िर अनिल के पास ऐसी कौन-सी जड़ी-बूटी है कि बढ़ती उम्र के निशान उनसे कोसों दूर हैं.

Anil Kapoor

खिलाड़ी कुमार हॉट अक्षय: इनकी फिटनेस और बोल्ड अंदाज़ के सभी कायल हैं. अलग तरह के क़िरदार करके इन्होंने अपनी वर्सटैलिटी दिखाई, तो वहीं समाज से जुड़े ऐसे मुद्दों पर फिल्में भी बनाईं, जिससे इनकी संवेदशीलता नज़र आई. 52 की उम्र में फिटनेस का जो लेवल इन्होंने सेट किया है, शायद ही कोई पार कर पाए. न लेट नाइट पार्टीज़, न सोने-खाने के समय में कॉम्प्रोमाइज़- इस अनुशासन के कारण ही खिलाड़ी कुमार हैं आज भी सबसे हॉट.

akshay kumar

रोमांस का बादशाह शाहरुख: अपनी से आधी उम्र की एक्ट्रेसेस के साथ रोमांस लड़ाता यह लवर बॉय है महज़ 53 साल का.
डैशिंग सलमान: अपने डैशिंग अंदाज़ से सबका दिल लूटनेवाले सलमान बच्चों से लेकर बुज़ुर्गों तक के फेवरेट हैं. यही उनकी ख़ूबी है कि उन्हें हर वर्ग और हर उम्र के लोग प्यार करते हैं. इस हैंडसम हंक की असली उम्र है 53 साल.

shahrukh khan

डैशिंग सलमान: अपने डैशिंग अंदाज़ से सबका दिल लूटनेवाले सलमान बच्चों से लेकर बुज़ुर्गों तक के फेवरेट हैं. यही उनकी ख़ूबी है कि उन्हें हर वर्ग और हर उम्र के लोग प्यार करते हैं. इस हैंडसम हंक की असली उम्र है 53 साल.

salman khan

मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर: अपने हर काम को परफेक्शन के साथ करना इनका शौक ही नहीं स्वभाव भी है, यही वजह है कि 54 साल के आमिर आज भी फिल्मों में कॉलेज बॉय बने नज़र आते हैं और उसमें भी वो परफेक्ट ही लगते हैं.

aamir khan

सेक्सी रितिक: चाहे डांस हो, परफॉर्मेंस हो या फिर लुक्स रितिक आज भी हर जवां दिलों की धड़कन हैं. 45 की उम्र में भी वो लगते हैं एकदम फिट और सेक्सी.

hrithik roshan

छोटे नवाब सैफ: चॉकलेटी बॉय से अपना फिल्मी करियर शुरू करनेवाली सैफ अब ऐक्टिंग को लेकर काफ़ी मैच्योर हो चुके हैं, पर उनके लुक्स की बात करें, तो आज भी वो लगते हैं यंग और हैंडसम. सैफ की उम्र है 48 साल.

saif ali khan

डैशिंग अजय: अपने क़िरदार को जीवंत कर देना और यंग क्राउड के बीच अपने अंदाज़ से पॉप्युलर बने रहना कोई अजय देवगन से सीखे. फाइटर अजय सच में फाइटर हैं, इसीलिए 50 की उम्र के बाद भी वो फिल्मों में कभी डैशिंग कॉप की भूमिका निभाते नज़र आते हैं, तो कभी ऐतिहासिक वीर योद्धा के चरित्र को चरितार्थ करते दिखते हैं.

ajay devgan

यह भी पढ़ें: 10 बॉलीवुड एक्ट्रेस जिनकी पहचान उनके पापा से है (10 Actresses In Bollywood Because Of Their Papa)

ड्रीमगर्ल हेमा: आज भी वो किसी शायर की ग़ज़ल ही हैं… आज भी वो महकती झील का खिलता कंवल ही हैं. 71 साल की हो चुकीं हेमाजी आज भी बॉलीवुड की सबसे हसीन ड्रीम गर्ल हैं. हर कोई उनके यंग लुक का सीक्रेट जानना चाहता है, क्योंकि वो उसी शिद्दत से डान्स भी करती हैं, स्टेज परफॉर्मेंस भी देती हैं और पॉलिटिक्स व समाज सेवा में भी एक्टिव हैं. इस बीच भी उनके हसीन चेहरे का नूर कभी कम नहीं होता.

hema malini

मोहक रेखा: बात चाहे टैलेंट की हो या फिर ख़ूबसूरती की. एवरग्रीन रेखा आज भी जब स्टेज पर आती हैं, तो हर फैन सीटी बजाने से ख़ुद को रोक नहीं पाता. यह है उनकी पॉप्युलैरिटी का आलम और बात करें उनकी उम्र की, तो यंग से यंग एक्ट्रेस भी उनकी ख़ूबसूरती के आगे फीकी नज़र आती हैं. 65 की हो चुकी रेखा आज भी हर जवां दिलों की धड़कन है.

rekha

क्वीन माधुरी: धक-धक गर्ल के डांसिंग स्टेप्स और मोहक मुसकान आज भी लाखों का दिल धड़का देती है. माधुरी से मिसेज़ नेने बन चुकीं क्वीन की उम्र है 53 वर्ष.

madhuri dixit

ब्यूटी क्वीन एश्‍वर्या: ऐश की हर बात, हर अंदाज़ आज भी उतना ही आकर्षक है, जितना तब था, जब वो मिस वर्ल्ड बनी थीं. मिसेज़ अभिषेक बच्चन अब हो चुकी हैं 45 साल की, पर उनकी मासूमियत किसी टीनएज गर्ल से कम नहीं.

aishwarya rai

वर्सटाइल सुष्मिता: सुष की फिटनेस और ब्यूटी समय के साथ-साथ बढ़ती जा रही है. यही वजह है कि जैसे-जैसे उनकी उम्र बढ़ रही है, वो और भी ख़ूबसूरत व यंग लगने लगी हैं. मिस यूनिवर्स रह चुकीं सुष हो चुकी हैं 44 साल की, पर उनका जलवा बरक़रार है.

sushmita sen

मल्टी टैलेंटेड काजोल: अदाकारी इनकी रग-रग में है. मशहूर बॉलीवुड फैमिली बैकग्राउंड होने के बाद भी काजोल ने अपनी जगह ख़ुद बनाई. अपनी नेचुरल एक्टिंग और ऑनेस्टी से फैंस का दिल उन्होंने आसानी से जीता. उनकी ब्यूटी बहुत ही नेचुरल है और उतनी ही इनोसेंट है उनकी स्माइल. 45 की उम्र में भी उनके व्यक्तित्व में टीनएज गर्ल जैसा चुलबुलापन और ताज़गी है.

kajol

हॉट बिपाशा: बिप्स की हॉटेनस समय के साथ बढ़ती ही जा रही है. 40 पार कर चुकीं बिपाशा हमेशा ही एक्टिव रहती हैं.

bipasha basu

टैलेंटेड तब्बू: अपने हर रोल में जान डाल देना और अपने टैलेंट से सबका दिल जीत लेना कोई तब्बू से सीखे. 48 साल की हो चुकी तब्बू का चार्म आज भी उसी तरह बरक़रार है. कोई भी फैन उनकी फिल्मों व क़िरदार को सराहे बिना नहीं रहता. साथ ही उनकी ख़ूबसूरती का राज़ भी हर कोई जानना चाहता है.

tabu

यह भी पढ़ें: #Interesting: ऋषि कपूर ने बुनाई पसंद मांओं को सबसे अधिक स्वेटर की डिज़ाइन्स दी हैं… (Rishi Kapoor Has Given The Most Sweater Designs To The Mothers Who Like Knitting…)

मेअकप यदि सही तरीके से न किया गया, तो आप अपनी उम्र से ज़्यादा बूढ़ी लग सकती हैं. मेकअप की इस गलती से बचने के लिए जानें मेकअप का सही तरीका.

Top Makeup Tips For Young Look

1) फाउंडेशन
गोरी नज़र आने के चक्कर में कई महिलाएं अपनी स्किन टोन से लाइट शेड का फाउंडेशन लगाती हैं, इससे उनका चेहरा पैची नज़र आने लगता है. आप ऐसी ग़लती कभी न करें. हमेशा अपनी स्किन से मैच करता फाउंडेशन ही लगाएं. ऐसा करके आप यंग और फ्रेश नज़र आएंगी. यदि लाइट शेड का फाउंडेशन लगाना ही चाहती हैं, तो लाइट शेड के फाउंडेशन के साथ एक शेड डार्क फाउंडेशन मिक्स करके लगाएं.

2) कंसीलर
चेहरे के दाग़-धब्बे और आंखों के नीचे के काले घेरे छुपाने के लिए कंसीलर का इस्तेमाल किया जाता है. कंसीलर लगाते व़क्त इस बात का ध्यान रखें कि पूरे चेहरे की बजाय स़िर्फ दाग़-धब्बे और डार्क सर्कल वाली जगह पर ही कंसीलर लगाएं. कंसीलर के अधिक प्रयोग से भी त्वचा बूढ़ी नज़र आने लगती है. यदि आप चेहरे की फाइन लाइन्स छुपाने के लिए कंसीलर लगा रही हैं, तो ऐसी ग़लती कभी मत कीजिए. ऐसा करने से आपकी त्वचा और बूढ़ी नज़र आएगी.

3) आईब्रो पेंसिल
ख़ूबसूरत आईब्रोज़ के लिए हल्के हाथों से आईब्रो पेंसिल का प्रयोग करें. यदि आईब्रोज़ के बीच में गैप है, तो आईब्रोज़ से लाइट शेड का आईब्रो पाउडर इस्तेमाल करें और इसे आईब्रो ब्रश से सेट करके ऊपर से थोड़ा-सा वैसलीन लगाएं. इससे आईब्रोज़ ख़ूबसूरत नज़र आएंगे. बहुत ज़्यादा डार्क शेड आपकी आंखों का लुक बिगाड़ सकता है और इससे आप बूढ़ी नज़र आ सकती हैं.

4) पलते आईब्रोज़
इसी तरह बहुत पतले आईब्रोज़ से भी आप उम्र से बड़ी दिख सकती हैं. अत: आईब्रोज़ को बहुत पलता शेप न दें.

5) डार्क ब्लश
चेहरे की मासूमियत बनाए रखने और जवां नज़र आने के लिए चीकबोन पर ब्लश अप्लाई करना बेस्ट आइडिया है, लेकिन इसके लिए डार्क शेड का प्रयोग करने से बचें. डार्क शेड के ब्लश लगाने पर आप अपनी उम्र से बड़ी नज़र आएंगी. यंग लुक के लिए पिंक, पीच जैसे फ्रेश व सॉफ्ट शेड्स ट्राई करें.

यह भी पढ़ें: करीना कपूर, दीपिका पादुकोण, ऐश्‍वर्या राय की तरह अप्लाई करें रेड लिपस्टिक

 

6) आई शैडो
आंखों की ख़ूबसूरती बढ़ाने के चक्कर में बहुत ज़्यादा आई शैडो का इस्तेमाल आपकी सुंदरता बिगाड़ सकता है. इससे आप अपनी उम्र से बड़ी नज़र आ सकती हैं. यंग और अट्रैक्टिव लुक के लिए लाइट आई शैडो का इस्तेमाल करें.

7) आई लाइनर
आंखों की ख़ूबसूरती बढ़ाने के लिए आई लाइनर बेस्ट ऑप्शन है. लाइट मेकअप के साथ परफेक्ट आई लाइनर यंग और अट्रैक्टिव लुक देता हैै. यंग लुक के लिए लिक्विड आई लाइनर लगाएं. लाइनर लगाते समय उसे आंखों की कोर तक न लगाएं. इससे उम्र ज़्यादा दिखती है.

8) मस्कारा
मस्कारा आंखों को यंग लुक देता है. आमतौर पर ये तीन टाइप का होता है- नेचुरल, लेथंनिंग और वॉल्युमाइज़िंग. यंग नज़र आना चाहती हैं, तो आंखों के ऊपरी लैशेस पर ही मस्कारा लगाएं. नीचे की लैशेस को यूं ही छोड़ दें. मस्कारा लगाते समय आई लैशेस को कर्ल करें. ऐसा करने से आप यंग नज़र आएंगी और आपकी आंखें ख़ूबसूरत.

9) ग़लत लिप लाइनर
लिपस्टिक को सही शेप देने के लिए लिप लाइनर से आउटलाइन की जाती है, लेकिन लिप लाइनर यदि लिपस्टिक के शेड से बहुत डार्क है, तो इससे उम्र ज़्यादा दिखती है. यंग नज़र आने के लिए हमेशा लिपस्टिक से मैच करता लिप लाइनर ही लगाएं.

10) डार्क शेड की लिपस्टिक
यदि आप भी डार्क शेड की लिपस्टिक लगाने की शौकीन हैं, तो आपके लिए हानिकारक भी हो सकता है. बहुत ज़्यादा डार्क शेड की लिपस्टिक लगाने से उम्र ज़्यादा दिखती है. यंग और फ्रेश नज़र आने के लिए लाइट कलर की लिपस्टिक लगाएं.

यह भी पढ़ें: 2018 के न्यू आई मेकअप ट्रेंड्स 

×