दीपावली 2018: सुख-सौभाग्य-स...

दीपावली 2018: सुख-सौभाग्य-समृद्धि पाने के 15 वास्तु-फेंगशुई टिप्स (15 Vastu-Feng Shui Tips For A Prosperous Diwali)

दीपावली (Diwali) के दिन सुख-सौभाग्य-समृद्धि पाने के लिए घर की साफ़-सफ़ाई, सजावट, जैसे- लाइटिंग, रंगोली आदि कैसी होनी चाहिए? फेस्टिव सीज़न में फेंगशुई (Feng Shui) के मुताबिक घर सजाकर (House Decoration) आप में सुख-समृद्धि कैसे ला सकती हैं? बता रही हैं वास्तु (Vastu), फेंगशुई एवं न्यूमरोलॉजिस्ट कंसल्टेंट दीप्ति एच. अरोरा.

Vastu-Feng Shui Tips For A Prosperous Diwali

सुख-सौभाग्य-समृद्धि पाने के लिए ऐसे करें घर की सजावट
1) घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार हो इसके लिए सबसे पहले बेकार की चीजों को घर से हटा दें. घर में क्रॉकरी, सजावटी सामान आदि अगर टूट गए हों, तो उन्हें भी तुरंत हटा दें.
2) लाइटिंग कर रही हैं, तो ख़राब हो चुके बल्ब, ट्यूबलाइट आदि को तुरंत बदल दें.
3) पूरे घर को नमक मिले पानी से अच्छी तरह धोएं और फिर सूखे कपड़े से पोंछ लें. फेंगशुई के अनुसार, नमक मिले पानी से घर धोने से नकारात्मक ऊर्जा दूर भाग जाती है.
4) इसके बाद सभी कमरों के बीचोंबीच सुगंधित अगरबत्ती या धूपबत्ती जलाएं और इसे कम-से-कम दो घंटे तक जलने दें. ऐसा करने से घर पवित्र होगा.
5) दीपावली के दिन मुख्य द्वार के आस-पास और सामने वाली जगह की अच्छी तरह सफ़ाई करें. फिर मुख्य द्वार के सामने सिल्वर स्वस्तिक (बाज़ार में उपलब्ध) चिपकाएं. यह नकारात्मक ऊर्जा को रोकने में मददगार है. स्वस्तिक के साथ ही अस्थमंगला चिह्न (बाज़ार में उपलब्ध) भी मुख्य द्वार पर लगाना न भूलें.
6) मुख्य द्वार के सामने या आस-पास की खाली जगह पर रंगोली बनाएं. रंगोली के लिए ख़ासकर सेंधा नमक का इस्तेमाल करें. इससे नकारात्मक ऊर्जा मुख द्वार के भीतर प्रवेश नहीं कर पाएगी.

यह भी पढ़ें: वास्तु के अनुसार धनतेरस पर किस राशिवाले क्या ख़रीदें? (Dhanteras Shopping According To Your Zodiac Sign & Vastu)

7) मुख्य द्वार के ऊपर या आसपास माता लक्ष्मी और भगवान गणेश की प्रतिमा ज़रूर चिपकाएं.
8) मुख्य द्वार की चौखट पर मिट्टी के दीये रखें. साथ ही रंगोली पर भी दीये रखना न भूलें.
9) लक्ष्मी माता के स्वागत के लिए मुख्य द्वार से पूजा घर तक पद चिह्न (बाज़ार में उपलब्ध) इस तरह लगाएं, जैसे माता लक्ष्मी बाहर से भीतर की ओर आ रही हों.
10) गेंदे के फूल और आम के पत्तों से बना तोरण मुख्य द्वार पर लगाएं. गेंदे के फूल और आम के पत्तों से बना तोरण सौभाग्य का प्रतीक माना जाता है.
11) पानी से भरे बाउल में गुलाब की पंखुड़ियां डालकर मुख्य द्वार के पास पूर्व या उत्तर दिशा में रखें. ऐसा करने से सौभाग्य बढ़ता है और कमरे की रौनक भी दोगुनी हो जाती है.
12) दीपावली के दिन दीया जलाने के लिए शुद्ध घी या सरसों के तेल का इस्तेमाल करें.
13) हर दीये में चार बाती हो. एक बाती लक्ष्मीजी, दूसरी गणेशजी, तीसरी कुबरे और चौथी इंद्र देव के लिए.
14) कम से कम पांच दीये शुद्ध घी से जलाएं. एक दीये को कीचन में, दूसरे को बेडरूम, तीसरे को लिविंग रूम, चौथे को वॉशरूम तथा पांचवे को यदि घर में अन्य कमरा है तो वहां रखें. दीपावली के दिन बाउंड्री वॉल पर दीये जलाना न भूलें.
15) दीपावली के दिन मुख्य द्वार के सामने/आस-पास, पूजा घर और तुलसी के गमले के पास रंगोली ज़रूर बनाएं. रंगोली बनाने के लिए सेंधा नमक का इस्तेमाल ज़रूर करें. यह अत्यंत शुभ होता है.

यह भी पढ़ें: लक्ष्मीजी को करें प्रसन्न: पहनें रंग राशि के अनुसार (Your Lucky Colour For Diwali)

 

धन-संपत्ति पाने के 10 फेंगशुई टिप्स जानने के लिए देखें वीडियो: