बाथरूम के लिए 9 वास्तु टिप्स (9 Vastu Tips for Bathroom)

 Vastu Tips for Bathroom

बाथरूम (Bathroom) के लिए वास्तु टिप्स (Vastu Tips) टॉयलेट और बाथरूम ऐसे स्थान हैं, जहां से पानी हमेशा घर से बाहर की ओर बहकर निकलता है और पानी का बहना अर्थात् ‘धन’ का व्यर्थ बहना माना जाता है, इसलिए इन्हें घर के अंदर के मुख्य कमरों से दूर बनाना चाहिए, जिससे धन व्यर्थ न जाए.

1. मुख्य द्वार के ठीक सामने बने टॉयलेट या बाथरूम अशुभ होते हैं. इससे धन और स्वास्थ्य की हानि होती है.

2. इसी तरह उत्तर-पूर्व या दक्षिण-पश्‍चिम कोनों में भी बाथरूम या टॉयलेट नहीं होना चाहिए.

3. सीढ़ियों के नीचे बने टॉयलेट या बाथरूम भी अशुभ होते हैं.

4. इस बात का ध्यान रखें कि बाथरूम या टॉयलेट के दरवाज़ेे के ठीक पीछे नल, सिंक आदि न हों.

और भी पढ़ें: इन 9 फेंगशुई टिप्स से दूर करें घर की निगेटिव एनर्जी (9 Feng Shui Tips To Cleanse Your Home From Negative Vibes)

 Vastu Tips for Bathroom

5. बाथरूम में टब या शॉवर हमेशा उत्तर दिशा की ओर होना चाहिए. भूल से भी नहाने का टब या शॉवर दक्षिण दिशा की ओर न हो, क्योंकि दक्षिण दिशा अग्नि तत्व से जुड़ी होती है.

6. यदि बाथरूम का कोई हिस्सा पहले से ही दक्षिण दिशा की ओर है और इसे बदला नहीं जा सकता तो इसके पास कोई काली वस्तु रख दें. इससे कुप्रभाव कम होगा.

 Vastu Tips for Bathroom

7. बाथरूम में जितनी चीज़ें ज़रूरी हों, उतनी ही रखें. अनावश्यक शैम्पू-लोशन इत्यादि रखकर भीड़ न बढ़ाएं. साथ ही बाथरूम और टॉयलेट को स्वच्छ रखने की कोशिश करें.

8. अपने बाथरूम को हफ्ते में 2-3 बार सा़फ़ करें. वास्तु के अनुसार बाथरूम की सफ़ाई का असर घर की आर्थिक स्थिति पर भी पड़ता है.

 Vastu Tips for Bathroom
9.वास्तु के अनुसार बाथरूम में मिरर दरवाज़े के पीछे होना चाहिए. क्योंकि जब-जब बाथरूम का दरवाज़ा खुलता है, तब-तब घर की नकारात्मक ऊर्जा बाथरूम में प्रवेश करती है. अगर मिरर दरवाज़े के ठीक सामने होगा तो नकारात्मक ऊर्जा पुन: वापस आ जाती है.

और भी पढ़ें: वास्तु के अनुसार कैसा हो घर? (14 Basic Vastu Tips For Your Home)