होम रेमेडीज़ फॉर वेट लॉस (Home Remedies For Weight Loss)

वज़न बढ़ना आज तक़रीबन हर किसी की समस्या बनती जा रही है. आज हर पांच में से दो लोग अपने बढ़ते वज़न से परेशान हैं. तो क्यों न कुछ होम रेमेडीज़ ट्राई की जाए, जिससे आपका वज़न तो कम होगा ही, आप हेल्दी भी महसूस करेंगे.

 

1

– सुबह उठते ही 250 ग्राम टमाटर का रस 2-3 महीने तक पीने से फैट्स कम होता है.

– नींबू, शहद व गरम पानी रोज़ सुबह खाली पेट लेनेे से पेट सही रहेगा और मोटापा भी दूर होगा.

– पके हुए पपीते का सेवन ख़ूब करें. इससे शरीर में अतिरिक्त चर्बी नहीं जमती व वज़न भी तेज़ी से घटता है.

– एक चम्मच पुदीने के रस में 2 चम्मच शहद मिलाकर नियमित रूप से लेते रहने से मोटापा कम होता है.

– आंवले और हल्दी को बराबर मात्रा में पीसकर चूर्ण बना लें. इस चूर्ण को छाछ के साथ लें. कमर पतली हो जाएगी.

– यदि आप ख़ूब पानी पीते हैं, तो इससे कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है और यह शरीर में मौजूद टॉक्सिन को यूरिन के ज़रिए बाहर निकाल देता है. लेकिन ध्यान रहे कि भोजन करने के तुरंत बाद पानी न पीएं.

– एक कप टमाटर के जूस में एक कप दही (फैट फ्री) आधा चम्मच नींबू का रस, बारीक़ कटा अदरक, कालीमिर्च पाउडर व स्वादानुसार नमक- सभी को मिलाकर ब्लेंड कर लें. रोज़ एक ग्लास इस शेक को पीने से वज़न तेज़ी से कम होता है.

– 2 चम्मच करेले के रस में एक नींबू का रस मिलाकर सुबह पीएं.

– हमेशा भोजन करने के बाद गरम पानी पीएं. इससे पाचन क्रिया ठीक रहती है और एक्स्ट्रा फैट्स भी नहीं बनता.

– करौंदे का जूस भी वज़न घटाने में बहुत फ़ायदेमंद है. इससे शरीर का मेटाबॉलिज़्म ठीक रहता है और फैट्स कम करने में आसानी होती है.

– एप्पल साइडर विनेगर को जूस या पानी के साथ मिलाकर पीने से मोटापा व कोलेस्ट्रॉल दोनों में तुरंत ही कमी आती है.

– एलोवीरा के पत्तों के सेवन से भी वेट कंट्रोल में रहता है, इसलिए एलोवीरा का सेवन रोज़ करें.

– ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो झुर्रियों को दूर रखती है और मोटापा घटाने में भी उपयोगी है, बस ग्रीन टी बिना शक्कर के पीएं.

– लौकी के जूस में फाइबर होता है और यह पेट को ठंडक पहुंचाता है. इसे पीने से घंटों तक पेट भरा रहता है व वज़न भी नियंत्रण में रहता है.

– सेब को उबालकर खाएं. इसमें फाइबर व आयरन प्रचुर मात्रा में होता है. ये मोटापा भी घटाता है.

– एक रिसर्च के अनुसार, वज़न कम करने का सबसे बेहतरीन तरीक़ा मिर्च खाना है. हरी या कालीमिर्च में पाए जानेवाले तत्व कैपसाइसिन से भूख कम होती है. इससे ऊर्जा की खपत भी बढ़ जाती है, जिससे वज़न कंट्रोल में रहता है.

– छोटी पीपल का बारीक़ चूर्ण पीसकर उसे कपड़े से छान लें. यह चूर्ण तीन ग्राम रोज़ाना सुबह के समय छाछ के साथ लेने से बाहर निकला हुआ पेट अंदर हो जाता है.

– दो बड़े चम्मच मूली के रस में शहद मिलाकर बराबर मात्रा में पानी के साथ पीएं. ऐसा करने से एक महीने के बाद मोटापा कम होने लगेगा.

और भी पढ़ें: 7 क्विक वेट लॉस टिप्स

सुपर टिप

10 दिन सुबह-शाम खाली पेट एक ताज़े पान के पत्ते में 5 साबूत कालीमिर्च रखकर खाएं. फिर एक घंटे तक कुछ भी न खाएं. 10 दिन के बाद केवल सुबह ही सेवन करें. इसका क़रीब तीन महीने तक सेवन करें, इससे आपके पूरे शरीर का वेस्ट फैट्स निकलने लगेगा. ध्यान रहे, पान के पत्ते सूखे या
काले न हों.

इन बातों का भी रखें ख़्याल

– अधिक कार्बोहाइड्रेटवाली चीज़ों से परहेज़ करें.
– शक्कर, आलू और चावल में अधिक कार्बोहाइड्रेट होता है. ये फैट्स बढ़ाते हैं.
– गेहूं के आटे की रोटी की बजाय गेहूं, सोयाबीन व चने के मिश्रित आटे की रोटी अधिक फायदेमंद है.
– हर रोज़ पत्तागोभी का जूस पीएं. पत्तागोभी में फैट्स घटाने के गुण होते हैं. इससे बॉडी का मेटाबॉलिज़्म सही रहता है.
– अपनी डायट में खीरा को शामिल करें. इसमें पानी की मात्रा अधिक पाई जाती है. खीरे में 90% पानी होता है और यह शरीर के फैट्स को भी कम करता है.
– नारियल पानी मेटाबॉलिज़्म को मज़बूत करता है और इलेक्ट्रोलाइटिस से भरा होता है. हर रोज़ एक से दो ग्लास नारियल पानी पीने से वज़न घटाने में मदद मिलती है.
– बादाम भी फैट्स को बर्न करने में मददगार होता है, इसलिए नियमित रूप से बादाम भी ज़रूर खाएं.

– ऊषा गुप्ता

और भी पढ़ें: 8 इटिंग हैबिट्स फॉर वेट लॉस