फैशन डिज़ाइनर : स्टाइलिश करियर (Fashion Designer: stylish career)

Fashion Designer

दुनिया को अपनी डिज़ाइंस में देखना चाहते हैं और अपनी अलग पर्सनैलिटी बनाना चाहते हैं, तो ट्राई करें इस इंडस्ट्री को. बेहद ग्लैमराइज़ और स्टाइलिश इस फील्ड की दुनिया कायल है. नेम-फेम के साथ इसमें पैसा भी बहुत है. अपने करियर को एक अलग अंदाज़ देना चाहते हैं, तो इस फील्ड में बनाएं करियर. कैसे? आइए, हम बताते हैं.

शैक्षणिक योग्यता
इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए बारहवीं पास होना ज़रूरी होता है. आप अगर बारहवीं पास हैं, तो इस क्षेत्र में आपके लिए सुनहरा अवसर है. इसके बाद किसी भी संस्थान से डिप्लोमा कोर्स करने के बाद इस क्षेत्र में आगे बढ़ सकते हैं.

कोर्स के दौरान
सबसे अच्छी बात ये है कि बाकी कोर्सेस की तरह इसमें आपको पूरा समय नहीं देना पड़ता. आप अपनी सुविधानुसार क्लास का समय चुन सकते हैं. कोर्स के दौरान आपको गार्मेंट मैनुफैक्चरिंग टेक्नोलॉजी, फैब्रिक पैटर्न मेकिंग, मार्केटिंग स्ट्रैटेजी, लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स, ग्लोबल मार्केट ट्रेंड आदि के बारे में पढ़ाया जाता है.

व्यक्तिगत विशेषता
भीड़ में भी सबसे अलग नज़र आनेवाला ये क्षेत्र उन्हीं लोगों के लिए अब तक सफल साबित हुआ है, जिनका इसके प्रति लगाव हो. कलर्स, फैब्रिक लेटेस्ट स्टाइल के साथ ही आपको बहुत ज़्यादा क्रिएटिव होने की आवश्यकता है.

कहां हैं जॉब?
इस क्षेत्र में आगे बढ़ने की कोई सीमा नहीं है. अपनी क्षमता और पहुंच के हिसाब से आप आसमान की बुलंदियों को छू सकते हैं. शुरुआत आप अपने घर से कर सकती हैं. किसी कंपनी से जुड़कर पार्ट टाइम जॉब भी कर सकते हैं.

प्रमुख संस्थान
– सोफिया पॉलिटेक्निक, मुंबई.
– पर्ल ऐकेडमी ऑफ फैशन, नई दिल्ली.
– नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी, नई दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, बैंग्लोर, हैदराबाद और गांधीनगर.
– नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन डिज़ाइन, कोलकाता.
– सी ई पी ज़ेड इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी, मुंबई.

सैलरी पैकेज
इस फील्ड में बहुत पैसा है. शुरुआत में आपको किसी के अंडर रहकर काम करना पड़ता है, ताकि आप इस दुनिया की कुछ प्रैक्टिक बातें सीख सकें. स्टार्टिंग में आहपको 10-15 हज़ार मिलते हैं. किसी बड़े डिज़ाइनर का साथ मिल जाए, तो ये सैलरी इससे ज़्यादा भी हो सकती है. अनुभव और कॉन्टैक्ट्स के बाद आप अपना ब्रैंड स्टैब्लिश करने के साथ ज़्यादा कमा सकते हैं.

– श्वेता सिंह