यूरीन इंफेक्शन से निजात पान...

यूरीन इंफेक्शन से निजात पाने के नैचुरल उपाय (Home Remedies for UTI (Urinary Tract Infection)

यूरीन इंफेक्शन (Urine infection) महिलाओं में होनेवाली आम बीमारी है. क़रीब 70 फीसदी महिलाओं को ज़िंदगी में कभी न कभी ये समस्या ज़रूर होती है. ये कई कारणों से हो सकता है. यूरीन इंफेक्शन से पीड़ित महिलाओं को यूरीन पास करते समय जलन होना, बार-बार यूरीन पास करने की इच्छा होना, कमर और पीठ दर्द आदि हो सकता है. इस समस्या से निपटने के लिए आज़माएं ये घरेलू उपाय (Home Remedies).

Urinary Tract Infection
* 50 ग्राम आंवले के रस में 30 ग्राम शहद मिलाकर दिन में तीन बार पीएं. (ये मात्रा एक बार की है.) ऐसा एक हफ़्ते तक करने से पेशाब खुलकर आता है और जलन शांत होती है.
* 15 ग्राम धनिया को रात में पानी में भिगोएं. सुबह इसे ठंडाई की तरह पीसकर छान लें. फिर उसमें मिश्री मिलाकर पीएं. इससे पेशाब की जलन शांत होगी और यूरीन भी ठीक से पास होगा.
* धनिया और आंवले के चूर्ण को बरााबर मात्रा में मिलाकर रात को भिगोकर रखें. सुबह इसे मसलकर छान लें. इस पानी को पीने से यूरीन इंफेक्शन में राहत मिलती है.
* गेहूं के 10-15 दाने रात को एक ग्लास पानी में भिगो दें. सुबह उसे छान लें और उसी पानी में 25 ग्राम शक्कर मिलाकर पीएं. इससे यूरीन पास करते समय जलन नहीं होगी.
* 2 ग्राम इलायची (छिलके के साथ) को कूटकर 100 ग्राम पानी और 200 ग्राम दूध में मिलाकर उबालें. जब दो उबाल आ जाए तो उसे उतारकर ढंककर रखें. ठंडा होने पर उसमें शक्कर मिलाकर आधे-आधे घंटे के अंतराल पर 100-100 ग्राम पीने से फ़ायदा होगा.
* इलायची के दाने और सोंठ का चूर्ण बराबर मात्रा में लेकर अनार के रस या दही के पानी में मिलाएं. फिर इसमें सेंधा नमक मिलाकर पीएं. यूरीन इंफेक्शन दूर हो जाएगा.
* नारियल पानी में गुड़ व धनिया का चूर्ण मिलाकर पीने से भी यूरीन इंफेक्शन में आराम मिलता है.
ये भी पढ़ेंः कब्ज़ से छुटकारा पाने के आसान व असरदार घरेलू उपाय (Home Remedies To Get Rid Of Constipation)

* 50 ग्राम प्याज़ को बारीक़ काटकर 500 ग्राम पानी में उबालें. जब पानी आधा हो जाए तो इसे आंच से उतारकर ठंडा करके पीएं. इंफेक्शन दूर होगा.
* कई बार महिलाएं तेज़ यूरीन आने पर भी रोके रखती हैं, ऐसा करना बहुत ख़तरनाक हो सकता है. इससे यूरीन इंफेक्शन की संभावना बढ़ जाती है.
* हमेशा साफ़-सुथरे टॉयलेट का ही इस्तेमाल करें. गंदे टॉयलेट के इस्तेमाल से भी संक्रमण की संभावना रहती है.
* पीरियड्स के दौरान सैनेटरी नैपकीन बदलती रहीं, ज़्यादा देर तक एक ही पैड यूज़ करने से भी इंफेक्शन का डर रहता है.
*  हमेशा कॉटन पैटी का ही इस्तेमाल करें, सिंथेटिक कपड़े नुक़सानदायक साबित हो सकते हैं. साथ ही ये भी ध्यान रखें कि कपड़े ज़्यादा टाइट न हो.
* यूरीन इंफेक्शन होने पर चाय, कॉफी और चॉकलेट से दूर रहें. विटामिन सी युक्त फलों का रस- जैसे, संतरा, मौसंबी, नींबू, अन्नानास आदि का जूस पीना इसमें बहुत फ़ायदेमंद होता है. ख़बू पानी पीएं. इससे भी बैक्टीरिया ख़त्म होते हैं.

ये भी पढ़ेंः जर्म्स से जुड़े मिथक और सच्चाइयां (What Are The Common Myths About Germs And The Truth)