कैसे करें ऑनलाइन जॉब की तलाश? (How To Find Online Job opportunities?)

Online Job opportunities
यदि आप भी ऑनलाइन जॉब की तलाश करना चाहते हैं, पर इंटरनेट पर दी गई ढेर सारी जानकारियों से घबरा गए हैं या कंफ्यूज़ हो गए हैं और समझ नहीं पा रहे हैं कि शुरुआत कहां से करें, तो आइए ऑनलाइन जॉब कैसे ढूंढ़ें, हम आपको बताते हैं.

क्या है ऑनलाइन जॉब सर्च?

आजकल ऐसी अनेक वेबसाइट्स हैं, जो जॉब की जानकारी देती हैं. कुछ वेबसाइट इसकी जानकारी निःशुल्क देती हैं, तो कुछ मामूली-सा शुल्क लेती हैं. इन पर अप्लाई करके मनचाहा जॉब पाया जा सकता है. सबसे पहले इन वेबसाइट्स पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होता है. इसके बाद जॉब की जानकारी मिलती है. इसके बाद बायोडाटा यानी रेज़्यूमे पोस्ट कर जॉब पाया जा सकता है.

क्या करें?

  •  यदि आप अपने लोकल एरिया में जॉब पाना चाहते हैं, तो ऐसी बहुत-सी साइट्स हैं, जो लोकल जॉब बताती हैं. इसके लिए अपने शहर और राज्य का नाम टाइप करें और अपने एरिया के मनचाहे जॉब पर क्लिक करें.
  • यदि आप कंपनी की साइट्स जानते हैं, तो उसे टाइप कर आप जॉब संबंधी जानकारी ले सकते हैं.
  • यदि आप ख़ास तरह का जॉब पाना चाहते हैं, जैसे- लेखन, अकाउंटेंसी, टेलिफोन ऑपरेटर, डाटा एंट्री या कुछ अन्य, तो आप जॉब का नाम टाइप करके मिली हुई जानकारी से जॉब चुन सकते हैं.

ऑनलाइन जॉब सर्च से जुड़ी सावधानियां

Online Job opportunities
मेल से सावधान

  • जॉब के लिए बायोडाटा पोस्ट करने के बाद, एक बात का ध्यान रखें कि सही और ग़लत दोनों तरह के लोग हमेशा एक ही पैटर्न फॉलो करते हैं. यदि जॉब की इच्छा रखनेवालों को एक जैसे ईमेल भेजते हैं, उसमें सही-ग़लत की पहचान करना आपका काम है.
  • यदि आपको ऐसा ईमेल आया है, जिसमें लिखा है, हमने इंटरनेट पर आपका रेज़्यूमे देखा. आपका कौशल हमारे लिए एकदम परफेक्ट है. आप हमारा ऑनलाइन आवेदन पत्र भरें. इसके लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.” तो सावधान हो जाएं. क्लिक करने की जल्दी न करें. पहले सोचें, क्या आपने इनको अपना बायोडाटा भेजा था? उनका वेबसाइट टाइप कर कंपनी की वेबसाइट पर जाएं. देखें, क्या ये प्रतिष्ठित कंपनी है? क्या इन्होंने सचमुच आवेदन मंगवाए हैं? ज़रूरत पड़े, तो दिए गए फोन नंबर पर बात करें.

और भी पढ़ें: कैसे ढूंढ़ें सोशल मीडिया पर नौकरी?

पर्सनल जानकारी न दें

  • आपको भले ही कंपनी सुरक्षित और जानी-पहचानी लग रही हो, लेकिनजल्दबाज़ी न करें. यदि ईमेल में आपसे व्यक्तिगत, जैसे- आपके कॉन्टैक्ट डिटेल्स, अकाउंट नंबर, क्रेडिट-डेबिट कार्ड संबंधी जानकारी मांगी जाए, तो न दें.
  • ध्यान रखें, प्रतिष्ठित कंपनियां इस तरह की जानकारियां नहीं मांगतीं, कंपनी सही है या नहीं, जानने के लिए उनके दिए गए पते पर उनसे मिलें.

ध्यान रहे, वेब पेज सिक्योर हो

  • वेब पेज सिक्युरिटी की पहचान करना एकदम आसान है. यदि वेब पेज सिक्योर नहीं होगा, तो साइट पर http की बजाय https होगा. इस तरह ध्यान रखने से आपकी व्यक्तिगत जानकारी ग़लत हाथों में नहीं जाएगी.

साइट की प्राइवेसी पॉलिसी पढ़ें और समझें

  • जानी-मानी प्रतिष्ठित कंपनियां अपने सदस्यों के लिए स्ट्रीक प्राइवेसी पॉलिसी रखती हैं. इसमें नाम, ईमेल एड्रेस या ज़्यादा से ज़्यादा फोन नंबर और पता पूछा जाता है.
  • कई साइट्स एक सोशल सिक्योरिटी भी देती हैं, जो हर बार लॉग इन करने पर देना होता है. ऐसी साइट्स भरोसेमंद होती हैं.

रिपोर्ट करें

  • यदि किसी कारणवश आप साइट के झांसे में आ जाते हैं और अपना नुक़सान कर बैठते हैं, तो चुप न रहें. “इंटरनेट फ्रॉड कंपलेंट सेंटर’ पर ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराएं. ज़्यादा नुक़सान हुआ है, तो पुलिस के “साइबर सेल’ में भी शिकायत दर्ज की जा सकती है.

कैसे लिखें रेज़्यूमे?

  • ध्यान रहे, रेज़्यूमे/बायोडाटा बहुत ही प्रभावशाली ढंग से लिखा जाना चाहिए. कंपनी के पास ढेर सारे आवेदन आते हैं. जिनमें से केवल कुछ ही अंत में रिक्रूटमेंट बेंच के पास पहुंचते हैं.
  • रेज़्यूमे में अपनी सभी क्षमताएं अच्छी तरह से हाइलाइट करें. साथ ही यदि कोई अनुभव हो, तो उसे पहले पेज पर लिखें.
  • अपनी शैक्षणिक योग्यताओं के साथ, एक्स्ट्रा करिकुलर एक्टिविटीज़ के बारे में लिखें.
  • अपने कामों को सीनियर से जूनियर के क्रम में लिखें अर्थात् आपकी वर्तमान जॉब पहले और उसके बाद अन्य की गई जॉब्स, उसके बाद पढ़ाई की डिग्रियां और काम के दौरान यदि कोई उपलब्धियां मिली हों, तोज़रूर लिखें.
  • अपनी व्यक्तिगत ख़ूबियों, जैसे- परिश्रमी, टीमवर्क में माहिर अथवा अन्य ख़ूबियों को हाइलाइट करना न भूलें.
  • यदि आपको रेज़्यूमे बनाने में कठिनाई हो रही हो, तो इंटरनेट पर कई ऐसी साइट्स हैं, जो रेज़्यूमे बनाने में आपकी सहायता करती हैं. चाहें तो प्रोफेशनल एक्सपर्ट से भी रेज़्यूमे बनवाया जा सकता है.

सोशल नेटवर्किंग साइट्स के फ़ायदे

Online Job opportunities
ट्विटरः इंजीनियर की छात्रा रश्मि शर्मा कहती हैं, “पढ़ाई के तुरंत बाद जॉब करने का मन नहीं था, आराम करना चाहती थी. ऐसे ही ट्विटर पर डाल दिया- सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट में जॉब करने की इच्छा है, बस लोगों के मैसेजेस आने शुरू हो गए. एक जॉब अच्छा लगा. बस, जॉइन कर लिया.


फेसबुकः बी.कॉम के छात्र साकेत कहते हैं, “हम सब दोस्त बोर होने की बजाय समर वेकेशन में किसी फूड चेन में 2 महीने जॉब करते थे. मैंने इस बार कुछ अलग करने की सोची. अपनी शैक्षणिक योग्यता फेसबुक पर डालकर किसी भी क्षेत्र में काम करने की इच्छा दर्शाई. बस, फिर क्या था एचआर, रिटेल इंडस्ट्री से लेकर, होम सोल्यूशन्स, काउंसलिंग, हेल्थ केयर इंडस्ट्री के अलावा अनेक कंपनियों ने सर्वे के लिए मुझे ऑफर दिया. मुझे इतने रिस्पॉन्स की आशा नहीं थी. मैंने और मेरे दोस्तों ने कोई न कोई जॉब ले लिया. वेकेशन में हमारी पॉकेटमनी निकली ही, अनुभव प्रमाणपत्र भी मिला. अब हर साल हमने यही तरीक़ा अपनाने का सोचा है.”

यूट्यूबः यूट्यूब पर आप अपना वीडियो रेज़्यूमे बना सकते हैं. किसी प्रोफेशनल से बनवाएं, तो बेहतर होगा. मल्टीनेशनल कंपनियां इस तरह की अप्रोच पसंद करती हैं.

ऑनलाइन जॉब ढूंढ़ें, मगर पूरी तरह तसल्ली होने के बाद ही बायोडाटा/रेज़्यूमे भेजें. इससे आप ग़लत झांसे में भी नहीं फंसेंगे और अपनी मनपसंद जॉब पाकर संतुष्ट भी रहेंगे.

और भी पढ़ें: न्यू जॉब जॉइन करने से पहले ख़ुद से करें कुछ सवाल

– डॉ. सुषमा श्रीराव