अपने केयरटेकर के बच्चों की ...

अपने केयरटेकर के बच्चों की परवरिश को लेकर माही विज ने कहा, ‘हमने उन्हें कभी गोद लिया ही नहीं, उनके अपने माता-पिता हैं, पर हम एक खुशहाल परिवार हैं!’ (Mahhi Vij Opens Up On Her Foster Kids Rajveer & Khushi, ‘We Have Not Adopted Them, They Have Parents, We Are Like A Happy Family’)

माही विज और जय भानुशाली टीवी के काफ़ी पॉप्युलर स्टार और फेमस कपल हैं. माही और जय ने आठ सालों तक अपने केयरटेकर के बच्चों- राजवीर और ख़ुशी की परवरिश की और उसके बाद उनकी बेटी तारा का जन्म साल 2019 में हुआ. तारा के जन्म के बाद से ही लोग उन्हें ट्रोल करने लगे थे कि जय और माही अपने गोद लिए बच्चों का अब ध्यान नहीं रखता क्योंकि अक्सर तस्वीरों में राजवीर और ख़ुशी नज़र नहीं आते थे.

Mahhi Vij Foster Kids Rajveer & Khushi

इस पर जय ने लोगों को जवाब दिया था कि इस तरह इल्ज़ाम लगाना आसान है जबकि बहुत मेहनत लगती है बच्चों की परवरिश के लिए जो हम भली-भांति कर रहे हैं. जय ने ऑपन लेटर लिखा था जिसमें कहा था कि हम पेरेंट्स हैं और हम फॉस्टर पेरेंट्स भी हैं, तारा ने एक ख़ुशी के रूप में जन्म लिया और हमें भी खुश होने का हक़ है. पर इससे राजवीर और ख़ुशी के प्रति हमारी भावनाएं नहीं बदलतीं. हम आज भी तीन बच्चों के माता-पिता हैं.

Mahhi Vij Foster Kids Rajveer & Khushi

लेकिन राजवीर और ख़ुशी के बायलॉजिकल पेरेंट्स भी हैं और वो फ़िलहाल उनके साथ होमटाउन में हैं. पर हम ताउम्र उनके प्रति अपनी ज़िम्मेदारी निभाएंगे.

माही ने भी कहा था कि ये तो अच्छी बात है की उन बच्चों के दो-दो घर हैं और जब जहां चाहें रह सकते हैं.

Mahhi Vij Foster Kids Rajveer & Khushi

पर हाल ही में ज़ूम डिजिटल को माही विज ने दिए एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा किया कि राजवीर और ख़ुशी उनके अडॉप्टेड बच्चे हैं ही नहीं. माही ने कहा हमने उन्हें गोद नहीं लिया, उनके पेरेंट्स हैं. उनके पिता अभी भी हमारे साथ काम करते हैं. उनकी मां हैं. बस इतना है कि वो जबसे पैदा हुए हैं हमारे साथ ही हैं. वो मुझे अम्मा और जय को दद्दा बुलाते हैं. हम सब साथ रहते हैं और हम एक ख़ुशहाल परिवार हैं. लेकिन क़ानूनी तौर पर गोद लेने जैसा कुछ नहीं है, ये बात आई कहां से मुझे ये भी नहीं पता.

Mahhi Vij Foster Kids Rajveer & Khushi

माही ने बताया कि दोनों बच्चे अपने होम टाउन में हैं क्योंकि कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते उनके दादाजी उन्हें लेकर चिंतित थे और वो बच्चों को अपने पास बुलाना चाहते थे और वापस जाने का फ़ैसला भी उनका खुद का ही था क्योंकि उन्हें वहां ज़्यादा सेफ़ महसूस होता है.
ग़ौरतलब है कि जय और माही साल 2017 से राजवीर और ख़ुशी की पढ़ाई-लिखाई का खर्च उठा रहे हैं और सभी को अब तक यही लगता था कि उन्होंने बच्चों को अडॉप्ट किया है. यही वजह है कि वो ट्रोल का शिकार भी काफ़ी होते हैं, क्योंकि लोग उन पर ये भी आरोप लगते हैं कि उन्होंने राजवीर और ख़ुशी के अडॉप्शन की बात को पब्लिसिटी के लिए यूज़ किया.

Mahhi Vij Foster Kids Rajveer & Khushi

ख़ैर जय और माही समय-समय पर जवाब देते आए हैं और जहां तक बात राजवीर और ख़ुशी की है तो जब वो साथ थे तो तीनों बच्चे साथ ही हंसते-खलते थे, खाना खाते थे, माही का भी यही कहना है कि तारा अभी बहुत छोटी है और इन सब बातों और नेगेटिविटी का असर भले ही पहले मुझ पर होता था लेकिन अब ना मैं परवाह करती हूं और ना बच्चों पर उसका असर होना चाहिए. जिन लोगों के पास करने को कोई काम नहीं वो ही इस तरह की बातें करते हैं.
Photo Courtesy: Instagram (All Photos)

यह भी पढ़ें: रुबीना दिलैक ने शेयर की वो 5 खास चीजें, जिनसे उन्हें कोविड-19 से जल्दी रिकवर होने में मिली मदद (Rubina Dilaik Shares 5 Things Which Helped Her a Speedy Recovery From COVID-19)