नम्रता ही असली कामयाबी है (Modesty Is The Real Success)

नम्रता से आप क्या हासिल कर सकते हैं, इसका बेहतरीन उदाहरण हैं सचिन तेंदुलकर, मदर टेरेसा, अमिताभ बच्चन जैसी हस्तियां, जिनके नम्र स्वभाव ने लाखों दिलों में अपनी ख़ास जगह बनाई है. आप कितने भी ज्ञानी, कितने भी क़ाबिल क्यों न हों, यदि आप में नम्रता नहीं है, तो आप लोगों का दिल जीतने में कभी क़ामयाब नहीं हो सकते. अतः सफलता के शिखर पर पहुंचकर भी नम्र बने रहें, तभी आप सही मायने में क़ामयाब कहलाएंगे.

नम्रता मान देती है, योग्यता स्थान देती है.
                                          – अज्ञात

नम्रता और मीठे वचन ही मनुष्य के आभूषण होते हैं.
                                                – तिरुवल्लुवर

नम्रता सारे गुणों का दृढ़ स्तंभ है.
                         – कन्फ्यूशस

विनम्रता एक आध्यात्मिक शक्ति है.
                      – रवींद्रनाथ ठाकुर

प्रार्थना नम्रता की पुकार है.
              – महात्मा गांधी

महान पुरुष की पहली पहचान उसकी नम्रता है.
                                              – अज्ञात

नम्रता की ऊंचाई का नाप नहीं.
                     – विनोबा भावे

विनम्रता शरीर की अंतरात्मा है.
      – एडीसन

कठोरता से अधिक शक्तिशाली नम्रता है.
                                       – अज्ञात

विनम्रता एक गुण है और यह गुण अतिथियों में स्वाभाविक रूप से होता है.
                                                                            – मैक्स बीरबोह्म

[amazon_link asins=’8192910962,8183225098,9352770145,8192910911′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’a83301aa-b7e8-11e7-95a3-2b5edc298a4c’]