पेन रिलीफ होम रेमेडीज़ (Pain Relief Home Remedy)

backpain,home remedies

कमर-पीठदर्द

यह दर्द अमूमन सभी को होता है. बैठने-उठने के ग़लत तरी़के और व्यायाम की कमी के कारण ज़्यादातर लोगों को कमरदर्द और पीठदर्द होता है. महिलाओं में इस दर्द का मुख्य कारण माहवारी होता है.
अदरक: अदरक में दर्द निवारक गुण होते हैं, जो किसी भी तरह के दर्द को दूर कर सकते हैं. इसे किचन का छोटा डॉक्टर कहना ग़लत नहीं होगा.
– अदरक को पीसकर दर्दवाली जगह पर लगाएं.
– अदरक को टुकड़ों में काटकर आधे घंटे तक पानी में उबालें. पानी को निथारकर शहद मिलाकर पीएं.
बेसिल लीव्सः यह एक तरह का हर्ब है, जो किसी भी सब्ज़ी की दुकान में आसानी से मिल जाता है.
– एक कप पानी में 8-10 बेसिल की पत्तियां और एक चुटकी नमक डालकर तब तक उबालें, जब तक कि वह आधा न रह जाए. अगर दर्द कम हो, तो दिन में एक बार और अगर ज़्यादा हो तो, दिन में दो बार पीएं.
खसखस: यह कमरदर्द और पीठदर्द में जादुई कमाल करता है. इसमें मौजूद तत्व दर्द को तुरंत कम करते हैं.
– 100 ग्राम खसखस को थोड़ी-सी मिश्री के साथ पीस लें. इस मिश्रण को 2 टीस्पून की मात्रा में रोज़ाना दो बार लें और उसके बाद एक ग्लास गर्म दूध पीएं.
लहसुन: अपने औषधीय गुणों के कारण यह हमेशा से ही हमारे भोजन का अभिन्न अंग रहा है, इसलिए दवा के रूप में यह काफ़ी
लाभदायक माना जाता है. इसमें मौजूद एंटीबायोटिक हमें कई बीमारियों से भी बचाता है.
– सुबह उठकर खाली पेट लहसुन की दो कलियां खाएं.
– आप लहसुन के तेल से मालिश भी कर सकते हैं.
मालिश: अपने डॉक्टर से सलाह लेकर आप हर्बल या आयुर्वेदिक तेल से मालिश कर सकते हैं. इसके लिए आप नीलगिरी, बादाम, तिल, सरसों या नारियल के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं.

एक्स्ट्रा रेमेडीज़– 100 ग्राम अजवायन पाउडर में 100 ग्राम गुड़ मिलाकर रख लें. सुबह-शाम 1-1 टीस्पून की मात्रा में इसका सेवन करने से कमरदर्द दूर होता है.
– 5 खजूर को पानी में उबालकर उसमें आधा टीस्पून मेथी पाउडर मिलाकर पीने से कमरदर्द में आराम मिलता है.

घुटनों का दर्द

अगर घुटनों में दर्द उठे, तो हमारा उठना- बैठना और चलना सब कुछ मुश्किल हो जाता है. ऐसे में कुछ घरेलू उपाय आपको ज़रूर आराम देंगे.
विनेगर: इसके अम्लीय गुणों के कारण यह घुटनों के जोड़ों पर जमा होनेवाले टॉक्सिन को कम करता है और जोड़ों के ल्यूब्रिकेंट को बरक़रार रखता है.

– दो टीस्पून एप्पल साइडर विनेगर को दो कप पानी में मिलाकर रखें. थोड़े-थोड़े समय के अंतराल पर इस मिश्रण का एक-एक घूंट दिनभर पीते रहें.
– पानी में 2 कप विनेगर मिलाकर स्नान करें.
– विनेगर और जैतून के तेल को मिलाकर मालिश करें.
हल्दीः हल्दी में कुरक्यूमिन नामक तत्व पाया जाता है, जो एंटी ऑक्सिडेंट होने के साथ-साथ दर्दनिवारक भी होता है. हाल ही में नेशनल सेंटर फॉर कांप्लीमेंटरी एंड ऑल्टरनेटिव मेडिसीन की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि हल्दी गठिया रोग होने से रोकती है, जो घुटनों के दर्द का मुख्य कारण है.
– आधा टीस्पून पिसी हुई अदरक और हल्दी को पानी में 10 मिनट तक उबालें और फिर पानी छान लें. इस पानी में शहद
मिलाकर पीएं.
– एक ग्लास पानी में हल्दी को उबालकर पीएं.
नींबूः नींबू में मौजूद सिट्रिक एसिड हमारे शरीर में यूरिक एसिड को बढ़ने नहीं देता, जिससे गठिया का ख़तरा काफ़ी कम हो जाता है.
– एक कपड़े में 4-5 नींबू के टुकड़े बांधकर, उसे गर्म तिल के तेल में थोड़ी देर डुबोकर रखें, फिर उस तेल को घुटनों पर लगाएं.
एक्स्ट्रा रेमेडीज़ – राई को पीसकर घुटनों पर उसका लेप करें. तुरंत आराम मिलेगा.
– अजवायन को पानी में उबालकर उसकी भाप घुटनों पर लेने से दर्द से तुरंत राहत मिलती है.
– लहसुन को पीसकर दर्दवाली जगह पर लगाने से तुरंत राहत मिलती है, पर याद रहे, इसे ज़्यादा देर तक न रहने दें, वरना फफोले आ सकते हैं.

जोड़ों का दर्द या गठिया

आर्थराइटिस या गठिया में जोड़ों में दर्द और सूजन आ जाती है. इससे छुटकारा पाने के लिए आप कुछ आसान से उपाय अपना सकते हैं.
सेंधा नमक: यह मैग्नीशियम का बहुत अच्छा स्रोत है. इससे हमारे शरीर में पीएच का संतुलन बना रहता है.
– आधे कप गुनगुने पानी में सेंधा नमक और नींबू का रस समान मात्रा में मिलाकर सुबह-शाम 1-1 चम्मच पीएं.
– सेंधा नमक को गुनगुने पानी में डालकर नहाएं.
दालचीनीः दालचीनी में कई दर्दनिवारक गुण होते हैं. इसके साथ ही यह कई शारीरिक समस्याओं से भी राहत
दिलाता है .
– एक चम्मच दालचीनी पाउडर और एक चम्मच शहद को एक कप गर्म पानी में मिलाकर सुबह खाली पेट लें.
– दालचीनी पाउडर और शहद मिलाकर पेस्ट बना लें. इससे जोड़ों पर मालिश करें.
इन सभी घरेलू उपायों के साथ यह ज़रूर ध्यान में रखें कि यह सभी दर्द आधुनिक जीवनशैली में व्यायाम की कमी और उठने-बैठने व चलने की ग़लत मुद्राओं के कारण होते हैं, इसलिए व्यायाम ज़रूर करें और स्वस्थ रहें. अगर दर्द ज़्यादा हो, तो डॉक्टर से ज़रूर मिलें.
एक्स्ट्रा रेमेडीज़– गठिया रोग में नीम के तेल की मालिश काफ़ी लाभदायक होती है.
– लहसुन की दो कलियां कूटकर तिल के तेल में डालकर गर्म करें. इससे जोड़ों पर मालिश करें. यह बहुत फ़ायदेमंद
उपाय है.
– 2 टीस्पून एरंडी के तेल में थोड़ी-सी सोंठ मिलाकर काढ़ा बनाएं. रोज़ाना सुबह पीएं, जल्द आराम लगेगा.
– सर्दियों में जब दर्द सताए, तो पानी में 2 टेबलस्पून अजवायन और एक टेबलस्पून नमक मिलाकर उबालें. भगोने के ऊपर जाली रखकर कपड़ा रखें और उसी से सेंक करें. फौरन आराम मिलेगा.
– सरसों के तेल में अजवायन और लहसुन गर्म करके दर्दवाले भाग पर मालिश करें, तुरंत राहत मिलेगी.

                                                                                                                                                        – विजया कठाले निबंधे