गुरु गोविंद सिंह की जंयती प...

गुरु गोविंद सिंह की जंयती पर उन्हें नमन (Prakash Parv: Guru Gobind Singh 353th Birth Anniversary)

 

* सिखों के दसवें गुरु गुरु गोविंद सिंह की आज जंयती है. इसे प्रकाशपर्व के रूप में मनाया जाता है.

* गुरु गोविंद सिंह का जन्म बिहार के पटना में हुआ था और इनका पूरा बचपन बिहार में बीता.

* इनके पिता का नाम गुरु तेग बहादुर और माता का नाम गुजरी देवी था.

* गोविंद सिंह जी ने खालसा पंथ की स्थापना की. वो एक महान स्वतंत्रता सेनानी और कवि भी थे.

* पिता की मृत्यु के बाद स़िर्फ नौ साल की उम्र में गोविंद सिंह जी ने गुरु की गद्दी संभाली.

* गोविंद सिंह जी को संत सिपाही भी कहा जाता था, क्योंकि इनके दरबार में 52 कवि व लेखकों की उपस्थिति रहती थी.

* सिखों को मुगल शासकों के अत्याचार से मुक्ति दिलाने में गोविंद सिंह जी का बहुत योगदान रहा. उन्होंने मुगलों व उनके सहयोगियों के साथ 14 युद्ध  लड़े.

* महाराष्ट्र के नांदेड शहर में सिखों के दसवें तथा अंतिम गुरु गोविंद सिंह जी ने अपने प्रिय घोड़े दिलबाग के साथ अंतिम सांस ली थी.