‘इक प्यार का नगमा है&...

‘इक प्यार का नगमा है…’ गीत अपनी प्रेमिका के लिए लिखा था संतोष आनंद ने, बिल्कुल फिल्मी है उनकी ये लव स्टोरी (Santosh Anand Had Written Song Ek Pyaar Ka Nagma Hai… For His One Time Lover, Know Interesting Love Story Of Lyricist)


एक प्यार का नगमा है.., जिंदगी की ना टूटे लड़ी.., मैं ना भुलूंगा.., मोहब्बत है क्या चीज.., मेघा रे मेघा… जैसे सुपरहिट रोमांटिक गाने लिखने वाले बीते जमाने के मशहूर गीतकार संतोष आनंद इन दिनों फिर से खूब सुर्खियों में हैं. जब से उन्होंने सिंगिग रियलिटी शो ‘इंडियन आइडल 12’ में शिरकत की है, तब से हर कोई उन्हें लगातार याद कर रहा है, उनका 11 मिनट का वीडियो शेयर किया जा रहा है, उनके लिखे गीत सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे हैं.


लड़खड़ाती आवाज़ में भी हौसला था

Santosh Anand

शो में जब गीतकार संतोष व्हीलचेयर पर आए तो उनके कांपते शरीर में भी आत्मविश्वास नजर आ रहा था. आवाज़ भले ही लड़खड़ा रही थी, पर हौसला था उनकी आवाज़ में. संतोष आनंद को बतौर गेस्ट शो में बुलाया गया था, लेकिन उनके आते ही पूरा माहौल गमगीन हो गया. हर कोई उनकी जिंदगी की दास्तान सुनकर हैरान हो गया. लेकिन उनकी ज़िंदगी से जुड़ी एक दास्तान ऐसी भी है, जिसे सुनकर आपको अच्छा महसूस होगा. आज हम संतोष आनंद जी की उस लवस्टोरी के बारे में आपको बताएंगे, जो किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है.

अपनी प्रेमिका के लिए लिखा था गीत

Santosh Anand

गीतकार संतोष आनंद के गीतों ने ही हमें प्यार करना सिखाया. उनका लिखा एक गीत “इक प्यार का नगमा है, मौजों की रवानी है… ऑल टाइम फेवरेट है और आज भी उतना ही पॉपुलर है, जितना पहले था. इस गीत को कई लोग सदी का सबसे बेहतरीन गीत मानते हैं, लेकिन शायद बहुत कम लोग जानते हैं कि ये गीत संतोष आनंद जी ने सालों पहले अपनी प्रेमिका के लिए लिखा था. लेकिन जिस प्रेमिका के लिए उन्होंने इतना प्यारा गीत लिखा था, वो उनसे बाद में दूर हो गई, लेकिन 50 साल बाद पर मिल भी गईं.. क्या है पूरा किस्सा आइये जानते हैं.

खुद खोला अपनी जिंदगी का बहुत बड़ा राज

Santosh Anand

ये किस्सा खुद संतोष आनंद जी ने एक इवेंट के दौरान सुनाया था. इस इवेंट के दौरान उन्‍होंने अपनी जिंदगी का बड़ा राज खोला और उस पहलू के बारे में बताया जो अमूमन लोग छिपाते हैं. उन्होंने बेझिझक बताया कि गीत ‘इक प्‍यार का नगमा है…’ उन्‍होंने अपनी प्रेमिका के लिए लिखा था. उन्होंने यह भी बताया कि वह प्रेमिका बाद में उनसे बिछड़ भी गई थी.



50 साल बाद किया फोन, अब अक्सर करती है बात

Santosh Anand

उन्होंने बताया कि वह इस जीवन में फिर मिलेगी, इसका यकीन उन्‍हें नहीं था. लेकिन संतोष आनंद ने बताया कि कुछ साल पहले उस प्रेमिका ने उन्हें अचानक एक दिन फोन किया. उन्हें तो यकीन ही नहीं हो रहा था. उन्‍हें तो लगता था कि वह शायद अब इस दुनिया में ही न हो, लेकिन 50 साल के बाद वो फिर मिली तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा. अब जब कि उनकी पुरानी प्रेमिका फिर मिल गई है, तो वो अक्सर ही बातें करते हैं. हालांकि संतोष आनंद जी ने अपनी प्रेमिका का नाम नहीं बताया, लेकिन इतना ज़रूर बताया कि वह पुणे में रहती है और उन्हें बराबर फोन करती है.

उम्र नहीं, हौसले से जीना सीखें

Santosh Anand

आज संतोष आनंद काफी बुजुर्ग हो चुके हैं, लेकिन न उनका हौसला कम हुआ है, न आत्मविश्वास. उल्टे संतोष आनंद जी सभी बुजुर्गों से कहते हैं कि वे उम्र नहीं, हौसले से जीएं. वो कहते हैं कि भले ही उनका शरीर साथ नहीं दे रहा है, लेकिन वे हौसलों के बल पर बेहतर ढंग से जी रहे हैं.