कहानी- लव यू विभु…4 (Story...

कहानी- लव यू विभु…4 (Story Series- Love You Vibhu…4)

सब कुछ एक बहुत ही सुंदर सपने की तरह सहज हो रहा था. इतनी जल्दी की विभु और अनुभा को लग ही नहीं रहा था कि यह सच है. उनका प्यार एक रिश्ते की डोर में बंधने जा रहा था.

 

 

 

 

 

… तब दुनिया से बेख़बर वे अपने ही जहान में डूबे रहते. कभी किसी रेस्टॉरेंट में लंच लेते, कभी किसी कैफे में गरम कॉफी से उठते धुएं के पर्दे के आर-पार एक-दूसरे को देखते हुए. कभी विभु की जीप में आसपास की पहाड़ियों पर घूमने निकल जाते. प्रकृति के सुरम्य सानिध्य में अपने प्यार के अनमोल पलों को एक साथ जीते.
लेकिन दुनिया उनके प्यार से बेख़बर नहीं थी. सालभर होते-होते अनुभा के घर पर इस ख़बर ने दस्तक दे दी थी और इस ख़बर की सच्चाई की गवाही में अगले ही दिन विभु ख़ुद अनुभा के घर पर उसके माता-पिता के सामने हाज़िर था. एक रिश्ते का आश्वासन लेकर.
फिर तो ख़बर उस छोटे से पहाड़ी शहर की पक्की सड़कों से लेकर कच्ची पगडंडियों पर चलकर हर जान-पहचानवाले के घर तक पहुंच ही गई. और फिर अनुभा के पिता ने चाहा कि ये ख़बर विभु के घरवालों तक भी पहुंचे, तो उनकी लड़की के भविष्य के प्रति वे पूरी तरह आश्वस्त हो जाएं. विभु ने देर नहीं की. अगले ही हफ़्ते उसके माता-पिता अनुभा के घर पर रिश्ता पक्का करके उसका मुंह मीठा करा कर लगे हाथ सगाई करके शादी की तारीख़ तय कर गए.

 

 

यह भी पढ़ें: किस महीने में हुई शादी, जानें कैसी होगी मैरिड लाइफ? (Your Marriage Month Says A Lot About Your Married Life)

 

 

 

सब कुछ एक बहुत ही सुंदर सपने की तरह सहज हो रहा था. इतनी जल्दी की विभु और अनुभा को लग ही नहीं रहा था कि यह सच है. उनका प्यार एक रिश्ते की डोर में बंधने जा रहा था.
अब एक-एक पल काटना कठिन हो रहा था. जीवन एक नए संसार में प्रवेश करनेवाला था, जहां उनका प्यार अनगिनत नए रंगों की कलियों में खिलनेवाला था. दोनों घरों में शादी की तैयारियां पूरे उत्साह और ज़ोरों से चल रही थीं. विभु शादी के दो दिन पहले सीधे अनुभा के शहर ही आनेवाला था, क्योंकि उसने शादी के बाद साथ रहने के लिए आगे छुट्टी ले रखी थी. विभु के घरवाले चार दिन पहले से आकर होटल में ठहरे हुए थे. अनुभा के हाथों में विभु के नाम की मेहंदी लग गई थी. सबको बस विभु का इंतज़ार था.
विभु ठीक समय पर आया, लेकिन घोड़ी पर चढ़कर नहीं. विभु आया, लेकिन तिरंगे में लिपटकर. ब्याह की शहनाई तोपों की सलामी में बदल गई.

अगला भाग कल इसी समय यानी ३ बजे पढ़ें…

Dr. Vinita Rahurikar
डॉ. विनीता राहुरीकर

 

 

 

 

 

यह भी पढ़ें: शादी से पहले दिमाग़ में आनेवाले 10 क्रेज़ी सवाल (10 Crazy Things Which May Bother You Before Marriage)

 

 

अधिक कहानियां/शॉर्ट स्टोरीज के लिए यहां क्लिक करें – SHORT STORiES

×