बढ़ते बच्चों की अच्छी हाइट व सेहत के लिए उन्हें ये खिलाएं (Super Foods For Growing Children)

बढ़ते बच्चों के सही विकास के लिए उन्हें हर तरह के पोषक तत्वों की ज़रूरत होती है. यदि आप चाहती हैं कि आपका बच्चा शारीरिक व मानसिक रूप से स्वस्थ रहे और उसका विकास सही तरीक़े से हो तो उनकी डायट में ये चीज़ें शामिल कीजिए (Super Foods For Growing Children).

Super Foods For Growing Children

 

ओटमीलः कई रिसर्च से ये बात साबित हुई है कि ओटमील खानेवाले बच्चे पढ़ाई में अच्छी तरह कॉन्संट्रेट कर पाते हैं, जिससे स्कूल में उनका परफॉर्मेंस अच्छा रहता है. फाइबर से भरपूर ओटमील धीरे-धीरे पचता है और बच्चे को एनर्जी देता है.

पालकः पालक आयरन, कैल्शियम, फॉलिक एसिड, विटामिन ए और सी का अच्छा स्रोत है, जो बच्चों के मानसिक विकास और मज़बूत हडि्डयों के लिए ज़रूरी होता है. पालक बहुत जल्दी पक जाता है. आप पालक को गरम सूप, टोमैटो सॉस या फ्रैंकी में भी डालकर बच्चे को दे सकती हैं.

स्वीट पोटैटोः पोटैशियन, विटामिन सी, फाइबर, फॉलेट, विटामिन ए, कैल्शियम और आयरन से भरपूर शकरकंद बेहतरीन पोषक तत्व है. इसे कई रेसिपी में आप आलू की जगह भी इस्तेमाल कर सकती हैं. इसे मैश, ग्रिल या रोस्ट करके इस्तेमाल किया जा सकता है.

बेरीज़ः ब्लूबेरी, स्ट्राबेरी और रसबेरी में पोटैशियम, विटामिन सी, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और एंटीऑक्सिडेंट होता है. इनमें फैट और कोलेस्ट्रॉल नहीं होता. इनका स्वाद मीठा होता है इसलिए बच्चे इन्हें पसंद करते हैं. इन्हें आप ओटमील, दही, दलिया आदि में मिक्स कर सकती हैं.

अंडाः अंडे में प्रोटीन की मात्रा ज़्यादा होती है. इसके अलावा इसमें दर्जन भर से ज़्यादा ज़रूरी विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं. साथ ही अंडे में कोलीन नामक पोषक तत्व भी भरपूर मात्रा में होता है, जो मस्तिष्क के विकास के लिए ज़रूरी होता है. अंडे को बॉयल, फ्राई  या किसी भी अन्य रूप में बच्चे को दें.

दहीः कैल्शियम और प्रोटीन से भरपूर दही बच्चों के दांत व हड्डियों को मज़बूती देता है, साथ ही पाचन में भी मदद करता है. ताज़े फल के साथ बच्चे को दही खिलाना फ़ायदेमंद होता है.

तुलसीः इसमें एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन ए, सी, के, आयरन, पोटैशियम और कैल्शियम होता है, जो बच्चे की पाचन क्रिया को ठीक रखता है. कई रिसर्च से पता चला है कि तुलसी सिरदर्द से राहत दिलाने में भी कारगर है. अगली बार जब आप पास्ता बनाएं तो तुलसी के कुछ पत्ते सॉस में मिला दें.

ये भी पढ़ेंः कैसा हो 0-3 साल तक के बच्चे का आहार?

 

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies