टॉप 10 सुपर सेविंग ट्रिक्स (Top 10 Super Saving Tricks)

rsz_con2397

बढ़ती महंगाई में सेविंग करना आसान नहीं, लेकिन ये काम इतना मुश्किल भी नहीं है कि आप न कर सकें. थोड़ी-सी समझदारी और सूझ-बूझ से इस मुश्किल काम को आसान बनाया जा सकता है.

1. बजट तय करें

अगर आप सेविंग करना चाहते हैं, तो सबसे पहले अपना बजट तय करें. इसके लिए महीने की शुरुआत में ही महीने भर होने वाले ख़र्च की लिस्ट बना लें. पिछले महीने का बैंक स्टेटमेंट भी चेक करें और ये देखें कि उस महीने आपने कितने पैसे ख़र्च किए हैं? जब आप पूरी लिस्ट डायरी में नोट कर लें, तब ये देखें कि किन ख़र्चों में कटौती की जा सकती है? एक बार ये ट्रिक आज़मा कर देखें, यक़ीनन आप सेविंग करने में सफल होंगे.

2. ख़र्च पर ध्यान दें

ज़रूरी चीज़ों में कटौती न करते हुए ऐसे ख़र्च ढूंढ़ें जहां कटौती की गुंजाइश हो. इस तरह आप पैसों की बचत कर सकते हैं, जैसे- आपके घर में यदि काम करने वाली बाई की संख्या एक से अधिक है, तो ध्यान रहे कि उनकी तनख़्वाह आपकी मंथली इनकम का 5 प्रतिशत हो यानी अगर आप महीने में 20 हज़ार रुपए कमाते हैं तो कामवाली बाइयों पर एक हज़ार रुपए से ज़्यादा ख़र्च न हो. ऐसे में कामवाली बाई की संख्या में कटौती करें और थोड़े-बहुत काम ख़ुद करें. ऐसा करने से काफ़ी पैसे बच जाएंगे.

3. जब करें प्लास्टिक मनी का इस्तेमाल

क्रेडिट या डेबिट कार्ड का इस्तेमाल कम से कम करें. इसी तरह जब आप शॉपिंग के लिए जाएं, तो कार्ड की जगह कैश का प्रयोग करें. इससे ख़र्च आपके सामने होगा और आप ख़ुद पर नियंत्रण रखकर फिज़ूलख़र्च से बच जाएंगे, वरना कार्ड का भुगतान अगले महीने करना है, ये सोचकर आप हद से ज़्यादा ख़र्च कर सकते हैं.

4. वेकेशन की प्लानिंग

अचानक से वेकेशन प्लान करने की ग़लती न करें. इससे पूरे घर का बजट बिगड़ सकता है. इससे बचने के लिए पहले ही वेकेशन की प्लानिंग करें और उसी समय से बचत करना शुरू कर दें. ऐसा करने से आपको कई फ़ायदे होंगे, उदाहरण के लिए, वेकेशन के टाइम ट्रैवल एजेंसी और होटल के रेट बढ़ जाते हैं. ऐसे में यदि आपने पहले ही बुकिंग करा ली है, तो टिकट या कमरा बुक करने में आपको ज़्यादा ख़र्च नहीं करना पड़ेगा.

5. सेविंग अकाउंट खोलें

बचत की रकम को अलग रखने के लिए अलग से एक सेविंग अकाउंट खोल दें. हर महीने उसमें बचत का फिक्स्ड अमाउंट डालें. चाहे तो बैंक से ऑटोमैटिक ट्रांस्फर की सुविधा ऐक्टिवेट करा लें. इससे सैलरी आते ही तय राशि आपके सेविंग अकाउंट में चली जाएगी और आप घर का बजट भी आसानी से प्लान कर पाएंगे.

shutterstock_163997513

6. आदतों को सुधारें

नहाने के बाद गीज़र का बटन ऑन छोड़ देना, कमरे से निकलते वक़्त फैन और लाइट बंद न करने जैसी अपनी कई आदतों को सुधारकर आप आसानी से बेकार के ख़र्च से बच सकते हैं.

7. जब करनी हो ग्रोसरी शॉपिंग

ग्रोसरी शॉपिंग में बचत के लिए जल्दी ख़राब होने वाली चीज़ें, जैसे-फल और सब्जियों की ख़रीददारी बल्क में न करें. इनकी बजाय ड्राई ग्रोसरी, जैसे- अनाज, दाल, साबुन आदि की शॉपिंग बल्क में करें. बल्क में ये चीज़ें थोड़ी सस्ती मिलती हैं. अगर आने वाले माह में ख़र्च ज़्यादा हो, तो उस महीने की ग्रोसरी शॉपिंग भी इसी महीने कर लें. ऐसा करने से अगले महीने आपका बोझ कम हो जाएगा.

8. जब करनी हो कपड़ों की शॉपिंग

कपड़ों की शॉपिंग के तरी़के बदलकर भी बचत की जा सकती है जैसे- हर महीने नए-नए कपड़े ख़रीदने की बजाय साल में दो बार एक साथ कपड़े ख़रीदें. इसी तरह सेल में कपड़े ख़रीदकर भी आप पैसे बचा सकते हैं. ऐसा करने से आपका शौक़ भी पूरा हो जाएगा और आप फिज़ूलख़र्च से भी बच जाएंगे.

9. होटल में खाने या मूवी पर होने वाले ख़र्च

परिवार के साथ आउटिंग या लंच-डिनर के लिए जाते समय भी थोड़ी समझदारी दिखाएं. हर ह़फ़्ते बाहर जाने की बजाय महीने में दो बार ही बाहर खाना खाएं. वीकेंड में रेस्टॉरेंट का रेट ज़्यादा होता है. इससे बचने के लिए वीकडेज़ में बाहर खाएं. इसी तरह पिक्चर की टिकटें भी वीकडेज़ में सस्ती होती हैं. अत: वीकेंड पर मूवी प्लान करने की बजाय वीकडेज़ में मूवी देखने जाएं. अगर घर में ज़्यादा लोग हैं, तो थियटर जाने से अच्छा है डीवीडी ख़रीदकर घर पर ही पिक्चर देख लें. इससे कम पैसे में आपका मनोरंजन हो जाएगा.

10. मेकअप प्रॉडक्ट्स ख़रीदते वक़्त

अगर आप महिला हैं, तो बेशक़ आपकी सेविंग का बड़ा हिस्सा मेकअप की ख़रीददारी में चला जाता होगा. ऐसे में बचत के लिए सीज़न की शुरुआत में मेकअप प्रॉडक्ट्स ख़रीदें. उस दौरान कंपनियां बहुत सारे नए प्रॉडक्ट्स लेकर आती हैं और उन पर डिस्काउंट भी होता है. ऐसे प्रॉडक्ट्स ही ख़रीदें, जो ज़्यादा दिनों तक चलने वाले हों. इससे आपकी ज़रूरत भी पूरी हो जाएगी और पैसे की बचत भी.

स्मार्ट सेविंग टिप्स

* म्यूचुअल फंड, फिक्स्ड डिपॉज़िट, बॉन्ड और शेयर मार्केट आदि जगह इनवेस्ट करने से पहले एक्सपर्ट की सलाह ज़रूर लें.
* ज़्यादा फ़ायदे के लिए शॉर्ट टर्म और लॉन्ग टर्म इनवेस्टमेंट पर नज़र रखें.
* नियमित रूप से निवेश करें. इससे ख़र्च कम और बचत अधिक होगी.
* क्रेडिट कार्ड की बजाय डेबिट कार्ड यूज़ करें. इससे बहुत हद तक आप ख़र्च पर नियंत्रण कर पाएंगे.
* सभी ज़रूरी ख़र्च निपटाने के बाद महीने में आप कितने पैसे बचा सकते हैं ये देखें और अगले माह से उतनी ही राशि हर माह बचाने की कोशिश करें.
* किसी को गिफ्ट देना है तो पहले बजट तय करें और उसी के अनुसार गिफ्ट ख़रीदें. सेल या डिस्काउंट के समय एडवांस में गिफ्ट ख़रीदें. इससे आप फ़ायदे में रहेंगे.