जब धनुष को सरेआम होना पड़ा था बॉड...

जब धनुष को सरेआम होना पड़ा था बॉडी शेमिंग का शिकार, अपनी ही फिल्म के सेट पर लोगों ने कहा था ‘ऑटो ड्राइवर’ (When Dhanush was body shamed for his looks, people said- ‘look at the auto-driver, he is the hero’)

साउथ के सुपर स्टार धनुष (Dhanush) बहुत की कमाल के एक्टर हैं. साउथ में कई हिट फ़िल्में देनेवाले धनुष ने ‘रांझणा’ और ‘अतरंगी रे’ जैसी बॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया है और हिंदी ऑडियंस के दिलों में भी जगह बना ली है. धनुष अब जल्द ही नेटफ्लिक्स की फिल्म ‘द ग्रे मैन’ में नजर आने वाले हैं. लेकिन इस मुकाम तक पहुंचना धनुष के लिए आसान बिलकुल भी नहीं था. धनुष को अपने लुक्स के लिए कई बार ट्रोलिंग (Dhanush Trolled) और बॉडी शेमिंग का सामना करना पड़ा है. यहाँ तक कि अपनी ही फिल्म के सेट पर ऑटो ड्राइवर कहकर पुकारा गया था.

इस बात का खुलासा खुद धनुष ने किया था और बताया था कि वह इस कॉमेंट को बर्दाश्त नहीं कर पाए थे और फूट फूटकर रो पड़े थे. ये वाकया धनुष की फिल्म ‘काधल कोंडेन’ की शूटिंग के दौरान का है. ये किस्सा उन्होंने विजय सेतुपति, अनिरुद्ध रविचंदर और सतीश के साथ बातचीत के दौरान रिवील किया था, जिसे सुनकर सब शॉक्ड रह गए थे.

धनुष ने बताया था कि “काधल कोंडेन की शूटिंग चल रही थी, तो मुझसे पूछा गया कि हीरो कौन है. मैंने एक्टर्स में से किसी और की तरफ इशारा कर दिया, क्योंकि मैं अपनी इंसल्ट नहीं कराना चाहता था. बाद में जब उन्हें पता चला कि मैं ही हीरो हूं, तो सेट पर मौजूद सभी लोग मुझ पर हंसने लगे. उन्होंने कहा, अरे जरा इस ऑटो-ड्राइवर को तो देखो, वो हीरो है वगैरह वगैरह.”

धनुष ने बताया कि ये सारी बातें उनसे बर्दाश्त नहीं हुई और वो अपनी कार में जाकर जोर-जोर से रोने लगे. धनुष ने कहा कि तब उनकी उम्र बहुत कम थी और उनमें मैच्योरिटी नहीं थी. धनुष ने बताया कि उनके करियर की शुरुआती दिनों में कोई भी ऐसा शख्स नहीं था, जिसने उन्हें बॉडी शेम नहीं किया था. लेकिन धनुष ने खुद को बतौर एक्टर साबित किया. वो एक्टर होने के साथ-साथ प्रोड्यूसर, डायरेक्टर और प्लेबैक सिंगर भी हैं और अब तक 46 से ज्यादा फिल्मों में काम चुके हैं और कई अवॉर्ड्स भी जीत चुके हैं. वो दो नेशनल अवॉर्ड भी जीत चुके हैं.

×