करियर से जुड़े सवाल-जवाब

shutterstock_114751420

क्या आप भी अपने करियर को लेकर बहुत परेशान हैं? कुछ समझ में नहीं आ रहा है कि किस क्षेत्र में आगे बढ़ें कि लाइफ सेट हो जाए? तो चलिए हम आपके ऐसे बहुत से सवालों का जवाब मिनटों में देते हैं. आपकी उलझन को सुलझाने के लिए हमने बात की करियर काउंसलर मालिनी शाह से.

मैं अभी बारहवीं में हूं. मुझे होम साइंस पढ़ना बहुत अच्छा लगता है, लेकिन मेरी सहेलियां कहती हैं कि इसमें बहुत ज़्यादा स्कोप नहीं है. घर वाले भी डांटते हैं. कहते हैं, यही बचा है करियर बनाने के लिए? कृपया, बताएं मैं क्या करूं?

                                                                                     – सिंधु उपाध्याय, गया

होम साइंस बहुत अच्छा विषय है और इसमें स्कोप भी बहुत है, इसलिए पहले तो आप अपनी सहेलियों की बात सुनना बंद कर दीजिए, नहीं तो वो आपको आपके लक्ष्य से भटकाएंगी. आज के ज़माने में होम साइंस का स्कोप बहुत बढ़ा है. मॉडर्न हाउस कीपिंग के लिए होम साइंस आज की महिलाओं के लिए अच्छा विषय है. होम साइंस से आप आगे 5 स्ट्रीम में अपना करियर बना सकती हैंः

– फूड एंड न्यूट्रिशन

– रिसोर्स मैनेजमेंट

– ह्यूमन डेवेलपमेंट

– फैब्रिक एंड अपैरल साइंस

– कम्युनिकेशन एंड एक्सटेंशन

इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए भी बहुत अवसर हैं. आप इन जगहों पर काम करके अपना भविष्य सुरक्षित कर सकती हैंः

– प्रोडक्शन इंडस्ट्री

– टूरिज़्म एंड सर्विस इंडस्ट्री

– रिसर्च एंड टेक्निकल जॉब

– सेल्स, टेक्निकल आदि.

होम साइंस की पढ़ाई के लिए आप इन संस्थान का रुख़ कर सकती हैंः

– लेडी इर्विन कॉलेज, नई दिल्ली.

– आई सी कॉलेज ऑफ होम साइंस, हिसार.

– हलीना स्कूल ऑफ होम साइंस, इलाहाबाद.

– एम एस यूनिवर्सिटी ऑफ बरोडा, वड़ोदरा.

– कॉलेज ऑफ होम साइंस, जोरहट, असम.

मैं अभी बारहवीं में पढ़ती हूं और आगे चलकर इंजीनियर बनना चाहती हूं. मेकैनिकल इंजीनियरिंग करना चाहती हूं, लेकिन पापा कहते हैं कि इसमें लड़कियों के लिए बहुत ज़्यादा स्कोप नहीं है. कृपया, बताएं कि मैं अपने करियर को कैसे आगे बढ़ाऊं?

                                                                                  – ख़ुशबू चावला, हरिद्वार

ये तो बहुत अच्छी बात है कि आप इंजीनियर बनना चाहती हैं. मेकैनिकल इंजीनियरिंग सबसे पुराने इंजीनियरिंग में से एक है. इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए सबसे ज़रूरी बात है कि आपको इसके बारे में पहले से पता होना चाहिए. ये थोड़ा अलग है. ऐसा नहीं है कि इसमें लड़कियों के लिए कम स्कोप है, लेकिन ये भी सच है कि इसमें लड़कियां कम आती हैं. आप अपनी इच्छानुसार किसी भी क्षेत्र में करियर बना सकती हैं, इसलिए बेफिक्र होकर आप अपनी आगे की पढ़ाई के लिए तैयार हो जाएं. मेकैनिकल इंजीनियर बनने के लिए आप डिप्लोमा या डिग्री कोर्स कर सकती हैं. इसके अलावा आप निम्न क्षेत्र में भी करियर बना सकती हैंः

– इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग

– बायोटेक्नोलॉजी

– फूड टेक्नोलॉजी

– टेक्स्टाइल इंजीनियरिंग

– केमिकल इंजीनियरिंग

मुझे कंप्यूटर के बारे में जानना और पढ़ना अच्छा लगता है. मैं आगे चलकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहता हूं, लेकिन मेरी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है. मैंने इसी साल अपना ग्रैज्युएशन किया है. मैं आर्ट्स का छात्र हूं. क्या किसी सरकारी संस्थान से मैं अपनी पढ़ाई कर सकता हूं, जहां फीस कम लगे?

                                                                                   – राहुल गुप्ता, धनबाद

आप जिस क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते हैं, उसकी ज़रूरत हर फील्ड में पड़ती है. कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी की उपयोगिता आज हर क्षेत्र में है. बिना इसके कोई काम पूरा नहीं होता, इसलिए आपने इस फील्ड में करियर बनाने का जो निर्णय लिया है, वो बिल्कुल सही है. ग्रैज्युएशन के बाद ऑल इंडिया कंप्यूटर साक्षरता मिशन के तहत आप अपनी पढ़ाई कर सकते हैं. इसके लिए आप http://aicsn.com पर जाकर पूरी जानकारी ले सकते हैं. आप निम्न कोेर्स कर सकते हैंः

– सर्टिफिकेट इन माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस

– सर्टिफिकेट इन डीटीपी

– सर्टिफिकेट इन टैली

– डिप्लोमा इन डीटीपी एंड टैली

– कोर्स ऑन कंप्यूटर कॉन्सेप्ट

– डिप्लोमा इन प्रोग्रामिंग एंड वेब डिज़ाइनिंग

– डिप्लोमा इन ऑफिस ऑटोमेशन एंड मैनेजमेंट

– डिप्लोमा इन कंप्यूटर प्रोफेशनल अकाउंटेंट

– डिप्लोमा इन कंप्यूटर ऑफिस मैनेजमेंट

– एडवांस डिप्लोमा इन फायनांस एंड अकाउंट्स आदि.

मैंने इसी साल ग्रैज्युएशन फाइनल ईयर का एग्ज़ाम दिया है. आगे की पढ़ाई को लेकर मैं बहुत कन्फ्यूज़ हूं. समझ नहीं आ रहा है कि कौन-सा कोर्स आगे मेरे लिए फ़ायदेमंद होगा. मैं जल्दी से कोई नौकरी करके अपने परिवार की आर्थिक मदद करना चाहती हूं. कृपया, मुझे बताएं कि मैं क्या कर सकती हूं?

                                                                                          – ज्योति, लखनऊ

परिवार को आर्थिक मदद पहुंचाने की आपकी सोच बहुत अच्छी है. ग्रैज्युएशन के बाद आप पार्ट टाइम जॉब कर सकती हैं. इस तरह आप अपनी फैमिली को सपोर्ट करने के साथ ही शॉर्ट टाइम कोर्स करते हुए अपनी पढ़ाई को आगे बढ़ा सकती हैं. पार्ट टाइम जॉब के साथ आप करस्पॉन्डेंस कोर्स कर सकती हैं. ट्रैवल एंड टूरिज़्म, अर्ली चाइल्डहुड केयर एंड एज्युकेशन, न्यूट्रिशन, नर्सिंग एडमिनिस्ट्रेशन में आप करियर बना सकती हैं. इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी से आप निम्न कोर्स कर सकती हैं:

– डिप्लोमा इन अर्ली चाइल्डहुड केयर एंड एज्युकेशन

– डिप्लोमा इन मैनेजमेंट

– डिप्लोमा इन नर्सिंग एडमिनिस्ट्रेशन

– डिप्लोमा इन न्यूट्रिशन एंड हेल्थ एज्युकेशन

– डिप्लोमा इन टूरिज़्म स्टडीज़

– सर्टिफिकेट इन विज़ुअल आर्ट्स

– डिप्लोमा इन वैल्यू ऐडेड प्रॉडक्ट्स फ्रॉम फ्रूट्स एंड वेजीटेबल

करियर बनाने के लिए पैरेंट्स और अपनों की राय लेना बहुत ज़रूरी है, लेकिन उनकी राय को ही अंतिम ़फैसला बनाकर उसी राह पर बिना अपनी मर्ज़ी के आगे बढ़ना आपके लिए कभी भी फ़ायदेमंद नहीं रहेगा. दसवीं, बारहवीं और ग्रैज्युएशन के बाद करियर को लेकर कन्फ्यूज़ होना लाज़मी है, लेकिन इसका ये मतलब बिल्कुल नहीं है कि आप अपनी क्षमता को भूलकर स़िर्फ पैरेंट्स के सपनों को साकार करने निकल पड़ें. आप किस विषय में कितने अच्छे हैं और कौन-सा विषय हमेशा आपके लिए सिरदर्द बना रहता है, ये आपसे बेहतर और कोई नहीं जान सकता. अतः ख़ुद को थोड़ा समय दें और अपने बारे में सोचें. अपने करियर के बारे में सोचें. आपके वर्तमान पर ही आपका भविष्य टिका होता है, इसलिए कभी किसी के दवाब में फैसला न लें.