10 अलर्ट्स जो बताएंगे कहीं आपकी सेक्स लाइफ बेरंग तो नहीं? (10 Alerts Of Colorless Sex Life)

शादी के कुछ सालों बाद कपल्स (Couples) की सेक्स लाइफ (Sex Life) में रूटीन (Routine) आ जाता है, जिससे अपनी उन्हें सेक्स लाइफ बेरंग (Colorless) लगने लगती है. इसके बहुत से कारण हो सकते हैं. कभी-कभी तो कपल्स को एहसास ही नहीं होता कि उनकी सेक्स लाइफ बेरंग हो गई है. अगर आपकी सेक्स लाइफ बहुत इंट्रेस्टिंग नहीं है, तो आप भी इन अलर्ट्स को देखें और पहचानें कि कहीं आपकी सेक्स लाइफ भी बेरंग तो नहीं हो गई है.

Colorless Sex Life

अलर्ट्स जो बताएंगे कहीं आपकी सेक्स लाइफ बेरंग तो नहीं?

1. सेक्स अब पहले की अपेक्षा कम होता है.

2. रोमांटिक बातें लगभग बंद हो गई.

3. सेक्स में कुछ नया करने की चाह नहीं होती.

4. सेक्स मात्र शारीरिक क्रिया बनकर रह गई.

5. एक-दूसरे की बात सुनने या चाहत जानने की जिज्ञासा नहीं रही.

6. पार्टनर सेक्स को टालने लगे हैं.

7. हमेशा थकान या बिज़ी रहने के कारण सेक्स में दिलचस्पी कम हो गई.

8. सेक्स को पहले की तरह एंजॉय नहीं करते.

9. सेक्स के समय पार्टनर की दिलचस्पी और उसका सहयोग नहीं मिलता.

10. पार्टनर अब पहले की तरह आकर्षक नहीं लगता, फिर भले ही वो कितने ही आकर्षक कपड़ों में सामने आए और सेक्स में पहल भी करे, लेकिन आपका ध्यान ही नहीं जाता उसकी तरफ़.

ये तमाम लक्षण आपके लिए सिग्नल है कि आपको कुछ करना होगा, ताकि आपकी सेक्स लाइफ बोरिंग रूटीन बनकर न रह जाए.

फिर से लाएं खोई गर्माहट और ताज़गी

– पार्टनर की दिलचस्पी सेक्स में कम हो गई है, तो आपका फर्ज़ बनता है कि आप पहल करें और पार्टनर की दिलचस्पी फिर से जगाएं.

– पार्टनर से पूछें कि उसे कोई मानसिक या शारीरिक समस्या तो नहीं. यदि है, तो एक्सपर्ट से संपर्क करें.

– सेक्स में ज़बर्दस्ती कभी भी न करें, क्योंकि इससे पार्टनर की सेक्स के प्रति दिलचस्पी और आपके प्रति लगाव भी कम होता जाएगा.

– उससे प्यार से बात करें, बात करते समय सहलाएं. चूमें और बालों में हल्के-हल्के उंगलियां फेरें. ऐसा करने पर मूड न होने पर भी धीरे-धीरे मूड बनने लगता है और पार्टनर बेहतर महसूस करता है.

– हाइजीन का पूरा ख़्याल रखें. कई बार इस तरह की बातें भी सेक्स में दिलचस्पी कम कर देती हैं और पार्टनर चाहकर भी कुछ बोल नहीं पाता. बेहतर होगा कपल्स साफ़-सफ़ाई का पूरा ध्यान रखें.

– कमरे का माहौल भी शांत और रोमांटिक हो. चादर वगैरह भी साफ़-सुथरी होनी चाहिए.

यह भी पढ़ें: जानें परफेक्ट सेक्स पार्टनर की 5 ख़ूबियां (5 Signs Of Perfect Sex Partner)

Sex Life

– बेडरूम को अपने स्मार्ट फोन और लैपटॉप से दूर ही रखें. बहुत ज़्यादा इनका प्रयोग या टीवी देखना भी सेक्स लाइफ पर नकारात्मक प्रभाव डालता है. अक्सर इन गैजेट्स ने हमारी लाइफ में बहुत हद तक जगह बना ली है, लेकिन इन्हें हम-तुम के बीच ‘वो’ न बनने दें. इससे पार्टनर को लगेगा कि आपको उसमें दिलचस्पी ही नहीं है और न आपका ध्यान उसकी बातों की तरफ़ है.

– पर्सनल टाइम में पार्टनर को पूरा अटेंशन दें, उसे यह लगना चाहिए कि यह व़क्त स़िर्फ और स़िर्फ आप दोनों का है, जिसमें किसी और के लिए कोई जगह नहीं.

– पार्टनर को यह महसूस कराएं कि सेक्स से भी कहीं अधिक ज़रूरी आपके लिए उनका साथ है. इस तरह का भावनात्मक लगाव एक-दूसरे को और क़रीब लाता है.

– सेक्स में क्या नयापन लाना चाहिए इस पर भी खुलकर न स़िर्फ चर्चा करें, बल्कि साथ मिलकर प्लान करें कि आज की रात या इस वीकेंड को कैसे और भी रोमांटिक बनाया जा सकता है.

– कलर्स भी सेक्स लाइफ पर प्रभाव डालते हैं, तो एक-दूसरे की पसंद-नापसंद को ध्यान में रखते हुए कमरे में कलर्स ऐड करें और अपने आउटफिट्स और इनर वेयर में भी सेक्सी कलर्स और स्टाइल सिलेक्ट करें.

– सेक्स के व़क्त काम व तनाव को भूलकर पार्टनर पर ही पूरा ध्यान केंद्रित होना चाहिए, वरना अक्सर लोग उस व़क्त भी दूसरी बातें करते हैं और सेक्स को एक क्रिया मात्र बना देते हैं, जिससे पार्टनर को लगता है कि उनका साथी उन्हें स़िर्फ इच्छा पूरी करने वाला जिस्म समझता है.

– दूसरी तरफ़ कुछ लोग सेक्स को एक हथियार के रूप में भी इस्तेमाल करते हैं, ख़ासकर महिलाएं सेक्स को इमोशनल ब्लैक मेलिंग का बेहतरीन हथियार समझती हैं और सेक्स के व़क्त ही तरह-तरह की डिमांड करके पति से बातें मनावाने की कोशिश करती हैं. ऐसा करने से पति के मन में पत्नी के प्रति वो सम्मान नहीं रह जाता और वो भी प्रैक्टिकल अप्रोच अपनाने लगता है.

– सेक्स के समय रोमांटिक बातें ही करें. ताने-उलाहने व शिकवे-शिकायत से बचें.

– पुरानी रोमांटिक बातें व साथ गुज़ारे हसीन पलों को याद करें, उन पर बात करें, साथ हसें, खिलखिलाएं, क्योंकि ये तमाम बातें आपको ताज़गी का एहसास कराती हैं.

– सेक्स लाइफ को बोरिंग होने से बचाने का मतलब स़िर्फ बेडरूम तक ही सीमित नहीं होता, बल्कि हर पल, हर लम्हे को आपके बेहतर बनाना होगा. एक-दूसरे का अटेंशन देना होगा, क्योंकि पूरे दिन के क्रिया-कलापों का निचाड़ ही सेक्स लाइफ में झलकता है. दिन अच्छा होगा, मूड अच्छा होगा, तो रिश्ता बेहतर होगा… और बेहतर रिश्ते का मतलब है बेहतर सेक्स लाइफ और मज़ूबत-अटूट बंधन.

– विजयलक्ष्मी

यह भी पढ़ें: कितना फ़ायदेमंद है हस्तमैथुन? (Health Benefits Of Masturbation)

यह भी पढ़ें: सेक्स लाइफ का राशि कनेक्शन (What Does Your Zodiac Sign Say About Your Sex Life?)