‘साथ सोना चाहता था कोच, ज़ब...

‘साथ सोना चाहता था कोच, ज़बरदस्ती होटल रूम में घुस आया, कहा, वाइफ की तरह बिहेव करो, वरना करियर तबाह कर दूँगा’: महिला साइकिलिस्ट का सनसनीखेज खुलासा (‘Coach Forcefully Entered In my room, said- Sleep with me, behave like my wife, Threatened to destroy my career’ A Top Woman Cyclist makes shocking Revelations)

एक टॉप की भारतीय महिला साइकिलिस्ट ने चीफ नेशनल कोच आर के शर्मा पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं. स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (SAI) को दर्ज़ की गई अपनी शिकायत में महिला साइकिलिस्ट ने कहा है कि कोच ने उनसे ज़बरदस्ती करने की कोशिश की, जबरन उनके होटल के कमरे में घुस आया और उससे पत्नी की तरह व्यवहार करने को कहा. ऐसा न करने पर उस महिला साइकिलिस्ट का करियर बर्बाद करने की भी धमकी दी. महिला साइकिलिस्ट ने दो दिनों पहले एक ईमेल के ज़रिये कम्प्लेन की है जिसके बाद स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया हरकत में आ थी और उस महिला साइकिलिस्ट की सेफ्टी 50 देखते हुए फ़ौरन इंडिया बुला लिया और एक पैनल का गठन किया गया है ताकि इस मामले की पड़ताल किया जा सके.

स्लोवेनिया में कोच ने एक ही रूम शेयर करने की जिद की


अपने ईमेल कम्प्लेन में उस महिला साइकिलिस्ट ने जो आपबीती बयान की है, वो रोंगटे खड़े कर देने वाली है और इस खुलासे से सभी शॉक्ड हैं. अपनी कम्प्लेन में लिखा है, “मैं 15 मई से 14 जून के बीच साइकिलिंग ट्रेनिंग कैंप में हिस्सा लेने के लिए स्लोवेनिया के लिए रवाना होना था. लेकिन रवाना होने के 3 दिन पहले मेरे कोच आर के शर्मा का ये बताने के लिए कॉल आया कि स्लोवेनिया में मुझे उनके साथ होटल रूम शेयर करना होगा. उनके कॉल से मैं घबरा गई और तीनों रात सो नहीं पाई. लेकिन मैं ये अपोर्चूनिटी मिस नहीं करना चाहती थी, इसलिए मैंने सोचा कि स्लोवेनिया पहुंचने के बाद मैं कोच से रिक्वेस्ट करके अलग इंतज़ाम करवा लूंगी. लेकिन 16 मई को वहां पहुंचने के बाद जब मैंने उनसे अलग रूम कि रिक्वेस्ट की तो उन्होंने बहुत रूड बिहेव किया और कहने लगे कि ऐसा था तो तुम्हें इंडिया में ही रहना चाहिए था. आखिरकर मेरे पास उनके साथ रूम शेयर करने के अलावा कोई ऑप्शन नहीं बचा. “

करियर बर्बाद करने की दी धमकी, कहा सड़क पर सब्जी बिकवाएगा

इसके बाद उस महिला साइकिलिस्ट ने टीम के सपोर्ट स्टाफ की मदद से SAI के सीनियर अधिकारियों तक ये मामला पहुँचाया, जिसके बाद उनके लिए तुरंत एक अलग कमरे का इंतजाम किया गया. लेकिन ये बात कोच आर के शर्मा को बर्दाश्त नहीं हुई और वो उन्हें धमकी देने लगा. “वो मेरे करियर को लेकर धमकी भरे कॉमेंट्स करने लगा. उसने कहा कि वो मेरा करियर तबाह कर देगा और उससे सड़क पर सब्ज़ियां बिकवा कर रहेगा.

बोला- तुम थक गई होगी, तुम्हें बॉडी मसाज की ज़रूरत है


महिला साइकिलिस्ट की शिकायत के 19 मई को कोच ने उसे कॉल करके अपने रूम में बुलाया. उसका कहना था कि ट्रेनिंग से उस महिला साइकिलिस्ट की बॉडी थक गई होगी, इसलिए उसे उससे पोस्ट ट्रेनिंग मसाज करवाना चाहिए. लेकिन उसने मना कर दिया. इसका परिणाम ये हुआ कि 25 मई को साइकिलिस्ट की एक टीम को एक इवेंट के लिए जर्मनी जाना था, जिसमे पहले वो महिला साइकिलिस्ट भी शामिल थी, लेकिन शर्मा मसाज के लिए इंकार करने के बाद कोच शर्मा उसे टीम के साथ नहीं ले गये और ये बहाना बना दिया कि वहां उसके लिए रूम नहीं है. नतीजतन उसे स्लोवानिया में ही रहना पड़ा, जबकि पूरी टीम इवेंट में हिस्सा लेने के लिए जर्मनी रवाना हो गई.

साथ सोना चाहता था, ज़बरदस्ती रूम में घुस आया
महिला साइकिलिस्ट ने शिकायत में आगे कहा, “आगे तो और भी बुरा हुआ. 29 माई को वो जर्मनी से सुबह जल्दी ही लौट आया. सुबह 7 बजे मेरी डोर बेल बजी, दरवाज़ा खोलने पर सामने उसे देखकर मैं शॉक रह गई. वो ज़बरदस्ती मेरे रूम में घुस आया और बेड पर लेट गया. मैंने उसे वहां से चले जाने कि रिक्वेस्ट की तो उसने मुझे भी ज़बरदस्ती बेड पर खींचने और साथ में सोने की जिद करने लगा. वो कहने लगा, मुझे उसकी वाइफ की तरह बिहेव करना चाहिए, क्योंकि वो मुझे बहुत पसंद करता है और अपनी वाइफ बनाना चाहता है. इस इंसिडेंस के बाद मैं शॉक थी. मुझे अपनी सेफ्टी और लाइफ के लिए डर लगने लगा. मैं शर्मा से लगातार रिक्वेस्ट करती रही कि रह मेरे रूम से चला जाए, क्योंकि मुझे ट्रेनिंग के लिए निकलना है, लेकिन वो सुन ही नहीं रहा था.” आखिरकार किसी तरह हिम्मत जुटाकर उस लड़की ने स्पोर्ट्स साइकोलॉजिस्ट को सारी बात बताई.

कोच के खिलाफ एक्शन लेने की मांग हो है
इन सब घटनाओं के बाद उस महिला साइकिलिस्ट की मेंटल कंडीशन ऐसी नहीं थी कि वह ट्रेनिंग कर पाती, इसलिए उन्होंने कमरा छोड़ने का फैसला किया और टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम (TOPS) के सीईओ पुष्पेंद्र गर्ग को इस बारे में जानकारी दी. इसके बाद SAI के अधिकारी दो उन्हें वापस इंडिया बुलाने का इंतज़ाम किया. अब साइकिलिस्ट ने आर के शर्मा के खिलाफ सबसे कड़े कदम उठाने की माँग की है. उनका कहना है , “कोच की इन हरकतों से उन्हें भावनात्मक और मानसिक नुकसान हुआ है, जिसका असर मेरे स्पोर्ट्स परफॉर्मेंस पर पड़ रहा है. इसलिए ये मेरी ये हंबल रिक्वेस्ट है कि आर के शर्मा के खिलाफ कड़ी करवाई की जाए और सिर्फ मेरी ही नहीं, बल्कि सारी महिला एएथलिटस की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए.”

×