देश के सबसे चहेते प्रधानमंत्री शास्त्री जी को पुण्यतिथि पर शत-शत नमन (Death Anniversary of lal bahadur shastri)

maxresdefault
आज़ाद भारत के दूसरे और सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की पुण्यतिथि के मौ़के पर आइए जानते हैं, उनसे जुड़ी कुछ ख़ास बातें.

* लाल बहादुर शास्त्री का जन्म 2 अक्टूबर 1901 को मुगलसराय (उत्तर प्रदेश) में हुआ था.

* उनका बचपन बहुत ग़रीबी में गुज़रा. वे कई मील नंगे पांव चलकर स्कूल जाते थे.

* मात्र सोलह साल की उम्र में उन्होंने गांधी जी के असहयोग आंदोलन में शामिल होने के लिए देशवासियों से आह्वान किया था.

* शास्त्री जी आज़ाद भारत के दूसरे प्रधानमंत्री थे. उनका सादा जीवन सबके लिए किसी मिसाल से कम नहीं था. एक समय ऐसा भी आया था जब  उन्होंने अपने नौकर को काम से हटा दिया और खुद घर का काम करने लगे थे.

* 1965 में हुए भारत-पाकिस्तान युद्ध के बाद जब देश आर्थिक तंगी से गुज़र रहा था, तब शास्त्री जी ने अपने ख़र्च कम कर दिए और देशवासियों से भी  ऐसा करने की अपील की थी.

* पैसे बचाने के लिए शास्त्री जी ने ख़ुद के लिए धोती खरीदने से भी मना कर दिया था और पत्नी को फटी हुई धोती सिलने को कहा था. इतना ही नहीं  उन्होंने सैलरी लेनी भी बंद कर दी थी.

* काशी विद्यापीठ से शास्त्री की उपाधि मिलने के बाद उन्होंने अपना सरनेम श्रीवास्तव हमेशा के लिए हटा दिया और अपने नाम के आगे शास्त्री लगाने  लगे.

* शास्त्री जी ऐसे प्रधानमंत्री थे, जिन्होंने देश के बजट में से 25 प्रतिशत सेना के ऊपर ख़र्च करने का फैसला लिया था.

* शास्त्री जी हमेशा कहते थे कि देश का जवान और देश का किसान देश के लिए सबसे महत्वपूर्ण इंसान हैं, इसलिए इन्हें कोई भी तकलीफ नहीं होनी  चाहिए और फिर उन्होंने जय जवान जय किसान का नारा दिया.

* 10 जनवरी 1966 को भारत-पाकिस्तान के बीच हुए ताशकंद समझौते के अगले ही दिन यानी 11 जनवरी को शास्त्री जी की संदिग्ध मौत हो गई.  उनकी मौत का राज़ आजतक राज़ ही बना हुआ है.