कलम के ‘जादू’गर जावेद अख़्तर हुए 72 साल के (Happy Birthday Javed Akhtar)

poetबॉलीवुड के गीतकार जावेद अख़्तर (Javed Akhtar) हो गए हैं 72 साल के. हिंदी सिनेमा के लिए एक से एक बेहतरीन गाने लिखने वाले जावेद साहब ने ग़ज़ल को भी एक नया रूप दिया है. उनकी कलम का जादू कुछ इस कदर चला कि लोग उनके गीतों के दिवाने हो गए. स्क्रिप्ट राइटर, गीतकार, शायर और कवि जावेद साहब का जन्म 17 जनवरी 1945 को जान निसार अख़्तर साहब के घर हुआ था. पिता मशहूर गीतकार थे और मां सैफिया अख़्तर गायिका-लेखिका थीं. बचपन से ही जावेद उसी माहौल में रहे हैं, ऐसे में शब्दों से खेलना उनके लिए कोई मुश्किल काम नहीं था. वो बचपन से कविताएं और गाने लिखा करते थे.

मेरी सहेली (Meri Saheli) की ओर से जावेद साहब को जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं.

आइए, उनके जन्मदिन के मौक़े पर जानते हैं उनके बारे में कुछ रोचक बातें.

  • जावेद साहब का असली नाम जादू है. ये नाम उनके पिता ने जावेद की ही लिखी हुई एक लाइन को पढ़कर दिया था. लाइन थी- लम्हा-लम्हा किसी जादू का फ़साना होगा…
  • स्कूल में उनके दोस्त उनसे लव लेटर लिखवाया करते थे.
  • जब जावेद मुंबई आए, तब उनके पास रहने के लिए घर भी नहीं था. कई रातें उन्होंने सड़कों पर गुज़ारी थीं.
  • सलीम खान और जावेद अख़्तर की मुलाकात सरहदी लुटेरा के सेट पर हुई थी. इस फिल्म में सलीम खान हीरो थे और जावेद क्लैपर ब्वॉय थे.
  • सलीम-जावेद की जोड़ी ने  24 फिल्में साथ लिखीं है, जिनमें से 20 सुपरहिट रहीं.
  • उस दौर में स्क्रिप्ट राइटर का नाम पर्दे पर नहीं आता था. लेकिन सलीम-जावेद की फिल्मों ने यह करिश्मा भी कर दिखाया.
  • फिल्म मिस्टर इंडिया के बाद सलीम-जावेद की जोड़ी टूट गई.
  • बतौर गीतकार उनकी पहली फिल्म रही सिलसिला.
  • जावेद साहब अपना बर्थडे अपनी पहली पत्नी हनी ईरानी के साथ शेयर करते हैं. दोनों का जन्मदिन 17 जनवरी को है.

  • जावेद अख्तर कैफ़ी अाज़मी साहब को असिस्ट किया करते थे. वहीं उनकी मुलाकात शबाना आज़मी से हुई और 6 सालों के अफेयर के बाद दोनों ने शादी कर ली.
  • पद्म श्री और पद्म भूषण जावेद साहब सर्वश्रेष्ठ गीतकार के लिए 5 नेशनल और 14 फिल्मफेयर अवॉर्ड्स भी अपने नाम कर चुके हैं.

– प्रियंका सिंह