हेल्थ टिप्स फ़ॉर किड्स: बच्चों क...

हेल्थ टिप्स फ़ॉर किड्स: बच्चों को हेल्दी और फिट रखेंगी ये ईज़ी होम रेमेडीज़… (Health Tips For Your Kids: Easy Home Remedies To Keep Your Child Healthy & Fit)

बच्चे कितने नटखट और प्यारे होते हैं उतना ही मुश्किल होता है उनको हेल्दी चीज़ें खिलाना (healthy food for kids) और हेल्दी एक्टिविटी (healthy activity) में व्यस्त रखना. और आज के टाइम में तो ये और भी चैलेंजिंग हो गया है क्योंकि बाहरी आकर्षण इतने सारे हैं कि बच्चे उन्हीं की ओर आकर्षित होते हैं. मोबाइल, लैपटॉप से लेकर पिज़्ज़ा, बर्गर जैसी चीज़ें (junk food) उन्हें ज़्यादा लुभाती हैं. इसलिए बेहतर होगा कि बच्चों को स्वाद और वेरायटी (variety) के साथ हेल्दी खाना (healthy diet) दिया जाए, साथ ही फ़न के साथ फ़िज़िकल एक्टिविटी (physical activity) भी कराईजाए. इसके अलावा उन्हें होम रेमेडीज़ (home remedies) दी जाएं, ताकि वो केमिकल से बचे रहें.

  • दही खाने की आदत शुरू से डालें. आप दही में ककड़ी, टमाटर या ड्राई फ़्रूट्स मिक्स करके दें. चाहें तो लौकी यागाजर का रायता बनाकर दें. ये प्लेन दही की बजाय ज़्यादा कलरफुल और टेस्टी दिखता है, जिससे बच्चों को ये पसंद आता है. दही नेचुरल प्रोबायोटिक है जो गट यानी आंतों व पेट को हेल्दी रखता है. इसके अलावा दही बच्चों की मेंटल हेल्थ के लिए भी काफ़ी फायदेमंद है.
  • बच्चों को नूडल्स बेहद पसंद आते हैं तो आप इनमें मटर, गाजर, अदरक का पेस्ट, शिमला मिर्च जैसी सब्ज़ियां मिक्स कर दें ताकि वो हेल्दी बन जाए और बच्चे नूडल के साथ सब्ज़ियां भी खाएं. 
  • बच्चों को मीठा भी बहुत पसंद होता है तो आप शुगर की बजाय शहद या गुड का प्रयोग करें. रोटी पर शहद स्प्रेड करके रोल करके दें. चाहें तो शहद पर काली मिर्च पाउडर या दालचीनी पाउडर भी बुरक दें. इससे थोड़ा स्पाइस भी ऐड हो जाएगा. 
  • अगर बच्चे को सर्दी हुई हो तो सरसों के तेल में लहसुन की कलियों को पका लें और इससे चेस्ट पर मसाज करें. 
  • आप गुनगुने सरसों के तेल में सेंधा नामक मिलाकर भी मालिश कर सकते हैं. 
  • बच्चों को अक्सर पेट की समस्या भी रहती है, कभी क़ब्ज़, कभी गैस तो कभी लूज़ मोशन, इसलिए उनको हायड्रेटेड रखें. पानी अगर कम पीते हैं तो ग्लूकोस, शिकंजी, गन्ने का रस, नारियल पानी के ज़रिए लिक्विड दें. 
  • अगर वो फ़्रूट्स नहीं खाते तो उनको मिल्क शेक्स, स्मूदी और फ़्रूट जूस दें.
  • छोटे बच्चों को गैस होने पर हींग पाउडर को गुनगुने पानी में मिलाकर नाभि व आसपास लगा दें. फ़ौरन राहत मिलेगी.
  • बच्चों की इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए उनको शुरू से ही घर के हेल्दी खाने की आदत डालें. उनको स्टोरीज़ सुनाएं- जैसे, उनका फ़ेवरेट सुपर हीरो हल्दी वाला दूध पीता है और रोज़ एक ऐपल खाता है… इसलिए वो इतना स्ट्रॉन्ग है. इससे बच्चे मोटीवेट होते हैं. 
  • एग खाने से बाल जल्दी लंबे होते हैं और मज़बूत भी… प्रोटीन से आप जल्दी लंबे होगे, बादाम और अखरोट सेआपका ब्रेन शार्प होगा… इस तरह चीज़ों के गुणों के बारे में बच्चों को जानकारी दें.
  • हल्दी, आंवला, शहद, तुलसी जैसी चीज़ें बेहद गुणकरी हैं, ये इम्यूनिटी भी बूस्ट करती हैं. सर्दी-जुकाम से बचाव करते हैं. 
  • गाजर और मटर भी बच्चों के लिए सुपर फ़ूड से कम नहीं. आप गाजर का जूस दे सकते हैं या उसका सलाद चाटमसाला डालकर या फिर पुलाव में गाजर, मटर, गोभी, शिमला जैसी सब्ज़ियां शामिल करें.
  • खाने के साथ-साथ बच्चों को हाइजीन का महत्व भी बताएं क्योंकि बच्चों को हेल्दी रखने में साफ़-सफ़ाई का भी बड़ा महत्व होता है. खाने से पहले साबुन से हाथ धोना, खांसते-छींकते समय रूमाल या हाथ लगाना,  उसके बाद हाथ धोना आदि… स्टडीज़ बताती हैं कि जो बच्चे ऐसी हेल्दी हैबिट्स फ़ॉलो करते हैं वो कम बीमार पड़ते हैं. 
  • इसी तरह ओरल हाइजीन भी ज़रूरी है. सोने से पहले ब्रश करने की आदत ज़रूर डालें.
  • आजकल बच्चे फ़िज़िकल एक्टिविटी कम करते हैं और ज़्यादातर ऑनलाइन गेम्स, मूवीज़ आदि में ही बिज़ी रहते हैं, ऐसे में उनको आउटडोर एक्टिविटी के लिए मोटिवेट करें- स्विमिंग ले जाएं, साइक्लिंग कराएं, डान्स क्लास जॉइनकराएं. इनडोर में भी उनके साथ चेस व कैरम जैसे गेम्स खेलें.
  • बच्चों को दाल खाना इतना पसंद नहीं, लेकिन ये बेहद ज़रूरी है उनके लिए, इसलिए आप उनको दाल अन्य रूप मेंखिलाएं, जैसे- दाल-खिचड़ी, मूंगदाल चीला, बेसन चीला, ढोकला, दाल को हरे धनिए से गार्निश करके प्रेज़ेंट करें. 
  • इसी तरह ब्राउन ब्रेड सैंडविच दें, लेकिन बच्चों के लिए स्माइली या कार्टून कैरेक्टर्स के आकार में हेल्दी फ़ूड सर्व करें. उनको अलग-लाग शेप्स और कलर्स काफ़ी अट्रैक्ट करते हैं. 
  • घर पर ही हेल्दी भेल बनाकर दें. पोहा, उपमा, डोसा आदि भी उनकी इम्यूनिटी बूस्ट करेंगे. 
  • उनको मसालों के हेल्थ बेनीफिट्स बताएं. काली मिर्च, काला नमक, लौंग, इलायची, धनिया, मेथी, दालचीनी- ये सब किसी न किसी रूप में उनको खिलाएं. 
  • अनार का जूस बेहद गुणकारी है. 
  • अदरक और नींबू पेट व पाचन क्रिया को सही रखते हैं, बच्चों के लिए भी ये बेहद ज़रूरी हैं. 
  • जंक फ़ूड की बजाय घर पर ही हेल्दी कुकीज़ व केक बनाकर खिलाएं. 
  • मार्केट से पिज़्ज़ा मंगाने की जगह ब्रेड पिज़्ज़ा बनाएं.
  • इडली को कट करके उसपर काली मिर्च, काला नमक पाउडर, चाट मसाला बुरक कर दें. चाहें तो करीपत्ता व राईका तड़का भी लगा सकते हैं.
  • बच्चों को स्ट्रॉबेरी भी बेहद पसंद होती है, दही में कट करके दे सकते हैं या सलाद के रूप में भी. ये बेहद हेल्दी होती है.
  • इसी तरह शकरकंद की भी चाट बनाकर दें. उसे उबालकर काट लें और ऊपर से नींबू का रस, हल्का सा काला नमकव काली मिर्च पाउडर डालें.
  • आजकल बच्चों को स्ट्रेस भी बहुत होता है, ख़याल रखें कि वो नींद पूरी लें और उनको बीच-बीच में हेड मसाज दें. बालों में तेल लगाकर मालिश करें. 
  • उनके माथे पर पुदीने या हरे धनिया का लेप करें. 
  • बच्चों की हेल्थ के लिए विटामिन डी भी बहुत ज़रूरी है. उनको सुबह की धूप में 20-30 मिनट ज़रूर चलाएं. 
  • बच्चों की ब्रेन हेल्थ के लिए ओमेगा 3 फैटी एसिड भी ज़रूरी है. उनको फ़ैटी फ़िश खिलाएं, फ़िश ऑयल भी देसकते हैं. हरी पत्तेदार सब्ज़ियां भी ज़रूरी हैं. ये सभी बच्चों के संपूर्ण विकास में मदद करते हैं. बच्चों की हाइट सेलेकर ब्रेन तक में साबूत अनाज, दालें, ग्रीन लीफी वेजीटेबल्स, बादाम, सीड्स, ओट्स, सोयाबीन आदि बेहद महत्वपूर्ण हैं.
  • बिट्टू शर्मा 
×