फटी एड़ियों को नर्म-मुलायम बनाने के पक्के उपाय (Home Remedies To Get Rid Of Cracked Heels)

अक्सर हम अपनी एड़ियों (Cracked Heels) को सिर्फ़ इसलिए नज़रअंदाज़ करते हैं क्योंकि लोगों का ध्यान एड़ियों पर कम ही जाता है. ऐसे में लोग इनकी केयर करने की ज़रूरत नहीं समझते, जिससे एड़ियों की हालत और भी ख़राब हो जाती है. पूरे शरीर का वज़न हमारी एड़ियों पर होता है, ऐसे में इनकी ख़ास देखभाल ज़रूरी है. हम आपको एड़ियों को स्वस्थ और मुलायम बनाने के तरीक़े (Home Remedies for Cracked Heels) बता रहे हैं.

Home Remedies for Cracked Heels

एड़ियां फटने की वजह
– त्वचा में मॉइश्‍चर की कमी.
– पैरों की देखभाल न करना.
– ग़लत साइज़ के जूते पहनना.
– ज़्यादा समय तक खड़े रहना या सख़्त फ्लोर पर खड़े रहना.
– प्रदूषण में ज़्यादा देर तक पैरों को खुला रखना.
– इनके अलावा कई प्रकार की बीमारी, जैसे- थायरॉइड, डायबिटीज़, सोरायसिस, कॉर्न आदि की वजह से भी एड़िया फटती हैं.

Home Remedies for Cracked Heels

होममेड मॉइश्‍चराइज़र
– अगर आपके फटे हील्स से ख़ून आ रहा हो, तो नीम और तुलसी के पत्तों को हल्दी के साथ मिक्स करके फटी एड़ियों पर लगाएं.
– ग्लिसरीन को गुलाबजल के साथ मिक्स करके क्रैक्स पर लगाएं, इससे एड़ियां नरम-मुलायम हो जाएंगी और उनमें क्रैक्स नहीं पड़ेंगे.
– किसी भी तरह का ऑयल पैरों के लिए एक नैचुरल मॉइश्‍चराइज़र होता है. वेजिटेबल ऑयल, जैसे- ऑलिव ऑयल, नारियल का तेल, तिल का तेल एड़ियों को मुलायम बनाता है. रोज़ाना रात को बेड पर जाने से पहले पैरों में इनमें से कोई भी तेल लगाकर हल्का-सा मसाज कर लें.
– केला, पाइनेप्पल, एवोकैडो, पपीता के पल्प से मसाज करें. इससे एड़ी की त्वचा मुलायम होगी.
– एसिडिक होने की वजह से नींबू एड़ियों की रफ़ त्वचा को सॉफ्ट बनाता है, जिससे एड़ियां फटती नहीं हैं. इसके लिए आप अपने पैरों को गुनगुने पानी में डालकर रखें, पानी में नींबू का रस डालें. कुछ देर बाद प्यूमाइस स्टोन से रगड़ें, फिर पानी से अच्छी तरह से धोकर तौलिए से सुखा लें. एड़ियां स्वस्थ रहेंगी.
– एक कटोरी लें और उसमें सबसे पहले 3 चम्मच मिश्री पाउडर½ चम्मच मीठा सोडा1 चम्मच शहद और 1 चम्मच जैतून का तेल लें. इन सभी सामग्रियों को अच्छे से मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें. इस पेस्ट को फटी एड़ियों पर लगाकर एक से डेढ़ घंटे के लिए एेसे ही छोड़ दें. फिर कुनकुने पानी से धोकर एड़ियों पर क्रीम अप्लाई करें.
-शहद को एक बहुत ही अच्छा मॉश्चराइजर माना जाता है, क्योकि ये पैरों को हाइड्रेटेड रखने के साथ साथ उन्हें पोषण भी देता है. आप 2 लीटर पानी लें और उसमें ½ कप शहद मिला लें. इस पानी में आप अपने पैरों को 20 मिनट तक डुबोएं. ये उपाय पैरों की कोमलता को वापस दिला लेता है और उन्हें खुबसूरत भी बनाता है.

ये भी पढ़ेंः हाथों की ख़ूबसूरती व रंगत निखारने के यूज़फुल टिप्स

ज़रूरी टिप्स
– एड़ी को मुलायम और फटने से बचाने के लिए सोने से पहले थोड़ी देर पहले साबुन के पानी में पैरों को डालकर रखें. फिर थोड़ी देर बाद प्यूमाइस स्टोन से रगड़ें. इसके बाद पैरों को अच्छी तरह से धोकर तौलिए से पोंछ लें. फिर पैर की एड़ी और तलवों में ऑयल लगाकर मोज़े पहन लें.
– रोज़ाना अपनी एड़ियों की क्लींज़िंग और मॉइश्‍चराइज़िंग करें.
– एड़ियों की डेड स्किन निकालने के लिए चावल के आटे का इस्तेमाल एक्सफोलिएटिंग स्क्रब की तरह किया जा सकता है. इसके लिए आटे में थोड़ा-सा शहद और एप्पल साइडर विनेगर डालकर गाढ़ा पेस्ट बना लें. इसे एड़ियों पर स्क्रब करें. एक हफ़्ते में आपको अच्छे नतीजे मिलेंगे.
– पेट्रोलियम जेली भी एड़ियों के लिए फ़यदेमंद होती है. यह एड़ियों को मॉइश्‍चराइज़ करती है और फटने से रोकती है. रोज़ रात को सोने से पहले पैरों को अच्छे से साफ़ करके उस पर पेट्रोलियम जेली लगाएं और मोज़े पहनकर सो जाएं. इससे एड़िया कोमल बनेंगी.
– ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीएं. इससे शरीर हाइड्रेटेड रहेगा.
– आहार में ऐसी चीज़ें शामिल करें, जिनमें ओमेगा 3 फैटी एसिड की अधिकता हो.

ये भी पढ़ेंः पैरों की दुर्गंध दूर करने के नैचुरल तरीके

ख़ास केयर है ज़रूरी
एड़ियों का थोड़ा-सा ध्यान रखकर आप अपनी एड़ियों को स्वस्थ रख सकते हैं.
– एड़ियों की त्वचा को सख़्त होने से बचाने के लिए, उन पर रोज़ाना अच्छा मॉइश्चराइज़र लगाएं.
– मॉइश्‍चराइज़र लगाने के बाद अपने पैरों को मोज़े से ढंक लें. इससे मॉइश्‍चराइज़र ज़्यादा देर तक एड़ियों पर लगी रहेगी और नतीजे अच्छे मिलेंगे.
– रोज़ाना अपने पैरों को प्यूमाइस स्टोन से हील्स और तलवों को स्क्रब करें. इससे एड़ियों में छिपी गंदगी और डेड स्किन्स निकल जाएंगे.
– ठंडे मौसम में एड़ियां ज़्यादा फटती हैं. सर्दी के मौसम में अपनी एड़ियों का ख़ास ख़्याल रखें और उन्हें खुला न रखें. इस मौसम में एड़ियों को खुला रखने से एड़िया ड्राई हो जाती हैं और फटने लगती हैं. इसलिए घर से बाहर जाने से पहले ऊनी या कॉटन के सॉक्स पहने या ऐसे जूते पहनें, जो पूरी तरह से आपके पैरों को कवर करके रखें.
– नंगे पैर न चलें. इससे एड़िया सख़्त हो जाती हैं और फटने लगती हैं. घर पर भी सॉफ्ट स्लिपर पहनकर रखें.
– महीने में एक बार पैडीक्योर कराएं.

[amazon_link asins=’B00HN1MQHE,B074N4Z146,B008TO848Y,B007E9I9PI’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’71f49c3e-b89a-11e7-8e6d-43c534f10818′]