क्या आप पीरियड्स में होनेवा...

क्या आप पीरियड्स में होनेवाले हैवी फ्लो से परेशान हैं, तो इन सुझाव को अपनाएं… (How To Deal With Heavy Menstrual Bleeding?)

हर महीने महिलाएं भावनात्मक बदलावों के दौर से गुज़रती हैं, उस पर पीरियड्स यानी माहवारी का उनके दिलो-दिमाग पर भी असर पड़ता है. पीरियड्स के लक्षण अक्सर उन्हें परेशान करते हैं, कभी-कभी तो इन्हें सहना भी मुश्किल हो जाता है और अगर इन सब के साथ हैवी फ्लो है, तो परेशानी और अधिक बढ़ जाती है.

पीरियड्स के दौरान हैवी फ्लो के कारण कई बार महिलाओं को अन्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जैसे- एनिमिया, सांस फूलना और थकान. ऐसे में ज़रूरी है कि पीरियड्स के दौरान वे अपना ख़ास ख़्याल रखें, ताकि हैवी फ्लो उनके लिए मुश्किल न बन जाए. यहां पर परिधि मंत्री, कन्ज़्यूमर इनसाईट्स एण्ड प्रोडक्ट इनोवेशन, परी, कुछ सुझाव लेकर आई हैं, जो पीरियड्स के दौरान शारीरिक और मानसिक परेशानी को हल करने में मदद करेंगे.

सही सैनिटरी पैड चुनें
हैवी फ्लो के दिनों के लिए महिलाओं को सुपर एब्र्ज़ाबेन्ट पैड चुनना चाहिए, जिसकी बाहरी परत बेहद मुलायम और अच्छी गुणवत्ता से युक्त हो. साथ ही यह भी ज़रूरी है कि आप अपनी त्वचा और फ्लो को ध्यान में रखते हुए सही पैड चुनें. आपके शरीर के नाज़ुक हिस्सों में आसानी से रैश हो सकते हैं. हैवी फ्लो के दिनों में इस तरह के रैश परेशानी बढ़ा सकते हैं, इसलिए मुलायम पैड इस्तेमाल करें, ताकि गर्म और उमसभरे मौसम में भी आपकी त्वचा में रैश न होने पाएं.

माॅनसून में माहवारी के दौरान हाइजीन पर विशेष ध्यान दें
माॅनसून में जहां एक ओर गर्मी और उमस से राहत मिलती है, वहीं दूसरी ओर इस मौसम में इन्फेक्शन और रैश की संभावना भी बढ़ जाती है, इसलिए अच्छा होगा कि इस मौसम में आप पीरियड्स के लिए क्विक एब्र्ज़ाप्शन पैड चुनें, ताकि आपकी त्वचा सूखी रहे. गुप्तांगों की सफ़ाई के लिए साबुन या वेजाइनल हाइजीन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल न करें. सादा पानी ही पर्याप्त है. हर 4-6 घण्टे में पैड बदलती रहीं, ताकि इन्फेक्शन की संभावना न हो. पीरियड्स के दौरान हैवी फ्लो के लिए डिज़ाइन किए गए पैड इस्तेमाल करें. इस तरह के पैड नियमित पैड की तुलना में बेहतर होते हैं और आपको गीलेपन का एहसास नहीं होने देते.

अपने आहार में आयरन शामिल करें
जब शरीर में आयरन की कमी होती है, तो पीरियड्स के दौरान फ्लो बढ़ जाता है, इसलिए अपने आहार में ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करें, जिनमें आयरन भरपूर मात्रा में हो. पालक, बीन्स, दालें, ब्राॅकली आदि आयरन के अच्छे स्रोत हैं.

घरेलू उपाय
अदरक का पानी पीने तथा दालचीनी और धनिये के बीज के सेवन से हैवी फ्लो में आराम मिलता है. घरेलू उपाय हमेशा कारगर होते हैं. अपने आहार में ये छोटे-छोटे बदलाव लाकर आप हैवी फ्लो की मुश्किलों को आसान बना सकती हैं.

ख़ूब पानी पीएं
अगर आपको कुछ दिनों के लिए हैवी फ्लो रहता है, तो आपमें खून की कमी हो सकती है. ऐसे में सामान्य से 4-6 कप ज़्यादा पानी पीएं. इलेक्ट्रोलाइट सोल्यूशन का इस्तेमाल करें, ज़्यादा पानी को संतुलित करने के लिए आहार में नमक की मात्रा बढ़ाएं.

– ऊषा गुप्ता


यह भी पढ़ें: पीरियड्स में क्या है नॉर्मल, क्या है ऐब्नॉर्मल? (What Is Normal & Abnormal In Periods?)