नेल आर्ट- करियर का बेहतरीन ...

नेल आर्ट- करियर का बेहतरीन सोर्स (Make career in nail art)

By Admin June 21, 2019 in Digital PR

Nail Art
फ़ैशन की दुनिया में अगर आप चमकना चाहते हैं तो नेल आर्ट आपके लिए एक अच्छा करियर हो सकता है. आज के दौर में फ़ैशन के प्रति लोगों की बढ़ती जागरूकता और झुकाव के कारण नेल आर्ट एक अच्छा करियर ऑप्शन साबित हो सकता है. अगर आप सेलिब्रेटिज़ के बीच रहना चाहतें हैं, तो बिना किसी दबाव और झिझक के ये करियर चुन सकते हैं.

क्या है नेल आर्ट ?
तरह-तरह के नेल पेंट लगाना और उस पर अलग तरह की डिज़ाइन करना ही नेल आर्ट है. सितारों से लेकर आम लोगों तक नेल आर्ट का क्रेज़ देखा जा सकता है. आज मार्केट में थ्री डी के अलावा और कई तरह के नेल आर्ट की डिमांड है.
शैक्षणिक योग्यता
नेल आर्ट सीखने के लिए किसी भी तरह की पढ़ाई की ज़रूरत नहीं. स़िर्फ लगन और इसके प्रति झुकाव ही ज़रूरी होता है.

संस्थान
नेल आर्ट को सीखने की सबसे बेहतरीन जगह सलून और ब्यूटी पार्लर है. इसमें थीअरी की बजाय प्रैक्टिकल नॉलेज ज़्यादा फ़ायदेमंद है.

क्या सीखें?
नेल आर्ट को करियर बनानेे के लिए बहुत ज़रूरी है कि आपको इन चीज़ों में महारत हासिल हो.

  1. मेनीक्योर्स एंड पेडीक्योर्स.
  2. पराफ़िन ट्रीटमेंट्स.
  3. नेचुरल नेल ऐप्लीकेशन.
  4. जेल्स, रैप्स एंड एक्रिलिक ऐप्लीकेशंस.
  5. क्रिएटिव नेल आर्ट.

रोज़गार की संभावनाएं

  • नेल आर्ट को आप पार्ट टाइम की तरह ले सकती हैं.
  • बड़े सलून और ब्यूटी पार्लर में अच्छा स्कोप होता है.
  • पॉप्युलर होने के बाद आप ख़ुद का बिज़नेस शुरू कर सकती हैं.
  • स्पेशल ओकेज़न पर नेल आर्टिस्ट की काफ़ी पूछ होती है.
  • होटल्स, रिसॉर्ट और क्लब में भी नेल आर्टिस्ट की ज़रूरत होती है.
  • बड़े-बड़े मॉल्स में भी आप अपनी पकड़ मज़बूत कर सकती हैं.

फैशन में दिलचस्पी रखने वालों के लिए नेल आर्ट एक बेहतरीन करियर ऑप्शन है. नेल टेक्निशियन की डिमांड दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही है. हर वर्ग के लोगों में इसका क्रेज़ देखने को मिलता है. ग्रैजुएशन करने के बाद लड़कियां नेल आर्ट सीख रही हैं. दूसरे जॉब की अपेक्षा इसमें सैलरी भी अच्छी मिलती है. जो आसानी से युवाओं को अपनी ओर खींचने में क़ामयाब होती है. इस क्षेत्र की सबसे ख़ास बात ज़्यादा और रेग्युलर क्लाइंट बनाने की होती है. 450 से 1250 तक एक क्लाइंट का कम से कम आप कमा सकते हैं.
नादिया हयात, नेल स्टाइलिस्ट

– श्वेता सिंह