अवॉर्ड बिकता है… विवादों से घिरे रहे कई पुरस्कार… (Many Awards Surrounded By Controversies…)

सालों पहले शाहरुख ख़ान ने एक अवॉर्ड शो में कहा था कि उन्हें अवॉर्ड नहीं मिलता, तो वे पैसे लेकर आए थे, उसे ख़रीदने के लिए… जाने-अनजाने में उन्होंने फिल्मों के लिए दिए जानेवाले कई अवॉर्ड्स के कर्ता-धर्ताओं पर प्रश्नचिह्न लगाया था. जो सिलसिला बरसों से था, वो आज भी बरक़रार है. गली बॉय को तेरह फिल्मफेयर अवॉर्ड्स मिलना, जबकि उससे बेहतर कई फिल्में नामांकित थीं, कुछ अजीब ही नहीं, गोलमाल भी लगता है, ऐसा फैन्स व कई मशहूर हस्तियां कह रही हैं.

 Awards Surrounded By Controversies

 

View this post on Instagram

Alvida Awards..!!!

A post shared by Manoj Muntashir (@manojmuntashir) on

यूं तो कई फिल्मी पुरस्कारों में गाहे-बगाहे भेदभाव का आरोप लगता ही रहा है. लेकिन इस बार तो अति ही हो गई. एक तरफ़ सुपर 30, केसरी, मणिकर्णिका, छिछोरे, मिशन मंगल, कबीर सिंह जैसी फिल्मों को सिरे से नकार दिया गया. केसरी फिल्म के गीत तेरी मिट्टी… को अवॉर्ड न मिलने पर इसके गीतकार मनोज मुंतशिर इस कदर आहत हुए कि उन्होंने अपना दर्द सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए अवॉर्ड शो में ताउम्र न जाने की बात तक कह दी. डियर अवॉर्ड… से उन्होंने एक इमोशनल नोट भी लिखा, जो वायरल हो गया. बॉयकॉट फिल्मफेयर भी ट्रेंड कर रहा है, जिस पर सिनेमा प्रेमी अपनी भड़ास निकाल रहे हैं.

अपने बेबाक़ बोल के लिए मशहूर कंगना रनौत की बहन रंगोली ने तो भाई-भतीजावाद पर कटाक्ष करते हुए करण जौहर, आलिया भट्ट की टीम को ख़ूब खरी-खरी सुना दी. बकौल उनके पिछले साल औसत मूवी के लिए उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड दे दिया गया था. इस बार तो और भी अति हो गई उनके सर्पोटिंग रोल यानी गली बॉय फिल्म में बहुत कम उनका काम था, के लिए उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का पुरस्कार पकड़ा दिया गया. बात चुभनेवाली है, पर सच्चाई है इसमें कोई दो राय नहीं. कंगना रनौत, विद्या बालन जैसी अभिनेत्रियों के बेहतरीन परफॉर्मेंस की अनदेखी की गई.

सोशल मीडिया पर आमिर ख़ान का एक वीडियो भी ख़ूब पसंद किया जा रहा है, जिसमें उन्होंने इस बात का स्पष्टीकरण दिया है कि क्यों वे अवॉर्ड फंक्शन में नहीं जाते. जब उनके जैसे सशक्त अभिनेता के साथ बरसों से भेदभाव होता रहा है, तो आज के कलाकारों का क्या कहना. वीकेंड में एक तरफ़ जहां अवॉर्ड शो विवादों से घिरा रहा, तो दूसरी तरफ़ बिग बॉस 13 के विजेता को लेकर भी कुछ कम छींटाकशी नहीं हुई. आसीम के फैन्स ने इसके निर्माता चैनल व सलमान ख़ान पर भी फेवरिज़्म के इल्ज़ाम लगाए. अधिकतर लोगों का मानना था कि सिद्धार्थ शुक्ला, जो विजेता रहे हैं, से अधिक क़ाबिल आसिम थे, उन्हें विनर बनाना था. फैन्स के अलावा रश्मि देसाई ने भी अपनी पसंद आसिम को ही बताया. उन्होंने भी शो से निकलने के बाद दिए गए इंटरव्यू भी यह बात कही.

फिल्मी पुरस्कारों को लेकर लंबे समय से आरोप-प्रत्यारोप लगते रहे हैं. दर्शकों का तो यह भी कहना था कि गली बॉय फिल्म तो ओरिजनल कॉन्सेप्ट भी नहीं था, इसी कारण ऑस्कर से बाहर हो गया था. फिर भी इसे सबसे अधिक पुरस्कार मिले, भला यह कहां का न्याय है. सिने प्रेमियों ने अपना ग़ुस्सा इसे लेकर तरह-तरह के मीम्स बनाकर प्रकट की. सोशल मीडिया पर ये मज़ेदार मीम्स का हर कोई ख़ूब आनंद ले रहा है. इस पर एक नज़र डालते हैं.

 

 

चाहे कोई भी अवॉर्ड्स हों, फिल्मों को लेकर या फिर टीवी शोज़ के, अवॉर्ड देनेवालों को इस बात का ख़्याल रखना होगा कि सही व उपयुक्त पात्र को ही पुरस्कार मिले, वरना वो दिन दूर नहीं जब वे अपनी साख व विश्‍वसनीयता पूरी तरह से खो बैठेंगे. इस विषय में आपकी क्या राय है, आप इसे कितना सही या ग़लत मानते हैं, ज़रूर बताएं.

यह भी पढ़ेअंदर से ऐसा दिखता है दिव्यांका त्रिपाठी और विवेक दाहिया का आशियाना, देखें पिक्स (Check Out Inside Pictures Of Divyanka Tripathi And Vivek Dahiya’s Luxurious House In Mumbai)